इस गांव में बढ़ रही कुंवारे लड़के-लड़कियों की संख्या, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

26 सितम्बर 2016   |  प्रियंका शर्मा   (898 बार पढ़ा जा चुका है)

इस गांव में बढ़ रही कुंवारे लड़के-लड़कियों की संख्या, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

सरकार भले ही गांव को सड़कों से जोड़ने के बड़े-बड़े दावे कर रही हो लेकिन भरतपुर जिले का एक गांव ऐसा भी है जिसके आने-जाने का कोई रास्ता नहीं है और शहर के करीब स्थित इस गांव के लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं.

गांव के लोग अनगिनत बार सरकार के नुमाइंदों से रास्ते की फरियाद कर चुके हैं और जब कोई रास्ता नजर नहीं आया तो गाव वालों ने अब ईटीवी से उक्त समस्या को सरकार तक पहुंचाने की गुहार लगाई है. गांव वालों ने ये चेतावनी भी दी है कि अगर सरकार कोई हल नहीं निकालती है तो उन्हें आत्मदाह और पलायन को मजबूर होना पड़ेगा.

खेत में रास्ता बनाकर गांव तक पहुंचते हैं ग्रामीण

भरतपुर विधानसभा का गांव माना का नगला जिला मुख्यालय से कुछ ही दूरी पर स्थित है, लेकिन गांव की हालत ये है कि वहां के वाशिंदे एक रास्ते भर को तरस कर रह गए हैं. गांव तक आने के लिए खेतों में होकर आने की मजबूरी रोजाना की बन गई है और जब खेत का मालिक रास्ता बन्द कर देता है तो यही जुगाड़ लगाई जाती है कि किसके खेत में होकर घर तक पहुंच जाएं. खेतों में आने जाने को लेकर आए दिन झगड़े फसाद होना तो अब सामान्य सी बात बन गई है.

इलाज के अभाव में हो चुकी कई मौतें

गांव की दूरी सड़क से मात्र सवा किलोमीटर ही है, लेकिन गांव वालों को ये अब सैकड़ों किलोमीटर दूरी से कम नजर नहीं आती. कोई बीमार हो जाए तो उसे खटिया पर उठा कर अस्पताल ले जाना पड़ता है और कई प्रसूताओं और बीमारों की तो इलाज के अभाव में मौत भी हो चुकी है. सर्वाधिक परेशानी का सामना तो बरसात के दिनों में करना पड़ता है और खेतों में पानी भर जाने से पूरा गांव एक टापू में तब्दील हो जाता है. स्थिति इतनी भयाभय हो जाती है कि लोग घरों में कैद होकर रह जाते हैं.

नहीं हो रही युवाओं की शादी

गांव माना का नगला में रास्ते की समस्या से यूं तो गांव वाले कई तरह की परेशानियों से ग्रसित है, लेकिन अब सबसे बड़ी परेशानी ये सामने आ रही है कि गांव में कुंवारे युवक युवतियों की संख्या बढ़ती जा रही है. ग्रामीणों के अनुसार गांव में रास्ता नहीं होने से न तो कोई इस गांव की लड़की लेने को तैयार होता है और न ही कोई इस गांव में अपनी बेटी ब्याहने को राजी होता है. अगर किसी तरह कोई सम्बन्ध करने को राजी हो भी जाता है तो शादी का आयोजन गांव से दूर उसके बताए स्थान पर करना पड़ता है. उनका कहना है कि उनके रिश्तेदार अब कन्नी काटने लगे हैं. बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है और पूरा गांव जिंदगी की मुख्यधारा से कटकर रह गया है.

कई बार विधानसभा में उठाया जा चुका मुद्दा

हालांकि 8 साल पहले माना का नगला को राजस्व विलेज घोषित किया जा चुका है. सरकार के भरतपुर दौरे के दौरान भी ग्रामीणों को आश्वासन मिला था. स्थानीय विधायक विधानसभा में कई बार रास्ते का मुद्दा उठा चुके हैं. ग्रामीणों अनगिनत बार नेताओ और अधिकारियों से गुहार लगा चुके हैं, लेकिन बावजूद उसके ये गांव आज भी रास्ते का मोहताज है.


http://hindi.pradesh18.com/news/rajasthan/bharatpur/know-how-to-reach-this-village-of-bharatpur-1485978.html

अगला लेख: भारतीय सेना ने PoK में घुसकर आतंकियों के ठिकाने किए नष्ट, मोदी ने लिया बदला



कमल साल्वी
09 नवम्बर 2016

नीस

प्रियंका शर्मा
29 सितम्बर 2016

बहुत धन्यवाद कविता जी अपने विचार बताने के लिए . इसे सामने लाना ज़रूरी था .

कविता रावत
27 सितम्बर 2016

चिंतनीय स्थिति... फिर चिल्लाते है कि विकास हो रहा है, अगर हो रहा है तो कहाँ? यह यक्ष प्रश्न है

शोभा भारद्वाज
27 सितम्बर 2016

आजादी के इतने वर्ष वित् गये हम स्पेस में पहुंच गये आज भी गांवों का यह हाल है जानकारी देने के लिउए शुक्रिया

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
13 सितम्बर 2016
एक ऐसा मंदिर है जहां भगवान हनुमान डॉक्‍टर के रूप में पूजे जाते हैं. मान्यता है कि इस मंदिर के हनुमान स्वयं अपने एक भक्त का इलाज करने डॉक्टर बनकर पहुंचे थे. इस मंदिर से लाखों लोगों की आस्था जुड़ी हुई है. श्रद्धालुओं का मानना है कि, डॉ. हनुमान के पास सभी प्रकार के रोगों का
13 सितम्बर 2016
14 सितम्बर 2016
1946 से लेकर 1949 तक जब भारतीय संविधान का मसौदा तैयार किया जा रहा था, उस दौरान भारत और भारत से जुड़े तमाम मुद्दों को लेकर संविधान सभा में लंबी लंबी बहस और चर्चा होती थी. इसका मकसद था कि जब संविधान को अमली जामा पहनाया जाए तो किसी भी वर्ग को यह न लगे कि उससे संबंधित मुद्दे की अनदेखी हुई है. वैसे तो लग
14 सितम्बर 2016
20 सितम्बर 2016
शायद आप इनके बारे में ये सब नहीं जानते होंगे जो अब आप इसमें पढ़ेंगे ! भारत तो है ही चमत्कारों और संतो का देश और संसार में भारत जैसा कोई दूसरा देश है भला . लेकिन पहले तो नाम जान लीजिये: सन्त ज्ञानेश्वर ।सन्त नामदेव ।सन्त एकनाथ ।सन्त तुकाराम ।सन्त रैदास । 1. सन्त ज्ञानेश्व
20 सितम्बर 2016
02 अक्तूबर 2016
आज का सुवचन
02 अक्तूबर 2016
13 सितम्बर 2016
एक ऐसा मंदिर है जहां भगवान हनुमान डॉक्‍टर के रूप में पूजे जाते हैं. मान्यता है कि इस मंदिर के हनुमान स्वयं अपने एक भक्त का इलाज करने डॉक्टर बनकर पहुंचे थे. इस मंदिर से लाखों लोगों की आस्था जुड़ी हुई है. श्रद्धालुओं का मानना है कि, डॉ. हनुमान के पास सभी प्रकार के रोगों का
13 सितम्बर 2016
15 सितम्बर 2016
तनोट माता का मंदिर जैसलमेर से करीब 130 किलो मीटर दूर भारत – पाकिस्तान बॉर्डर के निकट स्थित है। यह मंदिर लगभग 1200 साल पुराना है। वैसे तो यह मंदिर सदैव ही आस्था का केंद्र रहा ह
15 सितम्बर 2016
22 सितम्बर 2016
भारत एक इसी जगह है जहा पर फिल्म स्टार्स को लोग पूजते है लेकिन वही ऐसी भी एक एक्ट्रेस है जिन्होंने पहले किसी को राखी बाँधी लेकिन बाद में उसी से शादी भी कर ली. ये कोई मामूली एक्ट्रेस नहीं है इन्होने कई बड़ी बड़ी फिल्मो में काम कर चुकी है.वो मशहूर एक्ट्रेस और कोई नहीं बल्कि बॉलीवुड अदाकारा श्रीदेवी है. ब
22 सितम्बर 2016
15 सितम्बर 2016
1. हिंदी की लिपि ‘देवनागरी’ है । यह दो भिन्न शब्दों से बना समस्त पद है । ‘देव’ अर्थात ईश्वर तथा ‘नागरी’ अर्थात नगर अथवा शहर से संबंधित । इस शब्द की व्युत्पति यह बताती है कि एक काल विशेष में यह लिपि एक मुख्य व्यवहार के लिए प्रयुक्त हुई होगी । 2. वेद, पुराण आदि कई हिंदू धर
15 सितम्बर 2016
17 सितम्बर 2016
वैसे तो यह मंदिर सदैव ही आस्था का केंद्र रहा है पर 1965 कि भारत – पाकिस्तान लड़ाई के बाद यह मंदिर देश – विदेश में अपने चमत्कारों के लिए प्रशिद्ध हो गया। तनोट माता का मंदिर जैसलमेर से करीब 130 किलो मीटर दूर भारत – पाकिस्तान बॉर्डर के निकट स्थित है। यह मंदिर लगभग 1200 साल पुराना है। 1965 कि लड़ाई में
17 सितम्बर 2016
01 अक्तूबर 2016
आज का सुवचन
01 अक्तूबर 2016
30 सितम्बर 2016
पीएम मोदी PoK में भारत के हमले के बाद पहली बार किसी प्रोग्राम में दिखे. वि ज्ञान भवन पहुंचे. और भारत स्वच्छता सम्मेलन INDOSAN की शुरुआत की.साभार - thelallantop.comपहले पीएम मोदी ने भारत स्वच्छता मिशन पर प्रदर्शनी देखी. और फिर सफाई पर अपनी जिंदगी के कुछ किस्से सुनाये. उनमें से एक बात सुनकर आपका मन मि
30 सितम्बर 2016
17 सितम्बर 2016
आज हर हिंदुस्तानी के मन में बसे श्री नरेंद्र मोदी जी को शुभकामनाओं की सप्रेम भेंट
17 सितम्बर 2016
26 सितम्बर 2016
सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हुआ था. इस मैसेज के जरिए दावा है कि यूपी के मथुरा में दुनिया का सबसे ऊंचा श्री कृष्णमंदिर बन रहा है. एबीपी न्यूज़ ने पड़ताल की वायरल हो रहे इस मैसेज की.वायरल हो रही तस्वीर में यह भी दावा किया जा रहा है कि दुनिया के इस सबसे ऊंचे मंदिर की ऊंचाई मुकेश अंबानी के मुंबई में ब
26 सितम्बर 2016
17 सितम्बर 2016
आज का सुवचन
17 सितम्बर 2016
सम्बंधित
लोकप्रिय
05 अक्तूबर 2016
04 अक्तूबर 2016
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x