ओ नैना

04 अक्तूबर 2016   |  दुर्गेश नन्दन भारतीय   (111 बार पढ़ा जा चुका है)

@@@@@@@@ ओ नैना ,ओ नैना @@@@@@@@

*****************************************************************

रसों के सागर में डुबकी लगाकर ,साहित्य के मोती चुनता रहूँ |

मेरी तमन्ना छन्दों में यूँ ही ,गीतों की रचना करता रहूँ ||

पहन संगीत का गहना |ओ नैना ,ओ नैना ||
कठिन कंटीली राहों पे चलकर ,मन की मंजिल पाता रहूँ |
दिल जीत कर अपने हुनर से ,प्यार सभी का पाता रहूँ ||
बन कला का गहना |ओ नैना ,ओ नैना ||
मुस्कान बाँट कर उदास लोगों में ,हँसी की महफ़िल लगाता रहूँ |
सत्य ,ईमान की ज्योति जला कर ,भ्रष्टाचार मैं भगाता रहूँ ||
भ्रष्टाचार नहीं सहना |ओ नैना ,ओ नैना ||
विवेक जगा कर अ ज्ञान ी लोगों का ,कुरीतियाँ मैं मिटाता रहूँ |
तर्क शक्ति के बलबूते पर,मार्ग सही मैं दिखाता रहूँ ||
दुराचार नहीं सहना |ओ नैना ,ओ नैना ||
मिश्री सी मीठी वाणी पाकर ,प्रेम के गीत गाता रहूँ |
दुनिया सजा कर अपनी कला से ,फिर दुनिया से मैं जाता रहूँ |
बस तुमसे यही कहना |ओ नैना , ओ नैना ||
@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@@

अगला लेख: निज नाम अमर कर दो



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
22 सितम्बर 2016
@@एक दिन मानेगा तुझे,ये सारा संसार@@*********************************************पवित्र तुम्हारा प्यार है ,पवित्र तुम्हारे विचार |एक दिन मानेगा तुझे ,ये सारा संसार ||अभावों के रेगिस्तान में ,तुम मीठा जल बनो |दबी-कुचली नार का , तुम मजबूत सम्बल बनो ||देश की हर समस्या का ,तुम सटीक हल बनो |भारत के इस वर
22 सितम्बर 2016
06 अक्तूबर 2016
हा
@@@@शक्ल तो है बन्दर जैसी@@@@************************************************पत्नी बोली एक दिन , हो आप बड़े बेवकूफ |मैंने कहा तुरन्त उससे ,क्या है इसका प्रूफ ||पत्नी बोली की आपने ,मुझसे आदर्श शादी |कौड़ी मोल बेच डाली,आपने अपनी आजादी ||आठ नहीं देते हो लेकिन , दे देते हो साठ |ओरों की गलतियों से ,नहीं सी
06 अक्तूबर 2016
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x