बेटियां

13 फरवरी 2017   |  डॉ उमेश पुरी 'ज्ञानेश्‍वर'   (107 बार पढ़ा जा चुका है)

बेटियां

हाइकु 5.7.5 के क्रम वाली क्षणिक कविता है और इसमें एक क्षण को उसकी सम्‍पूर्णता सहित अभिव्‍यक्‍त किया जाता है। इस वीडियो में बेटियों के विषय में कुछ हिन्‍दी हाइकु दे रहे हैं। विश्‍वास हैं अवश्‍य पसन्‍द आएंगे। पसन्‍द आने पर लाईकए कमन्‍टए शेयर व सब्‍सक्राईब करें। धन्‍यवाद !

बेटियां (Daughters) - YouTube

https://www.youtube.com/watch?v=MgVCZ3GYUMs

अगला लेख: JYOTISH NIKETAN SANDESH: ध्‍यान



अति सुन्दर

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
24 फरवरी 2017
सुवचन सकारात्‍मक होते हैं अौर दिशा निर्धारित करते हैं। सुपथ दिखाते हैं अौर लक्ष्‍य प्राप्ति में सहायक होते हैं। आज का सुवचन का शीर्षक 'गलतियां' है! Video को LIKE और हमारे CHANNEL को SUBSCRIBE करना ना भूले ! JYOTISH NIKETAN SANDESH: गलतिया
24 फरवरी 2017
03 फरवरी 2017
महोदय ,शब्दनगरी सचमुच प्रभावशाली मंच है . यहां मैंने जब देखा तो पाया कि पुस्तको की प्राप्ति का स्थान भी मौजूद है . प्रश्न उठा और वह भी इसलिए कि मेरे पूज्य पिताजी डॉ जे पी श्रीवास्तव का एक काव्य खंड है 'रागाकाश ' शीर्षकाधीन , जिसे मैं इस मंच पर और इस मंच के माध्यम से प्रस्तुत कराना चाहता
03 फरवरी 2017
22 फरवरी 2017
सुवचन सकारात्‍मक होते हैं अौर दिशा निर्धारित करते हैं। सुपथ दिखाते हैं अौर लक्ष्‍य प्राप्ति में सहायक होते हैं। आज का सुवचन का शीर्षक 'सफल' है!Video को LIKE और हमारे CHANNEL को SUBSCRIBE करना ना भूले ! JYOTISH NIKETAN: सफल(Successful)Saphal
22 फरवरी 2017
18 फरवरी 2017
तुम मेरे साथ हो, यह कम है क्या चाहती हो मुझे, यह कम है क्या भर आती हैं आँखें, मेरे दर्द, मेरी ख़ुशी में, यह कम है क्या बाँट नहीं सकती मेरा समय किसी और के साथ, यह कम है क्याजान छिड़कती हो मुझ पर, यह कम है क्या कर देती हो हँस कर मेरी हर ख़ता को माफ़, यह कम है क्या स्वीकारा है मुझे सब कमज़ोरियों के साथ
18 फरवरी 2017
23 फरवरी 2017
रात के अंधेरे में दिन के उजाले में तू हो ना हो पास, ख़्याल तेरे रहते हैं मेरे पास हर लम्हा कटता है, देखते हुए तेरे ख़्वाब बातों में तेरा ही ज़िक्र होता है तेरी तस्वीर होती है आँखों में क़लम डूब जाती है, तेरे प्यार की स्याही में काग़ज़ पे उमड़ आते हैं ज़स्बादबन कर तेरी याद तू हो ना हो पासरहती है तू म
23 फरवरी 2017
15 फरवरी 2017
हाइकु 5-7-5 के क्रम वाली क्षणिक कविता है और इसमें एक क्षण को उसकी सम्‍पूर्णता सहित अभिव्‍यक्‍त किया जाता है। इस वीडियो में बुढ़ापा के विषय में कुछ हिन्‍दी हाइकु दे रहे हैं। विश्‍वास हैं अवश्‍य पसन्‍द आएंगे। पसन्‍द आने पर लाईक, कमन्‍ट, शेयर व सब्‍सक्राईब करें। धन्‍यवाद ! बुढ़ापा (Senility) BuDhaapaa
15 फरवरी 2017
25 फरवरी 2017
'वेदामृत' के अन्‍तर्गत वेदों के मन्‍त्रों से ज्ञानवर्धन करेंगे। ऋग्वेद के दसवें मंडल के नौवें सूक्त के दूसरे मन्त्र की चर्चा करेंगे जिसमें जल की महत्ता वर्णित है! Video को LIKE और हमारे CHANNEL को SUBSCRIBE करना ना भूले ! वीडियो नीचे लिखे लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं।
25 फरवरी 2017
21 फरवरी 2017
सुवचन सकारात्‍मक होते हैं अौर दिशा निर्धारित करते हैं। सुपथ दिखाते हैं अौर लक्ष्‍य प्राप्ति में सहायक होते हैं। आज का सुवचन का शीर्षक 'आशा' है!Video को LIKE और हमारे CHANNEL को SUBSCRIBE करना ना भूले ! JYOTISH NIKETAN: आशा (Hope)
21 फरवरी 2017
26 फरवरी 2017
सुवचन सकारात्‍मक होते हैं अौर दिशा निर्धारित करते हैं। सुपथ दिखाते हैं अौर लक्ष्‍य प्राप्ति में सहायक होते हैं। आज का सुवचन का शीर्षक 'ध्‍यान' है!Video को LIKE और हमारे CHANNEL को SUBSCRIBE करना ना भूले ! JYOTISH NIKETAN SANDESH: ध्‍यान
26 फरवरी 2017
26 फरवरी 2017
सुवचन सकारात्‍मक होते हैं अौर दिशा निर्धारित करते हैं। सुपथ दिखाते हैं अौर लक्ष्‍य प्राप्ति में सहायक होते हैं। आज का सुवचन का शीर्षक 'ध्‍यान' है!Video को LIKE और हमारे CHANNEL को SUBSCRIBE करना ना भूले ! JYOTISH NIKETAN SANDESH: ध्‍यान
26 फरवरी 2017
13 फरवरी 2017
आज का सुवचन
13 फरवरी 2017
15 फरवरी 2017
हाइकु 5-7-5 के क्रम वाली क्षणिक कविता है और इसमें एक क्षण को उसकी सम्‍पूर्णता सहित अभिव्‍यक्‍त किया जाता है। इस वीडियो में बुढ़ापा के विषय में कुछ हिन्‍दी हाइकु दे रहे हैं। विश्‍वास हैं अवश्‍य पसन्‍द आएंगे। पसन्‍द आने पर लाईक, कमन्‍ट, शेयर व सब्‍सक्राईब करें। धन्‍यवाद ! बुढ़ापा (Senility) BuDhaapaa
15 फरवरी 2017
14 फरवरी 2017
आज का सुवचन
14 फरवरी 2017
15 फरवरी 2017
हाइकु 5-7-5 के क्रम वाली क्षणिक कविता है और इसमें एक क्षण को उसकी सम्‍पूर्णता सहित अभिव्‍यक्‍त किया जाता है। इस वीडियो में बुढ़ापा के विषय में कुछ हिन्‍दी हाइकु दे रहे हैं। विश्‍वास हैं अवश्‍य पसन्‍द आएंगे। पसन्‍द आने पर लाईक, कमन्‍ट, शेयर व सब्‍सक्राईब करें। धन्‍यवाद ! बुढ़ापा (Senility) BuDhaapaa
15 फरवरी 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
07 फरवरी 2017
जी
02 फरवरी 2017
09 फरवरी 2017
21 फरवरी 2017
21 फरवरी 2017
27 फरवरी 2017
05 फरवरी 2017
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x