मोदी ने अखिलेश को वो गन्दी बात याद दिलाई, जो मुलायम खुद भूल चुके हैं

17 फरवरी 2017   |  निखिल   (207 बार पढ़ा जा चुका है)

मोदी ने अखिलेश को वो गन्दी बात याद दिलाई, जो मुलायम खुद भूल चुके हैं

यूपी चुनाव में पीएम मोदी का अंदाज जरा बदला नजर आ रहा है. अपनी यूपी की रैलियों में वो वैसी आक्रामकता नहीं दिखा रहे, जैसी उन्होंने बिहार चुनाव में नीतीश-लालू के खिलाफ दिखाई थी. फिर चाहे वो करोड़ों की बोली लगाना हो या डॉ. अंबेडकर की तारीफ करना. इस बार उन्होंने रणनीति बदली है. यूपी में सपा-कांग्रेस गठबंधन से टक्कर ले रहे मोदी अखिलेश पर तीखा हमला करने के बजाय मुलायम के रास्ते कान पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं. 15 फरवरी को कन्नौज की अपनी रैली में मोदी ने अखिलेश को अतीत की कुछ कड़वी बातें याद दिलाईं. उन्होंने कहा,

‘ये कांग्रेस की गोद में बैठने से पहले जरा 4 मार्च, 1984 को याद कीजिए, जब आपके पिताजी पर कांग्रेस ने इतना गंभीर हमला करवाया था. क्या कभी आपने सुना है कि कुर्सी के मोह में कोई ऐसा भी बन जाता है.’

मोदी यूपी में हुए सपा-कांग्रेस गठबंधन पर निशाना साध रहे थे. दी लल्लनटॉप की ग्राउंड कवरेज में साफ नजर आ रहा है कि सपा और कांग्रेस के साथ आने से बीजेपी की सत्ता की राह मुश्किल हो गई है. स्वाभाविक है कि ऐसे में बीजेपी नेता अखिलेश और राहुल पर सीधा हमला बोलेंगे, लेकिन मोदी यहीं पर चतुराई दिखा रहे हैं. वो मोरल ग्राउंड पर अखिलेश को घेरने की कोशिश कर रहे हैं. आइए आपको बताते हैं मुलायम पर जानलेवा हमले का वो किस्सा, जिसका जिक्र मोदी कर रहे हैं.


1984 का साल था. मुलायम उस समय यूपी विधान परिषद में विपक्ष के नेता थे. सियासी हालात कुछ ऐसे थे कि मुलायम ने कांग्रेस की नाक में दम कर रखा था. फिर आया 4 मार्च, 1984. मुलायम सिंह यादव अपने पैतृक जिले इटावा से सूबे की राजधानी लखनऊ जा रहे थे. पर रास्ते में ही कुछ अज्ञात हमलावरों ने उनकी गाड़ी पर गोलियां चला दीं. मुलायम की किस्मत अच्छी थी, वो इस हमले में बच गए.

बाद में जांच हुई, तो हमले में कांग्रेस के एक सीनियर लीडर का नाम आया था. इस कांग्रेसी नेता का सरनेम भी यादव ही था. उस समय चौधरी चरण सिंह और अटल बिहारी वाजपेयी ने मुलायम सिंह यादव का समर्थन किया था. इन दोनों नेताओं ने खुले तौर पर कांग्रेस को घेरा था. खुद मुलायम ने भी अपने ऊपर हुए हमले के लिए सीधे कांग्रेस को दोषी माना. बीते दिनों जब यादव परिवार में विवाद चल रहा था, तब एक बार फिर उन्होंने इस हादसे को दोहराया था.


इस हादसे को आधार बनाकर अखिलेश-राहुल को घेर रहे मोदी के लिए एक अच्छी बात ये है कि खुद मुलायम अखिलेश-राहुल गठबंधन से नाखुश हैं. अखिलेश ने जब राहुल को जोड़ीदार बनाया था, उसी समय मुलायम ने उनके हक में प्रचार करने से इनकार कर दिया था. 15 फरवरी को ही वो अपनी छोटी बहू अपर्णा यादव के लिए प्रचार करने गए, लेकिन एक बार भी अखिलेश का नाम नहीं लिया. यही कहा कि अपर्णा की जीत उनके सम्मान की बात है.

देखना रोचक होगा कि पिता पर हमले की इस दलील के जवाब में अखिलेश कौन सा किस्सा निकालेंगे.

पर मुलायम जब 1990 में पहली बार यूपी के मुख्यमंत्री बने थे, तब उनको कांग्रेस का समर्थन हासिल था. बाद में मुलायम जब डिफेंस मिनिस्टर थे तब भी कांग्रेस ने परोक्ष रूप से समर्थन दिया ही था. तो मुलायम तो खुद ही इस बात को भूल चुके थे. अखिलेश को कहां याद होगा.

http://www.thelallantop.com/up-election/modi-reminds-akhilesh-the-1984-attack-on-mulayam/?utm_source=chromenotification

अगला लेख: जिस तरह से ढांचा गिराया, उसी तरह मंदिर बनेगा, राम मंदिर का कटियार फॉर्मूला



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
04 फरवरी 2017
BSF के एक क्लर्क ने अपनी एक FB पोस्ट में एक वीडियो डालकर ज़बरदस्त हंगामा खड़ा कर दिया है। बीएसएफ क्लर्क नवरत्न चौधरी ने आरोप लगाया कि बीएसएफ के अफ़सरों के लिए आने वाली शराब को बाहर के लोगों को बेचा जा रहा है। उसने दावा किया कि उसके शिकायत करने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की गई है। चौधरी के इस वीडियो
04 फरवरी 2017
06 फरवरी 2017
बीजेपी नेता विनय कटियार ने रविवार को राम मंदिर निर्माण के तीन फॉर्मूले बताए। उन्होंने कहा, "जिस तरह ढांचा गिराया गया, उसी तरह अयोध्या में मंदिर बनाया जाएगा। जो राम मंदिर निर्माण नहीं चाहते हैं, एक वर्ग विशेष के बारे में कहते हुए कटियार बोले कि वो अराजक हैं और देश को बर्बाद कर रहे हैं।' कटियार ने कहा
06 फरवरी 2017
14 फरवरी 2017
बधाई हो, पाकिस्तान और इंडिया एक हो गए हैं, जमीन के मामले में नहीं लेकिन सोच के मामले में. दोनों ने एक साझा दुश्मन खोज लिया है. ये चीन नहीं है. आतंकवाद बिल्कुल भी नहीं है. अमेरिका भी नहीं. ये इश्क है. दोनों वैलेंटाइन्स डे से डरते हैं. आख़िरी बार इंडिया और पाकिस्तान ऐसे एक बात पर सहमत ‘एक था टाइगर’ के
14 फरवरी 2017
03 फरवरी 2017
धर्म कम्बख्त हर जगह घुस आया है. पूरा माहौल ही धर्म-मय है. नुक्कड़ पर चाय पियो, चीनी से ज़्यादा धर्म घुला मिलता है. ठंड में बाहर निकलो तो कोहरा कम, धर्म ज़्यादा टकराता है.अखबार उठाओ धर्म. टीवी चला लो धर्म. व्हाट्सएप्प पर धर्म, फेसबुक पर धर्म, ट्विटर पर धर्म. धर्म को गालियां देते लोग. धर्म को डिफेंड करते
03 फरवरी 2017
15 फरवरी 2017
मामला अम्बेडकर नगर जिले के अलीगंज थाने से जुड़ा है. इस थाने पर तैनात दरोगा रविन्द्र प्रताप सिंह खुलेआम घूस लेने की बात स्वीकार करते हुए कैमरे में कैद हुआ है. उत्तर प्रदेश पुलिस का बेशर्म चेहरा एक बार फिर सामने आया है. मामला अम्बेडकर नगर जिले के अलीगंज थाने से जुड़ा है. इस थाने पर तैनात दरोगा रविन्द्र
15 फरवरी 2017
19 फरवरी 2017
क्या आप जानते है कुछ दिनों से हमारे देश में एक अभियान चल रहा है शंकराचार्य के मठ पर सरकार कब्ज़ा करने जा रही है, कांचीपुरम शंकराचार्य जी के मठ पर सरकार कब्ज़ा करने की पूरी तैयारी कर चुकी है, इसके लिये उनके ऊपर चार्जेस लगाये गए है उनके खिलाफ 2000 पेज की चार्जशीत फाइल की गई ह
19 फरवरी 2017
14 फरवरी 2017
आज का सुवचन
14 फरवरी 2017
06 फरवरी 2017
बीजेपी नेता विनय कटियार ने रविवार को राम मंदिर निर्माण के तीन फॉर्मूले बताए। उन्होंने कहा, "जिस तरह ढांचा गिराया गया, उसी तरह अयोध्या में मंदिर बनाया जाएगा। जो राम मंदिर निर्माण नहीं चाहते हैं, एक वर्ग विशेष के बारे में कहते हुए कटियार बोले कि वो अराजक हैं और देश को बर्बाद कर रहे हैं।' कटियार ने कहा
06 फरवरी 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
16 फरवरी 2017
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x