महिला दिवस पर समाज सेविका सुरभि रंजन बोली- बेटियां पढ़ेंगी तो परिवार होगा शिक्षित

09 मार्च 2017   |  इंडियासंवाद   (76 बार पढ़ा जा चुका है)

महिला दिवस पर समाज सेविका सुरभि रंजन बोली- बेटियां पढ़ेंगी तो परिवार होगा शिक्षित

लखनऊ : यश भारती से पुरस्कृत एवं प्रसिद्ध समाज सेविका सुरभि रंजन ने अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर यहाँ लखनऊ स्थित होटल रेनेसा में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। यश भारती पुरस्कृत एवं प्रसिद्ध समाजसेविका सुरभि रंजन ने कहा है कि नारी सशक्तिकरण का अर्थ मेरे लिये यह है कि हमारे देश की हर नारी सुरक्षित हो, शिक्षित हो, आत्म निर्भर हो तथा अत्याचार से मुक्त हो। उन्होंने कहा कि बेटियों को सुरक्षित, शिक्षित एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए हमें निरंतर प्रयास करना होगा। उन्होंने कहा कि महिलायें समाज व परिवार की नींव होती हैं। उन्होंने बेटियों को बेहतर शिक्षा दिलाने पर जोर देते हुए कहा कि बेटियां शिक्षित होंगी तो परिवार शिक्षित होगा और परिवार शिक्षित होगा तो समाज शिक्षित होगा। उन्होंने कहा कि महिलाओं के प्रति सरकार द्वारा संचालित कार्यक्रमों का व्यापक प्रचार-प्रसार कर उन्हें लाभान्वित कराने का हर सम्भव प्रयास करना हम सबका दायित्व है।

बदल रही है महिलाओं की भूमिका

श्रीमती रंजन ने कहा कि ऐसे कार्यक्रमों के माध्यम से गरीब, कमजोर वर्ग के साथ-साथ हर वर्ग के लोगों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है जो सराहनीय कार्य है। उन्होंने कहा कि बदलते समय के साथ आज महिलाओं की भूमिका भी बदल रही है। उन्होंने कहा कि महिलायें जब आत्मनिर्भर होंगी तो स्वयं समाज मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि नारियों का समाज में प्रत्येक स्तर पर सम्मान होना चाहिए। उन्होंने कहा कि नारियों का अपमान करना बहुत ही निन्दनीय कार्य है।

समुदाय और समाज में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका


सुरभि रंजन ने कहा कि परिवार, समुदाय और समाज के लोगों में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका है जिसके आधार पर सामाजिक सहयोग का निर्माण होगा। उन्होंने कहा कि परिवार के संस्कारों में मानवीय मूल्यों का सशक्तीकरण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज महिलायें सभी क्षेत्रों में अग्रणी भूमिका निभा रही हैं। उन्होंने कहा कि देश में महिलाओं के हित के लिये बनाये गये कानूनों की जानकारियां महिलाओं एवं बालिकाओं तक विभिन्न माध्यमों से पहुंचाये जाने के प्रयास सुनिश्चित किये जाने चाहिए।

सहयोग प्रदान किया जाना ही महिला सशक्तिकरण है : वंदना सहगल

इस अवसर पर कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि, प्रमुख सचिव, सूचना की धर्मपत्नी वन्दना सहगल ने कहा कि समाज में परिवर्तन लाने की शक्ति अपेक्षाकृृत अन्य लोगों से महिलाओं में अधिक होती है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आत्मनिर्भर एवं अपने व्यक्तित्व का सम्पूर्ण विकास करने हेतु उनके प्रयासों में किसी प्रकार का अवरोध न उत्पन्न कर बल्कि सहयोग प्रदान किया जाना ही महिला सशक्तिकरण है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सुरभि रंजन जी द्वारा महिलाओं को सशक्त बनाने हेतु विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय योगदान करने वाली सुश्री अंजली सिंह, सोनिया सिंह, सपना उपाध्याय, अनुराधा गुप्ता, अर्पना निवेदिता, मेहरीन जाफरी, रेनू सिंह, राखी किशोर, मृृदु राम गोयल, अनीता राणा, सुधा नाथ घोसला, सिस्टर ब्लेसी, सुनीता झींगारण को पुरस्कृृत किया गया।

महिला दिवस पर समाज सेविका सुरभि रंजन बोली- बेटियां पढ़ेंगी तो परिवार होगा शिक्षित

http://www.hindi.indiasamvad.co.in/education/surbhi-ranjan-daughter-will-read-and-family-will-be-educated-22037#.WMBEi_3oI0Q.facebook

महिला दिवस पर समाज सेविका सुरभि रंजन बोली- बेटियां पढ़ेंगी तो परिवार होगा शिक्षित

अगला लेख: इस चुनाव में मायावती के सियासी हालात अच्छे नहीं...



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
25 फरवरी 2017
देहरादून: नौवी कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्र ने ऐसे कारनामे को अंजाम दिया कि पूरा गांव ही दंग रह गया। उत्तराखण्ड के छोटे से गाँव पथरौली में रहने वाले राहुल चंद्र बड़ ने अपने गांव में एक पुस्तकालय खोला है। जिसके बाद हर कोई उस लड़के का मुरीद हो गया।पिथौरागढ़ ज़िले के देवलथल
25 फरवरी 2017
25 फरवरी 2017
लखनऊः यूपी में विधानसभा चुनाव के दौरान एक दूसरे के धुरविरोधी आजम खान और योगी आदित्यनाथ हादसे का शिकार होते बाल-बाल बचे। दोनों फायरब्रांड नेताओं का हेलीकॉप्टर क्रैश होते-होते बचा। वे अलग-अलग जिलों में सभाएं करने जा रहे थे। हेलीकॉप्टर में खराबी होने पर पायलट ने इमरजेंसी लैं
25 फरवरी 2017
25 फरवरी 2017
नई दिल्ली : 24 सितंबर 2007 यानी भारतीय क्रिकेट इतिहास का एक सुनहरा दिन. इसी दिन भारतीय टीम ने पाकिस्तान को फाइनल में हराकर टी20 विश्व कप वीजेता बना था . इस टूर्नामेंट में पूरी टीम ने एकजुट प्रदर्शन किया था . फिर भी भारतीय टीम की इस जीत में कुछ खिलाडियों का योगदान बहुत मह
25 फरवरी 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x