'पाकिस्तान ने इतना गरीब बनाया कि 25 साल से पेड़ के पत्ते खा रहा हूं'

01 मई 2017   |  प्रियंका शर्मा   (216 बार पढ़ा जा चुका है)

'पाकिस्तान ने इतना गरीब बनाया कि 25 साल से पेड़ के पत्ते खा रहा हूं'

पाकिस्तान में एक व्यक्ति 25 साल से पत्ते और लकड़ियां खाकर जिंदा है। खास बात ये है कि अपनी इस आदत की वजह से वह कभी बीमार भी नहीं पड़ा। पंजाब प्रांत के गुजरांवाला जिले के रहने वाले 50 वर्षीय महमूद बट्ट ने बेरोजगारी की वजह से खाना नहीं जुटा पाने के कारण 25 वर्ष की उम्र से पत्तियां खाना शुरू किया था।

गरीबी ने बना दिया ऐसा

बट्ट ने बताया कि उसका परिवार बहुत गरीब था। बट्ट ने कहा, मैंने तय किया कि गलियों में भीख मांगने से अच्छा है कि लकड़ियां और पत्ते खाऊं। पत्ते और लकड़ियां खाना अब मेरी आदत बन गई है।

बरगद के पत्तों को चाव से खाते हैं

बट्ट ने बताया कि उन्हें बरगद के पेड़ के पत्ते खाना बहुत पसंद है। कुछ वर्षों के बाद जब बट्ट को काम मिला और वह भोजन जुटाने लायक हो गए तब भी उनसे ये आदत नहीं छूटी।

गधा गाड़ी ढोकर चलाते हैं घर

बट्ट आज अपनी गधा गाड़ी पर सामान ढोकर रोजाना 600 रुपये कमा लेते हैं। बट्ट के पड़ोसी गुलाम मोहम्मद ने कहा कि बट्ट कभी डॉक्टर के पास नहीं गया है। खाने की इस आदत की वजह बट्ट अपने इलाके में बहुत चर्चित है। उसके पड़ोसी ने बताया कि अक्सर रास्ते में अपनी गधा गाड़ी रोक कर बट्ट को पेड़ों से ताजा पत्ते तोड़ कर खाते हुए देखा जा सकता है।


साभार

http://www.firkee.in/omg/oh-teri-ki/pakistani-man-50-is-addicted-to-eating-trees-for-25-years?pageId=3

अगला लेख: इंडियन एयरफोर्स: मैं एक लड़की हूं और मुझे पटाखों से डर नहीं लगता



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
05 मई 2017
जब भी महिलाओं के सामने करियर चुनने की बात आती है तो समाज उनके लिए कुछ काम तय कर देता है, जैसे टीचर बन जाओ फिर पूरी जिंदगी कोई दिक्कत नहीं होगी। कई ऐसे प्रोफेशन भी हैं जिसमें काम करने वाली महिलाओं का चरित्र निर्धारण लोग बहुत जल्दी कर देते हैं। मसलन फलां काम करने वाल
05 मई 2017
25 अप्रैल 2017
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब भी भाषण देते हैं तो श्रोता उनके साथ जुड़ जाते हैं। भले ही लोग उनसे सहमति रखते हों या न रखते हों लेकिन इस बात में कोई दोराय नहीं है कि उनकी भाषण शैली कुछ खास है। मौजूदा दौर में पक्ष-विपक्ष का शायद ही कोई ऐसा नेता होगा, जो यह दावा कर सके कि लोगों को अपनी भाषण शैली से बांधे
25 अप्रैल 2017
15 मई 2017
न जाने कितनी ही लड़कियों की शादी उसके पंद्रहवें जन्मदिन से पहले कर दी जाती हैं. इनमें से कुछ लड़कियों की शादी तो आठ या नौ साल की उम्र में भी कर दी जाती है. अगर यही गति बनी रही तो 2011 से 2020 के बीच 14 करोड़ से ज्यादा लड़कियों की 18 से कम उम्र में शादी हो जाएगी. पुरानी
15 मई 2017
01 मई 2017
अभी अभी सुना कि एक और हृदयविशालिता की देवी बिछलाकर अपने ही आँगन में गिर गई। टूट गई उसकी वो पुरानी और मजबूत पसलियां जो पुरे जीवन दौड़ दौड़ कर घर से लेकर रिश्ते- नातों तक के हर हाथों को मजबूत करती रही है। आज तक वो जिन हाथों को चूमती रही, दुलारत
01 मई 2017
06 मई 2017
आपने खौफ़ को महसूस किया होगा, पर देखा नहीं होगा. लेकिन जो तस्वीरें हम आपको दिखाने जा रहे हैं, इनमें से कुछ में खौफ़ कैद हुआ है. ये तस्वीरें आपको विचलित भी कर सकती हैं. ये कलेक्शन है लोगों द्वारा पोस्ट की गयी सबसे भयावह तस्वीरों का.अगर आपका दिल कमज़ोर है, तो इन तस्वीरों को न देखें.1. इन्हें 'पर्मानेंट श
06 मई 2017
18 अप्रैल 2017
तपस्‍वी कौन होता है (Tapas‍vee kaun hotaa hai)इस वीडियो में यह बताने का प्रयास किया गया है कि तपस्‍वी कौन होता है। सच्‍चा तप क्‍या है। तपस्‍वी कौन होता है(Tapas‍vee kaun hotaa hai) - YouTube
18 अप्रैल 2017
12 मई 2017
घर में खुशहाली किसे अच्छी नहीं लगती. सब ठीक हों, स्वस्थ हों, सबकी जरूरतें पूरी हों इससे ज्यादा इंसान को क्या चाहिए होता है.पर कभी-कभी ऐसा नहीं हो पाता. लाख कोशिशों के बाद भी आपको वो नहीं मिल पाता जिसके आप हकदार हैं.हम बात कर रहे हैं वास्तु दोष की जिसका सीधा प्रभाव इंसान पर पड़ता है. अगर घर में वास्त
12 मई 2017
10 मई 2017
ग्रीन टी के बारे में अब तक आपने अच्छी बातें ही सुनी होंगी. टीवी पर Ads भी इसे इसी तरह पेश करते हैं, जैसे ये सेहत का सबसे बड़ा खज़ाना है और इसे पीते ही आप स्लिम-ट्रिम और फ़िट हो जायेंगे. लेकिन वो कहते हैं न कि किसी भी चीज़ की अति अच्छी नहीं होती, बस इसी तरह अगर इसका सेवन भी ज़्यादा किया जाये, तो मामला उल्
10 मई 2017
29 अप्रैल 2017
मंदिर-मस्जिद को लेकर जो सियासत भारत में होती है उसकी एक झलक आप हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी देख सकते हैं। इन सभी मामलों में पाकिस्तान बिल्कुल भारत की तरह ही है। चाहे बात भ्रष्टाचार की हो या महिलाओं की सुरक्षा की, ये सभी मुद्दे पाकिस्तान में भी उसी तरह से उठते हैं जैसे भारत में। इस बार पाकिस्तान
29 अप्रैल 2017
21 अप्रैल 2017
एक पाकिस्तानी टीवी न्यूज चैनल ने दावा किया है कि ओम पुरी की आत्मा कई दिनों से मुंबई की सड़कों पर भटक रही है।पाकिस्तानी पत्रकार आमिर लियाकत का कहना है कि ओमपुरी की आत्मा कई दिनों से मुंबई की सड़को पर भटक रही है। ओम पुरी की आत्मा को पिछले कई दिनों से उस सोसायटी में द
21 अप्रैल 2017
08 मई 2017
जब से बड़े नेताओं ने सोशल मीडिया पर अकाउंट बनाए हैं तभी से लोग उनसे सीधे तौर पर जुड़ गए हैं। अगर आप भारतीय रेल में सफ़र कर रहे हैं और आपको किसी तरह की दिक्कत होती है तो आप सीधे तौर पर रेल मंत्री सुरेश प्रभू को ट्वीट कर सकते हैं। ऐसा कई लोगों ने किया भी और उनकी समस्या का निवारण भी हुआ। इसी तरह से आर टी
08 मई 2017
06 मई 2017
आपने खौफ़ को महसूस किया होगा, पर देखा नहीं होगा. लेकिन जो तस्वीरें हम आपको दिखाने जा रहे हैं, इनमें से कुछ में खौफ़ कैद हुआ है. ये तस्वीरें आपको विचलित भी कर सकती हैं. ये कलेक्शन है लोगों द्वारा पोस्ट की गयी सबसे भयावह तस्वीरों का.अगर आपका दिल कमज़ोर है, तो इन तस्वीरों को न देखें.1. इन्हें 'पर्मानेंट श
06 मई 2017
12 मई 2017
घर में खुशहाली किसे अच्छी नहीं लगती. सब ठीक हों, स्वस्थ हों, सबकी जरूरतें पूरी हों इससे ज्यादा इंसान को क्या चाहिए होता है.पर कभी-कभी ऐसा नहीं हो पाता. लाख कोशिशों के बाद भी आपको वो नहीं मिल पाता जिसके आप हकदार हैं.हम बात कर रहे हैं वास्तु दोष की जिसका सीधा प्रभाव इंसान पर पड़ता है. अगर घर में वास्त
12 मई 2017
05 मई 2017
जब भी महिलाओं के सामने करियर चुनने की बात आती है तो समाज उनके लिए कुछ काम तय कर देता है, जैसे टीचर बन जाओ फिर पूरी जिंदगी कोई दिक्कत नहीं होगी। कई ऐसे प्रोफेशन भी हैं जिसमें काम करने वाली महिलाओं का चरित्र निर्धारण लोग बहुत जल्दी कर देते हैं। मसलन फलां काम करने वाल
05 मई 2017
10 मई 2017
हमारे देश में लोग हेलमेट सुरक्षा के लिए नहीं पहनते, बल्कि पहनते हैं पुलिस के चालान से बचने के लिए. बस 100 रुपये बचाने के लिए जान को जोखिम में डाल देते हैं. उन्हें अपने 100 रुपये जान से ज़्यादा प्यारे होते हैं. यही कारण है कि सड़कों पर बड़ी तादाद में लोग सस्ते और कमज़ोर हेलमेट पहने नज़र आते हैं. ऐेसे
10 मई 2017
10 मई 2017
हमारे देश में लोग हेलमेट सुरक्षा के लिए नहीं पहनते, बल्कि पहनते हैं पुलिस के चालान से बचने के लिए. बस 100 रुपये बचाने के लिए जान को जोखिम में डाल देते हैं. उन्हें अपने 100 रुपये जान से ज़्यादा प्यारे होते हैं. यही कारण है कि सड़कों पर बड़ी तादाद में लोग सस्ते और कमज़ोर हेलमेट पहने नज़र आते हैं. ऐेसे
10 मई 2017
27 अप्रैल 2017
श्
<!--[if gte mso 9]><xml> <o:OfficeDocumentSettings> <o:AllowPNG/> </o:OfficeDocumentSettings></xml><![endif]--><!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:Save
27 अप्रैल 2017
02 मई 2017
अपने ज़माने के सबसे हैंडसम हीरो थे वेट्रन एक्टर विनोद खाना. वो बॉलीवुड के सबसे बड़े सुपरस्टार्स में से एक और बहुत ही प्रतिभाशाली अभिनेता थे. उनकी कला उनके काम में बख़ूबी झलकती है. एक्टर विनोद खन्ना ने मुंबई के रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में गुरुवार सुबह 11 बजकर 20 मिनट पर अंतिम सांस ली. वो पिछले कई दिनों
02 मई 2017
06 मई 2017
हर इंसान का एक ऐसा सच होता है जिसे वो मात्र किसी अपने के साथ शेयर करता है. हमारे देश में बॉलीवुड के सितारों का बड़ा क्रेज़ है. उनकी मिमीकिरी से ले कर उनके जैसे बनने के चक्कर में लोग पगलाये हुए हैं. लेकिन उनके व्यवहार को अपनाने से कतराते हैं. आज इस आर्टिकल में हम आपको सितारों द्वारा किये गये Confessi
06 मई 2017
10 मई 2017
हमारे देश में लोग हेलमेट सुरक्षा के लिए नहीं पहनते, बल्कि पहनते हैं पुलिस के चालान से बचने के लिए. बस 100 रुपये बचाने के लिए जान को जोखिम में डाल देते हैं. उन्हें अपने 100 रुपये जान से ज़्यादा प्यारे होते हैं. यही कारण है कि सड़कों पर बड़ी तादाद में लोग सस्ते और कमज़ोर हेलमेट पहने नज़र आते हैं. ऐेसे
10 मई 2017
12 मई 2017
सफलता के लिए क्‍या करोगे(Saphalataa ke lie k‍yaa karoge)इस वीडियो में बोधकथा के द्वारा यह बताने का प्रयास किया गया है कि सफलता के लिए क्‍या आवश्‍यक होता है।Share, Support, Subscribe!!!Subscribe: https://goo.gl/Yy88SP सफलता के लिए क्‍या करोगे(Saphalataa ke lie k‍yaa karoge
12 मई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x