सेहत का खज़ाना मानी जाने वाली ग्रीन टी, इन 4 स्थितियों में हो जाती है नुकसानदेह

10 मई 2017   |  प्रियंका शर्मा   (143 बार पढ़ा जा चुका है)

ग्रीन टी के बारे में अब तक आपने अच्छी बातें ही सुनी होंगी. टीवी पर Ads भी इसे इसी तरह पेश करते हैं, जैसे ये सेहत का सबसे बड़ा खज़ाना है और इसे पीते ही आप स्लिम-ट्रिम और फ़िट हो जायेंगे. लेकिन वो कहते हैं न कि किसी भी चीज़ की अति अच्छी नहीं होती, बस इसी तरह अगर इसका सेवन भी ज़्यादा किया जाये, तो मामला उल्टा पड़ सकता है.

क्या हैं फ़ायदे और क्या हो सकते नुकसान?

सही मात्रा में लेने पर ये कॉलेस्ट्रोल को नियंत्रित करती है और वज़न कम करने में भी मदद करती है. वहीं अगर ज़्यादा मात्रा में ली जाये, तो ये इन पांच समस्याओं से जूझ रहे लोगों के लिए नुकसानदेह भी हो सकती है.

1. गर्भवती महिलाएं

इसमें कैफ़ीन होता है, जो मां के ज़रिये बच्चे के खून में भी जा सकता है. इसे बच्चे की बॉडी आसानी से Metabolize नहीं कर पाती और ये आगे चल कर बच्चे के विकास में भी बाधक बन सकता है.

2. जिन्हें खून की कमी हो

Anaemic लोगों को इससे परहेज़ करना चाहिए, क्योंकि ये आयरन के अवशोषण को रोकता है.

3. अनिद्रा से पीड़ित लोग

इसे पीने से नींद नहीं आती और Adrenaline ज़्यादा बनने लगता है. जिन्हें अनिद्रा की समस्या है, उनकी समस्या इसके सेवन से और बढ़ सकती है.

4. मधुमेह और उच्च-रक्तचाप से पीड़ित

इसे कम मात्रा में लेने पर भी शरीर का शुगरलेवल गड़बड़ा सकता है, जिससे चक्कर आने और सीने में जलन जैसी समस्याएं होती हैं. इससे Adrenaline ज़्यादा बनने लगता है, इसलिए उच्च-रक्तचाप से पीड़ित लोगों के लिए भी ये अच्छी नहीं है.

Source: Speakingtree

साभार - https://www.gazabpost.com/green-tea-side-effects/

अगला लेख: इंडियन एयरफोर्स: मैं एक लड़की हूं और मुझे पटाखों से डर नहीं लगता



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
16 मई 2017
भगवान शि‍व की 112 फुट ऊंची प्रति‍मा आदि‍योगी को गि‍नीज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रि‍कॉर्ड में जगह मि‍ल गई है. यह तमि‍लनाडु के कोयंम्‍टूर में मौजूद ईशा योगा परि‍सर में स्‍थि‍त है. महाशिवरात्री के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी साल 24 फरवरी को इसका अनावरण किया था. इसकी स्थापना ईशा योग फाउंडेशन ने की है. ज
16 मई 2017
08 मई 2017
जब से बड़े नेताओं ने सोशल मीडिया पर अकाउंट बनाए हैं तभी से लोग उनसे सीधे तौर पर जुड़ गए हैं। अगर आप भारतीय रेल में सफ़र कर रहे हैं और आपको किसी तरह की दिक्कत होती है तो आप सीधे तौर पर रेल मंत्री सुरेश प्रभू को ट्वीट कर सकते हैं। ऐसा कई लोगों ने किया भी और उनकी समस्या का निवारण भी हुआ। इसी तरह से आर टी
08 मई 2017
16 मई 2017
फील्ड मार्शल कोडंडेरा मडप्पा करिअप्पा भारतीय सेना के प्रथम कमांडर-इन-चीफ थे। के एम करिअप्पा ने साल 1947 के भारत-पाक युद्ध में पश्चिमी सीमा पर सेना का नेतृत्व किया था। वह भारतीय सेना के उन तीन अधिकारियों में शामिल हैं, जिन्हें फील्ड मार्शल की पदवी दी गयी। देश के प
16 मई 2017
23 मई 2017
मोहम्मद नईम की ज़िन्दगी की आख़री Groupie में वो ख़ून से लथपथ, हाथ जोड़े कुछ गांववालों के साथ खड़ा नज़र आ रहा है. गांववालों के चेहरे नज़र नहीं आ रहे क्योंकि नईम ज़मीन पर बैठा हुआ है. उसका आधा शरीर लहुलूहान है, शरीर पर एक बनियान है, कोई कमीज़ नहीं. कमीज़ शायद फाड़ दी
23 मई 2017
29 अप्रैल 2017
मंदिर-मस्जिद को लेकर जो सियासत भारत में होती है उसकी एक झलक आप हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी देख सकते हैं। इन सभी मामलों में पाकिस्तान बिल्कुल भारत की तरह ही है। चाहे बात भ्रष्टाचार की हो या महिलाओं की सुरक्षा की, ये सभी मुद्दे पाकिस्तान में भी उसी तरह से उठते हैं जैसे भारत में। इस बार पाकिस्तान
29 अप्रैल 2017
24 मई 2017
अलसी में कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, केरोटिन, थायमिन, राइबोफ्लेविन और नियासिन पाए जाते हैं। यह गनोरिया, नेफ्राइटिस, अस्थमा, सिस्टाइटिस, कैंसर, हृदय रोग, मधुमेह, कब्ज, बवासीर, एक्जिमा के उपचार में उपयोगी है। अलसी को धीमी आँच पर हल्का भून लें। फिर मिक्सर में दरदरा पीस कर किसी एयर टाइट डिब्बे में भरकर रख
24 मई 2017
05 मई 2017
जब भी महिलाओं के सामने करियर चुनने की बात आती है तो समाज उनके लिए कुछ काम तय कर देता है, जैसे टीचर बन जाओ फिर पूरी जिंदगी कोई दिक्कत नहीं होगी। कई ऐसे प्रोफेशन भी हैं जिसमें काम करने वाली महिलाओं का चरित्र निर्धारण लोग बहुत जल्दी कर देते हैं। मसलन फलां काम करने वाल
05 मई 2017
25 मई 2017
टीवी पर किसी न्यूज एंकर को देखकर सभी के मन में कभी न कभी यह इच्छा जरूर पैदा होती है कि काश कभी उन्हें भी टीवी पर आने और दमदार तरीके से अपनी बात रखने का मौका मिले। लेकिन लोगों को नहीं पता होता कि यह कितना चुनौतीपूर्ण काम होता है। लगातार नई-नई खबरें आती रहती हैं और उन्ह
25 मई 2017
10 मई 2017
हमारे देश में लोग हेलमेट सुरक्षा के लिए नहीं पहनते, बल्कि पहनते हैं पुलिस के चालान से बचने के लिए. बस 100 रुपये बचाने के लिए जान को जोखिम में डाल देते हैं. उन्हें अपने 100 रुपये जान से ज़्यादा प्यारे होते हैं. यही कारण है कि सड़कों पर बड़ी तादाद में लोग सस्ते और कमज़ोर हेलमेट पहने नज़र आते हैं. ऐेसे
10 मई 2017
24 मई 2017
बॉलीवुड में अब तक की सबसे बड़ी हिट फ़िल्म बाहुबली तो हम सब ने देखी होगी. उसके ग्राफ़िक्स ने हर किसी को मोहित कर दिया था. लेकिन इस चकाचौंध में आपने गौर किया कि इस फ़िल्म की कहानी रामायण और महाभारत जैसे महाकाव्यों से इतनी मेल क्यों खाती है? ध्यान नहीं दिया तो हम आपको बताते हैं कैसे?शुरू करते हैं फ़िल्
24 मई 2017
22 मई 2017
अब वह दिन दूर नहीं जब रोबोट इस दुनिया पर राज करेंगे! अरे भई यह हम नहीं, लोग कहते हैं, वैसे देखा जाए तो सही करते हैं। आधुनिक युग में हर आदमी रोबोट हुआ जा रहा है। कहने को हाड़-मांस, लेकिन काम तो रोबोट जैसा ही करता है न!... दिन-रात! खैर, दुबई पुलिस में एक रोबोट की भर्ती
22 मई 2017
12 मई 2017
घर में खुशहाली किसे अच्छी नहीं लगती. सब ठीक हों, स्वस्थ हों, सबकी जरूरतें पूरी हों इससे ज्यादा इंसान को क्या चाहिए होता है.पर कभी-कभी ऐसा नहीं हो पाता. लाख कोशिशों के बाद भी आपको वो नहीं मिल पाता जिसके आप हकदार हैं.हम बात कर रहे हैं वास्तु दोष की जिसका सीधा प्रभाव इंसान पर पड़ता है. अगर घर में वास्त
12 मई 2017
22 मई 2017
पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने अपने जीवन पर आधारित फिल्म ‘सचिन ए बिलियन ड्रीम्स’ को लेकर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस भेंट के बाद सचिन ने ट्वीट किया- 'माननीय प्रधानमंत्री को फिल्म 'सचिन ए बिलियन ड्रीम्स' को लेकर अवगत कराया और उनका आशीर्वाद लिया। प्रेरणादायी संदेश ‘
22 मई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x