तेरी ख़ुशी से ही नहीं ...!

26 मई 2017   |  प्रदीप कुमार   (418 बार पढ़ा जा चुका है)

सुंदर

शुक्रिया

रेणु
27 मई 2017

बहुत खूब प्रदीप जी --

शुक्रिया रेणु जी, उत्साह बढ़ाने के लिए |

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 मई 2017
दोस्तों घर पथ्तरों से बनता हैं ,लेकिन परिवार माँ-पिता से || हजारो फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए,हजारों दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए |हजारों बून्द चाहिए समुद्र बनाने के लिए,पर “माँ “अकेली ही काफी है बच्चो की जिन्दगी को स्वर्ग बनाने के लिए..!!**********************@@*********************
23 मई 2017
21 मई 2017
नेह भरीपाती अब नहीं आती. गुप्तवास में माँ की लोरीगूंगी बहरी चैती होरी सुखिया दादी परातीअब नहीं गाती अंगनाई की फट गई छातीचूल्हे चौकों कीबँट गई माटीपूर्वजों कीथाती अब
21 मई 2017
23 मई 2017
दोस्तों हर साल हमारा परीक्षा परिणाम जारी होता हैं |जिसमें से कुछ छात्र फेल हो जाते हैं |लेकिन परिणाम सभी छात्र देखते हैं |और रिजल्ट देखने के लिएँ हम किसी Computer Network शॉप पर जाते हैं |वहां पर पैसा और समय दोनों खर्च होते है ,वो भी फालतू में साथ ही साथ फेल होने पर शर्मिंदा भी
23 मई 2017
30 मई 2017
एक दिन विध्यालय के कुछ छात्रों ने पिकनिक पर जाने की योजना बनाई | और तय किया की सभी अपने-अपने घर से खाने का सामान लेकर आएंगे |इनमें से जीतू बहुत गरीब था,जब जीतू घर पहुंचा तो उसने अपनी माँ को सब कुछ बता दिया |की मुझे पिकनिक पर जाना है और सभी दोस्त अपने घर से कुछ न कुछ खाने के सामान साथ लेकर आएंगे |बच्
30 मई 2017
12 मई 2017
सफलता के लिए क्‍या करोगे(Saphalataa ke lie k‍yaa karoge)इस वीडियो में बोधकथा के द्वारा यह बताने का प्रयास किया गया है कि सफलता के लिए क्‍या आवश्‍यक होता है।Share, Support, Subscribe!!!Subscribe: https://goo.gl/Yy88SP सफलता के लिए क्‍या करोगे(Saphalataa ke lie k‍yaa karoge
12 मई 2017
21 मई 2017
तेरी तक़दीर का दोष नहींहै मेरी क़िस्मत का क़सूर तेरी तक़दीर में तो हम शामिल थेहमारी क़िस्मत में मगर तेरा साथ ना था तेरे नसीब ने तो मिलाया था हमें हमारे मुक़द्दर ने ही तुझ से बिछड़ने पर मजबूर कर किया ना तेरा ज़ोर चला अपने भाग्य पर ना मैं अपनी नियति बदल पाया अब तो इसी उम्मीद पर ज़िंदा हूँकी कभी तो जोड
21 मई 2017
23 मई 2017
दोस्तों घर पथ्तरों से बनता हैं ,लेकिन परिवार माँ-पिता से || हजारो फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए,हजारों दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए |हजारों बून्द चाहिए समुद्र बनाने के लिए,पर “माँ “अकेली ही काफी है बच्चो की जिन्दगी को स्वर्ग बनाने के लिए..!!**********************@@*********************
23 मई 2017
15 मई 2017
तु
कभी बनारस की सुबह बन जाती हो। तो भोपाल की शाम हो जाती हो। तुम रास्तें के दृश्य हो या, दोनों पर एक आसमां। तुम चेतन की किताब का किरदार तो नहीं हो, तुम जो हो हमेशा हो। चार कोनो में नहीं होती तुम, तुमने ही तुम्हें रचा हैं। अब प्रेम का क्या वर्णन करूँ, मेरा प्रेम तो तुम्ह
15 मई 2017
24 मई 2017
मैंने एक लेख लिखा है ,' पत्नी को खुश रखने के 101 नियम ' मैं इसे किसी को बेचना चाहता हु कैसे
24 मई 2017
16 मई 2017
भगवान शि‍व की 112 फुट ऊंची प्रति‍मा आदि‍योगी को गि‍नीज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रि‍कॉर्ड में जगह मि‍ल गई है. यह तमि‍लनाडु के कोयंम्‍टूर में मौजूद ईशा योगा परि‍सर में स्‍थि‍त है. महाशिवरात्री के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी साल 24 फरवरी को इसका अनावरण किया था. इसकी स्थापना ईशा योग फाउंडेशन ने की है. ज
16 मई 2017
30 मई 2017
पसंद और साझा जरूर करें |
30 मई 2017
17 मई 2017
क्‍या पक्षी से भी वास्‍तु दोष होता है(भाग-2)वास्‍तु विषय पर इस पहली वीडियो में यह बताने का प्रयास किया गया है कि क्‍या पक्षी से भी वास्‍तु दोष होता है। पहली वीडियों में कौए से होने वाले वास्‍तु दोष की चर्चा की गयी यदि अभी तक आपने हमारे चैनल को सबस्‍क्राईब नहीं किया है तो
17 मई 2017
23 मई 2017
आग सूरज में होती है , तड़पना जमी को पड़ता हैं | मौहब्बत निगाहें करती हैं ,तड़पना दिल को पड़ता हैं || सीने में लगी है , आग दुनियां में लगा दूँगा | जिस दिन उठेगी तेरी डोली, उस दिन पूरी दुनियाँ को जला दूँगा ||
23 मई 2017
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x