UP : अवैध शराब से हुई मौतों को लेकर CM योगी खफा, रौनापार के SO समेत दो निलंबित

08 जुलाई 2017   |  इंडियासंवाद   (69 बार पढ़ा जा चुका है)

UP : अवैध शराब से हुई मौतों को लेकर CM योगी खफा, रौनापार के SO समेत दो निलंबित

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद आजमगढ़ के रौनापार इलाके में अवैध शराब से 05 लोगों की मृत्यु को गम्भीरता से लिया है। पुलिस एवं आबकारी विभाग के कार्मिकों की लापरवाही के दृष्टिगत मुख्यमंत्री केे निर्देश पर थानाध्यक्ष रौनापार, क्षेत्र के सबइंस्पेटर व बीट आरक्षी को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।

निरीक्षक और सिपाहियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश


यह जानकारी देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री ने इस घटना के लिए जिम्मेदार आबकारी विभाग के निरीक्षक एवं सिपाहियों के विरुद्ध भी सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने इस प्रकार की घटना को रोकने के लिए आबकारी विभाग एवं समस्त जिलाधिकारियों/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि वे अभियान चलाकर अवैध शराब का कार्य करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई करें।

UP : अवैध शराब से हुई मौतों को लेकर CM योगी खफा, रौनापार के SO समेत दो निलंबित

http://www.hindi.indiasamvad.co.in/uttarpardesh/cm-yogi-overwhelmed-with-death-of-illegal-liquor-27467#.WV-n49oaVKM.facebook

UP : अवैध शराब से हुई मौतों को लेकर CM योगी खफा, रौनापार के SO समेत दो निलंबित

अगला लेख: IIT गर्ल्स हॉस्टल में थे 7 सांप, अलमारी के पीछे मिला नाग-नागिन का जोड़ा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
26 जून 2017
लखनऊ। आज सुबह ही इंडिया संवाद‘ में योगी सरकार के उप मुख्य मंत्री केशव प्रसाद मौर्य के बारे में एक बडी दिलचस्प खबर पढने को मिली। लगा कि योगी सरकार के उपमुख् मंत्री केशव प्रसाद मौर्य की मुख्य मंत्री बनने की अति तीव्र लालसा अभी बनी हुई ही है। राख में अंगारे की तरह दबी है। ऐस
26 जून 2017
23 जून 2017
लखनऊ : इलेक्ट्रानिक चिप के जरिए तेल चोरी करने वालों पर कार्रवाई से सरकार बचती नजर आ रही है। खासकर तेल चोरी के मामले में ज्वाइंट कमेटी बनाकर कार्रवाई के जो निर्देश दिए गए थे, जनता के साथ छलावा प्रमाणित हो रहे हैं। ज्वाइंट कमेटी की जांच के दौरान जिन पंपों में चिप व टेंपरि
23 जून 2017
23 जून 2017
लखनऊ: तीन दिन पहले मैं सिद्धार्थनगर में था। बस के इंतजार में बगल में ही बैठे रामसंजीवन से बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया। अलीगढ में ईंट के भठ्ठे में झोकाई का काम करने वाले इस व्यक्ति का कहना था कि यहां कोइ घंधा न मिलने से ही बाहर जाना पडता है। मजबूरी है उसकी। न जाय, तो खाय
23 जून 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x