चल चले फिर आज वहीं

16 जुलाई 2017   |  Karan Singh Sagar ( डा. करन सिंह सागर)   (106 बार पढ़ा जा चुका है)

अरसे बीत गए तुझे दिल की बात बताए

अरसे बीत गए तेरे दिल की बात सुने

चल चलें फिर आज वहीं

हुई थी शुरू जहाँ से अपनी दास्ताँ

बैठे थे जिस जगह थामे हाथों में हाथ

देख रहे थे सपने, आखों में एक दूजे की

उसी जगह जहाँ चुपचाप बैठे थे, सहमे से

फिर किया था तुमने और मैंने साथ में

ईज़हार अपने प्यार का और

एक हो गए थे दो दिल, जिस्म और रूह

जन्मों जन्मों के लिए

चल चले फिर आज वहीं


जुलाई २०१७

जिनेवा

अगला लेख: यह हो नहीं सकता



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 जुलाई 2017
खोया है कितना, कितना हासिल रहा है वोअब सोचता हूँ कितना मुश्किल रहा है वोजिसने अता किये हैं ग़म ज़िन्दगी के मुझकोखुशियों में मेरी हरदम शामिल रहा है वोक्या फैसला करेगा निर्दोष के वो हक़ मेंमुंसिफ बना है मेरा कातिल रहा है वोपहुँचेगा हकीकत तक दीदार कब सनम कासपनों के मुसाफिर की मंज़िल रहा है वोकैसे यक़ीन
10 जुलाई 2017
12 जुलाई 2017
ज़
इस चार दिन की ज़िंदगी में चार पल ख़ुशी के हैं तू जी ले इन्हें कुछ इस तरह कि ज़िंदगी इन्हीं में है मस्कुराहटों से गिन तू साल अपनी उम्र के हँसी ख़ुशी से बीते जो पलज़िंदगी इन्हीं में है छोड़ कुछ मीठी यादें उम्र के हर पड़ाव परपीछे मुड़ जब देखेगा ज़िंदगी इन्हीं में है ५ जुलाई २०१७जिनेवा
12 जुलाई 2017
18 जुलाई 2017
ख़
हवाओं में तेरी ख़ुशबू फ़िज़ाओं में तेरी हँसी फूलों में तेरी झलक चाँदनी में तेरा नूररवि में तेरी दमकनीर में तेरी शीतलता आकाश में तेरी छवि माटी में तेरी महक बना रही है ख़ूबसूरत इस कायनात को २५ जून २०१७जिनेवा
18 जुलाई 2017
15 जुलाई 2017
ट्रेन में एक आदमी सबके छोटे नाम का मजाक उड़ा रहा था तभी वो मुझसे बोला - “हैलो मेरा नाम चंद्रशेखरन मुत्तुगन रामस्वामी पल्लीराजन भीमाशंकरन अय्यर! ….. और आपका नाम?”“नरेन्द्र” मैंने जवाब दिया तो वो हँसते हुए बोला “हमारे यहाँ इतना छोटा नाम किसी का नहीं होता”! मैंने जवाब दि
15 जुलाई 2017
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x