आखिरी कश तक दमदार पनामा! जहां अमिताभ समेत दिग्गजों ने छिपाई दौलत

28 जुलाई 2017   |  प्रतीक सिंह   (264 बार पढ़ा जा चुका है)

छोटे में ऐड देखते थे, पनामा का. टैगलाइन थी, आखिरी कश तक दमदार पनामा. थोड़ा बड़े हुए तो एक पनामा और समझ आया. पनामा नहर. प्रशांत और अटलांटिक महासागर को जोड़ता नहर मार्ग. लेकिन अब जब 2016 आ चुका है तो एक पनामा और सामने आया. वो पनामा, जहां एंग्री यंगमैन अमिताभ बच्चन अपना पैसा छुपाकर रखता है. जो टैक्स उन्हें इंडिया में देना चाहिए, जहाज कारोबारी अमिताभ बच्चन वो पैसा सात समंदर पार पनामा में छिपाकर रखते हैं. जी हां, साल का सबसे बड़ा खुलासा पनामा पेपर्स की शक्ल में बाहर आ चुका है.

अमिताभ बच्चन. पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ. ऐश्वर्या राय. फुटबॉलर लियोनेल मेसी. बिजनेसमैन केपी सिंह. गद्दाफी. बेनजीर भुट्टो. सीरिया के प्रेसिडेंट बसर अल असद. दाऊद इब्राहिम का दोस्त इकबाल मिर्ची. DLF मालिक केपी सिंह. गौतम अडाणी के भाई विनोद अडाणी. हुस्नी मुबारक. इंडिया बुल्स कंपनी के मालिक समीर गहलौत. चीनी प्रेसिडेंट शी जिनफिंग.

ये वो नाम हैं, जिन्होंने अपनी दौलत छिपाने के लिए टैक्स हेवन की मदद ली. पनामा की लॉ फर्म मोसाक फोंसेका के खुफिया डॉक्यूमेंट लीक हो गए हैं. मोसाक फोंसेका पर अपनी क्लाइंट्स की मनी लॉन्ड्रिंग और टैक्स चोरी में मदद करने का आरोप है. कंपनी ने दावों को खारिज किया. ये डॉक्यूमेंट्स सबसे पहले जर्मन अखबार जिदोश्त शाइतुंग को मिले, जिसके बाद इंटरनेशनल कॉन्सोरटियम ऑफ इंवेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स (ICIJ) के जरिए 100 मीडिया ग्रुप्स के बीच साझा किए गए. इस लिस्ट में करीब 500 से ज्यादा इंडियंस के नाम शामिल हैं.

द इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, जिन लोगों का लिस्ट में नाम है ये लोग टैक्स हेवन देशों में मोसाक फोंसेका की मदद से कंपनियां शुरू करते थे. कुछ पर आरोप है कि वो इन कंपनियों के आधार पर बैंकों से लोन लेते.

टैक्स हेवन का क्या होता है मतलब?
टैक्स हेवन वो देश, जहां टैक्स बचाने के लिए सिस्टम में छूट रहती है. या ये कह सकते हैं कि बहुत सख्त रूल्स नहीं बने होते हैं. यहां टैक्स को लेकर कानून में तमाम तरह की छूट रहती हैं. आसानी से अकाउंट खुल जाते हैं. और सबसे अहम बात, यहां खुलने वाले अकाउंट्स सीक्रेट रखे जाते हैं. देशों की सरकार के दखल के बावजूद ये टैक्स हेवन देशों के बैंक आसानी से जानकारी मुहैया नहीं कराते हैं.

क्या है पनामा पेपर्स?
फरवरी 2004 तक इंवेस्टमेंट के जरिए रुपये को डॉलर में कंवर्ट कर आप बाहर नहीं ले जा सकते थे. लेकिन 2004 में RBI ने लिबेरालाइजड रेमिटेंस स्कीम की शुरुआत की. जिसके बाद से साल में करीब 25 हजार डॉलर को आप विदेश ले जा सकते थे. लेकिन बाद में इसे बढ़ाकर ढाई लाख डॉलर कर दिया गया. इंडियंस बाहर जाकर इन रुपयों का कैसे भी इंवेस्ट कर सकते थे. लेकिन 2010 में RBI ने साफ किया कि विदेशों में शेयर तो खरीदे जा सकते हैं लेकिन किसी तरह की कोई कंपनी नहीं बनाई जा सकती.

लोगों ने इस रूल का भी जुगाड़ निकाल लिया कि ठीक है. कंपनी नहीं बनाई जा सकती, लेकिन किसी पहले से बनी कंपनी पर टेकओवर तो किया जा सकता है. यहां ये लॉ फर्म मोसाक फोंसेका की एंट्री होती है. ये फर्म धड़ल्ले से कंपनियों का रजिस्ट्रेशन करती रहती है. कोई भी बंदा इस कंपनी के पास आकर शेयर या नई कंपनी खरीद सकता है. 2013 में RBI की नोटिफिकेशन आती है. और कहा जाता है कि अगस्त 2013 तक जिन कंपनियों ने ओवरसीज कंपनियां बनाई हैं, उन्होंने नियमों का उल्लंघन किया है.

मोसाक फोंसेका ऐसी फर्म है, जो कंपनी के मालिकों के नाम का खुलासा नहीं करती है. सारे सीक्रेट्स दबाकर रखती है. पनामा पेपर्स इन्ही सीक्रेट्स को खोलने का काम करती है. ये इंडिया समेत दुनिया के उन दिग्गजों के नामों और कंपनियों का खुलासा करती है, जिन्होंने टैक्स बचाने या मनी लॉन्ड्रिंग के लिए नियमों का उल्लंघन करते हुए टैक्स हेवन की मदद ली.

कहां और कैसे टूटे नियम?

अब क्या होगा?
पनामा पेपर्स सामने आने के बाद राजनीति क हचलच के अलावा लीगल एक्शन भी लिए जा सकते हैं. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट इस केस पर कार्रवाई कर सकती है. या फिर 2014 में मोदी सरकार बनने के बाद कालाधन लाने को लेकर बनी SIT भी इन खुलासों को ध्यान में रखकर काम करती है. ताकि ऑफशोर कंपनियों के बारे में और ज्यादा सही से जानकारी मिल सके.

जहाज कारोबारी अमिताभ बच्चन?
इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, अमिताभ बच्चन 4 कंपनियों के डायरेक्टर थे. जिनमें तीन कंपनियां बहामास और एक ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में थी. इन कंपनियों की ऑफिशियल कैपिटल करीब 5 हजार से 50 हजार डॉलर के बीच थी. ये कंपनियां करोड़ों अरबों में शिप्स का बिजनेस कर रही थीं. ऐश्वर्या राय भी इनमें से एक कंपनी की डायरेक्टर थीं, जिन्हें बाद में उसका शेयर होल्डर बना दिया गया.

नवाज शरीफ ने कंपनी के दम पर लिया लोन
पनामा पेपर्स के मुताबिक, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के बेटे हुसैन, हसन और बेटी मरियम ने आईलैंड में 4 कंपनियां डालीं. इन कंपनियों ने लंदन में प्रॉपर्टी खरीदी. फिर शरीफ फैमिली ने प्रॉपर्टीज गिरवी रखकर डॉएचे बैंक से करीब 70 करोड़ रुपये का लोन लिया. शरीफ फैमिली ने इन आरोपों पर चुप्पी साध ली है.

साभार : The Lallantop

अगला लेख: आशुतोष राणा ने बहुत अच्छी बात शेयर की है



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
31 जुलाई 2017
लोकसभा में आज समाजवादी प्रमुख मुलायम सिंह ने भीड़ द्वारा गौरक्षा के नाम पर लोगों की पीट पीट कर हत्या किए जाने के संबंध में कहा कि सबसे पहले अत्याचार और उत्पीड़न की शुरूआत परिवार से होती है...लोकसभा में आज समाजवादी प्रमुख मुलायम सिंह ने भीड़ द्वारा गौरक्षा के नाम पर लोगों की
31 जुलाई 2017
14 जुलाई 2017
N
रिक्तियों की जानकारी : पद नाम : अपरेंटिस पद संख्या : 39 पद वेतनमान : 5082/-प्रति माह आयु सीमा : न्यूनतम और अधिकतम उम्र सीमा 18 से 30 वर्ष योग्यता : 10 वीं + आईटीआई या 8 वीं + आईटीआई कार्य स्थल : सिक्किम आवेदन शुल्क :  निशुल्क मूल विज्ञापन का लिंक : http://www.nhpcindia.com/writereaddata/Images/pdf/R
14 जुलाई 2017
31 जुलाई 2017
कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री लाईव शो मे एक छात्रा द्वारा सवाल पूछे जाने पर बौखला जाती हैं और लाइव शो में कर बैठती हैं ऐसी नीच हरकत जिसे देखकर किसी क
31 जुलाई 2017
14 जुलाई 2017
“वहां माइनस डिग्री टेम्प्रेचर में फौजी खड़े हैं और तुम चाय में एक्स्ट्रा शुगर मांग रहे हो?” हमारे आस पास के ज्ञान ी और सुधीजन फौजियों को थैंक्यू करने के लिए यही शब्द इस्तेमाल करते हैं. अपने दावे को सही साबित करने का अगर हल्का सा भी क्लू हाथ लगता है, तो उसे जाने नहीं
14 जुलाई 2017
14 जुलाई 2017
Banu Qurayza ,बनू क़ुरैज़ा के युद्ध मे जब शांतिदूतों ने हुज़ूर से पूछा कि इन युद्ध बंदियों का क्या करें । उन्ने कही .......मार दो ।हुज़ूर surrender किये हुए को मार दें ?हाँ ........ मार दो ।औरतों और बच्चों का क्या करें ?औरतें रख लो और बच्चे मार दो .........हुज़ूर बच्चे ???
14 जुलाई 2017
13 जुलाई 2017
••॥ गीदड़ भपकी ॥••दोपहर में विचार आया की क्यों ना सड़क मार्ग से ही मुंबई से सागर पहुँचा जाए ? अपने विचार को अमल में लाते हुए शाम छह बजे मुंबई से सागर की ओर निकल गया। रोड, लोड, कंडिशन ऑफ़ विहकल एंड कंडिशन ऑफ़ ड्राइवर दुरुस्त होने के कारण क़रीब रात १२ बजे मध्यप्रदेश की
13 जुलाई 2017
24 जुलाई 2017
प्रतीकात्मक इमेज. सोर्स: DFIएक फिल्म देखी थी ‘सहर’. अरशद वारसी हीरो थे. उसमें क्रिमिनल्स के मोबाइल फ़ोन्स को सर्विलांस पर लगाकर उनपर नज़र रखी जाती थी. और उसी से उनकी मूवमेंट ट्रैक कर के उनका क्लाइमेक्स में एनकाउंटर भी होता है. वो फिल्म थी. ऐसा अब असल में भी हुआ है. इंडियन आर्मी ने सर्विलांस की मदद और
24 जुलाई 2017
13 जुलाई 2017
खानों की फिल्मों का परित्याग करेंगे तो आँख की कार्निया का ब्यास एक मिलीमीटर कम हो जाएगा | मैला - अली वाली कव्वाली और गजल नहीं सुनेंगे तो कान के सुनने की क्षमता दस डेसिबल कम हो जाएगी | पुराण और कुरान का तुकांत मिलने से यदि दोनों में बात - बात में समानता नहीं बतलाएंगे तो डिग्री अवैद्य घोषित करके छीन ल
13 जुलाई 2017
14 जुलाई 2017
कश्मीरियों के साथ हम सबका व्यवहार इस तरह का होता है कि जैसे कश्मीर एक "राज्य" न होकर कोई एक "शरारती" बच्चा हो जिसे हम और आप "झापड़" मार के समझा दें.. लोग गुस्से में इसी तरह पोस्ट लिखते हैं.. मोदी और राजनाथ जी को गाली दे रहे हैं.. दरअसल "बेडरूम" में लेट कर तो हम सब से ज
14 जुलाई 2017
14 जुलाई 2017
अमेरिका के दो वरिष्ठ परमाणु विशेषज्ञों के मुताबिक भारत चीन को ध्यान में रखते हुए अपने परमाणु हथियारों और देश की परमाणु रणनीति का लगातार आधुनिकीकरण कर रहा है। पहले भारत का ध्यान पाकिस्तान पर केन्द्रित था लेकिन अब ऐसा लगता है कि नई दिल्ली का जोर कम्युनिस्ट देश की ओर ज्यादा है।ऑनलाइन मैगजी 'आफटर मिडनाइ
14 जुलाई 2017
14 जुलाई 2017
लखनऊ विधानसभा में योगी जी की कुर्सी के नीचे से PETN नामक बिस्फोटक निकलने के समाचार की पुष्टि लैब द्वारा हो गई है | प्रश्न यह उठता है कि इतनी सुरक्षा तामझाम के बीच यह बिस्फोटक विधानसभा के अन्दर आखिर पहुँचा कैसे ? जैसे नेपाल के रास्ते फर्जी नोट पहुँचते हैं ..जैसे कश्म
14 जुलाई 2017
18 जुलाई 2017
वेंकैया नायडू ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। उन्हें एनडीए की ओर से उपराष्ट्रपति पद का दावेदार बनाया गया है। उनके इस्तीफे के बाद खाली हुआ सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, शहरी विकास मंत्रालय तथा गरीबी उन्मूलन मंत्रालय का पद क्रमशः स्मृति ईरानी तथा नरेंद्र सिंह तोमर को सौंपा गया है।स्मृति वर
18 जुलाई 2017
13 जुलाई 2017
स्वामी ओम का नाम, तो आपको याद ही होगा. वही स्वामी ओम, जो बिग बॉस से निकलने के बाद कभी किसी न्यूज़ चैनल, तो कभी पब्लिक के बीच लोगों द्वारा पिटते हुए पाए गए थे. विवादों से स्वामी ओम का कुछ नाता हो गया है कि
13 जुलाई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
14 जुलाई 2017
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x