चीन ने कर्ज में ऐसे फंसाया कि श्रीलंका को देनी पड़ी बंदरगाह में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी

30 जुलाई 2017   |  इंडियासंवाद   (86 बार पढ़ा जा चुका है)

चीन ने कर्ज में ऐसे फंसाया कि श्रीलंका को देनी पड़ी बंदरगाह में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी

कोलंबो : श्रीलंका ने रणनीतिक रूप से महत्वूपर्ण अपने हमबनतोता बंदरगाह में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिए चीन के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। यह सौदा 1.1 अरब डालर का है। इस बंदरगाह को बनाने में भारी कर्ज बोझ को देखते हुये यह समझौता किया गया। गहरे समुद्र स्थित इस बंदरगाह का इस्तेमाल चीन की नौसेना द्वारा किए जाने को लेकर बढी चिंताओं के बीच यह सौदा कई महीने से टलता आ रहा था।

उल् लेख नीय है कि चीन ने 2009 में गृहयुद्ध समाप्त होने के बाद से श्रीलंका में बड़े पैमाने पर निवेश किया है। इस सौदे के तहत इस बंदरगाह में हिस्सेदारी चीन की सरकारी कंपनी चाइना मर्चेंट पोर्ट होल्डिंग्स को बेची गई है। इस अवसर पर श्रीलंका के बंदरगाह मंत्री महिंदा समरसिंघे व चीन के राजदूत यी शियानलियांग मौजूद थे।


इस 99 वर्ष की लीज समझौते के तहत चाईना मर्चेंट पोर्ट इस बंदरगाह में समुद्री क्षेत्र से जुड़ी गतिविधियों में 1.1 अरब डालर का निवेश करेगा। समरसिंघे ने इस अवसर पर कहा, ‘‘यह 2014 की योजना के मुकाबले काफी अनुकूल समझौता है।’’ इसकी मूल योजना पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के कार्यकाल में बनाई गई थी। समझौता आगे संशोधन के लिये खुला था।

इससे भारत में सुरक्षा चिंता बढ़ सकती थी।बहरहाल, नये समझौते में इस गहरे समुद्री क्षेत्र स्थित बंदरगाह की सुरक्षा का जिम्मा केवल श्रीलंका की नौसेना पर होगा और बंदरगाह में किसी भी विदेशी नौसेना का बेस नहीं बन सकेगा।

चीन ने कर्ज में ऐसे फंसाया कि श्रीलंका को देनी पड़ी बंदरगाह में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी

http://www.hindi.indiasamvad.co.in/indiaabroad/-debt-that-had-given-70-stake-to-the-port-in-sri-lanka-28423#.WX3roRIvi2I.facebook

चीन ने कर्ज में ऐसे फंसाया कि श्रीलंका को देनी पड़ी बंदरगाह में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी

अगला लेख: यूपी में भड़के सपा नेता आज़म खान बोले-जौहर विश्वविद्यालय कोई शराबघर या रंडीखाना नहीं



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
17 जुलाई 2017
लखनऊ : राष्ट्रपति चुनाव में सोमवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा में 403 विधायकों में से 402 विधायकों और तीन सांसदों मुख्यमंत्री और सांसद योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री उमा भारती, सांसद और उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. इसके अलावा समाजवादी पार्टी,
17 जुलाई 2017
16 जुलाई 2017
देहरादून: उत्तराखण्ड सचिवालय में अब पत्रकारों की नो एंट्री की तैयारी की जा रही है. क़रीबी सूत्रों कि मानें तो अब पत्रकारों को सचिवालय में प्रवेश पर नए नीयमों के नाम पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है. यह पूरा मामला केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के एन एच 74 घोटाले पर ल
16 जुलाई 2017
16 जुलाई 2017
नई दिल्लीः यह घटना सिस्टम की पोल खोलती है। बार-बार प्रार्थनापत्र लेकर ठोकर खाने के बाद भी जब गरीब-मजलूमों की सुनवाई नहीं होती तो वे सोचते हैं कि अफसर पैसे भले ले लें मगर उनका काम कर दे। कुछ ऐसा ही हुआ बीते दिनों मध्य प्रदेश के भिंड जिले में। खबर यूं तो यह फरवरी की है, मगर
16 जुलाई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x