आपको पता है इंडियन रेलवे ने सबसे महंगा टिकट कितने का बेचा है?

30 जुलाई 2017   |  प्रतीक सिंह   (521 बार पढ़ा जा चुका है)

Source- sciencexpress.in

सोचो एक ट्रेन का टिकट कितने में पड़ेगा? जनरल का नहीं एसी का. हजारों का. बहुत हुआ तो दसियों हजार का. लेकिन अगर हम कहें कि एक आदमी को इंडियन रेलवे का एक टिकट करोड़ों का पड़ा तो क्या आप भरोसा करेंगे? 12,64,37,164 फिर से पढ़ें 12 करोड़ 64 लाख 37 हजार 164 रुपये का एक टिकट. इतना महंगा टिकट किसने खरीदा डॉ. एबीपी मिश्रा ने.

अब जानो कि मुद्दा क्या है. दरअसल एक ट्रेन चला करती है. साइंस एक्सप्रेस. लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में छह रिकॉर्ड्स में उसका नाम आया. और तो और इसमें एक वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है. डॉ. हर्षवर्धन ने खुद ट्वीट करके बताया. साइंस एक्सप्रेस डीएसटी विभाग की कस्टमाइज्ड ट्रेन है. इसमें 16 कोच होते हैं, ऐसी वैसी नहीं एसी की ट्रेन है. जिस पर मोबाइल साइंस प्रदर्शनी चलती है. इस ट्रेन को पूरे देश में घुमाया जा रहा है, जिसका टाइम सुबह 10 बजे से शाम 5 तक का है.

Source- Dr. Harsh Vardhan‏ Twitter

इसके नाम जो पहला रिकॉर्ड है, वो Largest Climate Change Awareness Programme का है. अभी चल रहे आठवें फेज में इसे अब तक 20 लाख से ज्यादा लोग विजिट कर चुके हैं. अक्टूबर 2007 में ये ट्रेन चली थी. इसने अब तक इसने आठ चरण में यात्रा की है.

Source- Dr. Harsh Vardhan‏ Twitter

किसी साइंस एक्जीबिशन में एक दिन में सबसे ज्यादा विजिटर आने का रिकॉर्ड भी इसी ट्रेन के पास है. 11 दिसंबर 2015 को जब ये ट्रेन रेवाड़ी के पास अनाजमंडी रेलवे स्टेशन में थी, तब एक दिन में 63,996 विजिटर इसे देखने आए थे.

Source- Dr. Harsh Vardhan‏ Twitter

और तो और ये सबसे ज्यादा विजिटर्स वाली मोबाइल साइंस एक्जीबिशन भी है. 30 अक्टूबर 2007 से 22 मार्च 2016 तक इसे देखने 1 करोड़ 52 लाख विजिटर्स आ चुके हैं. इस बीच ट्रेन 442 जगहों पर रुकी थी.

Source- Dr. Harsh Vardhan‏ Twitter

सबसे ज्यादा छात्रों ने एक्सपेरिमेंट भी इसी ट्रेन पर किए. 22 मार्च 2016 तक 4 लाख एक हजार 227 बच्चे इस पर प्रयोग करने आ चुके थे. जाहिर है ट्रेन में लैब भी है ही. उस लैब को JOS यानी जॉय ऑफ साइंस कहा जाता है.

Source- Dr. Harsh Vardhan‏ Twitter

अब जो वर्ल्ड रिकॉर्ड है वो जानिए. ये सबसे लंबी मोबाइल साइंस एक्जीबिशन है. जब से ये लांच हुई माने 30 अक्टूबर 2007 उसके बाद से 22 मार्च 2016 तक ये 1 लाख 37 हजार 115 किलोमीटर चल चुकी थी.

अब सबसे महंगे टिकट वाली बात भी कर लेते हैं. दरअसल ये टिकट डॉ. एबीपी मिश्रा के नाम पर कटा था. वो डिपार्टमेंट ऑफ साइंस और टेक के वै ज्ञान िक हैं. टिकट कटने की तारीख थी. 13 अक्टूबर 2015. ये 15 अक्टूबर 2015 से 7 मई 2016 वाले एक फेज का किराया था.

साभार : The Lallantop

अगला लेख: नरोत्तम मिश्रा जी बात बस इतनी है 'जब तक चोर पकड़ा न जाए, वो आर्टिस्ट ही रहता है'



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
31 जुलाई 2017
कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री लाईव शो मे एक छात्रा द्वारा सवाल पूछे जाने पर बौखला जाती हैं और लाइव शो में कर बैठती हैं ऐसी नीच हरकत जिसे देखकर किसी क
31 जुलाई 2017
17 जुलाई 2017
अगर देश का पीएम वो भी 56 इंच वाला किसी समस्या पर दूसरी बार बयान देने को बाध्य हो जाए तो खुद सोचिये वो समस्या कितनी गंभीर होगी।आज देश में भूखमरी, आतंकवाद, नक्सलवाद, बेरोजगारी से बड़ी समस्या गौ-रक्षक है।कैसे आइये बताते है...दरअसल गौ-रक्षक नामक इस समूह का उदय आज़ादी के वक़्त ही हुआ था। पाकिस्तान को नर्क ब
17 जुलाई 2017
18 जुलाई 2017
आइए मिलिए आनन्दपाल सिंह से भी बड़े सरगना से।और इसके साथ कानून है।मैं अपनी आँख का इलाज अपने परिचित डॉक्टर्स से करवा रहा हूँ। क्योंकि मुझे दिल्ली और महानगरों के डॉक्टर्स पर यकीन नहीं।और कुछ पढे या ना पढ़ें .लेकिन इस पोस्ट को जरूर पढ़ें....और अपने नाम से साझा कीजिए। ..अभिनव वर्मा की माँ ,जो सिर्फ 50 बरस क
18 जुलाई 2017
18 जुलाई 2017
एक कहावत है कि इंसान जो करता है उसका फल उसे समय आने पर मिलता जरूर है। बस फर्क़ इतना होता है किसी को ये फल जल्दी तो किसी को देर में मिलता है। फिर आप अगर किसी को सता भी रहे हैं तो आपके सामने वो किसी ना किसी रूप में आएगा ही। यहां मैं आपको राजनीति के बारे में बताऊंगी जहां लोग अपना औधा पाने के बाद लोगों
18 जुलाई 2017
24 जुलाई 2017
प्रतीकात्मक इमेज. सोर्स: DFIएक फिल्म देखी थी ‘सहर’. अरशद वारसी हीरो थे. उसमें क्रिमिनल्स के मोबाइल फ़ोन्स को सर्विलांस पर लगाकर उनपर नज़र रखी जाती थी. और उसी से उनकी मूवमेंट ट्रैक कर के उनका क्लाइमेक्स में एनकाउंटर भी होता है. वो फिल्म थी. ऐसा अब असल में भी हुआ है. इंडियन आर्मी ने सर्विलांस की मदद और
24 जुलाई 2017
17 जुलाई 2017
कारगिल की कटु यादें भले ही अक्सर हमारी आंखें नम कर देती हो, लेकिन इस युद्ध में भारतीय सैनिकों ने वीरता की एक ऐसी मिसाल कायम की है, जिसे समूचा विश्व याद रखेगा. इस युद्ध में उत्तर प्रदेश स्थित बुलंदशहर के 19 साल के एक लड़के ने भी भाग लिया था. कहते हैं उसने दुश्मन के साथ-साथ इस यु्द्ध में मौत को मात दे
17 जुलाई 2017
18 जुलाई 2017
मालिनी बदला हुआ नाम है.फरवरी महीने के बीचो-बीच की एक रात. मालिनी रात को अपनी गाड़ी में दोस्तों से मिलने जा रही थी. त्रिशूर से कोच्चि पहुंचने में लगभग डेढ़ घंटे लगते हैं. फासला 82 किलोमीटर का था.एक औरत के पास ड्राइवर पर भरोसा करने के सिवा कोई विकल्प नहीं होता. अगर वो रात को निकल रही हो और उसे डेढ़-दो घं
18 जुलाई 2017
20 जुलाई 2017
अगर आप किसी से बिहार के किसी नेता के बारे में पूछते हैं तो सबसे पहले नाम Lalu Prasad Yadav का आता है जिन्होंने कई दशक राजनीति में दे दिया है। आजकल ये चारा घोटाला और कुछ स्कैम में जेल की हवा खा रहे हैं लेकिन बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के पूर्व रेल मंत्री होने के
20 जुलाई 2017
01 अगस्त 2017
बिहार में जहां आनंद कुमार गरीब बच्चों को आइआइटियन बना रहे तो गुरु रहमान सिर्फ 11 रुपये फीस में आइएएस और आइपीएस। मिलिए इस बेमिसाल गुरु से।वर्ष 2002 की बात है। एक लड़का आता है पटना के गुरु रहमान के पास। कहता है
01 अगस्त 2017
17 जुलाई 2017
एम पी रामचंद्रन, पीएम मोदी जैसे दिखते हैं.सोशल मीडिया पर एक तस्वीर धकापेल फैल रही थी. तस्वीर में एक आदमी रेलवे प्लेटफ़ॉर्म पर खड़ा हुआ, अपने मोबाइल में मशगूल दिख रहा था. तस्वीर में जो आदमी दिखाई दे रहा था वो एकदम नरेंद्र मोदी जैसा दिख रहा था. इस फोटो को लेकर खूब हल्ला हुआ. पुलिस केस भी हो गया. लेकिन य
17 जुलाई 2017
18 जुलाई 2017
वेंकैया नायडू ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। उन्हें एनडीए की ओर से उपराष्ट्रपति पद का दावेदार बनाया गया है। उनके इस्तीफे के बाद खाली हुआ सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, शहरी विकास मंत्रालय तथा गरीबी उन्मूलन मंत्रालय का पद क्रमशः स्मृति ईरानी तथा नरेंद्र सिंह तोमर को सौंपा गया है।स्मृति वर
18 जुलाई 2017
31 जुलाई 2017
लोकसभा में आज समाजवादी प्रमुख मुलायम सिंह ने भीड़ द्वारा गौरक्षा के नाम पर लोगों की पीट पीट कर हत्या किए जाने के संबंध में कहा कि सबसे पहले अत्याचार और उत्पीड़न की शुरूआत परिवार से होती है...लोकसभा में आज समाजवादी प्रमुख मुलायम सिंह ने भीड़ द्वारा गौरक्षा के नाम पर लोगों की
31 जुलाई 2017
19 जुलाई 2017
टोल प्लाज़ा पर अगर आपको 3 मिनट से ज़्यादा इंतज़ार करना पड़ता है, तो आपको कोई पर्ची कटवाने की ज़रूरत नहीं है. बिंदास निकल चलिए. ये हम अपने मन से नहीं कह रहे. एक आरटीआई के जवाब में ये हैरान करने वाला तथ्य सामने आया है. जिससे ज़्यादातर जनता अंजान ही है.लुधियाना के एडवोकेट हरिओम जिंदल ने एक आरटीआई फाइल की थी.
19 जुलाई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x