ओ तेरी...गीले मोजे पहनकर सोने से भी फायदा होता है, ये तो आज पता चला

31 जुलाई 2017   |  अवनीश कुमार मिश्र   (386 बार पढ़ा जा चुका है)

पहले तो आपको बता दें कि पांव की तंत्रिका शरीर के आंतरिक अंगों तक सीधे पहुंच जाती है। पैरों की तंत्रिका तंत्र भी सैकड़ों-हजारों की मात्रा में होती है। यही कारण है कि पैरों से सीधा असर दिमाग एवं शरीर पर होता है।

अब आप पूछेंगे कि गीले मोजे का क्या संबंध है तो आपको बता दें कि मोजे के पानी को त्वचा द्वारा अवशोषित कर लिया जाता है जो आंतरिक तंत्रिकाओं से शरीर के अंदर पहुंचता है।

चलिए तो अब फटाफट गीले मोजे के फायदे जान लीजिए।

सर्दी के मौसम में अक्सर सर्दी-जुकाम हो जाता है जो हमें परेशान कर देता है। जुकाम से कफ की समस्या हो जाती है। आप गीले मोजे से आसानी से कफ निकाल सकते हैं।

इसके लिए 2 कप दूध में 1 चम्मच शहद और 2 बड़े प्याज को काटकर मिलाकर 15 मिनट के लिए छोड़ दें। इसमें मोजों को कुछ देर के लिए भिगोएं और निचोड़ कर पहन लें। प्याज और दूध में एंटीबैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेंटरी गुण होते हैं, जो कफ को हल्का करते हैं जिससे यह आसानी से निकल जाता है।

अगर आपको तेज बुखार है और दवाइयां खाने के बाद भी आराम नहीं मिल रहा हो तो एक बार चाहें तो आप गीले मोजे का नुस्खा आजमा सकते हैं।

एक बाउल में 2 ग्लास पानी ले। एक चम्मच सिरका मिलाएं। एक जोड़ी ऊनी मोजों को अच्छे से इसमें भिगो लें। फिर मोजों को थोड़ा निचोड़ लें। रातभर इन मोजों को पहनकर ही सोयें। 40 मिनट के भीतर आपका तापमान कम हो जाएगा। इससे इम्यूनिटी सिस्टम भी मजबूत होता है। स्वास्थ्य को भी लाभ मिलता है।

आजकर जंक फूड और फास्ट फूट की वजह से पाचन की समस्या भी बढ़ गई है। गीले मोजे से काफी हद तक इस समस्या को कंट्रोल किया जा सकता है।

काला जीरा, सौंफ को पानी में मिलाकर 15 मिनट तक के लिए उबालें। फिर मोजों को इसमें भिगोकर थोड़ा निचोड़ लें। इस घरेलू नुस्खे से आपकी पाचन की समस्या आधे घंटे में दूर हो जाएगी।

गीले मोजे पहनकर सोने से आपका पेट भी साफ हो जाता है। इसके लिए आधा पीस मक्खन, आधा सेब, एक चम्मच शहद और एक चम्मच अलसी को एक बाउल में मिला लें। इसमें एक कप पानी मिलाकर मिक्सर बना लें। मोजों को इस मिक्सर में भिगोकर निचोड़ दें। रातभर पहन कर सोयें। सुबह आपका पेट साफ हो जाएगा।

गीले मोजे घरेलू नुस्खें की तरह हैं, जिन्हे आजमाया जा सकता है। लेकिन यह कोई मर्ज की दवा नहीं हैं। ऐसे में एक बार डॉक्टर से भी सलाह जरूर लें।

साभार: ओनलीमायहेल्थ.कॉम

अगला लेख: खतरनाक भी हो सकती है ग्रीन टी?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
28 जुलाई 2017
हर लड़का अपने लिए एक ऐसा साथी चाहता है जो उसका सुख-दुख बांटे, हर मुश्किल में उसका साथ दे. लेकिन इतनी आसानी से लड़कों को किसी भी लड़की का साथ नहीं मिलता, क्योंकि किसी लड़की से रिश्ता बनाना इतना आसान नहीं होता है.अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा ही है तो चलिए हम आपकी थोड़ी मदद कर दे
28 जुलाई 2017
27 जुलाई 2017
जुकाम से बचने उपाय आयुर्वेद में जुकाम तीन प्रकार के बताए गए हैं। तीन प्रकार के जुक़ाम हैं:* जुकाम* पुराना जुकाम,* नज़लाजुकाम कई प्रकार के वायरस आदि के संक्रमण से होता है। आयुर्वेद में इससे बचने के कुछ उपाय सुझाए गए हैं जो इस प्रकार हैं:1.अधिक ठंड, तेज धूप, लू व बरसात में भीगने से बचें, गीले वस्त्र न
27 जुलाई 2017
27 जुलाई 2017
जुकाम से बचने उपाय आयुर्वेद में जुकाम तीन प्रकार के बताए गए हैं। तीन प्रकार के जुक़ाम हैं:* जुकाम* पुराना जुकाम,* नज़लाजुकाम कई प्रकार के वायरस आदि के संक्रमण से होता है। आयुर्वेद में इससे बचने के कुछ उपाय सुझाए गए हैं जो इस प्रकार हैं:1.अधिक ठंड, तेज धूप, लू व बरसात में भीगने से बचें, गीले वस्त्र न
27 जुलाई 2017
28 जुलाई 2017
BSNL ने अपने ब्रॉडबैंड कस्टमर्स से पासवर्ड बदलने को कहा है. सरकारी टेलकॉम विभाग के मुताबिक, उनके ब्रॉडबैंड सिस्टम पर मालवेयर अटैक हुआ था, इसलिए सभी यूजर्स डिफॉल्ट पासवर्ड जल्द से जल्द बदल लें.BSNL ने गुरुवार को बताया कि इस मालवेयर अटैक से 2,000 ब्रॉडबैंड मॉडम प्रभावित हुए हैं. इनमें से ज्यादातर वे क
28 जुलाई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
26 जुलाई 2017
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x