पाकिस्तानी बच्चे पढ़ रहे हैं: हिंदुओं ने मुसलमानों का क़त्लेआम किया

08 अगस्त 2017   |  अवनीश कुमार मिश्र   (130 बार पढ़ा जा चुका है)

wrong history is being taught to kids in Pakistan

पाकिस्तान इतिहास के मामले में हमेशा कमज़ोर रहा है. 1947 से पहले का सारा इतिहास भारत का इतिहास कहलाया जाने लगा. ऐसे में पाकिस्तान के हाथ कुछ न रहा. अपने हिसाब का इतिहास दर्ज करवाने की ज़िद में बेतुकी हरकतें भी की है पाकिस्तान ने. इसी चक्कर में मुस्लिम आक्रांता मुहम्मद बिन कासिम को पहले पाकिस्तानी का दर्जा दे रखा है. ऐसी ऊलजलूल हरकतें आम बात है वहां. अब बच्चों को भी ये बकवास परोसी जा रही है.

हाई स्कूल में पढ़ने वाले नोमान फज़ल को पता है कि कैसे ‘नमकहराम’ हिंदुओं ने पार्टीशन के वक़्त ख़ून की गंगा बहा दी थी. कैसे बंटवारे के वक़्त जो हजारों जानें गईं, उसके ज़िम्मेदार सिर्फ ‘हिंदू’ थे. उसे ये पता है क्योंकि ये उसकी इतिहास की किताबों में लिखा है.

‘हिंदू’ हत्यारे हैं

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत की क्लास 5 की हिस्ट्री की किताब में ऐसा ही भयानक इतिहास परोसा जा रहा है. इस किताब में बच्चों को बताया जा रहा है कि हिंदू हत्यारे हैं, मुसलमानों का क़त्लेआम किया है उन्होंने. हिंदुओं ने उनकी संपत्तियां ज़ब्त की और उन्हें भारत छोड़ने पर मजबूर किया. उन्होंने मुसलमानों पर ज़ुल्म ढाए, इसीलिए हमने पाकिस्तान बना लिया.

प्रतीकात्मक इमेज.

अब वहां के बच्चे इसी इतिहास को पढ़ कर भविष्य निर्माण करेंगे. अपने पड़ोसी मुल्क से नफरत करते रहेंगे. बचपन में ही ज़हर पिला दिया गया है. जो बड़े होते-होते नस-नस में फ़ैल जाएगा. सरहद के इस पार बच्चों को आज़ादी की लड़ाई के बारे में कुछ और ही पढाया जाता है. तथ्यात्मक. इधर के इतिहास में दुश्मन अंग्रेज़ है. उधर के इतिहास में भारत. उनके लिए 1947 में हासिल आज़ादी अंग्रेजों से कम, भारत से ज़्यादा थी.

अब वहां के बच्चे इसी इतिहास को पढ़ कर भविष्य निर्माण करेंगे. अपने पड़ोसी मुल्क से नफरत करते रहेंगे. बचपन में ही ज़हर पिला दिया गया है. जो बड़े होते-होते नस-नस में फ़ैल जाएगा. सरहद के इस पार बच्चों को आज़ादी की लड़ाई के बारे में कुछ और ही पढाया जाता है. तथ्यात्मक. इधर के इतिहास में दुश्मन अंग्रेज़ है. उधर के इतिहास में भारत. उनके लिए 1947 में हासिल आज़ादी अंग्रेजों से कम, भारत से ज़्यादा थी.

गांधी भी हैं नदारद

आज़ादी की लड़ाई में महात्मा गांधी का योगदान किसी हाल में इग्नोर नहीं किया जा सकता. जहां एक तरफ भारत के इतिहास में उनके काम को पूरी तवज्जो मिली है, वहां पाकिस्तान ने उनको गायब ही कर के रख दिया है. उनका उल् लेख नाममात्र है उन इतिहास की किताबों में. सब कुछ मुहम्मद अली जिन्ना को समर्पित कर रखा है.

प्रतीकात्मक इमेज.

जब तक ये बच्चे जवान होंगे इनके दिलों में ये बात गहरी पैठ चुकी होगी कि भारत इनका दुश्मन है. भारत ने उनपर ज़ुल्म ढाए हैं. इस कच्ची उम्र में जो दिमाग में लिख जाए, उसे बदलना आगे चल कर नामुमकिन हो जाता है.

विरोध भी करते हैं कुछ लोग

ऐसा नहीं है कि इसके खिलाफ़ वहां कोई बोल नहीं रहा है. कुछ लोग हैं जो सही इतिहास के आग्रही हैं. इस्लामाबाद के प्रोफ़ेसर तारिक़ रहमान कहते हैं कि इसके लिए फॉरेन पॉलिसी में बदलाव किए जाने की ज़रूरत है. लेकिन प्रशासन को इसे बदलने में कोई दिलचस्पी नहीं है. भारत विरोध पर ही तो उनका तामझाम टिका है.

जब कच्चे ज़हनों को झूठ परोस दिया जाए, तो भविष्य की नींव में खामी आना लाज़मी है. ये न सिर्फ चिंता का, बल्कि दुःख का विषय भी है. उम्मीद करते हैं कि कोई इसे बदल पाए वहां.

साभार: द लल्लनटॉप

अगला लेख: खतरनाक भी हो सकती है ग्रीन टी?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
04 अगस्त 2017
बड़ी भसड़ है यार लाइफ में. लोगों के सामने ऑप्शन्स इत्ते ज्यादा हैं कि पब्लिक कनफ्यूज होकर रह गई है. पॉर्न वेबसाइट्स की कैटेगरीज से ज्यादा फ्लेवर में कॉन्डम मैनफोर्स कंपनी पहले से ही दे रही है. अब एक नया आ गया है. अचार फ्लेवर. ऐसा खबरों में बताया जा रहा है. जिस फेसबुक पेज पर ये बात कही गई है वो है तो
04 अगस्त 2017
01 अगस्त 2017
नई दिल्ली. इंटरनेट पर एक ऐसी खबर और मैसेज वायरल हो रहा है, जिसमें कहा गया कि मोदी सरकार ने आधार को पैन कार्ड से लिंक कराने की डेडलाइन को बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया है। ये फाइनल डेडलाइन है। 31 अगस्त तक लिंक न कराने पर पैन कार्ड रद्द हो जा
01 अगस्त 2017
05 अगस्त 2017
मैगजीन कवर वैसे तो हर महीने नए-नए आते हैं. मगर कुछ कवर्स ऐसे होते हैं जो हमेशा याद किए जाते हैं. वजह कुछ भी हो सकती है, उनका अच्छा होना या बुरा होना.मैगजीन के लिए फोटोशूट करवाना हर एक्टर या एक्ट्रेस के लिए बड़ी खबर रहती है. अपने फेवरेट स्टार के बारे में हम सब ज्यादा से ज्यादा जानना चाहते हैं. मगर बीत
05 अगस्त 2017
03 अगस्त 2017
नई दिल्‍ली : स्‍कूल में टीचर के साथ मजाक करने का जिक्र आते ही आपको भी अपने स्‍कूल के दिन याद आ गए होंगे. स्‍कूल में टीचर या अपने साथियों के साथ प्रैंक करने का अलग ही मजा होता है. यदि आप भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे ऐसे ही एक प्रैंक वीडि
03 अगस्त 2017
27 जुलाई 2017
जुकाम से बचने उपाय आयुर्वेद में जुकाम तीन प्रकार के बताए गए हैं। तीन प्रकार के जुक़ाम हैं:* जुकाम* पुराना जुकाम,* नज़लाजुकाम कई प्रकार के वायरस आदि के संक्रमण से होता है। आयुर्वेद में इससे बचने के कुछ उपाय सुझाए गए हैं जो इस प्रकार हैं:1.अधिक ठंड, तेज धूप, लू व बरसात में भीगने से बचें, गीले वस्त्र न
27 जुलाई 2017
08 अगस्त 2017
20 साल की की मॉडल को बेहोशी की दवाई पिलाई और हाथ पैर बांधकर ट्रैवल बैग में भर दिया. इस मॉडल को पॉर्न मंडी में बेचने के लिए किडनैप किया गया था. इस दौरान उसकी गंदी तस्वीरें खींची गईं. ताकि उन तस्वीरों को दिखाकर उसे बेचा जा सके. मगर उसके एक बच्चा होने की बात ने उसे बचा लिया.
08 अगस्त 2017
27 जुलाई 2017
आंखें हमारे शरीर का वो हिस्सा हैं, जो सेंट्रल नर्वस सिस्टम से कनेक्टिड है। हमारी बॉडी को अगर कुछ होता है, तो उसका नेगेटिव असर आंखों पर भी पड़ सकता है। जब आप शीशे में खुद को देखते हैं, और आपको आंखों में कुछ अजीब दिखता है, तो इसे नज़रअंदाज़ न करें, क्योंकि कई बार हम समझ नहीं पाते कि क्या हुआ है और परे
27 जुलाई 2017
28 जुलाई 2017
नई दिल्‍ली : माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने अपने एक नए कार्यक्रम के तहत 1.6 करोड़ रुपये (250000 अमेरिकी डॉलर) का इनाम देने का ऐलान किया है. माइक्रोसॉफ्ट की तरफ से पहले भी इस तरह के प्रोग्राम आयोजित किए जाते रहे हैं. इसके तहत कंपनी के सॉफ्टवेयर में बग ढूंढना होगा. इससे पहले ग
28 जुलाई 2017
31 जुलाई 2017
दिल्ली में राजीव चौक मेट्रो स्टेशन की वो घटना तो याद ही होगी. जब वहां लगी एक स्क्रीन पर पॉर्न वीडियो चल गया था और लोग अपनी जगह ही ठिठक गए था. अब ऐसी ही एक पॉर्न क्लिप मीडिया वालों को गोवा में कांग्रेस पार्टी की तरफ से वाट्सएप ग्रुप में भेज दी गई. और मीडिया वाले हक्का बक्क
31 जुलाई 2017
28 जुलाई 2017
इंडियन होने के नाते क्रिकेट हम सब के दिलों में रहता है। बचपन में गर्मी की छुट्टी का इंतजार भी हम इसीलिए करते थे ताकि दिनभर क्रिकेट खेल सकें। धूप हो या बारिश, क्रिकेट सब पर भारी पड़ता था। उन दिनों हमारी टीम में एक ऐसा शख्स जरूर होता था जो क
28 जुलाई 2017
28 जुलाई 2017
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को महिला क्रिकेट टीम से मुलाकात की और खिलाड़ियों को बताया कि उन्होंने देश की बेटियों की तरह भारत को गौरवान्वित किया।टीम महिला विश्व कप में भाग लेने के बाद स्वदेश लौटी है जिसमें भारत को फाइनल में इंग्लैंड से हार मिली थी। मोदी ने फाइनल मैच से पहले टीम और खिलाड़ियों
28 जुलाई 2017
27 जुलाई 2017
नर्सरी से कक्षा पांच तक हमें यही पढ़ाया जाता है कि जिंदगी की तीन मूलभूत आवश्यकताएं हैं- रोटी, कपड़ा और मकान. अंग्रेजी वालों का तो नहीं पता, लेकिन हिंदी मीडियम में तो यही पढ़ाया जाता है. किंतु यही बात पढ़ने वाला लौंडा जब 10वीं-12वीं में पहुंचता है, तब तक उसकी जिंदगी में एक और मूलभूत आवश्यकता जुड़ चुक
27 जुलाई 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x