स्वादिष्ट पिज़्ज़ा भी बन सकता है कैंसर का कारण, जानिए ऐसी ही चौंकाने वाली कैंसर की वजहें

18 अगस्त 2017   |  अवनीश कुमार मिश्र   (185 बार पढ़ा जा चुका है)

छोटी-छोटी आदतें बन सकती हैं कैंसर का कारण।

स्वादिष्ट पिज़्ज़ा भी बन सकता है कैंसर का कारण, जानिए ऐसी ही चौंकाने वाली कैंसर की वजहें

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है। इस बीमारी में असामान्य सेल्स बनने लगते हैं, जो शरीर में फैलकर टिश्यूज को नष्ट कर देते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि मनुष्यों को 100 तरह के कैंसर हो सकते हैं। कैंसर के मरीजों में आमतौर पर गठान, असामान्य ब्लीडिंग, लंबे समय तक कफ बने रहना और तेजी से वजन घटना जैसे लक्षण भी देखे जा सकते हैं।

तथ्यों की बात करें तो भारत में 14.5 लाख लोग कैंसर से जूझ रहे हैं। साथ ही देश में हर साल कैंसर के लगभग 7 लाख नए मामले सामने आते हैं। इसके अलावा कैंसर से होने वाली मौतों में 71% लोग 30-69 साल के ऐज ग्रुप वाले होते हैं।

कैंसर के लक्षणों के साथ ही अक्सर ही कैंसर के कारणों पर भी बात की जाती है। तंबाकू खाने से मुंह का कैंसर होता है। यह तो हम सभी ने सुना है। लेकिन कैंसर कई ऐसी वजहों से भी होता है, जिसके बारे में हम सोचते भी नहीं है। आज हम आपसे ऐसे ही कुछ बिंदुओं पर बात करेंगे।

तो फिर देर किस बात की है। आइए जानते हैं पूरा मामला।

धूम्रपान और मोटापा

धूम्रपान और मोटापा

धूम्रपान करने, तंबाकू का सेवन करने और मोटापा भी कैंसर की वजह हो सकता है। यह बातें आपने कई बार सुनी होंगी। मगर आज बात कुछ अलग है।

आपका आस-पड़ोस

आपका आस-पड़ोस

यहाँ आस-पड़ोस से मेरा मतलब है आपके रहने और काम करने का स्थान। ज्यादा धूल, धुंए, प्रदूषित पानी और रेडिएशन वाली जगह रहने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

एयर फ्रेशनर

एयर फ्रेशनर

आजकल तो घरों और ऑफिसों में सेंट वाली अगरबत्ती का जमकर इस्तेमाल किया जाता है। इतना ही नहीं भगवान को खुश करने के लिए भी हम सुगंधित से सुगंधित अगरबत्ती लगाने की फिराक में रहते हैं। मगर आपको बता दें कि इन चीजों में मौजूद कुछ तत्व ही हवा में मौजूद गैसों से रिएक्शन करते हैं। बाद में यह कैंसर का कारण बनते हैं।

सनस्क्रीन का इस्तेमाल

सनस्क्रीन का इस्तेमाल

सनस्क्रीन तो हम सभी के लिए (खासतौर पर युवतियों के लिए) हर दिन की जरूरत बन गए हैं। लेकिन इन क्रीम्स में जिंक ऑक्साइड पाया जाता है, जो डीएनए को डैमेज करता है। यह आखिर में कैंसर का कारण बनता है।

प्लास्टिक का उपयोग

प्लास्टिक का उपयोग

गर्म चाय या अन्य पदार्थ प्लास्टिक के ग्लास में लेना या प्लास्टिक की बोतल या अन्य पैकेजिंग आदि का उपयोग करने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

ग्रिल्ड खाद्य पदार्थ

ग्रिल्ड खाद्य पदार्थ

'ग्रिल्ड चिकन' से लेकर 'ग्रिल्ड चीज' तक ना जाने कितनी डिशेस हमारी फेवरेट होती है। हमें तो रोटी भी तंदूर में पकी ही चाहिए होती है। लेकिन जिन खाद्य पदार्थों को तेज आंच और धुंए में पकाया जाता है, उनमें से कैंसर का कारण बनने वाले केमिकल्स रिलीज होते हैं।

पिज़्ज़ा

पिज़्ज़ा

यह बात सुनकर आपको थोड़ा धक्का लग सकता है। मगर ब्रेड बन्स और पिज़्ज़ा के कई ब्रांड्स में पोटैशियम ब्रोमेट और आयोडेट नामक केमिकल्स होते हैं, जो कैंसर का कारक होते हैं।

नाईट शिफ्ट में काम

नाईट शिफ्ट में काम

रात में काम करने से शरीर को आवश्यक सनलाइट नहीं मिलती है। साथ ही नींद का समय भी गड़बड़ा सकता है। इस वजह से कई जेनेटिक्स प्रॉब्लम्स होते हैं, जो कैंसर को भी जन्म दे सकते हैं।

शराब पीने से

शराब पीने से

सिर्फ स्मोकिंग करने या तंबाकू के सेवन से ही नहीं बल्कि शराब पीने से भी कैंसर होने का खतरा होता है। अल्कोहल में एसीटैल्डिहाइड नाम का केमिकल होता है, जो डीएनए को डैमेज करता है। इससे कई तरह के कैंसर होते हैं।

उम्र के साथ बढ़ता है खतरा भी

उम्र के साथ बढ़ता है खतरा भी

कैंसर पर आधारित आंकड़ों पर नजर डाले तो 66 की उम्र कैंसर के लिए मध्य की उम्र होती है। अधिकतर कैंसर के मरीज इससे कुछ कम और कुछ ज्यादा उम्र के होते हैं। आंकड़ों के अनुसार कैंसर के एक तिहाई मरीज 65 से 74 के बीच की उम्र के होते हैं।

हालांकि कैंसर तो किसी भी उम्र में हो सकता है। ऐसे में बेहतर है कि इसके कारणों को जानने के बाद इन चीजों को अवॉइड किया जाए।

साभार: विट्टीफीड .कॉम

अगला लेख: पॉर्न देखना आपका अधिकार है, मगर ये बातें भी पढ़ लें



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
04 अगस्त 2017
16 साल की लड़की. अमेरिका की यूनाइटेड एयरलाइंस में सफर कर रही थी. वो सीट पर सो गई थी. बराबर वाली सीट पर बैठे एक आदमी ने पहले उसकी जांघ पर हाथ रखा. सहलाने लगा. और फिर बाद में उसे दबोच लिया. लड़की डरकर दूसरी जगह बैठ गई, लेकिन उसने आदमी को अच्छा सबक सिखा दिया. ये केस उसी मानसिकता का नतीजा है, जो ये मान ल
04 अगस्त 2017
03 अगस्त 2017
नई दिल्लीः भारत और पाकिस्तान के बीच केवल सीमा और क्रिकेट के मैदान पर ही तलवारे नहीं तनी रहती है.बल्कि साइबर स्पेस पर भी दोनों के बीच तनतनी दिख रही है. ताजा मामले में पाकिस्तान की सरकारी वेबसाईट को हैक कर ली गई है. समाचार एजेंसी ने ट्वीट कर इस खबर की पुष्टि की है. मीडिया म
03 अगस्त 2017
03 अगस्त 2017
शातिर होने में और मूर्ख होने में बहुत महीन अंतर है. अंतर क्या, बस एक सिंपल फंडा है. आप कामयाब हो गए तो शातिर, और फेल हुए तो मूर्ख. फ़िल्मी स्टाइल में प्लान बनाते वक्त कई लोग उन गलतियों के बारे में बिल्कुल नहीं सोचते, जिन्हें फिल्मवाले दि
03 अगस्त 2017
05 अगस्त 2017
उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए संसद में वोटिंग शुरू हो चुकी है. ये लगभग तय है कि वैंकैया नायडू ही देश के अगले उपराष्ट्रपति होंगे. लेकिन शाम को वोटों की गिनती के बाद होने वाली आधिकारिक घोषणा कि इंतज़ार किया जाना चाहिए. तब तक एक नज़र उस राजनैतिक घटा-जोड़ पर डालिए जिसके तहत 18 विपक्षी पार्टियों ने गांधी को
05 अगस्त 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x