“हाइकु”

23 अगस्त 2017   |  महातम मिश्रा   (56 बार पढ़ा जा चुका है)

“हाइकु”


छूटा बंधन

मुँह में मिठाइयाँ

सत्य की जीत॥-१


घिनौना स्वार्थ

हाय तोबा दुहाई

वो शहनाई॥-२


बहाना बाजी

राह मील पत्थर

मोह मंजिल॥-३

वापस आई

पटरी पर रेल

सुखद यात्रा ॥-४


डाली का बौर

अपने अपने बाग

प्यार मुहब्बत॥-५


सबका धर्म

स्त्री पुरुष मानव

दया करुणा॥-६


वो काली रात

भयानक सपना

सुबह हुई॥-७


महातम मिश्र ‘गौतम’ गोरखपुरी

अगला लेख: गीतिका



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
30 अगस्त 2017
दो
"दोहा मुक्तक" अमिय सुधा पीयूष शिव, अमृत भगवत नाम सोम ब्योम साकार चित, भोले भाव प्रणाम मीठी वाणी मन खुशी, पेय गेय रसपान विष रस मुर्छित छावनी, सबसे रिश्ता राम।।-1 अमृत महिमा जान के, विष क्योकर मन घोल गरल मधुर होता नहीं, सहज नहीं कटु बोल तामस पावक खर मिले, लोहा लिपटे राख उपजाएँ घर घर कलह, निंदा कपट क
30 अगस्त 2017
01 सितम्बर 2017
पि
"पिरामिड" (1) ये भूख भरम विलासिता धर्म की छाँव है जश्ने बहार भीड़ अपरंपार।। (2) ये कुंठा कल्पना दुष्ट स्वभाव कलुषित राह छलनी हुई श्रद्धा।। (3) रे मन मूरख आँखे खोल लालच छोड़ साधु मंशा स्नेह रूप बहुरूपिया।। (4) न बना घरौंदा अंधे कूप विषैले सांप बिगड़ता पानी जन्म जीव मंथन।। (5) ये जेल सलाखे दंड मिला कै
01 सितम्बर 2017
30 अगस्त 2017
यशोदा छंद* विधान~ [ जगण गुरु गुरु ] (121 2 2) 5 वर्ण,4 चरण, दो-दो चरण समतुकांत....... "यशोदा छंद" पढ़ी पढ़ाई भली भलाई। कहा न मानो करो त जानो।।-1 लगी लगाई हल्दी सुहाई। छटा निराली खुशी मिताली।।-2 नई नवेली वहू अकेली। सुई चुभाए दिल घबराए।।-३ उगी हवेली नई चमेली। अनार छाए सितार गाए।।-4 पकी पकाई मिल
30 अगस्त 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x