यूनिवर्सिटी में सेमेस्टर का मायाजाल !!!!!!!

10 फरवरी 2018   |  नीरज अग्रहरि   (102 बार पढ़ा जा चुका है)

यूनिवर्सिटी में सेमेस्टर का मायाजाल !!!!!!!

ये सेमेस्टर का भी मायाजाल कम नहीं है , मिड गया तो फाइनल , फाइनल गया तो मिड आखिर ज़िंदगी क्या ये मिड और फाइनल मै ही सिमट कर रह गया है ? कभी कभी तो लगता है सब कुछ छोड़ छाड़ कर वही अपनी पुरानी स्कूल लाइफ को जीने लगूँ | जहा ना प्रैक्टिकल फाइल का लफड़ा होता था और न ही असाइनमेंट का झंझट |

जहा रातो को नींद पूरी आती थी ना की आज की तरह 5 घंटे वाली वो भी डर लगा रहता है की सुबह 7 बजे वाली प्रैक्टिकल की क्लास न मिस हो जाये |

सुबह 10 बजे से शाम को फिर 4 बजे तक क्लास फिर भी अगर प्रोफेसर साब कुमारगंज बाजार मैं देख ले तो अगले दिन 1 घंटा पक्का डिसिप्लिन पर लेक्चर !!!

और लोगो को क्या पता बच्चे कितना दुःख सहते है इस सेमेस्टर की रीति मै पूरी एक रात लगाते है सिलेबस को ख़त्म करने मे |

6 महीने का कोर्स एक रात मै खत्म, और तो और इसका एक सद वाक्य भी बन गया है जो है - वन नाईट एग्जाम फाइट !!

6 महीने पढ़ने वालो का जी0पी0ए0 8.0 और एक रात पढ़ने वालो का 7.9 यही तो खेल है जो हमारे वीर योद्धा उस आखिरी रात को खेलते है |आज के लिए इतना ही नहीं तो प्रोफेसर साब नाराज़ हो जायेंगे आगे और भी बहुत कुछ बताऊंगा तब तक लिए नमस्कार

'नीरज अग्रहरि ' न0दे0कृवि0वि0 कुमारगंज फैज़ाबाद

अगला लेख: जब करने लगे दाँत दर्द !!!



धन्यबाद सूरज

सूरज
10 फरवरी 2018

Nice Good नाइसेस

धन्यबाद

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x