“गीतिका” पेट भूख कब जाति देखती रोटी रगर विकार हरो॥

11 अप्रैल 2018   |  महातम मिश्रा   (66 बार पढ़ा जा चुका है)

छंद लावणी मात्रा भार- ३०. (चौपाई १४). १६ ३० पर यति पदांत – आर समान्त- अरो


“गीतिका”


प्रति मन में भोली श्रद्धा हो ऐसा शुद्ध विचार भरो

मानव का कहीं दिल न टूटे कुछ ऐसा व्यवहार करो

जगह जगह ममता की गांछें डाली सुंदर फूल खिले

समय समय पर इक दूजे को पीड़ाहर उपकार धरो॥


मत कर अब अपनी मनमानी जीवन समय अनुसार है

अपनी गाय बछरुवा अपना मत गैरत बीमार वरो॥


उपज सभी की एक सरीखी एक तरह सखी रैन है

तेरी मेरी सुबह कहाँ है सूरज आप अन्हार हरो॥


मत बाटों इस घर को फिर से दीर्घ लघु शब्द भेद में

सृजन शिल्प मन की अभिलाषा भाव प्रसंगनुसार झरो॥


करनी धरनी जिसकी जैसी वैसे नयनभिराम मिले

करतल एक हाथ नहिं बाजे ध्वनि मोहक संसार खरो॥


गौतम जिसके हाथ में लड्डू नाचे है वहीं ज़ोर से

पेट भूख कब जाति देखती रोटी रगर विकार हरो॥


महातम मिश्र, गौतम गोरखपुरी

अगला लेख: “हरियाली”



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
13 अप्रैल 2018
“मुक्तक”पग बढ़ा करते नहीं जब दिल के अंदर घाव हो। उठ के रुक जाते नयन जब हौसला आभाव हो। बज के रुक जाती तनिक शहनाइयाँ बारात में-लब सूखे खिलती न लाली जिस जगह कुभाव हो॥-१ कब सजा काजल वहाँ जह आँख ही तलवार हो। म्यान की क्या है जरूरत जब दिली तकरार हो। पल मुहूरत देखकर रण भूमि कब आ
13 अप्रैल 2018
05 अप्रैल 2018
कुंडलिया संचालक चालक सखा सत्य समय अनुसार घड़ी दिखाती है समय अब पकड़ो रफ्तार अब पकड़ो रफ्तार समय हो गया रेल का हम सफ़री रखवार स्वस्थ हो गमन मेल का कह गौतम कविराय मुसाफिर किसका पालकसीटी दो सरकार लौह पथ के संचालक॥ महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी
05 अप्रैल 2018
06 अप्रैल 2018
“मुक्तक”कन्या देवी रूप कुमारी गौरी पूजन। रूप मातु अनुरूप अलौकिक शोभा गुंजन। कन्यादान महान विधान भारती जोड़ा- सिंदूरी सौभाग अटल विश्वासी भू-जन॥-१ विवाहिता का रूप मांग सिंदूर सजाएनवदंपति अनुरूप गृहस्ती मन हर्षाए। परिवार परिधान बाग जस कोमल कलियाँ- मंगल चरण प्रभात सूर्य रथ च
06 अप्रैल 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x