ये मुलाकात आखरी है

23 मई 2018   |  vikas khandelwal   (73 बार पढ़ा जा चुका है)

हर लफ्ज़ आखरी है


हर बात आखरी है


तुमसे मिल के ना जाने क्यू ऐसा लगता है


ये मुलाकात आखरी है


दिल मेरा तुम्हे चाहता है ,


बस यही कसूर इस जन्म का आखरी है


जानता नहीं मै , मगर फिर भी कहता हु


ज़िन्दगी का ये पल आखरी है


या मेरे जज़्बात आखरी है


तुमको भी मुझ से प्यार हो जाएगा


मेरी आँखों में अपना चेहरा देख लो


या फिर आईने मे ख़ुद को गौर से देख लो


मेरी इल्तज़ा पहली है या


ये ख्वाहिश आखरी है


आ जाओ कि तुमको जीना सीखा दू


भूल गई हो जो अहसास प्यार के , तुम मे फिर से जगा दू


मुझ को अपना बेशुमार प्यार दे दो


मेरी और मेरे दिल कि आदत तुम हो


मुझ मे अपनी मोह्बत डाल दो

जो तुम से कही है , मेरी जिन्दगी के खुदा


तेरे सामने तेरे सजदे में , मेरी दुआ आखरी है


आईना भी अब तो मुझ से सवाल करता है


मेरे अन्दर जब से तुम रहने लगी हो


मुझ मे, मै हु या तुम हो


जवाब दो , मेरा सवाल आखरी है

अगला लेख: प्यार का मुझपे से जरा बुखार उतर जाने दो



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 मई 2018
छोटा-सा,साधारण-सा,प्यारा मध्यमवर्गीय हमारा परिवार,अपने पन की मिठास घोलता,खुशहाल परिवार का आधार,परिवार के वो दो,मजबूत स्तम्भ बावा-दादी,आदर्श गृहणी माँ,पिता कुशल व्यवसायी,बुआ-चाचा साथ रहते,एक अनमोल रिश्ते में बंधते,बुजुर्गों की नसीहत से,समझदार और परिपक्व बनते,चांदनी जैसी शीतलता माँ में,पिता तपते सूरज
23 मई 2018
10 मई 2018
दो दिल जहाँ नज़दीक हों और खुल के मन की बात होवो पल अगर तुम थाम लो हरदम सुहानी रात हो झुलसा सा तन उलझा सा मन और तुम कहीं से आ गएनभ में घटाएं छा गईँ कैसे ना अब बरसात हो ओस से भीगा समां और ठंडी ठंडी ये सुबहतुम ढली जाती हो मुझपे ज्यूँ महकता पारिजात हो प्यार का गुल खिल गया तो फिर ये मुरझाता नहींचाहे मुकद
10 मई 2018
15 मई 2018
छोटा-सा ,साधारण -सा मध्यमवर्गीय हमारा परिवार,अपनेपन की मिठास घोलता,खुशहाल परिवार का आधार,परिवार के वो दो मजबूत स्तम्भ थे बावा -दादी,आदर्श गृहणी थी माँ,पिता कुशल व्यवसायी,बुआ,चाचा साथ रहते,एक अनमोल रिश्ते में बंधते,बुजुर्गो की नसीहत से समझदार और परिपक्व बनते,मुखिया बावा
15 मई 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x