परीक्षा में टॉप करने के लिए अपनाएं यह आसान वास्तु टिप्स

09 जून 2018   |  ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव   (159 बार पढ़ा जा चुका है)

स्कूल का छात्र हों या कालेज का छात्र परीक्षा की बात आते ही उसके हाथ पैर फूलने लगते है। हर एक छात्र की यह इच्छा रहती हैं कि उसे अधिक से अधिक अंक प्राप्त हों। कुछ इसी तरह की इच्छाएं प्रत्येक माता-पिता की भी रहती हैं। परीक्षा का नाम जब इतनी घबराहट देता हैं तो निश्चित रुप से इसकी तैयारी करने में बहुत मेहनत करनी पड़ती है। सामान्यत: देखा गया है कि बहुत मेहनत करने पर भी मनोनूकुल परिणाम प्राप्त नहीं होते है। यदि यही स्थिति आपके बच्चों के साथ भी रहती हैं तो आपके लिए यह आलेख उपयोगी साबित हो साक्ता है। आज इस आलेख में हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें उपयोग में लाकर आप अपने बच्चों को अच्छे नंबर लाने में सहयोग कर सकते हैं -

अध्ययन के कमरे की दिशा

वास्तु शास्त्र कहता है कि अध्ययन का कमरे सदैव ही उत्तर-पश्चिम दिशा में होना चाहिए। पढ़ाई करते समय बच्चों का मुख पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। इससे पढ़ाई में ध्यान बनाए रखने में सहयोग प्राप्त होता है। पढ़ी हुई विषय वस्तु बच्चों को जल्द याद रहती हैं, और याद की हुई वस्तुएं याद भी रहती है। छात्र परीक्षा के समय नर्वस नहीं होता है, इससे बच्चों के नंबर अच्छे प्राप्त होते हैं।

अध्ययन करने का सही तरीका

अध्ययन करने के लिए सही दिशा और स्थिति का होना आवश्यक है। वास्तु शास्त्र यह कहता है कि छात्र पढ़ाई करते समय कुर्सी पर एक दम अलर्ट होकर बैठे। आराम लेकर बैठने से ध्यान भंग होने की संभावनाएं अधिक रहती है। यह माना जाता है कि जब पीठ का मेरुरज्जू का सीधा होना अध्ययन में उपयोगी साबित होता है। इससे स्मरणशक्ति बेहतर होती है। यह ध्यान रखना चाहिए कि कभी भी बच्चों को झुककर या लेटकर पढ़ने की आदत ना डालें।

प्रेरक चित्र लगाएं

छात्रों के कमरे में प्रेरणात्मक सकारात्मक वस्तुएं, फोटो या प्रतिमाएं रखनी चाहिए। अध्ययन के कमरे को सकारात्मक बनाए रखने के लिए विद्या की देवी सरस्वती एवं शुभता के प्रतीक गणेश जी का पोस्टर लगाना शुभ रहता है। इसके अलावा पढ़ाई के कमरे में प्रकृति से जुड़े चित्र लगाना भी शुभ रहता है। अध्ययन के कमरे में विश्व प्रसिद्ध शिक्षकों और विद्वान व्यक्तियों के चित्र लगाना भी अच्छा माना जाता है। सकारात्मक विचारों से युक्त पोस्टर भी लगाएं जा सकते हैं। इससे एकाग्रता बढ़ती है अध्ययन में मन अधिक लगता है।

अध्ययन का निर्धारित समय

किसी भी परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए यह आवश्यक हैं कि पढ़ाई का समय नियमित किया जाए। एक समय तालिका बनाकर प्रतिदिन के हिसाब से अलग-अलग विषयों के लिए समय सारणी बनाए जाए। प्रत्येक विषय को समय देना आवश्यक है। परीक्षा की तैयारी करने से पूर्व यदि यह निर्धारित कर लिया जाए, कि दिन और रात्रि में कुल कितने समय पढ़ाई करनी हैं और कितना समय अन्य विषयों को देना हैं , तो इससे सभी विषयों को बराबर समय दिया जा सकता है। समय सारणी का निर्माण करने के साथ साथ इसका पालन करना भी जरुरी है।

· अध्ययन मेज पर पिरामिड़, ग्लोब, एजुकेशन टावर रखना शुभ माना जाता है। अध्ययन करने से पूर्व देवी सरस्वती को प्रणाम करना चाहिए, संभव हों तो इनका मंत्र जाप भी करना चाहिए और ग्लोब को घूमाना चाहिए। इससे छात्र का पढ़ाई में मन लगता है।

· जिस रुम में छात्र पढ़ाई कर रहा हो उस कमरे में शौचालय कभी नहीं रखना चाहिए। अध्ययन की मेज पूर्व-उत्तर ईशान कोण या पश्चिम दिशा में होनी चाहिए। दक्षिण या आग्नेय अथवा उत्तर-दक्षिण में कभी भी नहीं होनी चाहिए।

· जहां छात्र अध्ययन करें, उस कमरे में एक खिड़की और रोशनदान भी अवश्य लगाना चाहिए।

· अध्ययन कक्ष की द्वार की दिशा पूर्व-उत्तर, मध्य या पश्चिम में होनी चाहिए।

· अध्ययन कक्ष की उत्तर दिशा में पुस्तकों की अलमारी रखनी चाहिए।

अगला लेख: इस प्रकार की कुंडली वाले लोग बनते है प्रसिद्ध नेता



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
09 जून 2018
ज्योतिष विद्या अपने आपमें एक वैदिक,अद्भुत और चमत्कारिकविद्या है। हमारेजीवन की सभीक्रियाओं, घटनाओं और यहांतक की रोगोंका संचालन भीग्रहों के द्वाराही होता है।नवग्रह हमारे जीवन केसुख-दुख सभीको नियंत्रित करतेहै। जातक केजन्म के समयही जन्म कुंडलीका निर्धारण होजाता है। जन्मपत्रीमें स्थिति ग्रहस्थिति, ग्रह य
09 जून 2018
09 जून 2018
ज्योतिष विद्या जहां एक ओर भविष्य में होने वाली शुभ-अशुभ घटनाओं का पूर्व संकेत देती हैं, वही इस विद्या के सूक्ष्म अध्ययन के द्वारा किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य, स्वभाव और रोगों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। आज हर व्यक्ति कम्प्यूटर और मोबाईल का प्रयोग करता है। दिन भर कम्प्
09 जून 2018
16 जून 2018
मौसम विज्ञान में करियर बनाने के बारे में इस पोस्ट में पूरी और सही जानकारी दी गई है मौसम विज्ञान एक ऐसा नाम जिससे हर कोई परिचित है। जिसके बारे में सभी लोग जानते हैं। हर राज्य में एक मौसम विज्ञान केंद्र होता है। यहां लोग सरकारी नौकरी करते हैं। ये एक बहुत बढ़िया डिपार्टमेंट है। यहां नौ
16 जून 2018
09 जून 2018
वैवाहिक जीवन मेंसुख-शांति बनाएरखने के लिएआवश्यक है किघर का वास्तुसम्मत हो। घरमें शांति कावास बना रहताहै। परिवार मेंसुख-समृद्धि औरसहयोग की स्थितिबनी रहती है।वास्तु दोष नकेवन घर काही होना चाहिए,बल्कि यह घरके प्रत्येक कमरेका होना चाहिए।घर के कुछहिस्से में वास्तुदोष का होना,जीवन के किसीन किसी भागमें कष्
09 जून 2018
09 जून 2018
ज्योतिष विद्या अपने आपमें एक वैदिक,अद्भुत और चमत्कारिकविद्या है। हमारेजीवन की सभीक्रियाओं, घटनाओं और यहांतक की रोगोंका संचालन भीग्रहों के द्वाराही होता है।नवग्रह हमारे जीवन केसुख-दुख सभीको नियंत्रित करतेहै। जातक केजन्म के समयही जन्म कुंडलीका निर्धारण होजाता है। जन्मपत्रीमें स्थिति ग्रहस्थिति, ग्रह य
09 जून 2018
09 जून 2018
हर व्यक्ति की सफलताके पीछे कोईना कोई शक्तिकाम कर रहीहोती है। हमाराजीवन ग्रहों केद्वारा संचालित हैं तोहमारे आसपास केवातावरण का वास्तुसम्मत ना होना,हमारे आर्थिक, सामाजिक,व्यक्तिगत और व्यवसायिकजीवन में बाधाका कारण बनताहै। ज्योतिष औरवास्तु यह कहताहैं कि यदिशुभ ग्रहों सेसंबंधित वस्तुओं को ग्रहणकिया जाए त
09 जून 2018
09 जून 2018
ज्योतिष विद्या अपने आपमें एक वैदिक,अद्भुत और चमत्कारिकविद्या है। हमारेजीवन की सभीक्रियाओं, घटनाओं और यहांतक की रोगोंका संचालन भीग्रहों के द्वाराही होता है।नवग्रह हमारे जीवन केसुख-दुख सभीको नियंत्रित करतेहै। जातक केजन्म के समयही जन्म कुंडलीका निर्धारण होजाता है। जन्मपत्रीमें स्थिति ग्रहस्थिति, ग्रह य
09 जून 2018
09 जून 2018
दे
हमारी रेखाओं में हमारा भविष्य अंकित होता है। विशेष रुप से तीन रेखाएं जिसमें जीवन रेखा, मस्तिष्क रेखा और ह्र्दय रेखा प्रमुख है। आपके हाथ के अंगूठे के ठीक नीचे के भाग को शुक्र पर्वत कहा जाता है। इस पर्वत के पास से एक रेखा निकलती है जो जीवन रेखा कहलाती है। जीवन रेखा अनामिका अंगूली के नीचे के भाग को गुर
09 जून 2018
09 जून 2018
नौ
आधुनिककाल में नौकरी करना किसी के लिए भी सहज नहीं रह गया हैं। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में व्यक्ति को प्रतियोगिता का सामना करना पड़ रहा हैं। साधनों की उपलब्धता पूरी नहीं होने के कारण आज जनसंख्या बढ़ने के साथ ही हर जगह एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ सी लगी हुई है। जिसे देखो वह व्यक्ति एक दूसरे को नीचे गि
09 जून 2018
09 जून 2018
शैक्षिक जीवन पूर्णकरने के बादसभी की इच्छारहती हैं किएक अच्छी नौकरीकी प्राप्ति हों।शिक्षा पूर्ण कर लेनेके बाद प्रत्येकव्यक्ति अपने करियरपर अपना ध्यानकेंद्रित करना चाहताहै। नौकरी कोबनाए रखनाऔर बेहतर करनाभी आज केसमय में सहजनहीं है। कोईन कोई परेशानीनौकरी के क्षेत्रमें लगी हीरहती है। कभीकार्यक्षेत्र का
09 जून 2018
09 जून 2018
नौ
आधुनिककाल में नौकरी करना किसी के लिए भी सहज नहीं रह गया हैं। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में व्यक्ति को प्रतियोगिता का सामना करना पड़ रहा हैं। साधनों की उपलब्धता पूरी नहीं होने के कारण आज जनसंख्या बढ़ने के साथ ही हर जगह एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ सी लगी हुई है। जिसे देखो वह व्यक्ति एक दूसरे को नीचे गि
09 जून 2018
09 जून 2018
ज्योतिष विद्या जहां एक ओर भविष्य में होने वाली शुभ-अशुभ घटनाओं का पूर्व संकेत देती हैं, वही इस विद्या के सूक्ष्म अध्ययन के द्वारा किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य, स्वभाव और रोगों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। आज हर व्यक्ति कम्प्यूटर और मोबाईल का प्रयोग करता है। दिन भर कम्प्
09 जून 2018
09 जून 2018
वि
विदेश का नामसुनकर ही आजके युवा वर्गकी आँखों मेंएक अलग तरहकी चमक आजाती हैं। आजके समय मेंहर युवा अपनेजीवन में एकबार विदेश जानेका सपना जरुरदेखता हैं तथाअपने सपने कोसच करने केलिए विभिन्न प्रयासभी करता हैं।कोई विदेश जाकरअच्छी शिक्षा प्राप्तकरना चाहता हैंतो कोई वहाँजाकर पैसे कमानाचाहता हैं। युवावर्ग में व
09 जून 2018
09 जून 2018
देवताओं को प्रसन्नकरना हों तोउनका पूजन वाहनोंके साथ हीकरना चाहिए। पुराणॊंमें वर्णित हैकि देव पूजनके साथ साथदेवताओं के वाहनपूजन का भीअपना महत्व है।हिन्दू धर्म शास्त्रकहते है किदेवताओं के वाहनहमें बहुत कुछसीखाते है, भारवहन और सहनशक्तिहमें ऊंटों सेसीखनी चाहिए। श्रीगणेशवाहन मूषक हमेंभूमि से जुड़ीजानकारी
09 जून 2018
09 जून 2018
जी
कहा जाता है किविवाह धरती पर संपन्न होते हैं और जोड़ियां स्वर्ग में तय होती है। कई बार यहअवधारणा सत्य नहीं हो पाती है, आज के समय मेंटूटते विवाह इस बार का प्रमाण है। आज स्त्री और पुरुष दोनों पर परिवार और कार्यक्षेत्रदोनों प्रकार की जिम्मेदारियां होती है। ऐसे में एक दूसरे को समझने और आपसी सहयोगबनाए रखना
09 जून 2018
09 जून 2018
वि
आधुनिक काल मेंफेंगशुई यंत्रों का महत्वबढ़ता जा रहाहै। परिवार मेंखुशियां बनाए रखनेके लिए व्यक्तिअनेक उपाय करताहै, घर मेंसुख-शांति बनीरहे इसके लिएघर का सकारात्मकरहना आवश्यक है।इस स्थिति मेंलोग फेंगशुई कीवस्तुओं का प्रयोगकरते हैं। इन्हींमें से एकविंड चाइम है,इसकी मधुर आवाजघर से नकारात्मकतादूर कर, सकारात
09 जून 2018
09 जून 2018
शैक्षिक जीवन पूर्णकरने के बादसभी की इच्छारहती हैं किएक अच्छी नौकरीकी प्राप्ति हों।शिक्षा पूर्ण कर लेनेके बाद प्रत्येकव्यक्ति अपने करियरपर अपना ध्यानकेंद्रित करना चाहताहै। नौकरी कोबनाए रखनाऔर बेहतर करनाभी आज केसमय में सहजनहीं है। कोईन कोई परेशानीनौकरी के क्षेत्रमें लगी हीरहती है। कभीकार्यक्षेत्र का
09 जून 2018
09 जून 2018
जी
कहा जाता है किविवाह धरती पर संपन्न होते हैं और जोड़ियां स्वर्ग में तय होती है। कई बार यहअवधारणा सत्य नहीं हो पाती है, आज के समय मेंटूटते विवाह इस बार का प्रमाण है। आज स्त्री और पुरुष दोनों पर परिवार और कार्यक्षेत्रदोनों प्रकार की जिम्मेदारियां होती है। ऐसे में एक दूसरे को समझने और आपसी सहयोगबनाए रखना
09 जून 2018
09 जून 2018
5
दुनिया में ऐसाकौन व्यक्ति हैंजिसे किस्मत कासाथ नहीं चाहिए।किस्मत सात होंतो हर कार्यसहज रुप सेपूरा हो जाताहै। अन्यथा कितनाभी जतन करोकाम बनता हीनहीं है। हमसभी ने यहबहुधा सुना होगाकि हम मेहनततो बहुत करतेहैं परन्तु कोईकाम बनता हीनहीं या बनतेबनते काम रुकजाते हैं। कुछइसी तरह कीसमस्याओं से जुझरहे व्यक्तियो
09 जून 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x