जिसे नक्सली समझकर पुलिस ने पकड़ा वह 12 साल से लापता पूर्व फौजी निकला

09 जुलाई 2018   |  प्राची सिंह   (194 बार पढ़ा जा चुका है)

लंबे समय से विक्षिप्त हालत में घूम रहे एक पूर्व फौजी के लिए शुक्रवार का दिन बेहद खास रहा। करीब 12 साल बाद वह अपने परिवार से मिल पाया। दरअसल, पुलिस जिस युवक को नक्सली समझ कर थाने ले आई थी। वह संतोष कुमार (40) सेना की सिग्नल कोर का पूर्व फौजी निकला।

शुक्रवार को उसे लेने पहुंचे उसके भाई सतीश कुमार ने बताया कि उसका भाई सिक्किम में जनरल ड्यूटी पर था, तभी उसकी बाईं आंख खराब हो गई थी, जिसके बाद उसने नौकरी छोड़ दी थी और वह लापता हो गया था। उसकी काफी तलाश की लेकिन उसका पता नहीं चल पाया। इसकी रिपोर्ट भी केरल में थाने में दर्ज कराई थी।



संदिग्ध होने पर पुलिस ने लिया हिरासत में

मोतीनाला थाना प्रभारी पीएस तिलगाम ने बताया कि 3 जुलाई को मोतीनाला से चिल्फी घाटी के बीच नेशनल हाईवे- 30 में एक संदिग्ध युवक के होने की सूचना मिली थी, वह लोगों से हथियारों के बारे में बातचीत कर रहा था। चूंकि यह क्षेत्र छत्तीसगढ़ सीमा से लगा है और नक्सल प्रभावित है। लिहाजा, पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

भाषा समझने बुलाया सिस्टर को

पुलिस पूछताछ में टूटी-फूटी भाषा में युवक अपना नाम संतोष केरल निवासी बता पाया। अन्य बातें पुलिस को समझ नहीं आ रही थीं। संतोष ने टूटी-फूटी हिंदी में बताया कि वह आर्मी में सिग्नल कोर में रहा है। साल 2007 में फौज की नौकरी छोड़कर भटक रहा था। पुलिस ने उसकी भाषा को समझने के लिए चर्च से मलयालम भाषा की जानकार सिस्टर मर्सी को बुलाकर बात कराई, जिसमें उसने अपने घर का पता थाना कर्तिकेयपल्ली जिला आलपी केरल का बताया।



व्‍हाट्सएप पर फोटो भेजकर कराई पहचान

थाना प्रभारी पीएस तिलगाम ने कार्तिकेयपल्ली थाने का टेलीफोन नंबर गूगल में सर्च किया। थाने का फोन नंबर लेकर सिस्टर मर्सी से बात कराई और संतोष के बारे में जानकारी दी। इसके बाद छोटे भाई सतीश ने 4 जुलाई को फोन पर बात की और संतोष के लापता होने की जानकारी दी। सतीश के व्‍हाट्सएप में संतोष की फोटो भेजकर पहचान कराई गई। 6 जुलाई को सतीश और मौसेरे भाई सबेरी मोतीनाला थाने पहुंचे और संतोष को देखते ही पहचान लिया।

Source: Nai Dunia

जिसे नक्सली समझकर पुलिस ने पकड़ा वह 12 साल से लापता पूर्व फौजी निकला

https://www.ekbiharisabparbhari.com/2018/07/08/the-police-who-was-naxalized-and-caught-by-the-police-had-been-fired-for-12-years/

जिसे नक्सली समझकर पुलिस ने पकड़ा वह 12 साल से लापता पूर्व फौजी निकला

अगला लेख: जानें क्यों भारत में गाडियां सड़क के बायीं ओर और अमेरिका में दायीं ओर चलती हैं?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
09 जुलाई 2018
पटना:पुलिसवालों का काम समाज में कानून की रखवाली और शांति बनाए रखना है। जनता की सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिसवालों की ही है।आमतौर पर आपने सुना होगा कि पुलिसवाले ही सबका बैंड बजाते हैं लेकिन इस बार कुछ अलग हुआ है। बिहार में एक 14 साल के लड़के ने पुलिसवालों का बाजा बजा दिया।बा
09 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
आईपीएस अफ़सर...नाम सुनते ही एक सम्मान की भावना जाग जाती है. आसान नहीं है आईपीएस बनना.लेकिन आईपीएस भी कभी-कभार फ़ेल हो जाते हैं. सरदार वल्लभभाई पटेल नेशनल पुलिस एकेडमी, हैदराबाद के 2016 रेग्युलर रिक्रूट बैच के अफ़सर ज़रूरी परीक्षा पास करने में ही असफ़ल हो गए.Source- Pro Ke
09 जुलाई 2018
29 जून 2018
“वहां माइनस डिग्री टेम्प्रेचर में फौजी खड़े हैं और तुम चाय में एक्स्ट्रा शुगर मांग रहे हो?” हमारे आस पास के ज्ञानी और सुधीजन फौजियों को थैंक्यू करने के लिए यही शब्द इस्तेमाल करते हैं. अपने दावे को सही साबित करने का अगर हल्का सा भी क्लू हाथ लगता है, तो उसे जाने नहीं देते.
29 जून 2018
03 जुलाई 2018
शादी में जयमाल के दौरान दुल्हा-दुल्हन को गोद में उठाना आजकल एक फैशन सा हो गया है। दोनों पक्ष जयमाल में खूब मजे और हंसी ठिठोली करते हैं। दुल्हा-दूल्हन के बीच जयमाल डाले जाने को लेकर भी कई तरह के मजाक सामने आते रहे हैं... लेकिन इन दिनों एक मजेदार वीडियो वायरल हो रहा है... ज
03 जुलाई 2018
04 जुलाई 2018
कतर, मकाओ और लक्सज़मबर्ग सबसे अमीर देश हैं किस देश को सबसे अमीर देश कहा जा सकता है? आप कहेंगे कि सीधी सी बात है, जिस देश में सबसे ज़्यादा पैसा है वो देश सबसे अमीर कहलाएगा. लेकिन इस सवाल का जवाब इतना सीधा नहीं है. सबसे अमीर देशों की सूची बनाने के लिए कई दूसरे रास्ते अपनाए
04 जुलाई 2018
10 जुलाई 2018
लंदन में रहने वाली गर्लफ्रेंड के भारत आगमन की खबर सुनने के बाद समीर की खुशी का ठिकाना नहीं था. करीब एक साल के इंतजार के बाद उसकी गर्लफ्रेंड पहली बार उससे मिलने के लिए इंडिया आने वाली थी. इतना ही नहीं, अपनी मुलाकात को यादगार बनाने के लिए उसकी गर्लफ्रेंड समीर के लिए लंदन से
10 जुलाई 2018
28 जून 2018
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला में माता श्री ज्वालाजी का मंदिर स्थित है। यहां ज्योति रूप में मां ज्वाला भक्तों को दर्शन देती हैं। मान्यता है कि ज्वालाजी में माता सती की जीभ गिरी थी, इससे यहां का नाम ज्वालाजी मंदिर पड़ा। मंदिर में होने वाले चमत्कारों को सुन अकबर सेना सहित य
28 जून 2018
12 जुलाई 2018
दुनिया की सबसे दुर्गम गुफा में फंसे जूनियर फुटबाल टीम के बच्चे और उनके कोच सहित 13 लोगों को निकालना इतना आसान नहीं था। लेकिन, भारत सरकार के अहम योगदान के चलते यह ऑपरेशन पूरा हो पाया।इसलिए थाईलैंड के प्रधानमंत्री ने भारत का खास तौर पर शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि हम भारतीय
12 जुलाई 2018
25 जून 2018
एतिहासिक ,पौराणिक एवं धार्मिक दृष्टिकोण से अति महत्वपूर्ण च्यवन आश्रम पीठ भगवान् शिव की नगरी देवकुंड धाम में दूधेश्वरनाथ महादेव के मंदिर के समीप ही आँगन बनाने के लिए हो रहे खुदाई के दौरान एक भव्य शिवलिंग के मिलने से पुरे इलाके में हर हर महादेव का जयघोष होने लगा , जिसने भी
25 जून 2018
18 जुलाई 2018
बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश में एक बार फिर पुलिस पर पैसे लेकर मनचाही पोस्टिंग देने के आरोप लगे हैं। हालांकि मामला सामने आने के बाद बुलंदशहर के एसएसपी ने पूरे मामले खंडन करते हुए इसे अफवाह बताया है। अफवाह फैलाने वाले के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया गया है। बता दें कि वायरल चैट एक
18 जुलाई 2018
26 जून 2018
पटना: शास्त्रों के अनुसार तुलसी को देवी का रूप माना जाता है। घर के आंगन में तुलसी का पौधा लगाने की और उसकी पूजा-अर्चना करने की परंपरा पुरानी है। ऐसा करने वालों को देवी-देवताओं की विशेष कृपा मिलती है। साथ ही साथ हर तरह की नकारात्मक ऊर्जा से घर-परिवार की रक्षा होती है।तुलसी
26 जून 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x