जिसे नक्सली समझकर पुलिस ने पकड़ा वह 12 साल से लापता पूर्व फौजी निकला

09 जुलाई 2018   |  प्राची सिंह   (160 बार पढ़ा जा चुका है)

लंबे समय से विक्षिप्त हालत में घूम रहे एक पूर्व फौजी के लिए शुक्रवार का दिन बेहद खास रहा। करीब 12 साल बाद वह अपने परिवार से मिल पाया। दरअसल, पुलिस जिस युवक को नक्सली समझ कर थाने ले आई थी। वह संतोष कुमार (40) सेना की सिग्नल कोर का पूर्व फौजी निकला।

शुक्रवार को उसे लेने पहुंचे उसके भाई सतीश कुमार ने बताया कि उसका भाई सिक्किम में जनरल ड्यूटी पर था, तभी उसकी बाईं आंख खराब हो गई थी, जिसके बाद उसने नौकरी छोड़ दी थी और वह लापता हो गया था। उसकी काफी तलाश की लेकिन उसका पता नहीं चल पाया। इसकी रिपोर्ट भी केरल में थाने में दर्ज कराई थी।



संदिग्ध होने पर पुलिस ने लिया हिरासत में

मोतीनाला थाना प्रभारी पीएस तिलगाम ने बताया कि 3 जुलाई को मोतीनाला से चिल्फी घाटी के बीच नेशनल हाईवे- 30 में एक संदिग्ध युवक के होने की सूचना मिली थी, वह लोगों से हथियारों के बारे में बातचीत कर रहा था। चूंकि यह क्षेत्र छत्तीसगढ़ सीमा से लगा है और नक्सल प्रभावित है। लिहाजा, पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

भाषा समझने बुलाया सिस्टर को

पुलिस पूछताछ में टूटी-फूटी भाषा में युवक अपना नाम संतोष केरल निवासी बता पाया। अन्य बातें पुलिस को समझ नहीं आ रही थीं। संतोष ने टूटी-फूटी हिंदी में बताया कि वह आर्मी में सिग्नल कोर में रहा है। साल 2007 में फौज की नौकरी छोड़कर भटक रहा था। पुलिस ने उसकी भाषा को समझने के लिए चर्च से मलयालम भाषा की जानकार सिस्टर मर्सी को बुलाकर बात कराई, जिसमें उसने अपने घर का पता थाना कर्तिकेयपल्ली जिला आलपी केरल का बताया।



व्‍हाट्सएप पर फोटो भेजकर कराई पहचान

थाना प्रभारी पीएस तिलगाम ने कार्तिकेयपल्ली थाने का टेलीफोन नंबर गूगल में सर्च किया। थाने का फोन नंबर लेकर सिस्टर मर्सी से बात कराई और संतोष के बारे में जानकारी दी। इसके बाद छोटे भाई सतीश ने 4 जुलाई को फोन पर बात की और संतोष के लापता होने की जानकारी दी। सतीश के व्‍हाट्सएप में संतोष की फोटो भेजकर पहचान कराई गई। 6 जुलाई को सतीश और मौसेरे भाई सबेरी मोतीनाला थाने पहुंचे और संतोष को देखते ही पहचान लिया।

Source: Nai Dunia

जिसे नक्सली समझकर पुलिस ने पकड़ा वह 12 साल से लापता पूर्व फौजी निकला

https://www.ekbiharisabparbhari.com/2018/07/08/the-police-who-was-naxalized-and-caught-by-the-police-had-been-fired-for-12-years/

जिसे नक्सली समझकर पुलिस ने पकड़ा वह 12 साल से लापता पूर्व फौजी निकला

अगला लेख: जानें क्यों भारत में गाडियां सड़क के बायीं ओर और अमेरिका में दायीं ओर चलती हैं?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
27 जून 2018
बिहार बोर्ड को पिछले दो-तीन साल से पता नहीं कैसी नज़र लगी है कि हर बार कुछ अजूबा हो रहा है. पाबंदियों के बावजूद नकल की खबरें तो आम रहीं, फिर टॉपर रूबी रॉय फर्जी निकल गई. फिर अभी कुछ दिनों पहले पता चला कि एग्ज़ाम की 42 हज़ार कॉपियां 8,000 रुपए में बेच दी गईं. अब ऐसी हालत म
27 जून 2018
24 जून 2018
आगरा से कुछ दिन पहले सोते हुए कुत्ते के ऊपर सड़क बना देने की खबर आई थी. खूब बवाला मचा था. सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक लोगों ने इस पर नराजगी जताई. मुकदमा दर्ज हुआ. गिरफ्तारियां हुईं. अब एक और मामला सामने आया है. इस बार कोई कुत्ता नहीं बल्कि एक इंसान पीड़ित है. एक सोते हुए
24 जून 2018
09 जुलाई 2018
पटना:पुलिसवालों का काम समाज में कानून की रखवाली और शांति बनाए रखना है। जनता की सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिसवालों की ही है।आमतौर पर आपने सुना होगा कि पुलिसवाले ही सबका बैंड बजाते हैं लेकिन इस बार कुछ अलग हुआ है। बिहार में एक 14 साल के लड़के ने पुलिसवालों का बाजा बजा दिया।बा
09 जुलाई 2018
29 जून 2018
“वहां माइनस डिग्री टेम्प्रेचर में फौजी खड़े हैं और तुम चाय में एक्स्ट्रा शुगर मांग रहे हो?” हमारे आस पास के ज्ञानी और सुधीजन फौजियों को थैंक्यू करने के लिए यही शब्द इस्तेमाल करते हैं. अपने दावे को सही साबित करने का अगर हल्का सा भी क्लू हाथ लगता है, तो उसे जाने नहीं देते.
29 जून 2018
04 जुलाई 2018
कतर, मकाओ और लक्सज़मबर्ग सबसे अमीर देश हैं किस देश को सबसे अमीर देश कहा जा सकता है? आप कहेंगे कि सीधी सी बात है, जिस देश में सबसे ज़्यादा पैसा है वो देश सबसे अमीर कहलाएगा. लेकिन इस सवाल का जवाब इतना सीधा नहीं है. सबसे अमीर देशों की सूची बनाने के लिए कई दूसरे रास्ते अपनाए
04 जुलाई 2018
05 जुलाई 2018
और ऐसी ड्रेस पहनाने के पीछे सरकार का मकसद क्या है, जानकर आप वो फोन न पटक दें जिसपर ये पढ़ रही हैं. हिंदुस्तान से लगभग 4,000 किलोमीटर दूर एक देश है लेबनन. वहां एक शहर है ब्रोउम्माना. वहां समाता साद नाम की एक औरत रहती है. हाल-फ़िलहाल में यातायात पुलिस म
05 जुलाई 2018
10 जुलाई 2018
लंदन में रहने वाली गर्लफ्रेंड के भारत आगमन की खबर सुनने के बाद समीर की खुशी का ठिकाना नहीं था. करीब एक साल के इंतजार के बाद उसकी गर्लफ्रेंड पहली बार उससे मिलने के लिए इंडिया आने वाली थी. इतना ही नहीं, अपनी मुलाकात को यादगार बनाने के लिए उसकी गर्लफ्रेंड समीर के लिए लंदन से
10 जुलाई 2018
06 जुलाई 2018
आपने अमीर लोगों के बारे में तो सुना ही होगा, लेकिन क्या कभी आपने अमीर शहरों के बारे में सुना है। हम आपको जीडीपी के आधार पर भारत के 10 बड़े शहरो के बारे में बताएंगे। अर्थव्यवस्था के नाम पर भारत को मजबूत बनाने में इन्हीं अमीर शहरों का बहुत बड़ा योगदान रहता है।10. विशाखापट्न
06 जुलाई 2018
02 जुलाई 2018
भारत में गाड़ियां सड़क के बायीं ओर चलती है और मोटरकार की स्टेयरिंग दायीं ओर होती है, जबकि अमेरिका सहित अधिकांश पश्चिमी देशों में गाडियां सड़क के दायीं ओर चलती है और मोटरकार की स्टेयरिंग बायीं ओर होती है. लेकिन क्या आपको इसके पीछे का कारण मालूम है? यदि आप इस प्रश्न के उत्तर स
02 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
जब भी हम पुलिस की बात करते हैं तो हमारे दिमाग में एक बड़े तोंद और मूंछ वाले आदमी की छवि बनती है. पुलिस को हम सबने अधिकतर ऐसे ही रूप में देखा है. लेकिन ये पहले की बात हुआ करती थी. आजकल के इस बदलते युग में अब पुलिस डिपार्टमेंट में आपको हैंडसम लोग भी दिख जाएंगे. भारत में कई ऐ
09 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश में एक बार फिर पुलिस पर पैसे लेकर मनचाही पोस्टिंग देने के आरोप लगे हैं। हालांकि मामला सामने आने के बाद बुलंदशहर के एसएसपी ने पूरे मामले खंडन करते हुए इसे अफवाह बताया है। अफवाह फैलाने वाले के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया गया है। बता दें कि वायरल चैट एक
18 जुलाई 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x