मेरे मन की

11 जुलाई 2018   |  ऋषभ शुक्ला   (54 बार पढ़ा जा चुका है)

नमस्कार मित्रो,

मेरे युट्युब चैनल पर आपका स्वागत है|
"मेरे मन की" पर ढेरो साहित्यीक रचनाओं जैसे कवितायेँ, गज़लें , कहानिया , मुक्तक , शायरी , लेख और संस्मरण आदि का आनंद ले सकते हैं|

इसके साथ ही आप हिंदी साहित्य से जुड़ी सभी जानकारीयाँ और खबरो का आनंद उठाते रहेंगे|

हिंदी साहित्य के उत्थान मे जो भी साथी सहयोग करना चाहते हैं, उनका स्वागत है|

संपर्क करें - 9125888212
rushabhshukla8@gmail.com

#मेरेमनकी

Mere Man Kee - YouTube

अगला लेख: सो जा नन्हे-मुन्हे सो जा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
16 जुलाई 2018
टी
यह उन दिनों की बात है ,जब उम्र कुछ ऐसी थी की ज़िन्दगी के बड़े से बड़े फैसले कैन्टीन मे चाय और समोसो के साथ बनते और बिगड़ जाते थे.यह उन दिनों की बात है जब ज़िन्दगी, इनटरवल के पह
16 जुलाई 2018
12 जुलाई 2018
#meremankeeMere Man Kare "मेरे मन की" पर आपकी रचनाओं के ऑडियो / विडियो प्रसारण के लिए सादर आमंत्रित हैं I निवेदन है कि प्रसारण हेतु ऑडियो / विडियो भेजें I आपकी कवितायेँ, गज़लें , कहानिया , मुक्तक , शायरी , लेख और संस्मरण का प्रसारण करा सकते हैं ISubscribe करने के लिए link को click करें :https://www.y
12 जुलाई 2018
04 जुलाई 2018
जि
जिन्दगी रही तो तुझसे मिलेंगे जरूर तेरे दिल मे रहेंगे , नैनों मे रहेंगे,तेरी यादो में रहेंगे, कही भी रहे,मगर रहेंगे जरूर बादल आ गए है जो, मोह्बत कि बारिश लेके तो तेरे
04 जुलाई 2018
21 जुलाई 2018
नमस्कार,स्वागत है आप सभी का यूट्यूब चैनल "मेरे मन की" पर|"मेरे मन की" में हम आपके लिए लाये हैं कवितायेँ , ग़ज़लें, कहानियां और शायरी|आज हम लेकर आये है कवियत्री रेखा जी का सुन्दर गीत "दुनिया नहीं कुछ मुझे देने वाली"|आप अपनी रचनाओं का यहाँ प्रसारण करा सकते हैं और रचनाओं
21 जुलाई 2018
23 जुलाई 2018
प्रेम और ध्यान मैंने देखा, औरमैं देखती रही / मैंने सुना, और मैं सुनती रही मैंने सोचा, औरमैं सोचती रही / द्वार खोलूँ या ना खोलूँ |प्रेम खटखटातारहा मेरा द्वार / और भ्रमित मैं बनी रही जड़ खोई रही अपनेऊहापोह में |तभी कहा किसीने / सम्भवतः मेरी अन्तरात्मा ने तुम द्वार खो
23 जुलाई 2018
30 जून 2018
दु
दर्द का दुसरा नाम महबूब है काटो सा चुभता गुलाब है मेरी पुरानी खताओं को माफ़ कर दो तो पेश ए खिदमत , एक नई खता जनाब है दर्द वो हि देते है, जो दिल मे रह
30 जून 2018
23 जुलाई 2018
तेरी याद ने दिवाना बना दिया शमा बनके जो जली हो तुम हमको उमर भर जलने वाला, परवाना बना दिया तेरी याद ने दिवाना बना दिया मुझको तस्वीरें तुम्हारी ,कुछ जो
23 जुलाई 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x