आज का पञ्चांग

18 जुलाई 2018   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (84 बार पढ़ा जा चुका है)

आज का पञ्चांग

बुधवार, 18 जुलाई 2018 – नई दिल्ली

सूर्योदय : 05:34 पर कर्क में

सूर्यास्त : 19:19 पर

चन्द्र राशि : कन्या

चन्द्र नक्षत्र : उत्तर फाल्गुनी 08:19 तक, तत्पश्चात हस्त

तिथि : आषाढ़ शुक्ल षष्ठी 14:36 तक, तत्पश्चात आषाढ़ शुक्ल सप्तमी

करण : तैतिल 14:36 तक, तत्पश्चात गर 26:00 (अर्द्धरात्र्योत्तर 02:00) तक, तत्पश्चात वणिज

योग : परिघ 11:33 तक, तत्पश्चात शिव

राहुकाल : 12:27 से 14:09

यमगंड : 07:21 से 09:03

गुलिका : 10:45 से 12:27

अभिजित मुहूर्त : कोई नहीं

अगला लेख: हिन्दी पञ्चांग



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 जुलाई 2018
मंगलवार, 24 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:37 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:17 पर चन्द्र राशि : वृश्चिक 15:28 तक, तत्पश्चात धनु चन्द्र नक्षत्र : ज्येष्ठा 15:28 तक, तत्पश्चात मूल तिथि : आषाढ़ शुक्ल द्वाद
23 जुलाई 2018
23 जुलाई 2018
प्रेम और ध्यान मैंने देखा, औरमैं देखती रही / मैंने सुना, और मैं सुनती रही मैंने सोचा, औरमैं सोचती रही / द्वार खोलूँ या ना खोलूँ |प्रेम खटखटातारहा मेरा द्वार / और भ्रमित मैं बनी रही जड़ खोई रही अपनेऊहापोह में |तभी कहा किसीने / सम्भवतः मेरी अन्तरात्मा ने तुम द्वार खो
23 जुलाई 2018
01 अगस्त 2018
गुरुवार, 02 अगस्त2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:43 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:11 पर चन्द्र राशि : मीन चन्द्र नक्षत्र : उत्तर भाद्रपद 13:12 तक, तत्पश्चात रेवती (पंचक) तिथि : श्रावण कृष्ण पञ्चमी 11:32
01 अगस्त 2018
18 जुलाई 2018
गुरुवार, 19 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:35 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:19 पर चन्द्र राशि : कन्या 19:56 तक, तत्पश्चाततुला चन्द्र नक्षत्र : हस्त 07:52 तक, तत्पश्चात चित्रा तिथि : आषाढ़ शुक्ल सप्तमी 13:3
18 जुलाई 2018
26 जुलाई 2018
रफ़्तार के बारे मेंरफ़्तार दुनिया का पहला हिन्दी वेब सर्च पोर्टल है। आज रफ़्तार एक वेब सर्च पोर्टल से आगे बढ़कर दुनिया के सबसे बड़े हिन्दी कंटेट एग्रीगेटर के रूप में उभर रहा है। रफ़्तार इंटरनेट पर मौजुद हिन्दी कंटेट को विभिन्न श्रेणियों जैसे मनोरंजन, समाचार, ज्योतिष, शब्दकोश आदि के रूप में बांटकर यू
26 जुलाई 2018
27 जुलाई 2018
शनिवार, 28 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:40 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:14 पर चन्द्र राशि : मकर चन्द्र नक्षत्र : श्रवण तिथि : श्रावण कृष्ण प्रतिपदा / सूर्योदय से पूर्व 27:55 (03:55) पर पूर्णचन्
27 जुलाई 2018
20 जुलाई 2018
शनिवार, 21 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:36 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:18 पर चन्द्र राशि : तुला चन्द्र नक्षत्र : स्वाति 09:06 तक, तत्पश्चात विशाखा तिथि : आषाढ़ शुक्ल नवमी 13:43 तक, तत्पश्चात आषाढ़ शुक्
20 जुलाई 2018
30 जुलाई 2018
मंगलवार, 31 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:41 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:12 पर चन्द्र राशि : कुम्भ 28:54 (अगले दिन सूर्योदयसे पूर्व 04:54) तक, तत्पश्चात मीन चन्द्र नक्षत्र : शतभिषज 09:09 तक, तत्पश्चात पूर्वा भाद्रपद (पंचक)
30 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
गुरुवार, 19 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:35 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:19 पर चन्द्र राशि : कन्या 19:56 तक, तत्पश्चाततुला चन्द्र नक्षत्र : हस्त 07:52 तक, तत्पश्चात चित्रा तिथि : आषाढ़ शुक्ल सप्तमी 13:3
18 जुलाई 2018
21 जुलाई 2018
रविवार, 22 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:36 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:18 पर चन्द्र राशि : वृश्चिक चन्द्र नक्षत्र : विशाखा 10:44 तक, तत्पश्चात अनुराधा तिथि : आषाढ़ शुक्ल दशमी 14:47 तक, तत्पश्चात आषाढ़
21 जुलाई 2018
11 जुलाई 2018
तड़के सुबह से ही रिश्तेदारों का आगमन हो रहा था.आज निशा की माँ कमला की पुण्यतिथि थी. फैक्ट्री के मुख्यद्वार से लेकर अंदर तक सजावट की गई थी.कुछ समय पश्चात मूर्ति का कमला के पति,महेश के हाथो अनावरण किया गया.कमला की मूर्ति को सोने के जेवरों से सजाया गया था.एकत्र हुए रिश्तेदार समाज के लोग मूर्ति देख विस्म
11 जुलाई 2018
24 जुलाई 2018
कुछ लोगों को संशय होता है कि ज्योतिष कोआयुर्वेद के समान वेद तो नहीं माना जाता ?ज्योतिष वेद है भी नहीं, वेदों का अंग है – वेदांग | ज्योतिष से सम्बन्धित ज्ञान वेदों में निहित है |ऋग्वेद में लगभग 20 मन्त्र ज्योतिष के विषय में उपलब्ध होते हैं,
24 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
गुरुवार, 19 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:35 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:19 पर चन्द्र राशि : कन्या 19:56 तक, तत्पश्चाततुला चन्द्र नक्षत्र : हस्त 07:52 तक, तत्पश्चात चित्रा तिथि : आषाढ़ शुक्ल सप्तमी 13:3
18 जुलाई 2018
19 जुलाई 2018
हम सभी जानते हैं कि ज्योतिष एक अत्यन्त महत्त्वपूर्ण और सम सामयिक विषय है | वेदांगों के अन्तर्गत ज्योतिषको अन्तिम वेदान्त माना गया है | प्रथम वेदांग है शिक्षा – जिसे वेद की नासिका माना गया है | दूसरा वेदांग है व्याकरण जिसेवेद का मुख माना जाता है | तीसरे वेदांग निरुक्त को वेदों का कान, कल
19 जुलाई 2018
07 जुलाई 2018
जन्म से पुनर्जन्म – हम बात कर रहेहैं सीमन्तोन्नयन संस्कार की - आज की भाषा में जिसे “बेबी शावर” कहा जाता है | यह संस्कार भी गर्भ संस्कारों का एक महत्त्वपूर्ण अंग है | पारम्परिक रूप से ज्योतिषीय गणनाओं द्वारा शुभ मुहूर्त निश्चित करके उसमुहूर्त में यह संस्कार सम्पन्न किया जाता था | इस संस्कार
07 जुलाई 2018
19 जुलाई 2018
मेरा अन्तर इतनाविशाल समुद्र से गहरा/ आकाश से ऊँचा / धरती सा विस्तृत जितना चाहे भरलो इसको / रहता है फिर भी रिक्त ही अनगिन भावों काघर है ये मेरा अन्तर कभी बस जाती हैंइसमें आकर अनगिनती आकाँक्षाएँ और आशाएँजिनसे मिलता हैमुझे विश्वास और साहस / आगे बढ़ने का क्योंकि नहीं हैकोई सीम
19 जुलाई 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x