आखिर क्यों अरबपति की MBBS टॉपर बेटी ने क्यों त्याग दिया मोह-माया? बन गई साध्वी श्री विशारदमाल !

19 जुलाई 2018   |  अखिलेश ठाकुर   (370 बार पढ़ा जा चुका है)

आखिर क्यों अरबपति की MBBS टॉपर बेटी ने क्यों त्याग दिया मोह-माया? बन गई साध्वी श्री विशारदमाल !

जब किसी चीज की कोई कमी न हो तो इंसान क्या ढूंढता है? किसे ढूंढता है? क्या वो उसे मिलता है? जिसके पास धन-संपत्ति, रूपया-पैसा, लाड-प्यार, दौलत-सोहरत, सुकून-शांति, गाड़ी-घोड़ा, फ्लैट-बंगला और एक सेटल्ड करियर हो, फिर उसे किस चीज की तलाश रहती है?



रिसर्च कीजिएगा, मगर फिलहाल अरबपति की डॉक्टर बेटी ने ये सबकुछ छोड़ दिया. जबकि दुनियाभर के लोग इसके लिए दिन-रात एक किए रहते हैं. कुछ लोग इसके लिए जी-तोड़ मेहनत करते हैं. कुछ प्रपंच करते हैं. कुछ घोटाले करते हैं. कुछ अपराध करते हैं. कुछ सही तो कुछ गलत तरीका अपनाते हैं. मगर जिसके पास ये सबकुछ है उसे ये पसंद नहीं आया. उसने सबकुछ छोड़ दिया. अब वो साध्वी बन गई. पुराना नाम तक से छोड़ दिया. उसने एक नया नाम अपना लिया.


हिना बन गई साध्वी श्री विशारदमाल

एमबीबीएस टॉपर और अरबपति परिवार से ताल्लुक रखनेवाली हिना हिंगड ने सांसारिक जीवन त्याग दिया. सूरत में जैन धर्म की दीक्षा ग्रहण की. पूरे विधि-विधान से जैन परंपरा के मुताबिक दीक्षा ग्रहण की. जैन परंपरा में दीक्षा लेने के बाद हिना हिंगड की पहचान अब साध्वी श्री विशारदमाल हो गई. अब वो अपने माता-पिता के लिए पराई हो गई. उसने घर-परिवार, भाई-बहन और नाते-रिश्तेदार सबको छोड़ दिया.



3 साल से कर रही थी मेडिकल प्रैक्टिस

परिवार वालों के मुताबिक पिछले 12 साल से वो जैन धर्म का दीक्षा लेना चाह रही थी, मगर माता-पिता राजी नहीं हो रहे थे, मगर हिना ने अपने परिवार वालों को मना लिया. 28 साल की हिना अरबपति परिवार से ताल्लुक रखती हैं. अहमदनगर यूनिवर्सिटी से गोल्ड मेडलिस्ट हिना पिछले 3 साल से मेडिकल का प्रैक्टिस कर रही थीं. वो अपने स्टूडेंट लाइफ में ही आध्यामिकता की तरफ आकर्षित हो गई थीं.



हिना हिंगड परिवार की 6 बेटियों में सबसे बड़ी हैं. जैन भिक्षु बनने से हिना के फैसले से उनके परिवार वाले दुखी हैं. सांसारिक जीवन छोड़कर जैन भिक्षु बन जाना हर किसी के बस की बात नहीं है. मगर जैन साध्वी बन जाना हर किसी के बस की बात नहीं है. हिना ने आध्यात्मिक गुरु आचार्य विजय यशोवर्मा सुरेश्वरजी महाराज से दीक्षा ली. दीक्षा से पहले हिना ने 48 दिनों का ध्यान पूरा किया. आचार्य विजय ने बताया कि हिना ने अपने पिछले जन्म में किए गए ध्यान और श्रद्धा की वजह से जैन धर्म की दीक्षा लेना मंजूर किया.



कम उम्र में जैन भिक्षु बन जाना नई बात नहीं

वैसे गुजरात में कम उम्र में किसी का भिक्षु बन जाना नई बात नहीं है. हिना से पहले अप्रैल 2018 में एक हीरा कारोबारी के बेटे भव्य शाह ने भी महज 12 साल की उम्र में संन्यास लिया था. भव्य को परफ्यूम और महंगी कारों का शौक था. जिसे आखिरी दिन उनके घरवालों और दोस्तों ने पूरा किया. उसे फरारी कार में बैठाकर घुमाया गया. फिर भव्य ने घरवालों से जी भरकर बातें की, और विदा लिया.



जून 2017 में गुजरात बोर्ड के 12वीं के कॉमर्स टॉपर वर्षील शाह ने जैन धर्म की दीक्षा ली. सितंबर 2017 में मध्य प्रदेश के एक दंपति ने अपनी 3 साल की बच्ची और 100 करोड़ की संपत्ति को छोड़कर जैन धर्म की दीक्षा ले ली. 2018 में सूरत के एक हीरा कारोबारी का 12 साल का बेटा भव्य शाह जैन भिक्षु बन गया. 2014 में भव्य की बड़ी बहन प्रियांशी ने भी 12 साल की उम्र में जैन धर्म की दीक्षा ली थी. अप्रैल 2018 में ही मुंबई के हीरा कारोबारी परिवार से ताल्लुक रखनेवाले सीए मोक्षेश ने करोड़ों की संपत्ति छोड़ जैन भिक्षु बन गए.

Source: Newsfry

अरबपति की MBBS टॉपर बेटी ने क्यों त्याग दिया मोह-माया? बन गई साध्वी श्री विशारदमाल

https://www.ekbiharisabparbhari.com/2018/07/19/why-mbbs-topper-daughter-of-billionaire-abandoned-the-temptation-sadhvi-shri-vishwada/

अगला लेख: 55 साल के ससुर ने अपनी 33 साल की बहू से की शादी, बन गए पति-पत्नी-कारण बहुत चौंकाने वाला है



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
06 जुलाई 2018
हिंदुओं के बीच व्यापक विश्वास है कि हनुमान को पीपल लीफ माला की पेशकश करने से जीवन में विभिन्न समस्याओं को हल करने में मदद मिलेगी। हनुमान को पीपल लीफ माला की पेशकश करने के लाभ यहां: मंगलवार को हनुमान को सर्वश्रेष्ठ पीपल लीफ माला की पेशकश कैसे करें। 9, 11 या 18 पीपल पत्तियों का उपयोग करके एक माला बनाओ
06 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कर्मस्थली गोरखपुर में एक 55 साल ससुर ने अपने ही लड़के की 33 साल पत्नी से शादी कर पति पत्नी का अनोखा रिश्ता कायम किया है।दरअसल पुत्र द्वारा प्रताड़ित की जा रही पुत्रवधू को अनोखा तोहफा देकर एक नए रिश्ते में बांध लिया। आज यहां पर एक ससुर ने अपन
18 जुलाई 2018
17 जुलाई 2018
आप कभी कैलाश मानसरोवर यात्रा पर गए हैं। या जाना चाहते हैं। तो आपके मन में एक सवाल जरूर उठेगा, आखिर कैलाश पर है कौनतमाम ग्रन्थ, पुराण बताते हैं कि कैलाश पर महादेव का वास है। हजारों लोग कैलाश के दर्शन करने जाते हैं। कुछ लोग तो सीधा महादेव तक पहुंचने की आस लेकर कैलाश मानसरोव
17 जुलाई 2018
24 जुलाई 2018
संसद में राहुल गांधी ने लपककर पीएम मोदी को गले लगा लिया. इस दुर्घटना पर मिला जुला रिएक्शन देखने को मिला. किसी ने कहा कि संसद की गरिमा गिर गई. किसी ने कहा संसद की गरिमा में चार चांद लग गए. उस सीन से आहत कुछ लोगों में एक यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी हैं. उन्होंने नेटवर्क 18
24 जुलाई 2018
17 जुलाई 2018
चेन्नई के अयानवरम इलाके में एक नाबालिग बच्ची के यौन शोषण की दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां 12 साल की मासूम बच्ची के साथ जो हुआ वह आपके रोंगटे खड़े कर देगा. 22 लोग पिछले 7 महीने से मासूम बच्ची के साथ रेप कर रहे थे. हैरानी की बात यह है कि रेप करने वाले हैवानों में अप
17 जुलाई 2018
01 अगस्त 2018
एजेंसी. मुंबई के एक युवक के पास ना तो किसी अच्छे कॉलेज की डिग्री है और ना ही कोई बढ़िया जॉब, फिर भी उसके लिए बड़े-बड़े घरों से रिश्तों की लाइन लग गय
01 अगस्त 2018
06 जुलाई 2018
हि
शनिवार, 7 जुलाई, 2018 को हिंदू कैलेंडर में तीथी - कृष्णा पक्ष नवमी तीथी या हिंदू कैलेंडर में चंद्रमा के अंधेरे चरण और अंधेरे चरण के दौरान नौवें दिन और अधिकांश क्षेत्रों में पंचांग। यह 7 जुलाई को शाम 7:26 बजे तक चंद्रमा के पंख या अंधेरे चरण के दौरान कृष्णा पक्ष नवमी तीथी या नौवां दिन है। इसके बाद यह
06 जुलाई 2018
07 जुलाई 2018
जीवन में ऐसे क्षण हैं जो अस्वीकार्य और अप्रिय हैं। हमारी सच्ची ताकत और साहस जीवन में ऐसे भयानक क्षणों पर काबू पाने में निहित है। असंतोष, क्रोध, क्रोध, अवसाद, विनाश और अपने आप को पीड़ित करना कभी भी अप्रिय स्थिति को हल करने का दृष्टिकोण नहीं होना चाहिए। ऐसी नकारात्मक स्थितियों के दौरान हमारी कार्रवाई
07 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
हि
हिंदू कैलेंडर में तिथि सोमवार, 9 जुलाई, 2018 - कृष्णा पक्ष एकदशी तिथी या ग्यारहवें दिन हिंदू कैलेंडर में चंद्रमा के अंधेरे चरण और अंधेरे चरण और अधिकांश क्षेत्रों में पंचांग के दौरान। यह 9 जुलाई को 5:04 बजे तक चंद्रमा की पंख या अंधेरे चरण के दौरान ग्यारहवें दिन है। इसके बाद यह कृष्णा पक्ष दवासादी तिथ
09 जुलाई 2018
07 जुलाई 2018
देहरा और आलंदी से महाराष्ट्र के पंढरपुर में प्रसिद्ध विठोबा मंदिर में वार्षिक पंढरपुर यात्रा (वारी) हजारों लोगों और तीर्थयात्रियों को वारारिस के रूप में जाना जाता है। आशिदी एकादाशी पर पांडारपुर यात्रा 2018 की तारीख 23 जुलाई को है। 2018 के अनुसूची के अनुसार, देहु से तुकाराम महाराज पालखी की शुरूआत 5 ज
07 जुलाई 2018
17 जुलाई 2018
र पूरी दुनिया का मनोरंजन करने के बाद सहवाग ने ट्विटर के जरिए लोगों को अपना हुनर दिखाने का फैसला किया। कई मौकों पर सहवाग ने साबित कर दिया कि जितने शानदार वो मैदान पर कवर ड्राइव मारा करते थे, उतने ही शानदार उनके ट्विट्स भी होते हैं। किसी लीजे
17 जुलाई 2018
05 जुलाई 2018
बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत के मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. घटना वाली रात की सीसीटीवी फुटेज भी सामने आई हैं. साथ ही इस परिवार के नाम को लेकर भी नई बात सामने आई है. पुलिस का बताया कि इस परिवार का नाम चूंडावत परिवार है. परिवार की बड़ी बेटी भाटी परिवार
05 जुलाई 2018
08 जुलाई 2018
हि
शनिवार, 7 जुलाई, 2018 को हिंदू कैलेंडर में तीथी - कृष्णा पक्ष नवमी तीथी या हिंदू कैलेंडर में चंद्रमा के अंधेरे चरण और अंधेरे चरण के दौरान नौवें दिन और अधिकांश क्षेत्रों में पंचांग। यह 7 जुलाई को शाम 7:26 बजे तक चंद्रमा के पंख या अंधेरे चरण के दौरान कृष्णा पक्ष नवमी तीथी या नौवां दिन है। इसके बाद यह
08 जुलाई 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x