हिन्दी पञ्चांग

19 जुलाई 2018   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (67 बार पढ़ा जा चुका है)

हिन्दी पञ्चांग

शुक्रवार, 20 जुलाई 2018 – नई दिल्ली

सूर्योदय : 05:35 पर कर्क में (10:17 पर सूर्य का पुष्य नक्षत्र में प्रवेश)

सूर्यास्त : 19:18 पर

चन्द्र राशि : तुला

चन्द्र नक्षत्र : चित्रा 08:08 तक, तत्पश्चात स्वाति

तिथि : आषाढ़ शुक्ल अष्टमी 13:18 तक, तत्पश्चात आषाढ़ शुक्ल नवमी

करण : बव 13:18 तक, तत्पश्चात बालव 25:26 (अर्द्धरात्र्योत्तर 01:26) तक, तत्पश्चात कौलव

योग : सिद्ध 08:17 तक, तत्पश्चात साध्य

राहुकाल : 10:45 से 12:27

यमगंड : 15:51 से 17:33

गुलिका : 07:22 से 09:04

अभिजित मुहूर्त : 12:00 से 12:55

अगला लेख: मेरा अन्तर इतना विशाल



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 जुलाई 2018
शनिवार, 21 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:36 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:18 पर चन्द्र राशि : तुला चन्द्र नक्षत्र : स्वाति 09:06 तक, तत्पश्चात विशाखा तिथि : आषाढ़ शुक्ल नवमी 13:43 तक, तत्पश्चात आषाढ़ शुक्
20 जुलाई 2018
23 जुलाई 2018
मंगलवार, 24 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:37 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:17 पर चन्द्र राशि : वृश्चिक 15:28 तक, तत्पश्चात धनु चन्द्र नक्षत्र : ज्येष्ठा 15:28 तक, तत्पश्चात मूल तिथि : आषाढ़ शुक्ल द्वाद
23 जुलाई 2018
21 जुलाई 2018
रविवार, 22 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:36 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:18 पर चन्द्र राशि : वृश्चिक चन्द्र नक्षत्र : विशाखा 10:44 तक, तत्पश्चात अनुराधा तिथि : आषाढ़ शुक्ल दशमी 14:47 तक, तत्पश्चात आषाढ़
21 जुलाई 2018
13 जुलाई 2018
13 जुलाई, 2018: यदि आपके पास अतिरिक्त कप चीनी है, तो कप देने में क्या नुकसान होता है? खैर, उसमें कोई नुकसान नहीं है। आप से अधिक दुखी पड़ोसियों का नाटक हो सकता है कि वे केवल एक प्राकृतिक-प्राकृतिक फ्रक्टोज़ विकल्प का उपयोग करते हैं, और वे सभी इससे बाहर हैं। आप बेहतर जानते हैं। पड़ोसियों को दो कप चीनी
13 जुलाई 2018
13 जुलाई 2018
13 जुलाई, 2018: आप बस अपने आस-पास के लोगों की मदद करके जीवित नहीं रहते हैं, आप इस पर बढ़ते हैं। ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे आप यह जानकर बेहतर पसंद करते हैं कि आप किसी ऐसे व्यक्ति के साथ किसी की मदद करने में सक्षम हैं, जिसे वह अपने करियर या उनकी प्यारी पाई है। आप क्या कह सकते हैं? तुम एक अच्छे इंसान हो औ
13 जुलाई 2018
13 जुलाई 2018
13 जुलाई, 2018: आप प्रभारी हैं। क्या आप बाद में काम करने वाले बारबेक्यू का आयोजन कर रहे हैं? क्या आपको मांसाहारियों और शाकाहारियों के बीच बातचीत करना है और मांस-टू-टोफू अनुपात ढूंढना है जो सभी को खुश रखता है? तुम कर सकते हो। क्या आपको बस पर्याप्त बियर और पर्याप्त बग का रस प्रदान करना है? तुम कर सकते
13 जुलाई 2018
22 जुलाई 2018
23 से 29 जुलाई तक का साप्ताहिक राशिफलनीचे दिया राशिफल आवश्यक नहीं कि हर किसी के लिएसही ही हो – क्योंकि सूर्य एक राशि में एक माह तक रहता है और उस एक माह में लाखोंलोगों का जन्म होता है | साथ ही ये फलकथन केवल ग्रहों के तात्कालिक गोचर पर आधारितहोते हैं | इस फलकथन अथवा ज्योतिष
22 जुलाई 2018
24 जुलाई 2018
कुछ लोगों को संशय होता है कि ज्योतिष कोआयुर्वेद के समान वेद तो नहीं माना जाता ?ज्योतिष वेद है भी नहीं, वेदों का अंग है – वेदांग | ज्योतिष से सम्बन्धित ज्ञान वेदों में निहित है |ऋग्वेद में लगभग 20 मन्त्र ज्योतिष के विषय में उपलब्ध होते हैं,
24 जुलाई 2018
05 जुलाई 2018
जन्म से पुनर्जन्म – बात चल रही थीगर्भ संस्कारों की... उसे ही आगे बढाते हैं...गर्भाधान – आत्मा का पुनर्जन्म – एकशरीर को त्यागने के बाद अपनी इच्छानुसार आत्मा अन्य शरीर में प्रविष्ट होकर नौ माहतक माता के गर्भ में निवास करने का बाद पुनः जन्म लेती है... एक नन्हे से शिशु केरूप
05 जुलाई 2018
13 जुलाई 2018
13 जुलाई, 2018: 'आदत' 'खरगोशों' के साथ गायन करती है, और शायद ऐसा इसलिए है क्योंकि दोनों पागल की तरह खुद को पुन: पेश करते हैं। तो अगर आपके पास कोई भी भयानक आदत नहीं है (और हर कोई करता है), तो चक्र को रोकने के लिए असली प्रयास क्यों न करें? आज एक चल रही, आत्म-पराजित आदत या दो को मुक्त करने का एक अच्छा
13 जुलाई 2018
19 जुलाई 2018
हम सभी जानते हैं कि ज्योतिष एक अत्यन्त महत्त्वपूर्ण और सम सामयिक विषय है | वेदांगों के अन्तर्गत ज्योतिषको अन्तिम वेदान्त माना गया है | प्रथम वेदांग है शिक्षा – जिसे वेद की नासिका माना गया है | दूसरा वेदांग है व्याकरण जिसेवेद का मुख माना जाता है | तीसरे वेदांग निरुक्त को वेदों का कान, कल
19 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
बुधवार, 18 जुलाई2018 – नई दिल्ली सूर्योदय : 05:34 पर कर्कमें सूर्यास्त : 19:19 पर चन्द्र राशि : कन्या चन्द्र नक्षत्र : उत्तर फाल्गुनी 08:19 तक, तत्पश्चात हस्त तिथि : आषाढ़ शुक्ल षष्ठी 14:36 तक, तत्पश्चात आषा
18 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
ज्योतिष से सम्बन्धित अपने लेखों में हम अब तक बहुत से योगों पर चर्चा करचुके हैं | ग्रहों के विषय मेंसंक्षिप्त रूप से चर्चा | हमने पञ्चांग केपाँचों अंगों के विषय में जानने का प्रयास किया | संस्कारों पर – विशेषरूप से जन्म से पूर्व के संस्कार और जन्म के बाद नामकरण संस्कार पर
18 जुलाई 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x