आखिर क्यों एक थाना प्रभारी को कहना पड़ा कि इस देश में मुसलमान होना गुनाह है?

23 जुलाई 2018   |  प्राची सिंह   (111 बार पढ़ा जा चुका है)

आखिर क्यों एक थाना प्रभारी को कहना पड़ा कि इस देश में मुसलमान होना गुनाह है?

अभी तक तो हमारे देश में नेता हिंदू-मुस्लिम की बात कर और भावनाएं भड़काकर वोट लेने का काम करते थे. लेकिन अब एक पुलिसवाले को भी कहना पड़ गया है कि क्या इस देश में मुस्लिम होना गुनाह है. पुलिसवाले का ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. लेकिन इसके पीछे एक हत्याकांड है, जिससे नाराज़ भीड़ ने पुलिस पर सवालिया निशान लगाए और इसी क्रम में भीड़ ने पुलिसवाले के मजहब पर भी आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी.

मामला झारखंड का है. झारखंड की राजधानी रांची में बीजेपी के अनुसूचित जाति के मंडल अध्यक्ष थे धीरज राम. 18 जुलाई की सुबह करीब साढ़े चार बजे हर रोज की तरह धीरज राम स्कूटी से अपर बाजार में निकले थे. अभी वो घर से करीब 200 मीटर दूर पहुंचे ही थे कि चार अपराधियों ने उनकी स्कूटी रोकी और ताबड़तोड़ उन्हें गोलियां मार दीं. सिर, कंधा, जबड़ा और हाथ में गोली लगने की वजह से धीरज गिर गए और अपराधी गोली मारने के बाद फरार हो गए. पडोस की एक महिला ने धीरज को पड़ा हुआ देखा तो घर जाकर सूचना दी. मौके पर पहुंचे धीरज के भाई सुजीत ने डोरंडा पुलिस को सूचना दी और धीरज को लेकर अस्पताल गए. वहां डॉक्टरों ने धीरज को मरा हुआ घोषित कर दिया.

धीरज राम बीजेपी के नेता थे. उनकी हत्या के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने थाने का घेराव कर दिया और आबिद खान के खिलाफ उनके मजहब को लेकर टिप्पणी की.

वारदात के बाद स्थानीय लोग हंगामा करने लगे और उन्होंने डोरंडा थाने का घेराव कर दिया. थाने को घेरने के बाद स्थानीय लोग नारेबाजी करने लगे. वो थानेदार हाय-हाय के नारे लगाने लगे और साथ ही डोरंडा थाना प्रभारी आबिद खान को हटाने की मांग करने लगे. इस नारेबाजी के दौरान ही भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने डोरंडा थाना प्रभारी आबिद पर उनके मजहब के नाम पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी. उनका आरोप था कि थाना प्रभारी मुस्लिम हैं और धीरज को मारने वाले आरोपी भी मुस्लिम हैं. जब तक भीड़ नारेबाजी कर रही थी, पुलिस खामोश थी. लेकिन जैसे ही भीड़ ने दरोगा आबिद खान के मजहब पर टिप्पणी की, आबिद खान नाराज हो गए. गुस्से से तमतमाए हुए आबिद खान ने कहा कि क्या उनका मुसलमान होना गुनाह है, क्या उन्होंने हत्या की है. आबिद ने कहा कि वो अपनी मर्जी से डोरंडा थाने में नहीं हैं, सरकार ने उन्हें वहां भेजा है. आबिद खान के गुस्से को देखकर थाने में मौजूद भीड़ में कुछ लोगों ने आबिद खान से माफी भी मांगी. वहीं थाने में उस वक्त डीएसपी भी मौजूद थे. उन्होंने भी भीड़ को धर्म के आधार पर टिप्पणी करने से रोका, जिसके बाद थाने में मौजूद लोगों ने और भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने आबिद खान को समझा-बुझाकर शांत करवाया.

आबिद ने जब पूछा कि क्या उनका मुसलमान होना गुनाह है, तब लोगों ने उनसे माफी मांगी.

इस पूरे हंगामे के दो दिन बाद आबिद खान और उनकी टीम ने धीरज की हत्या के आरोप में अली, शहबाज और आरिफ को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने उनके पास से दो पिस्टल बरामद की हैं. पुलिस के मुताबिक अली, शहबाज और आरिफ की धीरज से छेड़खानी को लेकर कहासुनी हो गई थी. इसकी वजह से अली, शहबाज और आरिफ धीरज से नाराज थे और बदला लेना चाहते थे. इसकी वजह से उन्होंने धीरज की हत्या की थी. इसके अलावा पुलिस ने चांद और मुन्ना को भी हथियार छिपाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. रांची के एसएसपी अनीश गुप्ता ने कहा कि पुलिस ने धीरज के सभी हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.


https://www.thelallantop.com/jhamajham/ranchi-bjp-workers-shouted-slogans-against-the-police-in-charge-of-doranda-because-he-is-a-muslim-and-its-video-is-going-viral/

आखिर क्यों एक थाना प्रभारी को कहना पड़ा कि इस देश में मुसलमान होना गुनाह है?

अगला लेख: भारत-चीन युद्ध की कुछ तस्वीरें, जो न सिर्फ़ बोलती हैं बल्कि चीख-चीखकर सवाल खड़े करती हैं



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 जुलाई 2018
ढिंचैक पूजा युगों-युगों तक इसलिए याद की जाएंगी क्योंकि उन्होंने साबित कर दिया कि फेमस होने के लिए न तो टैलेंट की जरूरत होती है और न ही जिगर की। कुछ अतरंगा करो, खुद ब खुद फेमस हो जाओगे। खैर... पूजा के गानों के बारे में क्या कहना। आपने-हमने उसे देखकर पहले ही महिमा मंडित कर
19 जुलाई 2018
08 जुलाई 2018
हिंदू धर्म में काली युग वर्तमान युग है। हम काली युग में रह रहे हैं। यह समय के हिंदू गणना में चौथा युग या युग है। उम्र की मुख्य विशेषताएं धर्म की बिगड़ती हैं और बुराई और लालच फैलती हैं। समय क्रिस्ट युग (जिसे सत्य युग भी कहा जाता है) का हिंदू गणना, ट्रेता युग द्पारा युग काली युग काली युग को तिस्या या
08 जुलाई 2018
17 जुलाई 2018
बॉलीवुड फ़िल्मों का एक वो दौर था, जब हीरो-हीरोइन स्टूडियो में ही रुकी हुई गाड़ी में गाना गाते और नाचते थे, और जब फ़िल्म पर्दे पर आती थी तो दिखता था कि गाड़ी तेज़ स्पीड में सड़क पर दौड़ रही है. ठीक वैसे ही उस दौर में हीरो और गुंडों के बीच होने वाली फ़ाइटिंग में ढिशूम-ढिशूम की आवाज़
17 जुलाई 2018
02 अगस्त 2018
विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले ही दिन जो किया है, उससे इन पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में जबरदस्त घमासान की गारंटी मिल गई है. कोहली और अंग्रेज कप्तान जो रूट अपनी बैटिंग परफॉर्मेंस से एक दूसरे को टक्कर देते हैं. पहले दिन जब लग रहा था कि रूट अपने शतक बना
02 अगस्त 2018
09 जुलाई 2018
आईपीएस अफ़सर...नाम सुनते ही एक सम्मान की भावना जाग जाती है. आसान नहीं है आईपीएस बनना.लेकिन आईपीएस भी कभी-कभार फ़ेल हो जाते हैं. सरदार वल्लभभाई पटेल नेशनल पुलिस एकेडमी, हैदराबाद के 2016 रेग्युलर रिक्रूट बैच के अफ़सर ज़रूरी परीक्षा पास करने में ही असफ़ल हो गए.Source- Pro Ke
09 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश में एक बार फिर पुलिस पर पैसे लेकर मनचाही पोस्टिंग देने के आरोप लगे हैं। हालांकि मामला सामने आने के बाद बुलंदशहर के एसएसपी ने पूरे मामले खंडन करते हुए इसे अफवाह बताया है। अफवाह फैलाने वाले के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया गया है। बता दें कि वायरल चैट एक
18 जुलाई 2018
19 जुलाई 2018
दिग्गज ई-कॉमर्स वेबसाइट फ्लिपकार्ट (www.flipkart.com) की बिग शॉपिंग डे (Big Shopping Days) सेल में यूजर्स के लिए कई बंपर ऑफर पेश किए गए हैं. 16 जुलाई की शाम 4 बजे से शुरू होने वाली सेल 19 जुलाई तक जारी रहेगी. इसी सेल में चाइनजीज फोन निर्माता कंपनी शाओमी के Redmi Note 5 Pro पर बंपर डिस्काउंट मिल रहा
19 जुलाई 2018
30 जुलाई 2018
जुगाड़ की सबसे अच्छी बात ये होती है कि वो पैसे और मेहनत दोनों की बचत करता है और ये देखने में भी कूल लगता है. जुगाड़ की पढ़ाई भी नहीं होती, फिर भी देश में जुगाड़ुओं की कोई कमी नहीं है. एक ढूंढोगे, हज़ार मिलेंगे. आज हम आपको कुछ नए जुगाड़ुओं की प्रतिभा से रूबरू कराएंगे. देखत
30 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
लंबे समय से विक्षिप्त हालत में घूम रहे एक पूर्व फौजी के लिए शुक्रवार का दिन बेहद खास रहा। करीब 12 साल बाद वह अपने परिवार से मिल पाया। दरअसल, पुलिस जिस युवक को नक्सली समझ कर थाने ले आई थी। वह संतोष कुमार (40) सेना की सिग्नल कोर का पूर्व फौजी निकला।शुक्रवार को उसे लेने पहुं
09 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
हि
हिंदू कैलेंडर में तिथि सोमवार, 9 जुलाई, 2018 - कृष्णा पक्ष एकदशी तिथी या ग्यारहवें दिन हिंदू कैलेंडर में चंद्रमा के अंधेरे चरण और अंधेरे चरण और अधिकांश क्षेत्रों में पंचांग के दौरान। यह 9 जुलाई को 5:04 बजे तक चंद्रमा की पंख या अंधेरे चरण के दौरान ग्यारहवें दिन है। इसके बाद यह कृष्णा पक्ष दवासादी तिथ
09 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
हि
हिंदू कैलेंडर में तिथि सोमवार, 9 जुलाई, 2018 - कृष्णा पक्ष एकदशी तिथी या ग्यारहवें दिन हिंदू कैलेंडर में चंद्रमा के अंधेरे चरण और अंधेरे चरण और अधिकांश क्षेत्रों में पंचांग के दौरान। यह 9 जुलाई को 5:04 बजे तक चंद्रमा की पंख या अंधेरे चरण के दौरान ग्यारहवें दिन है। इसके बाद यह कृष्णा पक्ष दवासादी तिथ
09 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
पटना:पुलिसवालों का काम समाज में कानून की रखवाली और शांति बनाए रखना है। जनता की सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिसवालों की ही है।आमतौर पर आपने सुना होगा कि पुलिसवाले ही सबका बैंड बजाते हैं लेकिन इस बार कुछ अलग हुआ है। बिहार में एक 14 साल के लड़के ने पुलिसवालों का बाजा बजा दिया।बा
09 जुलाई 2018
09 जुलाई 2018
मनी लॉन्ड्रिंग, लोन डिफॉल्ट और बैंकों का बकाए को लेकर केस हार चुके विजय माल्या खुद संपत्ति देने को तैयार हैं. उन्होंने जांच एजेंसियों से वक्त, तारीख और जगह पूछी है. विजय माल्या ने कहा है कि वह खुद आकर जांच एजेंसियों को ब्रिटेन की संपत्ति सौंप देंगे. लेकिन, उनके पास ज्यादा कुछ नहीं है. क्योंकि, ब्रि
09 जुलाई 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x