आज का पंचांग - 25 जुलाई 2018

25 जुलाई 2018   |  विनय वर्मा   (74 बार पढ़ा जा चुका है)

आज का पंचांग - 25 जुलाई 2018

🌞 ~ *आज का अपना पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 25 जुलाई 2018*

⛅ *दिन - बुधवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)*

⛅ *शक संवत -1940*

⛅ *अयन - दक्षिणायन*

⛅ *ऋतु - वर्षा*

⛅ *मास - आषाढ़*

⛅ *पक्ष - शुक्ल*

⛅ *तिथि - त्रयोदशी रात्रि 08:45 तक तत्पश्चात चतुर्दशी*

⛅ *नक्षत्र - मूल शाम 06:22 तक तत्पश्चात पूर्वाषाढा*

⛅ *योग - इन्द्र सुबह 08:51 तक तत्पश्चात वैधृति*

⛅ *राहुकाल - दोपहर 12:33 से दोपहर 02:12 तक*

⛅ *सूर्योदय - 05:32*

⛅ *सूर्यास्त - 19:03*

⛅ *दिशाशूल - उत्तर दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - प्रदोष व्रत, जयापार्वती व्रतारम्भ (गु.ज)*

💥 *विशेष - त्रयोदशी को बैंगन नहीं खाना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

🌞 *~ अपना पंचांग ~* 🌞


🌷 *कैसे करें सुबह की शुरुआत गुरुपूनम के दिन* 🌷

🙏🏻 *इस दिन सुबह बिस्तर पर आप प्रार्थना करना : ‘‘हे महान पूर्णिमा ! हे गुरुपूर्णिमा ! अब हम अपनी आवश्यकता की ओर चलेंगे । इस देह की सम्पूर्ण आवश्यकताएँ कभी किसी की पूरी नहीं हुर्इं । हुर्इं भी तो संतुष्टि नहीं मिली । अपनी असली आवश्यकता की तरफ हम आज से कदम रख रहे हैं ।''*

🙏🏻 *उसी समय ध्यान करना । शरीर बिस्तर छोड़े उसके पहले अपने प्रियतम को मिलना । गुरुदेव का मानसिक पूजन करना । वे आपके मन की दशा देखकर भीतर-ही-भीतर संतुष्ट होकर अपनी अनुभूति की झलक से आपको आलोकित कर देंगे। उनके पास उधार नहीं है, वे तो नगदधर्मा हैं ।*

🙏🏻

🌞 *~ अपना पंचांग ~* 🌞


🌷 *ग्रहण में क्या करें, क्या न करें* 🌷

➡ *(खग्रास चन्द्रग्रहण : २७ जुलाई ) भूभाग में ग्रहण–समय : २७ जुलाई के रात्रि ११-५४ से २८ जुलाई प्रात: ३-५० तक ( पूरे भारत में दिखेगा, नियम पालनीय )*

🌘 *चन्द्रग्रहण और सूर्यग्रहण के समय संयम रखकर जप-ध्यान करने से कई गुना फल होता है। श्रेष्ठ व्यक्ति उस समय उपवासपूर्वक ब्राह्मी घृत का स्पर्श करके 'ॐ नमो नारायणाय' मंत्र का आठ हजार जप करने के पश्चात ग्रहणशुद्धि होने पर उस घृत को पी ले। ऐसा करने से वह मेधा (धारणशक्ति), कवित्वशक्ति तथा वाक् सिद्धि प्राप्त कर लेता है।*

🌘 *सूर्यग्रहण या चन्द्रग्रहण के समय भोजन करने वाला मनुष्य जितने अन्न के दाने खाता है, उतने वर्षों तक 'अरुन्तुद' नरक में वास करता है।*

🌘 *सूर्यग्रहण में ग्रहण चार प्रहर (12 घंटे) पूर्व और चन्द्र ग्रहण में तीन प्रहर (9) घंटे पूर्व भोजन नहीं करना चाहिए। बूढ़े, बालक और रोगी डेढ़ प्रहर (साढ़े चार घंटे) पूर्व तक खा सकते हैं।*

🌘 *ग्रहण-वेध के पहले जिन पदार्थों में कुश या तुलसी की पत्तियाँ डाल दी जाती हैं, वे पदार्थ दूषित नहीं होते। पके हुए अन्न का त्याग करके उसे गाय, कुत्ते को डालकर नया भोजन बनाना चाहिए।*

🌘 *ग्रहण वेध के प्रारम्भ में तिल या कुश मिश्रित जल का उपयोग भी अत्यावश्यक परिस्थिति में ही करना चाहिए और ग्रहण शुरू होने से अंत तक अन्न या जल नहीं लेना चाहिए।*

🌘 *ग्रहण के स्पर्श के समय स्नान, मध्य के समय होम, देव-पूजन और श्राद्ध तथा अंत में सचैल (वस्त्रसहित) स्नान करना चाहिए। स्त्रियाँ सिर धोये बिना भी स्नान कर सकती हैं।*

🌘 *ग्रहण पूरा होने पर सूर्य या चन्द्र, जिसका ग्रहण हो उसका शुद्ध बिम्ब देखकर भोजन करना चाहिए।*

🌘 *ग्रहणकाल में स्पर्श किये हुए वस्त्र आदि की शुद्धि हेतु बाद में उसे धो देना चाहिए तथा स्वयं भी वस्त्रसहित स्नान करना चाहिए।*

🌘 *ग्रहण के स्नान में कोई मंत्र नहीं बोलना चाहिए। ग्रहण के स्नान में गरम जल की अपेक्षा ठंडा जल, ठंडे जल में भी दूसरे के हाथ से निकाले हुए जल की अपेक्षा अपने हाथ से निकाला हुआ, निकाले हुए की अपेक्षा जमीन में भरा हुआ, भरे हुए की अपेक्षा बहता हुआ, (साधारण) बहते हुए की अपेक्षा सरोवर का, सरोवर की अपेक्षा नदी का, अन्य नदियों की अपेक्षा गंगा का और गंगा की अपेक्षा भी समुद्र का जल पवित्र माना जाता है।*

🌘 *ग्रहण के समय गायों को घास, पक्षियों को अन्न, जरूरतमंदों को वस्त्रदान से अनेक गुना पुण्य प्राप्त होता है।*

🌘 *ग्रहण के दिन पत्ते, तिनके, लकड़ी और फूल नहीं तोड़ने चाहिए। बाल तथा वस्त्र नहीं निचोड़ने चाहिए व दंतधावन नहीं करना चाहिए। ग्रहण के समय ताला खोलना, सोना, मल-मूत्र का त्याग, मैथुन और भोजन – ये सब कार्य वर्जित हैं।*

🌘 *ग्रहण के समय कोई भी शुभ व नया कार्य शुरू नहीं करना चाहिए।*

🌘 *ग्रहण के समय सोने से रोगी, लघुशंका करने से दरिद्र, मल त्यागने से कीड़ा, स्त्री प्रसंग करने से सुअर और उबटन लगाने से व्यक्ति कोढ़ी होता है। गर्भवती महिला को ग्रहण के समय विशेष सावधान रहना चाहिए।*

🌘 *तीन दिन या एक दिन उपवास करके स्नान दानादि का ग्रहण में महाफल है, किन्तु संतानयुक्त गृहस्थ को ग्रहण और संक्रान्ति के दिन उपवास नहीं करना चाहिए।*

🌘 *भगवान वेदव्यासजी ने परम हितकारी वचन कहे हैं- 'सामान्य दिन से चन्द्रग्रहण में किया गया पुण्यकर्म (जप, ध्यान, दान आदि) एक लाख गुना और सूर्यग्रहण में दस लाख गुना फलदायी होता है। यदि गंगाजल पास में हो तो चन्द्रग्रहण में एक करोड़ गुना और सूर्यग्रहण में दस करोड़ गुना फलदायी होता है।'*

🌘 *ग्रहण के समय गुरुमंत्र, इष्टमंत्र अथवा भगवन्नाम-जप अवश्य करें, न करने से मंत्र को मलिनता प्राप्त होती है।*

🌘 *ग्रहण के अवसर पर दूसरे का अन्न खाने से बारह वर्षों का एकत्र किया हुआ सब पुण्य नष्ट हो जाता है। (स्कन्द पुराण)*

🌘 *भूकंप एवं ग्रहण के अवसर पर पृथ्वी को खोदना नहीं चाहिए।(देवी भागवत)*

🌘 *अस्त के समय सूर्य और चन्द्रमा को रोगभय के कारण नहीं देखना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्णजन्म खं. 75.24)*

🙏🏻


🌞 *~ अपना पंचांग ~* 🌞

🙏🏻🌷🌻☘🌸🌹🌼🌺💐🙏🏻

अगला लेख: आज का पंचांग - 15 जुलाई 2018



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 10 जुलाई 2018⛅ दिन - मंगलवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार मास - ज्येष्ठ⛅ पक्ष - कृष्ण ⛅ तिथि - द्वादशी शाम 06:45 तक तत्पश्चात त्रयोदशी⛅ नक्षत्र - रोहिणी 11 जुलाई रात्र
10 जुलाई 2018
11 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 11 जुलाई 2018⛅ दिन - बुधवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार मास - ज्येष्ठ⛅ पक्ष - कृष्ण ⛅ तिथि - त्रयोदशी शाम 03:34 तक तत्पश्चात चतुर्दशी⛅ नक्षत्र - मॄगशिरा रात्रि 12:44
11 जुलाई 2018
31 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 31 जुलाई 2018⛅ दिन - मंगलवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - श्रावण⛅ गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार मास - आषाढ़⛅ पक्ष - कृष्ण ⛅ तिथि - तृतीया सुबह 08:43 तक तत्पश्चात चतुर्थी⛅ नक्षत्र - शतभिषा सुबह 09:10 तक तत
31 जुलाई 2018
19 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 19 जुलाई 2018⛅ दिन - गुरुवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - सप्तमी दोपहर 01:35 तक तत्पश्चात अष्टमी⛅ नक्षत्र - हस्त सुबह 07:53 तक तत्पश्चात चित्रा⛅ योग - शिव सुबह 19:40 तक तत्पश
19 जुलाई 2018
15 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 15 जुलाई 2018⛅ दिन - रविवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - तृतीया रात्रि 09:35 तक तत्पश्चात चतुर्थी⛅ नक्षत्र - अश्लेशा दोपहर 01:28 तक तत्पश्चात मघा⛅ योग - सिद्धि रात्रि 08:33 त
15 जुलाई 2018
26 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 26 जुलाई 2018⛅ दिन - गुरुवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - चतुर्दशी रात्रि 11:16 तक तत्पश्चात पूर्णिमा⛅ नक्षत्र - पूर्वाषाढा रात्रि 09:36 तक तत्पश्चात उत्तराषाढा⛅ योग - वैधृति
26 जुलाई 2018
24 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 24 जुलाई 2018⛅ दिन - मंगलवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - द्वादशी शाम 06:25 तक तत्पश्चात त्रयोदशी⛅ नक्षत्र - ज्येष्ठा शाम 03:29 तक तत्पश्चात मूल⛅ योग - ब्रह्म सुबह 08:03 तक त
24 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 18 जुलाई 2018⛅ दिन - बुधवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - षष्ठी दोपहर 02:36 तक तत्पश्चात सप्तमी⛅ नक्षत्र - उत्तराफाल्गुनी सुबह 08:20 तक तत्पश्चात हस्त⛅ योग - परिघ सुबह 11:35 त
18 जुलाई 2018
27 जुलाई 2018
🌞 ~ *आज का अपना पंचांग* ~ 🌞⛅ *दिनांक 27 जुलाई 2018*⛅ *दिन - शुक्रवार* ⛅ *विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)*⛅ *शक संवत -1940*⛅ *अयन - दक्षिणायन*⛅ *ऋतु - वर्षा*⛅ *मास - आषाढ़*⛅ *पक्ष - शुक्ल* ⛅ *तिथि - पूर्णिमा रात्रि 28 जुलाई 01:50 तक तत्पश्चात प्रतिपदा*⛅ *नक्षत्र
27 जुलाई 2018
18 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 18 जुलाई 2018⛅ दिन - बुधवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - षष्ठी दोपहर 02:36 तक तत्पश्चात सप्तमी⛅ नक्षत्र - उत्तराफाल्गुनी सुबह 08:20 तक तत्पश्चात हस्त⛅ योग - परिघ सुबह 11:35 त
18 जुलाई 2018
26 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 26 जुलाई 2018⛅ दिन - गुरुवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - चतुर्दशी रात्रि 11:16 तक तत्पश्चात पूर्णिमा⛅ नक्षत्र - पूर्वाषाढा रात्रि 09:36 तक तत्पश्चात उत्तराषाढा⛅ योग - वैधृति
26 जुलाई 2018
23 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 23 जुलाई 2018⛅ दिन - सोमवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - एकादशी शाम 04:23 तक तत्पश्चात द्वादशी⛅ नक्षत्र - अनुराधा दोपहर 12:54 तक तत्पश्चात ज्य
23 जुलाई 2018
19 जुलाई 2018
🌞 ~ आज का अपना पंचांग ~ 🌞⛅ दिनांक 19 जुलाई 2018⛅ दिन - गुरुवार ⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)⛅ शक संवत -1940⛅ अयन - दक्षिणायन⛅ ऋतु - वर्षा⛅ मास - आषाढ़⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - सप्तमी दोपहर 01:35 तक तत्पश्चात अष्टमी⛅ नक्षत्र - हस्त सुबह 07:53 तक तत्पश्चात चित्रा⛅ योग - शिव सुबह 19:40 तक तत्पश
19 जुलाई 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x