आज का शब्द (१४)

24 अप्रैल 2015   |  शब्दनगरी संगठन   (256 बार पढ़ा जा चुका है)

आज का शब्द (१४)

कौमुदी :

१- चाँदनी


२- ज्योत्सना


३- चंद्रप्रभा


४- चन्द्रिका


५- मालती


प्रयोग : बर्फ से ढकी, कौमुदी में नहाई घाटी ऐसी चमक रही थी मानो चाँद धरा पर उतर आया हो I

अगला लेख: आज का शब्द (३)



पूनम जी, आभार !

poonamsingh
24 अप्रैल 2015

सुन्दर प्रयोग जानकारी के लिए धन्यवाद

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
16 अप्रैल 2015
पथ्य : १- शीघ्र पचने वाला भोजन जो रोगी को दिया जाता है. २- संयमित आहार ३- पथ अथवा मार्ग सम्बन्धी प्रयोग: १- रोज़-रोज़ पथ्य खाकर रोगी उकता जाता है I २-स्वस्थ रहने के लिए पथ्य अति आवश्यक है I ३- पथ्य कार्य के कारण, इन दिनों इस मार्ग पर अधिक भीड़ रहती है I १६ अप्रैल, २०१५
16 अप्रैल 2015
11 अप्रैल 2015
रजत : १-चांदी, रूपा; २-हाथी दांत; ३-मुक्ताहार; ४-धवल रंग; ५-चांदी का बना हुआ, चांदी के रंग का, उज्जवल, शुभ: प्रयोग: तैराकी प्रतियोगिता में तीन खिलाड़ियों को रजत पदक से सम्मानित किया गया. रविवार, १२ अप्रैल, २०१५
11 अप्रैल 2015
13 अप्रैल 2015
सा
निश्चय ही मनुष्य की संकल्प शक्ति का पारावार नहीं, यदि वह मानसिक तथा शारीरिक क्षमता बढ़ाने में ही स्वयं को लगा दे, तो ऐसा बलवान बन सकता है जिसे देखकर लोग आश्चर्यचकित हो जाएँ. दृढ संकल्प के साथ उद्द्यम, आशा और साहस का संयुक्त समन्वय हो, तो वह असाध्य रोगों से भी लड़ सकता है. मनुष्य, दृढ संकल्प शक्ति के ब
13 अप्रैल 2015
सम्बंधित
लोकप्रिय
20 अप्रैल 2015
25 अप्रैल 2015
11 अप्रैल 2015
11 अप्रैल 2015
11 अप्रैल 2015
23 अप्रैल 2015
14 अप्रैल 2015
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x