सुनी-समझी (३)

14 मई 2015   |  शब्दनगरी संगठन   (229 बार पढ़ा जा चुका है)

सुनी-समझी (३)

साथियो,


हमें प्रसन्नता है कि 'सुनी-समझी' श्रंखला की दूसरी कड़ी भी हमारे कई 'शब्दनगरी मित्रों' को अच्छी लगी। हमें विश्वास है कि आपका साथ इस श्रंखला को आगे बढ़ाने में सहायक सिद्ध होगा। आज प्रस्तुत है इसी श्रंखला की तीसरी कड़ी...


किसी ने सुना ये वाक्य :


"It is high time that we did something about improving the situation."


और इसे समझा इस तरह :


"यह बिलकुल सही समय है कि स्थिति को सुधारने के लिए हम कुछ करें I "


तो साथियो, पिछली कड़ी की तरह इस बार भी ये आपको तय करना है कि किसी ने कितना सही सुना और कितना सही समझा I हमें आपके उत्तर की प्रतीक्षा रहेगी I

अगला लेख: आज का शब्द (१३)



शालिनी जी एवं अनामिका जी, अनेक धन्यवाद !

n keval kahen balki vastav me karen .

anamika
14 मई 2015

सही सुना।

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 मई 2015
निर्वाण : १- मोक्ष २- कैवल्य ३- तथागति ४- अमृतत्व ५- परमपद प्रयोग : बुद्ध का जीवन हज़ार धाराओं में होकर बहता है। जन्म से लेकर निर्वाण तक उनके जीवन की प्रधान घटनाएँ अजंता की दीवारों पर कुछ ऐसे लिख दी गई हैं कि आँखें अटक जाती हैं, हटने का नाम नहीं लेतीं।
18 मई 2015
06 मई 2015
मित्रो, अखिल भारतीय कवि सम्मलेन में सुप्रसिद्ध कवियों की उपस्थिति में अमर उजाला द्वारा आयोजित रियलिटी शो अतुल माहेश्वरी अमर वाणी--2015 सम्मान समारोह, विगत 03 मई 2015 को शहर के नवोदित कवियों व काव्यपाठ के रसिक श्रोताओं के मध्य काव्यपाठ की बौछारों के साथ संपन्न हुआ I इसमें सर्वश्रेष्ठ कवियों क
06 मई 2015
11 मई 2015
नज़्म... अटकी हुई है देर से, ज़ेहन के गोशों में कहीं। मुंह लटकाए पड़ी है कब से, खामोखयाली की मटमैली चादर ओढ़े। करेले सा ... कडुआपन हलक को चीरे जाता है जैसे; एक बच्चे ने आइसक्रीम खाते-खाते बहा रखी है कुहनियों तक, थोड़ी सी मैं भी चख लूँ फिर लिखता हूँ। नज़्म अटकी हुई है देर से......!
11 मई 2015
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x