“कुंडलिया”पकड़ो साथी हाथ यह हाथ-हाथ का साथ।

06 अगस्त 2018   |  महातम मिश्रा   (55 बार पढ़ा जा चुका है)

“कुंडलिया”


पकड़ो साथी हाथ यह हाथ-हाथ का साथ।

उम्मीदों की है प्रभा निकले सूरज नाथ।।

निकले सूरज नाथ कट गई घोर निराशा।

हुई गुफा आबाद जिलाए थी मन आशा॥

कह गौतम कविराय कुदरती महिमा जकड़ो।

प्रभु के हाथ हजार मुरारी के पग पकड़ो॥-१


बारिश में छाता लिए डगर सुंदरी एक।

रिमझिम पवन फुहार नभ पथ हरियाली नेक॥

पथ हरियाली नेक प्रत्येक डगर हो ऐसी।

कली-कली मन चाह राह हो फूलों जैसी।॥

कह गौतम कविराय पूज्य हैं अपने वारिस।

हर पल रखते ध्यान मान मुख बरसे बारिश॥-२


महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी

अगला लेख: "हाइकु"सावन शोर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
02 अगस्त 2018
गहाथ (2000) के यदा यादा हाय धर्मस्या गीत: यह मनोज वाजपेयी, तबू, ओम पुरी और अनुपम खेर अभिनीत गथ से एक प्यारा गीत है। यह ओम पुरी, करसन सरगाथिया और सुलेमान द्वारा गाया जाता है और सलीम सुलेमान द्वारा रचित है।हाथ (Ghaath )यदा यदा ही धर्मस्य की लिरिक्स (Lyrics Of Yada Yada Hi Dharmasya )यदा यदा ही धर्म
02 अगस्त 2018
13 अगस्त 2018
काफिया- आ स्वर रदीफ़-नहीं यूँ ही वज्न- १२२२ १२२२ १२२२ १२२२ “गज़ल” बहाने मत बनाओ जी धुआँ उठता नहीं यूँ ही लगाकर आग बैठे घर जला करता नहीं यूँ हीयहाँ तक आ रहीं लपटें धधकता है वहाँ कोना तनिक जाकर शहर देखों किला जलता नहीं यूँ ही॥सुना है जल गई कितनी इमारत बंद कमरों की खिड़कियाँ रो
13 अगस्त 2018
06 अगस्त 2018
साथी से जिंदगी की तालाश मी हम के गीत: यह कुमार सानू द्वारा नादेम और श्रवण द्वारा अच्छी तरह से तैयार संगीत के साथ एक बहुत अच्छा गाया गया गीत है। जिंदगी की तालाश मी हम गीत गीत समीर द्वारा खूबसूरती से लिखा गया है।साथी (Saathi )ज़िन्दगी की तलाश में हम (Zindagi Ki Talash Mein Hum ) की लिरिक्स (Lyrics Of
06 अगस्त 2018
02 अगस्त 2018
“कुंडलिया”इनका यह संसार सुख भीग रहा फल-फूल। क्या खरीद सकता कभी पैसा इनकी धूल॥ पैसा इनकी धूल फूल खिल रिमझिम पानी। हँसता हुआ गरीब हुआ है कितना दानी॥ कह गौतम कविराय प्याज औ लहसुन भिनका। ऐ परवर सम्मान करो मुँह तड़का इनका॥महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी
02 अगस्त 2018
30 जुलाई 2018
शि
भगवान् शिव के कई अवतार हुए उनके 1 हजार नाम भी है अक्सर लोग उनको देवी पार्वती के पति के रूप में जानते है या गणेश भगवान् के पिताजी के रूप में ! कुछ लोग देवी सती के पति के रूप में उनके अवतार को देवी पार्वती के पति वाला अवतार मान लेते है जबकि देवी
30 जुलाई 2018
16 अगस्त 2018
वज़्न- १२२२ १२२२ १२२२ १२२२ काफ़िया-आन रदीफ़- का आरा"गज़ल"उड़ा अपना तिरंगा है लगा आसमान का तारातिरंगा शान है जिसकी वो हिंदुस्तान का प्याराकहीं भी हो किसी भी हाल में फहरा दिया झंडाजुड़ी है डोर वीरों से चलन इंसान का न्यारा।।किला है लाल वीरों का जहाँ रौनक सिपाही कीगरजता शेर के मान
16 अगस्त 2018
30 जुलाई 2018
"छंद रोला मुक्तक”पहली-पहली रात निकट बैठे जब साजन।घूँघट था अंजान नैन का कोरा आँजन।वाणी बहकी जाय होठ बेचैन हो गए-मिली पास को आस पलंग बिराजे राजन।।-१खूब हुई बरसात छमा छम बूँदा बाँदीछलक गए तालाब लहर बिछा गई चाँदी। सावन झूला मोर झुलाने आए सैंया-
30 जुलाई 2018
03 अगस्त 2018
“मुक्तक”तर्क तौलते हैं सभी लिए तराजू हाथ। उचित नीति कहती सदा मिलों गले प्रिय साथ। माँ शारद कहती नहीं रख जिह्वा पर झूठ- ज्ञान-ध्यान गुरुदेव चित अर्चन दीनानाथ॥-१ प्रथम न्याय सम्मान घर दूजा सकल समाज। तीजा अपने आप का चौथा हर्षित आज। धन-निर्धन सूरज धरा हो सबका बहुमान- गाय भाय बेटी-बहन माँ- ममता अधिराज॥-२
03 अगस्त 2018
06 अगस्त 2018
'साथी' 1 99 1 की हिंदी फिल्म है जिसमें आदित्य पंचोली, वर्षा उस्गांवकर, मोहसिन खान, केदार खान, असरानी, ​​परेश रावल, अनुपम खेर, अवतार गिल, मुश्ताक खान, शशि किरण, अनुरादा पादुवाल, सोनी रजदन और राजू श्रेता प्रमुख भूमिका निभाते हैं। । हमारे पास 4 गीत गीत और साथी का एक वीडियो गीत है। नदीम और श्रवण ने अपना
06 अगस्त 2018
08 अगस्त 2018
"हाइकु"सावन शोरसाजन चित चोरनाचत मोर।।-१कंत न भूलासावन प्रिय झूलाजी प्रतिकूला।।-२सासु जेठानीससुर अभिमानीसावन पानी।।-३क्यों री सखियासावन की बगिया परदेशिया?।।-४बूँद भिगाएभर सावन आएपी बिछलाए।।-५महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी
08 अगस्त 2018
02 अगस्त 2018
“कुंडलिया”इनका यह संसार सुख भीग रहा फल-फूल। क्या खरीद सकता कभी पैसा इनकी धूल॥ पैसा इनकी धूल फूल खिल रिमझिम पानी। हँसता हुआ गरीब हुआ है कितना दानी॥ कह गौतम कविराय प्याज औ लहसुन भिनका। ऐ परवर सम्मान करो मुँह तड़का इनका॥महातम मिश्र गौतम गोरखपुरी
02 अगस्त 2018
31 जुलाई 2018
“देशज गीत” जिनगी में आइके दुलार कइले बाटगज़ब राग गाइके सुमार कइले बाटनीक लागे हमरा के अजबे ई छाँव बा कस बगिया खिलाइ के बहार कइले बाट॥......जिनगी में आइके दुलार कइले बाटफुलाइल विरान वन चम्पा चमेलीकान-फूंसी करतानी सखिया सहेलीमनवा डेरात मोरा पतझड़ पहारूरात-दिन सावन जस फुहार कइ
31 जुलाई 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x