मिलिये उस सांसद से जिसके सरकारी बंगले में रहते हैं 500 मरीज

10 अगस्त 2018   |  प्राची सिंह   (115 बार पढ़ा जा चुका है)

मिलिये उस सांसद से जिसके सरकारी बंगले में रहते हैं 500 मरीज

नई दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग पर बलवंत राय मेहता लेन में है कोठी नंबर 11ए. बाहर से देखने में यह एक शांत सरकारी बंगला है, जो देश के बाकी सांसदों की तरह बिहार के मधेपुरा से छह बार से सांसद राकेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को मिला हुआ है. बंगले में दाखिल होते ही ‘द्रोहकाल के पथिक’ पप्पू यादव नजर आते हैं. किसी चैनल को फोन पर बाइट दे रहे हैं. उनके सामने उनके समर्थक बैठे हुए हैं. फोन पर उनकी बातचीत में आवाज इतनी बुलंद है कि लगता है फोन पर नहीं किसी चुनावी सभा में बोल रहे हैं. वे मुजफ्फरपुर कांड के बारे में काफी खफा थे.

उनसे इंटरव्यू इस बारे में करना था कि देश के अगले लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी का रुख किस तरफ होगा. क्या वे अलग लड़कर आरजेडी और कांग्रेस के गठबंधन के वोट काटेंगे या फिर कांग्रेस से सांसद अपनी पत्नी रंजीता रंजन की सलाह मानकर लालू और कांग्रेस के करीब जाएंगे. हम यह भी जानना चाहते थे कि पहले लोकसभा और फिर विधानसभा चुनाव में बिहार के जातिगत समीकरणों को वह किस तरफ देखते हैं.

लेकिन सुभाष चंद्र बोस को अपना आदर्श मानने वाले पप्पू को जैसे राजनैतिक बातों में कोई रुचि ही नहीं आ रही थी. वे बोले, चलिए पहले मेरे साथ चलिए. वे अपने बंगले में अंदर दाखिल हुए. बाहर से लुटियन की दिल्ली का सामान्य नजर आने वाला बंगला अंदर से बदलने लगा. बाकी सांसद और मंत्रियों के बंगले की तरह यहां झाड़-फानूस, खूबसूरत पेंटिग्स, अष्टधातु के गणेश जी और सजावटी बुद्ध नहीं दिखाई दे रहे थे. उलटे पीछे बहुत से अस्थायी ढांचे खड़े दिखाई दिए. ये प्लाईवुड से बनाए गए कमरे थे, जिनके ऊपर टीन की छत थी. उनके बीच से गुजरने के लिए संकरे गलियारे थे. जिनमें यहां वहां कपड़े सुखाने के लिए रस्सियां टंगी हुई थीं, और कई बार किसी के सूखते हुए अंडरवियर-बनियान से सिर बचाकर आगे बढ़ना होता था.

इन कमरों में झांककर देखना शुरू किया तो वहां गद्दे बिछे हुए थे. बिहार के गांवों से आए लोग वहां दिखाई दे रहे थे. इनमें सूती साड़ी पहने महिलाएं और पजामा बंडी पहने पुरुष थे. कोई लेटा हुआ था तो किसी के चेहरे पर दर्द के भाव थे. एक लड़के के सिर पर पट्टी बंधी हुई थी. तभी एक बूढ़ी माताजी पप्पू यादव के पास आकर रोने लगीं, मेरे बेटे को ब्रेन ट्यूमर हो गया है. पप्पू ने उन्हें ढांढस बंधाया.

फिर हमसे मुखातिब हुए: यहां बिहार से या यों कहें देशभर से लोग आते हैं. ये मेरा सेवाश्रम है जिसको भी दिल्ली में इलाज कराना होता है, सीधा यहां चला आता है. करीब 500 लोगों के ठहरने का इंतजाम मैंने बंगले में कर रखा है. वैसे इससे ज्यादा ही लोग यहां बने रहते हैं. उनके खाने-पीने का इंतजाम यहां रहता है. एम्स, सफदरजंग और दूसरे बड़े अस्पतालों में इन लोगों के इलाज का इंतजाम कराना पप्पू की जिम्मेदारी है. लोगों को अस्पताल में अप्वॉइंटमेंट दिलाने और वहां लाने ले जाने के लिए सांसद ने पांच लोगों को स्टाफ रखा हुआ है. सबका इलाज सुनिश्चित कराना इन लोगों की जिम्मेदारी है. और जो काम इनके किए न हो, उसके लिए पप्पू का फोन हाजिर है.

इन कमरों में घूमते-घूमते पप्पू यह बात ताड़ गए कि पत्रकार महोदय अब यह पूछेंगे, तो वोट पाने का आपका यही तरीका है. इसलिए वे एक छोटे कमरे में ले गए. यहां एक पति-पत्नी पिछले ढाई साल से रह रहे हैं. मनोज कुमार पेशे से अध्यापक हैं और पति-पत्नी दोनों गंभीर रूप से बीमार हैं. पप्पू उनका हालचाल पूछते हैं और उनसे कहते हैं, इन्हें बता दीजिए कि आप पप्पू को वोट नहीं देंगे. आप वोट जाति देखकर ही देंगे. मनोज हाथ जोड़कर खामोश रहे.

पप्पू कहते हैं, इस देश की राजनीति बहुत खराब है. देश को नेता लूट रहे हैं. लेकिन इससे भी ज्यादा खराब यहां की जनता है. जनता को अपने भले-बुरे से कोई मतलब नहीं है. वह जात, धर्म और रिश्वत पर वोट देती है. कौन सिलाई मशीन बांट रहा है, कहां से साइकिल मिलेगी, कौन सस्ता चावल दे रहा है, कौन अपना सगा है और किसकी जात क्या है. इसी पर वोट पड़ता जा रहा है. देश के अच्छे भले से जनता को कोई मतलब ही नहीं है. मेरा बस चले तो मैं इस जनता के ऊपर परमाणु बम पटक दूं.

इतना गुस्सा, तो फिर लोगों का इलाज क्यों करा रहे हैं. पप्पू कहते हैं, तो क्या करूं. मैं आनंदमार्गी हूं, क्रांतिकारियां के परिवार से हूं. देखा नहीं जाता, इसीलिए तो राजनीति में आया हूं. इन सबके लिए लड़ता ही रहूंगा. आपकी छवि तो बाहुबली नेता की है, इस सब के लिए पैसा कहां से जुटाते हैं.

पप्पू यादव: पता कर लीजिए हम बिहार के सबसे बड़े जमीदार परिवारों में से थे. आजादी के समय हमारे पास 9,000 एकड़ जमीन थी. लेकिन हमारा परिवार जमींदारी के खिलाफ खड़ा हुआ. अब तो 100 एकड़ जमीन ही बची है. जमीन बेच-बेचकर लोगों की सेवा कर रहा हूं. आप मधेपुरा में किसी से पता कर लीजिए. और हां, सिर्फ इलाज ही नहीं कराता, रोज दो-तीन लाख रुपये लोगों को बांटता हूं. दोस्तों से और भले लोगों से गुजारिश करता हूं कि वे मदद करें और वे करते हैं.

अब यह पूछना बनता था कि जब भाई-भाई की मदद करने पर राजी नहीं हैं और लोग बूढ़े मां-बाप को वृद्धाश्रम में छोड़ आते हैं, तब कोई किसी के कहने पर लाख रुपये कैसे दे देगा. पप्पू कहते हैं, यहां बैठ जाइये और देखते रहिए. दुनिया उतनी बुरी भी नहीं है. एक बात और कि देशभर के डॉक्टरों को पता है कि अगर पप्पू यादव कोई मरीज भेजेगा तो उसके इलाज में लूट नहीं करनी है. मेरा फोन पहुंचते ही लोगों के बिल कम हो जाते हैं.

उसके बाद बंगले की पीछे की सड़क पर जाकर उन्होंने दिखाया कि कैसे इलाज कराने आए बहुत से लोग बाहर टहल रहे हैं. पप्पू यह सब दिखाकर बहुत खुश नजर आ रहे थे. इसके बाद उन्होंने अपनी दो किताबें द्रोह काल का पथिक और जेल हमें भेंट की. चलते-चलते हमने उनसे सवाल पूछा तो चुनाव में किधर जाएंगे. पप्पू ने कहा लोकसभा चुनाव में चार सीटें जीतने का मेरा लक्ष्य है. विधानसभा चुनाव में 40 सीटों पर जन अधिकार पार्टी दिखाई देगा. बिहार की सरकार बिना पप्पू के नहीं बनेगी. केंद्र की राजनीति में उन्होंने कहा कि राहुल गांधी साफ दिल के नेता हैं. बीजेपी में उन्होंने गडकरी के काम की तारीफ की और बिहार के बारे में बोले के लालू जी बहुत अच्छे नेता हैं, लेकिन आज बुढ़ापे में उनकी जो दशा हो रही है, उसकी वजह उनका यह परिवार है. लालू का परिवार सिद्धांतों से भटका हुआ है, यह लालू की राजनीति को खत्म कर देगा.

Source: Zee News

मिलिये उस सांसद से जिसके सरकारी बंगले में रहते हैं 500 मरीज

https://www.ekbiharisabparbhari.com/2018/08/09/meet-that-mp-from-whose-government-bungalow-lives-500-patients/

अगला लेख: बाप-बेटे पर मज़ेदार हिंदी जोक्स - Father Son Jokes in Hindi



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
31 जुलाई 2018
नागेंद्र सिंह भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और खजुराहो (लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र) से भारतीय आम चुनाव, 2014 जीते हैं। नागेंद्र सिंह संसद सदस्य बनने से पहले मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री थे।नागेंद्र सिंह का जन्म 2 मार्च 1943 को हुआ था। इनका जन्म महाराजा महेंद्र सिंह और महारानी श्याम कुमारी के पुत्र क
31 जुलाई 2018
14 अगस्त 2018
रिलायंस जिओ अपनी फाइबर ब्रॉडबैंड सर्विस को जिओ गीगा फाइबर के नाम से लॉन्च करने वाली है। यह सबसे बड़ी फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड सर्विस है। कंपनी का दावा है कि जिओ गीगा फाइबर की मदद से कस्टमर्स 1GBPS की तेज इंटरनेट स्पीड पा सकेंगे और यह 1100 शहरों में अवेलेबल होगी। जिओ गीगा फा
14 अगस्त 2018
31 जुलाई 2018
राजवीर सिंह भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और एटा (लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र) से भारतीय आम चुनाव, 2014 जीत चुके हैं।राजवीर सिंह का जन्म 15 मार्च, 1959 को श्री कल्याण सिंह और श्रीमती रामवती देवी के यहाँ हुआ था। उनका जन्म माधौली नामक गाँव में हुआ था, जो उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में स्थित है।सिंह की
31 जुलाई 2018
10 अगस्त 2018
अब आपके लिए खुशखबरी है. यात्रा करते समय आपको ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी (रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट) साथ रखने की जरूरत नहीं है. यानी कि आप अपने फोन में डिजिलॉकर के जरिए ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी या गाड़ी के दूसरे डॉक्यूमेंट दिखा सकते हैं. आज सरकार ने इस इस बारे में राज्यों से
10 अगस्त 2018
09 अगस्त 2018
जनता दल-यूनाइटेड (जेडीयू) के हरिवंश को राज्यसभा का नया उपसभापति चुन लिया गया है. सत्ता पक्ष की ओर से उम्मीदवार हरिवंश ने विपक्ष के उम्मीदवार बी.के. हरिप्रसाद को 20 वोटों से हराया. हरिवंश को 125 वोट मिले, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी बीके हरिप्रसाद को 105 वोट मिले.कौन हैं हरिवं
09 अगस्त 2018
31 जुलाई 2018
लल्लू सिंह भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और फ़ैज़ाबाद (लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र) से भारतीय आम चुनाव, 2014 जीत चुके हैं। लल्लू सिंह का जन्म 1 नवंबर 1954 को सहादतगंज में हुआ था, जो उत्तर प्रदेश में अयोध्या जिले में स्थित है।लल्लू सिंह का संक्षिप्त परिचय नाम लल्लू सिंह लोकसभा क्षेत्र फैजाबाद (उत्तर प
31 जुलाई 2018
08 अगस्त 2018
भारतीय राजनीति के दिग्गज नेता एम करुणानिधि का आज चेन्नई के कावेरी हॉस्पिटल में निधन हो गया। 94 वर्षीय करुणानिधि पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे। करुणानिधि जैसे नेता की कमी शायद ही कोई पूरी कर पाए। वह भारतीय राजनीति में बेहद अलग थे। उनके नाम हर चुनाव जीतने का एक ऐसा रि
08 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
तीन चीजें एक शहर का निर्माण करती हैं - दरिया, बादल, बादशाह. इसे इस प्रकार कह सकते हैं एक नदी, वर्षा-बादल लाने वाली और एक सम्राट (जो अपनी इच्छाएं लागू कर सकता है)। पुरानी कहावत"हम दिल्ली शहर में हैं, जो प्राचीन और नए भारत का प्रतीक है। यह पुरानी दिल्ली की तंग गलियों और मकानों तथा नई दिल्ली के खुली जग
14 अगस्त 2018
08 अगस्त 2018
भारतीय राजनीति के दिग्गज नेता एम करुणानिधि का आज चेन्नई के कावेरी हॉस्पिटल में निधन हो गया। 94 वर्षीय करुणानिधि पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे। करुणानिधि जैसे नेता की कमी शायद ही कोई पूरी कर पाए। वह भारतीय राजनीति में बेहद अलग थे। उनके नाम हर चुनाव जीतने का एक ऐसा रि
08 अगस्त 2018
13 अगस्त 2018
यूपी के कानपुर शहर व आसपास के जिलों के लिए मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी दी है। विभाग की मानें तो अभी 16 अगस्त तक यूपी के तमाम शहरों को बारिश का कहर झेलना पड़ सकता है। कानपुर शहर ही नहीं कानपुर देहात, उन्नाव, बांदा, महोबा, औरैया, हमीरपुर, हरदोई, फतेहपुर, फर्रूखाबाद,
13 अगस्त 2018
22 अगस्त 2018
समस्तीपुर जंक्शन पर रेल ड्राइवर की लापरवाही सामने आई है. यार्ड में खड़ी बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस का इंजन सभी बोगियों को छोड़ दौड़ पड़ा. ड्राइवर को मालूम ही नहीं चला कि बिना बोगी के ही इंजन दौड़ पड़ी है. थोड़ी दूर जाने के बाद लोको पायलट को इस बात की जानकारी मिली. घटना के पत
22 अगस्त 2018
30 जुलाई 2018
नयी दिल्ली. आरटीआई एक्ट में बदलाव पर हल्ला मचा रहे लोगों को केंद्र सरकार ने आज ऐसा जवाब दिया कि सबके मुँह बंद हो गये। सरकार ने कहा है कि आरट
30 जुलाई 2018
14 अगस्त 2018
1. एक बार तीन बच्चे स्कूल से घर लौट रहे थे और रास्ते में आते हुए वे अपने घर के बारे में बातचीत कर रहे थे बात करते करते वे अपने अपने पापा के बारे में बात करने लगे।पहला लड़का: अरे मेरे पापा से तेज तो दुनिया में कोई भी नही है वे 90 किमी प्रति घंटा की रफ़्तार से गेंद फैंकते ह
14 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
कॉमेडी किंग कहे जाने वाले कपिल शर्मा ने पिछले कुछ समय से लाइमलाइट से दूरी बना ली है. एक समय टीवी इंडस्ट्री में राज करने वाले कपिल अपने बिहेवियर के कारण धीरे-धीरे अपनी पॉपुलैरिटी खोते गए और नतीजन कपिल इंडस्ट्री से दूर हो गए. एक एडिटर से लड़ाई के बाद तो उन्होंने सोशल मीडिया
14 अगस्त 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x