सम्पूर्ण भारत को शिक्षित करने के लिए क्या कदम उठाये जाने चाहिए?

07 जनवरी 2016   |  सीताराम पंडित

(5 उत्तर)

आपका आपका विचार अति उत्तम है

आपका आपका विचार अति

भारत में अधिक लोग शिक्षित हैं। पर कुछ गावं , पहाड़ी जगहों पर लोग पढ़े लिखे कम हैं। मेरे विचार से अगर जो लोग रिटायर हो चुके हैं जैसे, डॉक्टर , इंजीनियर, प्रोफेसर, टीचर ,कोई तकनीकी जानकर ऐसे लोग अपना कुछ समय सात दिन 15 दिन हर वर्ष निकालकर भर्मण के बहाने ही सही वहा जाकर लोगों को अपने अपने क्षत्र की सेवाएं दे सकते हैं।

जिससे साक्षरता बढ़ेगी। अगर चाहें तो अपने साथ छोटे छोटे नोट बुक पांच या दस रुपैये वाली और पेंसिल /पेन/रबर लेकर जाएँ। तो ये 8 या 15 रुपैये एक पर खर्च होगा. और कोई भी रिटायर्ड व्यक्ति एक वर्ष में अपनी कमाए का एक हज़ार रुपैया भी खर्च करे तो कितने लोग शिक्षित हो सकते हैं। वो आपस मैं 3 / 4 का ग्रुप बनाकर भी जा सकते हैं।

सम्पूर्ण भारत को शिक्षित किया जा सकता है

परन्तु थोड़े धैर्य , सन्यम् व परिश्रम की आवश्यकता है

साथ ही यह भी ध्यान में रखना होगा की अलग - अलग हिस्सो में अलग - अलग तरीके अपनाने होंगे

जैसे मंदिरों में जो लोग कीर्तन् आदि के लिए आते हैं और उनमें से यदि कुछ लोग शिक्षित अथवा साक्षर् नहीं हैं उन्हें कुछ समय दे कर साक्षर किया जा सकता है

यह हो सकता है की वे विरोध करें अथवा उस उम्र में पढ़ने को भी निरर्थक मानें पर उन्हें समझाया जा सकता है की जिन प्रभु का भी वे नाम जपते हैं उनके बारे में वे और पढ़ सकते हैं यदि साक्षर हो जाएँ तो

इस ही प्रकार गुरूद्वारे आदि स्थलों पर भी इस तरीके का प्रयोग किया जा सकता है

यह एक तरीका हुआ ऐसे ही और तरीके हम सोच सकते हैं जो भले ही तेज़ न हों पर लाभकारी हों और हमें एक एक कदम आगे बढ़ने में सहायता करें

आप का क्या विचार है ?


जो पढ़ा लिखा है वह अपने पास केएक व्यक्ति को पढ़ना लिखना सिखाये .


उत्तर दीजिये


शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
अन्य लोकप्रिय प्रश्न
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x