इंसान को अगर एक चीज़ चुननी हो तो आपके अनुसार वो क्या होगी ?

28 अप्रैल 2016   |  चंद्रेश विमला त्रिपाठी

(9 उत्तर)


  •   पैसा ( धन) ( 0 वोट )
  •   रिश्ते ( 0 वोट )
  •   नाम (यश ) ( 0 वोट )

पैसों के बंधन मैं जब यश पाकर व्यक्ति पिस्ता है . आँखों मैं आंसू ,याद आता रिस्ता है ..

आदित्य
11 मई 2016

एक मात्र भगवान का नाम जप करते रहे

रिश्तों से बढ़कर कोई नहीं !

लोग कहते हैं की पैसा ही सब कुछ है पर मेरा कहना है की पैसा ही सब कुछ नहीं है उसके साथ अपने रिश्ते को भी बरक़रार रखना चाहिए !

क्यों-की रिश्ते में एक बार दरार आ जाये तो कितना भी रिश्ता बन ले पहले जैसे मिठास उस रिश्ते में नहीं रह जाती है !

रिश्तों के बिना धन का कोई महत्व नहीं !

वैसे अगर नाम है तो रिश्ते और पैसा आ जायेगा .......लेकिन ये है मुश्किल आज रिश्ते और नाम दोनों को पाने में पैसे से ही बहुत बड़ा हाथ है .

पैसा होना ठीक है लकिन रिस्ते न हो तो अकेले जिंदगी का क्या होगा रिस्ते जरुरी है

पूनम शर्मा
28 अप्रैल 2016

अगर नाम है तो पैसा और रिश्ते भी साथ होंगे, वो अलग बात है की कुछ सच्चे रिश्ते पैसे या नाम के बंधन से ऊपर होते हैं .

धन्यवाद पूनम जी

आधुनिक समाज का धर्म ही पैसा हो गया है पर रिश्ते भी जरुरी है

उत्तर दीजिये


शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x