नव सम्वत्सर की हार्दिक शुभकामनाएँ

सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तुनिरामयाःसर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चितदुःखभाग्भवेत।।भारतीय वांगमय में सदा सबके कल्याणकी कामना की गई है | उसे ही सार्वभौम मानव धर्म माना गया है | प्रार्थना की गई हैकि सभी प्रसन्न रहे, सभी नीरोगी रहें, सभी के समस्त कर्म सिद्ध हों, किसी को भीकिसी प्रकार का कष्ट न मिले..



जीवन में सुख की कामना

जीवन में सुख की कामनाअपने जीवन में सदा सुख की कामना करने वाला इन्सान यदि इन सातों के फेर में फँस जाए तो उसके लिए जीना दुश्वार हो जाता है। काम, क्रोध, लोभ, मोह, अहंकार, ईर्ष्या और स्वार्थ- ये सातों मनुष्य के पतन के कारक हैं। हमारे अंत:करण में विराजमान शत्रुओं में काम प्रमुख शत्रु है। इससे मित्रता


कोरोना कर्फ्यू।

"तुम दिन को दिन कह दोगे, तो रात को हम दोहरायेंगे" आज वही रात अलग होकर नाइट कर्फ्यू बनी। इस गाने की वजह से किसी ज्ञानी मानव ने उपरोक्त गाने के बोल को समझा और नाइट कर्फ्यू को भी कोरोना कर्फ्यू बना दिया। जिसमे मानव के हालात, जज़्बात सब स्थिरता की ओर कदम बढ़ाए हुए है। कोरोना वक्त बे वक्त उन्ही हालात और जज



व्रत और उपवास

व्रतऔर उपवासव्रत शब्द का प्रचलित अर्थ है एकप्रकार का धार्मिक उपवास – Fasting – जो निश्चितरूप से किसी कामना की पूर्ति के लिए किया जाता है | यह कामनाभौतिक भी हो सकती है, धार्मिक भी और आध्यात्मिक भी | कुछ लोग अपने मार्ग में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए व्रत रखते हैं, कुछ रोग से मुक्ति के लिए, कुछ लक



सौतेली माँ

सौतेली माँ माँ तो माँ होती है चाहे वह अपनी सगी माँ हो या सौतेली। सौतेली माँ की छवि हमारे दृष्टिपटल पर कोई अच्छा भाव लेकर नहीं आती। इसका कारण है कि सौतेली माँ के विषय मे हमने जितना पढ़ा है या सुना है, उसके अनुसार उसका नकारात्मक चरित्र ही अधिकाँशत: हमारे समक्ष चित्रित किया जाता है।         इन सबसे उसके


मातृविहीन बच्चे

 मातृविहीन बच्चेमातृविहीन बच्चे से बढ़कर अभागा कोई और इन्सान नहीं हो सकता। कुछ बच्चे बहुत दुर्भाग्यशाली होते हैं जिनकी माता उन्हें जन्म देते ही परलोक सिधार जाती है। कुछ बच्चों की माता उनकी बाल्यावस्था में ही इस असार संसार से विदा ले लेती है। इनके अतिरिक्त कुछ वे बच्चे होते हैं जिनके माता-पिता तलाक ले


योग के आसन

योग का अर्थ एकता या बांधना है। इस शब्द की जड़ है संस्कृत शब्द युज, जिसका मतलब है जुड़ना। ... व्यावहारिक स्तर पर, योग शरीर, मन और भावनाओं को संतुलित करने और तालमेल बनाने का एक साधन है। (yoga in hindi) के आसन, प्राणायाम और मुद्रा का नियमित अभ्यास से शारीरिक, मानसिक और आ



व्रत का पालन

व्रत पालनव्रत शब्द का अर्थ होता है नियम का पालन करना। सारी प्रकृति यानी सूर्य, चन्द्रमा, वायु आदि सभी अपने-अपने व्रत का पालन करती है। हर मौसम अपने समय पर आता है। और तो और पशु-पक्षी तथा सभी जलचर व नभचर भी अपने लिए निश्चित नियमों का पालन करते हैं।        हम मनुष्य ही इस सृष्टि के ऐसे जीव हैं जो किसी न


रेस्टोरेंट चेयर्स

In our daily world, sometime we need to go to the restaurant, in restaurant we need to a restaurant chair to sit on. Some people really want it should be beautiful, comfortable and functional; kid-and-guest friendly, as welcome an addition as it is a necessary one, Such feelings will help to determi



हमें पहले स्वयं को बदलना चाहिए

हमें पहले स्वयं को बदलना चाहिए जी हाँ मित्रों, दूसरों को अपने अनुरूप बदलने के स्थान पर हमें पहले स्वयं को बदलनेका प्रयास करना चाहिए | अभी पिछले दिनों कुछ मित्रों के मध्य बैठी हुई थी | सब इधरउधर की बातों में लगे हुए थे | न जाने कहाँ से चर्चा आरम्भ हुई कि एक मित्र बोलउठीं “देखो हमारी शादी जब हुई थी तब



मनुष्य की पाँच माताएँ

मनुष्य की पाँच माताएँजन्मदात्री माता मनुष्य के लिए सर्वस्व होती है। उसे इस संसार में लाने का महान कार्य वह करती है, इस कारण वही उसके लिए सबसे बड़ी देवता होती है। उसी की छत्रछाया में रहकर मनुष्य जीवन के साथ-साथ दुनिया की दौलत प्राप्त करने में समर्थ होता है।           शास्त्रों के अनुसार अपनी माता के अ


बच्चे को पीटना छल नहीं

बच्चे को पीटना हल नहींमाँ की डाँट-फटकार में भी उसका प्यार ही छुपा होता है। ऐसा कहा जाता है कि जो प्यार करता है, उसे डाँटने का भी अधिकार होता है। इस संसार में माँ से बढ़कर अपनी सन्तान से और कोई स्नेह कर ही नहीं  सकता। बच्चा चाहे रोगी हो, विकलाँग हो या कैसा भी हो, उसी में उसके प्राण अटके रहते हैं। उसके


नक्सलवाद का अंत सरकार की दृढ इच्छा शक्ति पर निर्भर है

नक्सल वाद का अंत सरकार की दृढ इच्छा शक्ति परनिर्भर है डॉ शोभाभारद्वाज नक्सलवाद से हम जूझ रहे हैं उसकी शुरूआत पश्चिमी बंगालके गावँ नक्सलबाड़ी में सशस्त्र आन्दोलन द्वारा क्रान्ति की विचार धारा से हुई थीयह कम्यूनिस्ट विचारधारा के बीच में पनपने वाला आन्दोलन है इनके थ



बच्चे का हित साधन

बच्चों का हित साधनवृद्धावस्था में अपनी माता का ध्यान उसी प्रकार रखना चाहिए जिस तरह वह बचपन में आपका ख्याल रखती थी। आयु बढ़ने के साथ-साथ दिन-प्रतिदिन शारीरिक रूप से अक्षम होते रहने के कारण वह कार्यों को करने में असमर्थ होने लगती है। इसलिए उसके जीवन में स्वाभाविक रूप से असुरक्षा की भावना आने लगती है। 


ओक रोक्किंग चेयर

Funny thing about this Oak rocking chair. Our owner Champ Land wanted to drop this item and quickly learned that was not an option. This is a popular rocker especially in the south. Originally known as a “Nursery rocker” due to its extensive use in churches, schools, and hospital nurseries, this ver



सुसंस्कारित बच्चे

सुसंस्कारित बच्चेहर माँ की हार्दिक इच्छा होती है कि उसकी सन्तान आज्ञाकारी हो। हर मिलने-जुलने वाला मन से उसकी सराहना करे। अपने बच्चों की प्रशंसा सुनकर उसका हृदय बाग-बाग हो जाता है। वह स्वयं को इस दुनिया की सबसे अधिक भाग्यशाली माँ समझती है।          सन्तान सर्वत्र प्रशंसा का पात्र बने इसके लिए माँ का


मनुष्य की पूर्णता

मनुष्य की पूर्णतामाता के बिना मनुष्य का जीवन कभी पूर्ण नहीं होता बल्कि उसमें अधूरापन रह जाता है। माता जिसने मनुष्य को जन्म दिया है, इस संसार में लाने का महान दायित्व निभाया है, उसका पालन-पोषण करने के लिए अनेक कष्ट सहे हैं, उस माँ की अनदेखी उसे भूलवश भी नहीं करनी चाहिए। माता की आवश्यकता मनुष्य को जीव


प्यार की अमर कहानी

आज अदिती बेहद उदास थी तो सुमित ने उससे पूछा “क्या बात हैतुम्हारा मिज़ाज आज बदला-बदला सा क्यों है ?”“मैंने एक प्रेम कहानी पढ़ ली जिसमें नायिका नायकके चक्कर में अपनी जान से हाथ धो बैठती हैं।” अदिती ने कहा।“तो नहीं पढ़नी चाहिए थी।” सुमित ने कहा।“बहुत मशहूर थी और बेस्टसेलर भ



03 अप्रैल 2021

Android download manager

आज मैैं आपको स्मार्टफोन पर हिन्दी site देखने एंव पढ़ने के लिए बता रहा हूँ कुछ एंड्रॉयड फोन पर हिन्दी साइट को पढ़ने मे मुश्किल हो जाती हैं आइये द…Read more§ Hinditechtrick



देश में अल्पसंख्यक मापने का पैमाना

1993 में तत्कालीन केंद्र की कांग्रेसी सरकार दवरा वोट बैंक व् तुष्टिकरणकी राजनीति को ध्यान में रखते हुए , अल्पसंख्यक मापने के लिए बनाया गया पैमानावर्ष 2021 आते-आते पूरी तरह से धवस्त/ विफल होगया है।पैमाने केआधार पर वर्तमान में धर्म आधारित छह वर्ग अल्पसंख





आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x