चित्तौड़गढ़ किले का रोचक इतिहास - CHITTAURGARH FORT HISTORY IN HINDI

चित्तौड़गढ़ किले का इतिहास- इस लेख में आप पढ़ेंगे (CHITTAURGARH FORT HISTORY IN HINDI) चित्तौड़गढ़ के भव्य किले के बारे में -चित्तौड़गढ़ किला एक भव्य और सुन्दर किला है , जो राजपुताना और किले के निर्माणकर्ता यानि मौर्यों के साहस की कहानी बयां करता है ,राजस्थान के चित्तौड़गढ़



अन्तिम नवरात्र और कन्या पूजन

नवमनवरात्र – देवी के सिद्धिदात्री तथा अन्नपूर्णा रूपों की उपासनाकल चैत्र शुक्लनवमी तिथि है – चैत्र शुक्ल नवरात्र का नवम तथा अन्तिम नवरात्र – देवी केसिद्धिदात्री रूप की उपासना – दुर्गा विसर्जन | यों तो देवी के समस्त रूप हीसिद्धिदायक हैं – यदि पूर्ण भक्ति भाव और निष्ठा पूर्वक उपासना की जाए | किन्तु जै



सिनेमा जगत के जनक - dadasaheb-phalke-biography-in-hindi

दादा साहब फाल्के का जीवन परिचय - इस लेख में आप पढ़ेंगे dadasaheb-phalke-biography-in-hindi -दादा साहेब फाल्के भारतीय सिनेमा के जनक माने जाते हैं ,भारतीय फ़िल्म उद्योग के पितामह “दादा साहब फाल्के साहब को आज भी बहुत सम्मान से याद किया जाता है ,भारतीय फिल्म जगत को एक नया रूप और सिनेमा को आधुनिक बनाने म



उच्च रक्तचाप के लक्षण तथा उनका आयुर्वेदिक समाधान

उच्च रक्तचाप या हाइपरटेंशन से आज के समयमें बहुत बड़ी संख्या में लोग ग्रसित हैं। रक्त प्रवाह के कारण नसों की दीवारों परदबाव पड़ता है। यह स्थिति ही उच्च रक्तचाप कहलाती है। यह आमतौर से इस बात पर निर्भरकरता है की मानव का ह्रदय कितनी गति से रक्त को पंप कर रहा है। इस समस्या के कारणभारत में प्रतिवर्ष करीब ढा



कोरोना

कोरोना तु करुणा है। ईश्वर की अद्भुत रचना है।। दुनिया के लिए हत्यारा है। काल को बहुत ही प्यारा है।। संहार तेरी प्रकृति है। चीन की तु दुष्कृति है।। किया जब जीवों पर अत्याचार। मच गई है दुनिया में हाहाकार।। खुश हुआ जीवों को ग्रास बना। वही तेरा अब त्रास बना।। नदियों पेड़ों का संहार किया। प्रलय के मुहाने प


कोरोना

कोरोना तु करुणा है।ईश्वर की अद्भुत रचना है।। दुनिया के लिए हत्यारा है।काल को बहुत ही प्यारा हैसंहार तेरी प्रकृति है।चीन की तु दुष्कृति है।। किया जब जीवों पर अत्याचार।मच गई है दुनिया में हाहाकार।। खुश हुआ जीवों को ग्रास बना।। वही तेरा अब त्रास बनानदियों पेड़ों का संहार किया।प्रलय के मुहाने पर किया।। म


दान का महत्त्व :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*सनातन धर्म में प्रत्येक व्यक्ति को धर्म का पालन करने का निर्देश बार - बार दिया गया है | धर्म को चार पैरों वाला वृषभ रूप में माना जाता है जिसके तीन पैरों की अपेक्षा चौथे पैर की मान्यता कलियुग में अधिक बताया गया है , धर्म के चौथे पैर को "दान" कहा गया है | तुलसीदास जी मामस में लिखते हैं :-- "प्रगट चार



अवर जन जाति का इतिहास ....

the avars were a confederation ofheterogeneous (diverse or varied) people consisting of Rouran, Hephthalites, and Turkic-Oghuric races who migrated to the region of the Pontic Grass Steppe (an area corresponding to modern-day Ukraine, Russia, Kazakhstan) from Central Asia after the fall of the Asiat


धर्म का मर्म- असग़र वज़ाहत

मरकज़ की घटना पर जनाब असग़र वज़ाहत साहेब के विचारधर्म का मर्म- असग़र वज़ाहतदिल्ली में निजामुद्दीन इलाके के मरकज़ में जो घटना घटी उसने बहुत से सवाल खड़े कर दिए हैं। सबसे पहली बात यह की बिना प्रशासन को विश्वास में लिए इतने लोगों का जमा करना और वह भी इस माहौल में जमा करना कितना उचित है और कितना नहीं । दूसरी



31 मार्च 2020

tabib khan jiya sisters

जब तक रिया और जिया की शादी नहीं हो जाती है कब तक मै शादी के बारे मैं सोचूंगा भी नहीं



क्यों है लॉकडाउन की मजबूरी

समाज की उत्पति से लेकर आजतक विश्व एक हीथ्यूरी पर चल रहा है कि समाज में वर्चस्व किस का होगा। जंगलराज को नकेल डालकर कुछव्यवस्थाएं स्थापित हो गईं लेकिन जिनके साथ अन्याय होता था उन्होंने प्रतिरोध जारीरखा। वर्तमान युग में विश्व की ओर से फेस की जा रही समस्याओं का मुख्य कारण पश्चिमजगत और उनका अंधानुकर



भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन- Indian Space Research Organisation(ISRO) and their missions

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन -इस लेख में आप पढ़ेंगे Indian Space Research Organisation(ISRO) AND list of space mission launched by india -भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन -भारत का राष्ट्रीय अंतरिक्ष संस्थान है जिसका मुख्यालय कर्नाटक प्रान्त की राजधानी बंगलुरू में है। स



अस्थमा के लक्षण तथा उनकी आयुर्वेदिक चिकित्सा

वर्तमान समय में वातावरण में प्रदूषणलगातार बढ़ता जा रहा है। वायु तथा मिट्टी में हानिकारक तत्वों की मात्रा काफीज्यादा बढ़ चुकी है। इसीलिए ही Respiratory Tract सेसंबंधित रोग काफी तेजी से बढ़ते जा रहें हैं। प्रदूषित वातावरण में श्वास फूलने याअस्थमा कि समस्या लोगों में बढ़ती जा रही है। प्रदूषित वातावरण के अल



धिक्कार है ऐसे लोगो पर

धिक्कार है ऐसे लोगोंं परविजय कुमार तिवारीमन दहल उठता है।लाॅकडाउन में भी लाखों की भीड़ सड़कों पर है।भारत का प्रधानमन्त्री हाथ जोड़कर विनती करता है,आगाह करता है कि खतरा पूरी मानवजाति पर है।विकसित और सम्पन्न देश त्राहि-त्राहि कर रहे हैं।विकास और ऐश्वर्य के बावजूद वे अपनी जनता को बचा नहीं पा रहे हैं।आज



Distributor कैसे बनते हैं आइये जाने

डिस्ट्रीब्यूटर बनने की न्यू टिप्स जानिए। ये आज का बढ़ता बिजनेस है। Distributor kaise bante hai aaiye jane आज जो लोग बिजनेस करना चाहते हैं वो distributor बनकर एक अच्छा व्यापार शुरू कर सकते हैं। ये एक ऐसा business है जिसे खड़ा करने में में आपको बिल्कुल भी मेहनत नहीं करनी है। d



अष्टमं महागौरी

अष्टमनवरात्र – देवी के महागौरी रूप की उपासना के लिए कुछ मन्त्र या श्री: स्वयं सुकृतीनाम् भवनेषु अलक्ष्मी:, पापात्मनां कृतधियांहृदयेषु बुद्धि: |श्रद्धा सतां कुलजनप्रभवस्य लज्जा, तां त्वां नताः स्म परिपालय देविविश्वम् ||देवी का आठवाँ रूप है महागौरी का | माना जाता हैकि महान तपस्या करके इन्होंने अत्यन्त



Rashtriya Swayamsevak Sangh (RSS) History in Hindi

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) का इतिहास (Rashtriya Swayamsevak Sangh (RSS) History in Hindi)-आरएसएस का पूरा नाम राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ हैं. इस संगठन का राजनीति से सीधा कोई सम्बंध नहीं हैं लेकिन भारत में ये स्वयंसेवी संस्था ना केवल राजनैतिक बल्कि सामजिक परिवेश में भी महत्वूर्ण स्थान रखती हैं.



आज के परिदृश्य पर अतीत से प्रहार

महामारी के चपेट में हैं ,अभी तो ,आजादी की बात न कर ,स्वाद पका लेना स्वादानुसार ,अभी राजनीति की ,लौ जलाने का काम न कर ।सोच अपनी भूल को ,देख अपने अतीत को ,छिन गया तगमा तुमसे ,तुम नेतृत्व कर रहे हो ,सिर्फ भेड़ के भीड़ को ,सिर्फ भेड़ के भीड़ को ,व्यथा दे रही हवा क्रोध को ,धिक्कार रही ज़मीर को ,पोछ उस गर


अवलोकन

तुम दूर होते हो तो सब कुछ खोया खोया सा लगता है,खुश रहते हैं हम पर बीता पल रोया रोया सा लगता है.अगले पल फिर से तरोताजा होने की कोशिश करते हैं,हर कुछ तुम्हारी खुशबू में पिरोया पिरोया सा लगता है.रात को नींद आती नहीं,यादें आकर वापस जाती नही,इंतज़ार करते करते दिन पूरा ढोया ढोया सा लगता है. जिक्र किसी का


मौन होना बुरा नहीं

मौन होना बुरा नहीं ,पर किसी ,गुनाह से कम नहीं ,बुद्ध होना बुरा नहीं ,पर अशोक सा बुद्ध ,गुनाह से कम नहीं ,मौन होना बुरा नहीं ,अहिंसा भ्रमण करें वहां ,सबल धरे समाज जहां ,निज स्वतंत्रता ,निज विचार ,विरोध नहीं ,आजादी का यहां ,पर विनय निवेदन एक यहां ,इससे होता नहीं ,राष्ट्र समाज का निर्माण यहां ,और उचित




आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x