क्यों खून के रिश्ते से भी गहरी होती है दोस्ती

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC



इक वो भी दीपावली थी..

हमारी छोटी-छोटी खुशियाँ( भाग- 3 )*************************** सच कहूँ तो पहले अभाव में भी खुशियाँ थीं और अब इस इक्कीसवीं सदी में सबकुछ होकर भी खुशियों का अभाव है।**************************** पिछले कुछ महीनों में स्वास्थ्य तेजी से गिरा है, फिर भी ठीक पौने चार बजे ब्रह्ममुहूर्त में शैय्या त्याग



बोझ

लघुकथाबोझक्या पुरूष, क्या स्त्री, क्या बच्चे , सब के सब आधुनिकता के घोड़े पर सवार फैशन की दौड़ में भाग रहे थे और वह किसी उजबक की तरह ताक रहा था । गाँव से आया वह पढा लिखा आदमी, भूल से , एक भव्य माल में घुस आया था और अब ठगा-सा खड़ा था।उसकी नजर एक आदमी पर पड़ी जो एक स्टील के बेंच पर बैठा था। उसके पास



इन दिनों कहां हैं आपके फेवरेट महेंद्र सिंह धोनी?

भारत में क्रिकेट की दीवानगी सबसे ज्यादा देखने को मिलती है और कुछ क्रिकेटर्स को तो क्रिकेट लवर्स भगवान ही मानते हैं. जिसमें सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी का नाम शामिल है। मगर महेंद्र सिंह धोनी का नाम क्रिकेट की दुनिया में काफी चर्चित है और लोग इन्हें सबसे ज्यादा पसंद कर



संस्कृति एवं संस्कार :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*हमारे देश भारत में आदिकाल से संस्कृति एवं संस्कार का बोलबाला रहा है | हमारी संस्कृति एवं संस्कार ने हीं भारत देश को विश्व गुरु की उपाधि दिलवाई थी | संस्कृति क्या है ? यदि इसके विषय में ध्यान दिया जाए तो संस्कृति का नाम ही संस्कार है , संस्कार से परिष्कार होता है और परिष्कार में भी संशोधन करके जो



वो बॉलीवुड फ़िल्में जिनमें हिंदी साहित्य बना प्रेरणा

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves></w:TrackMoves> <w:TrackFormatting></w:TrackFormatting> <w:PunctuationKe



KBC 11: बिग बी के पूछे गए सवाल भले आप जानते हों लेकिन इन 10 बातों को नहीं जानते होंगे

छोटे पर्दे का पॉपुलर क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति अपने सीजन 11 के साथ खूब धमाल मचा रहा है। शो के होस्ट अमिताभ बच्चन के नेतृत्व में इस शो का लेवल ही अलग हो गया है। अमिताभ बच्चन ने इस शो में चार चांद लगाए और इस शो के जरिए बुहत से लोग करेंट अफेयर्स के सवाल भी तैयार करते हैं। सवालों के जवाब देकर लोग खुद



CA इंटरमीडिएट कोर्स की पूरी जानकारी

CA इंटरमीडिएट कोर्स की पूरी जानकारी CA इंटरमीडिएट कोर्स CA कोर्स के दूसरे चरण की परीक्षा होती है | CA कोर्स में फाउंडेशन की परीक्षा पास करने के बाद आप CA इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते है | CA इंटरमीडिएट की परीक्षा फाउंडेशन की तुलना में थोड़ी कठिन होती है | और इसे पास करने के लिए



कौन थे कमलेश तिवारी? इनके लिए 1 लाख मुस्लिम ने की थी मौत की मांग!

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 18 अक्टूबर को एक ऐसी घटना सामने आई जो मानवता को तार-तार कर सकती है। खबर ये है कि हिंदू समाज पार्टी के चर्चित नेता कमलेश तिवारी की गला रेंतकर हत्या कर दी गई है और हैरानी की बात ये है कि उनकी हत्या खुर्शीद बाग में स्थित हिंदू समाज पार्टी



यहां के मेडिकल स्टूडेंट्स कटोरा लेकर मांग रहे हैं भीख, वजह आपको गुस्से से भर सकता है

शिक्षा वो शस्त्र है जिसे प्राप्त करके हम दुनिया की हर लड़ाई जीत सकते हैं लेकिन जब इस शस्त्र को पाने के लिए हमें मेहनत और तपस्या के अलावा पैसे भी खर्च करने पड़े तो इसे कैसे पाया जा सकता है? ये सोचने वाली बात है क्योंकि आज के दौर में शिक्षा एक कारोबार बन गया है और लोग शिक्षा जरूरी है इसका फायदा उठाकर



Panchatantra Stories in hindi हिंदी पंचतंत्र की १४ खूबसूरत कहानियां

Panchatantra Stories in Hindi – पंचतंत्र की कहानियां हिंदी में Panchatantra Stories in hindi एक कंजूस धोबी के पास एक गधा था. धोबी उस गधे से खूब काम लेता, लेकिन गधे के चारे का कोई प्रबंध नहीं करता. बस रात को गधे को चरने के लिए खुला छोड़ देता. निकट में कोई चारागाह नहीं था.जं



मैं किसी से कम थोड़े ही हूँ.

दिखावा और औरतें आज के समय में एक दूसरे के पर्याय बने हुए हैं. थे तो पहले से ही, पर आज कुछ ज्यादा ही हो गए हैं और ऐसा नहीं है कि ऐसा मैं किसी व्यक्तिगत चिढ़ की वजह से कह रही हूँ बल्कि मैंने आज की औरतों को देखा है और महसूस किया है कि महज दिखावे के लिए ये अपनी सारी जिंदगी तबाह कर लेती हैं. अभी कल ही कर



आखिर ऐसा क्यों?

🙏🏻आखिर ऐसा क्यों? 🙏🏻"""""""""""""""""""""""""""""""""अचानक से मेरे मन मस्तिष्क पर वह दृश्य नाच गया।घर के चौतरे पर एक घूँटे से बंधी थी वह लाचार माँ। उनकी हृदय को झकझोर देने वाली आवाज ।अब भी रौंगटे खड़े हो जाते हैं उन दर्दनाक दृश्य को याद कर ।उन दिनों मैं छोटी बच्ची थी ,दर्द हुआ था पर समझ न पाई



नुसरत जहां ने अपनी साथी सांसद से पूछा- 'कैसी लग रही मैं?', ट्रोलर्स ने पूछी ऐसी-ऐसी बात

पिछले दिनों बंगाली एक्ट्रेस और अब सांसद नुसरत जहां अपने सिंदूर खेला से लोगों के निशाने पर आईं। इस्लाम बोर्ड के प्रमुख ने नुसरत को हिंदू धर्म अपनाने की नसीहत तक दे डाली थी। अब उनके सामने एक और समस्या आ गई जब वे सोशल मीडिया से अपनी मित्र से पूछ रही थीं कि वे कैसी लग रही हैं तो ये बात शायद लोगों को पसं



करवा चौथ के पावन पर्व की शुभकामनाएं

🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷 *जय श्रीमन्नारायण*🌹 *श्री राधे कृपा हि सर्वस्वम* 🌷 🌛🌛🌛🌛🌛🌛🌛🌛 *आद्या शक्ति पराम्बा माँ भगवती की अंशस्वरूपा मातृ शक्तियों को करवा चौथ व्रत की हार्दिक शुभकामनाएँ*🌳☘🦜🌳🌲☘🏵💐 सभी मात्र शक्तियों को आज पावन करवा चौथ व्रत की हार्दिक शुभकामनाओं सहित मंगल कामना हम



कश्मीर में बिक रहे ‘I luv Burhan Wani’, ‘Mere Jaan Imran Khan’ लिखे सेब, क्या ये है आतंकियों की चाल?

भारत में हर जगह की कोई ना कोई चीज फेमस है और अगर कोई उस जगह जाता है तो लोग बोलते हैं वहां का ये प्रसिद्ध चीज जरूर लाना। इसी तरह से कश्मीर का सेब पूरे एशिया में फेमस है और सभी जानते हैं कश्मीर में सेब के हजारों बगान है और पूरे भारत में सेब कश्मीर से ही सप्लाई होते हैं। खासकर जम्मू की बाजारों में सेब



NDTV और Scroll ने किया बाबरी मस्जिद के वकील की करतूत को छिपाने की कोशिश!

सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर मामले की अंतिम दिन की सुनवाई 16 अक्टूबर को पूरी हो गई। इस दिन राजीव धवन ने हिंदू महासभा द्वारा पेश किए गए नक्शे को फाड़ दिया। सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड के वकील धवन काफी गुस्सा हो गए और उन्होने कागज को कई बार फाड़ा और इस हरकत को सभी लोग देख रहे थे। इसके बाद न्यायधीश ने वकील को फ



किस रंग के कपडे पहने करवा चौथ पर ...

https://duniaabhiabhi.com/what-color-clothes-to-wear-today-on-karva-chauth/



राम मंदिर एक ज्योतिषीय विश्लेषण ....

https://duniaabhiabhi.com/astrology-analysis-of-ram-temple/



त्यौहार

तीज त्यौहार आकर हमे उत्साह के वैल्यू पैक से रिचार्ज कर जाते हैं , एनर्जी की बैटरी फुल कर जाते हैं, एक नई वैलिटीडी दे जाते हैं खुशियों को।रोज़ रोज़ की नीरसता से मुक्त कर जाते हैं। इनके बहाने हम परिवार के साथ उठते बैठते, खाते पीते, घूमते फिरते हैं, दोस्तों, परिचितों से मिलते जुलते हैं। साफ सफ़ाई जैसा ऊब




आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x