दुनिया सुने इन खामोश कराहों को...

दुनिया सुने इन खामोश कराहों को..***************************असली तस्वीर तो अपने शहर के भद्रजनों की इस कालोनी का यह चौकीदार है और उसके सिर ढकने के लिये प्रवेश द्वार पर बना छोटा सा यह छाजन है, जहाँ एक कुर्सी है और शयन के लिये पत्थर का पटिया है।****************************इस समूह में इन अनगिनत अनचीन्ही



Shaurya smarak

मध्य प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा राजधानी भोपाल में शौर्य स्मारक का निर्माण कराया वाकई सराहनीय है। भोपाल के अरेरा हिल्स में लगभग 12.6 एकड़ भूमि में शौर्य स्मारक का निर्माण किया गया है, जहां देश के सभी वीरों और शहीदों को उचित व सम्मानीय स्थान दिया गया है।https://travellovera



सफर जारी है 31-10-2018

#सफर_जारी_है_31/10/2018 मुसाफिर चल पड़ा है अपने सफ़र पर । वैसे तो अब दीपावली अवकाश चल रहे हैं। परंतु आज पटेल जयंती पर विद्यालय में विशेष कार्यक्रम आयोजित है तो घर से विद्यालय की तरफ प्रस्थान किया है। मौसम बदलाव की तरफ बढ़ रहा है ‌। आजकल सुबह कुछ ठंड रहती है । विद्यालय समय पर पहुंचना है तो पहली बस



सफर जारी है



सफर सफर सफर

सफर_जारी_है.....सूरतगढ़ से सफर शुरू हो चुका है । बस में ज्यादा भीड़ नहीं है। बस मंथर गति से आगे बढ़ रही है । एक दो सवारियों को छोड़कर सभी अपनी अपनी सीट पर विराजमान। मैं और असलम भाई अपनी बातों में मशगूल हैं। हमारी सीट के बराबर एक महाशय खड़े हैं। कोशिश करने पर उनको बैठने की जगह मिल सकती है लेकिन हमार



जयपुर यात्रा

JAIPUR -THE PINK CITY इस बार यह सफर बहुत ही अद्भुत और मजेदार था इस बार मैं अपने MP से बाहर राजस्थान के जयपुर मैं पहली बार ही गई थी। अब तक बस किताबों और इतिहासों में जयपुर को देखा था पर अब हकीकत में रूबरू होने का समय था।



मानव

you What is it Of him Anxiety KGA And Meditative Through Only This only Speculation The night Of Maconhu you Of him Outer



मदुरई

मदुरई दक्षिण भारतीय राज्य तमिलनाडु का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। वैगई नदी के किनारे स्थित मंदिरों का यह शहर सबसे पुराने बसे हुए शहरों में से एक है। शहर के उत्तर में सिरुमलाई पहाड़ियां स्थित हैं तथा दक्षिण में नागामलाई पहाड़ियां स्थित हैं। मदुरई का नाम “मधुरा” शब्द से पड़ा जिसका अर्थ है मिठास। कहा जाता है क



देश के रहने लायक शहरों में पुणे नंबर वन, टॉप-10 में मध्य प्रदेश के 2 शहर; उप्र का रामपुर सबसे बदतर

देश के रहने लायक शहरों से जुड़े 'लिवेबिलिटी इंडेक्स' में पुणे पहले नंबर पर है। नवी मुंबई दूसरे और ग्रेटर मुंबई तीसरे स्थान पर है। इस मामले में नई दिल्ली का 65वां स्थान है। इस प्रतिस्पर्धा में कोलकाता ने भाग नहीं लिया। टॉप 10 में मध्य प्रदेश के 2 शहर भोपाल और इंदौर भी हैं



सूर्यनगरी जोधपुर

जोधपुर भारत के राज्य राजस्थान का दूसरा सबसे बड़ा नगर या ज़िला है। इसकी जनसंख्या १० लाख के पार हो जाने के बाद इसे राजस्थान का दूसरा "महानगर " घोषित कर दिया गया था। यह यहां के ऐतिहासिक रजवाड़े मारवाड़ की इसी नाम की राजधानी भी हुआ करता था। जोधपुर थार के रेगिस्तान के बीच अपने



स्वतंत्रता दिवस विशेष: ... जब वाराणसी की तवायफों से हिल गई थी अंग्रेजी हुकूमत

यूपी का वाराणसी भी देश की आजादी के लिए छिड़े स्वतंत्रता संग्राम का गवाह रह चुका है। वाराणसी के चौक थाने के बगल में दालमंडी के नाम से प्रसिद्ध गली आज बिजनस का बड़ा हब बन गई है, लेकिन कभी इसी गली में कोठे हुआ करते थे जहां से आने वाली तवायफों के घुंघरूओं की झनकार ने अंग्रेजी



गोरखपुर

गोरखपुरउत्तर प्रदेश राज्य के पूर्वी भाग में नेपाल के साथ सीमा के पास स्थित भारत का एक प्रसिद्ध शहर है। यह गोरखपुर जिले का प्रशासनिक मुख्यालय भी है। यह एक धार्मिक केन्द्र के रूप में मशहूर है जो बौद्ध, हिन्दू, मुस्लिम, जैन और सिख सन्तों की साधनास्थली रहा। किन्तु मध्ययुगीन सर्वमान्य सन्त गोरखनाथ के बाद



बोधगया - जहाँ बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई |

बोधगया – बौद्धों का पूजनीय स्थलअंतरराष्ट्रीय पर्यटन की नज़र से देखे तो बोधगया बिहार का सबसे सुप्रसिद्ध स्थान है। बिहार में यह इकलौती ऐसी जगह है जो विश्व धरोहर के दो स्थलों में से एक है। बौद्धों के लिए यह जगह बहुत ही पूजनीय है क्योंकि, इसी स्थान पर बोधि वृक्ष के नीचे बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी।



राजस्थान : एक परिचय|

राजस्थान भारत का क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य है जो भारत के उत्तर-पश्चिम हिस्से में स्तिथ है| राजस्थान का इतिहास काफी समृद्ध रहा है और यहाँ प्राचीन काल से लेकर अब तक बहुत सारी सभ्यताएं फली-फूली हैं और नष्ट भी हुयी है| यहाँ निम्न पूरा-पाषाण युग, कांस्य युगीन सिधु



दिल्ली के आठ शहर

तीन चीजें एक शहर का निर्माण करती हैं - दरिया, बादल, बादशाह. इसे इस प्रकार कह सकते हैं एक नदी, वर्षा-बादल लाने वाली और एक सम्राट (जो अपनी इच्छाएं लागू कर सकता है)। पुरानी कहावत"हम दिल्ली शहर में हैं, जो प्राचीन और नए भारत का प्रतीक है। यह पुरानी दिल्ली की तंग गलियों और मकानों तथा नई दिल्ली के खुली जग



लद्दाख जाने का सबसे अच्छा समय कौन सा है और यहां तक कैसे पहुंचा जा सकता है? लद्दाख में देखने लायक जगह कौन सी हैं?

लद्दाख कब जाएंमई के अंतिम हफ्ते से सितंबर तक लद्दाख जा सकते हैं। यहां सड़क या हवाई मार्ग से ही पहुंचा जा सकता है। सड़क से जाना चाहें, तो एक रास्ता मनाली और दूसरा श्रीनगर होते हुए है। दोनों ही रास्तों पर दुनिया के कुछ सबसे ऊंचे दर्रे यानी पास पड़ते हैं। मई से पहले और सितंब



जानें चारधाम यात्रा के दौरान किन बातों का रखें ध्यान

18 अप्रैल को अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिरों के कपाट खुलने के साथ ही उत्तराखंड की चारधाम यात्रा शुरू हो गई थी, लेकिन केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट 29 अप्रैल रविवार और 30 अप्रैल सोमवार को खुले। चारों मंदिरों के कपाट खुलने के साथ ही आधिकारिक रूप से चार ध





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x