नशा माटो के शराबखाने का

26 फरवरी 2020   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (1928 बार पढ़ा जा चुका है)

आज काफी दिनों के बाद शब्दनगरी के लेखों पर गई तो डॉ दिनेश शर्मा के कुछ और यात्रा संस्मरण देखे... आइये हम भी उनके साथ कुछ यात्राएं कर लें...

नशा माटो के शराबखाने का

समुद्र के किनारे चलते चलते रास्ते में एक शान्त सी दूकान देखी तो कुछ पीने और सुस्ताने के इरादे से उसमें ही घुस गया | यह दरअसल एक शराब खाना था जो मुख्य टूरिस्ट मार्ग पर न होने की वजह से इस समय वीरान था | अन्दर रेड और व्हाईट वाइन के कांच के बड़े बड़े जार थे, लकड़ी के बड़े बड़े गोल हौद थे जिनमें वाइन बनने से पहले अंगूर फर्मेंट हो रहे थे | एक तरफ लकड़ी के ऊँचे ऊँचे बोतल रैक थे जिनमें सालों के हिसाब से वाइन की बोतलें लिटाकर जमाई गई थीं | मुझ जैसा प्रौढ़ावस्था का अकेला हिन्दुस्तानी सैलानी क्योंकि टूरिस्ट्स के किसी भी वर्ग में आराम से फिट नहीं होता तो लोगों की – ख़ासतौर पर रेस्टोरेंट होटल या दुकानों के मालिक की जिज्ञासा का आसानी से पात्र बन जाता है...

पूरा पढ़ने के लिए क्लिक करें:

https://shabd.in/travel/112084/nasha-mato-ke-sharabakhane-ka-dinesh-doctor

अगला लेख: शुक्र का मेष में गोचर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 फरवरी 2020
प्यारी बिटिया के विवाह पर बिटिया के लिए... बिटियाहो तू चिर सुहागिनी ||कम्पित कर से कम्पित स्वर से, झंकृत स्पन्दित तार तार सेमधुमय रसमय मनवीणा सेकोमल लय कोमल पुकार से गूँज रही ये मधुररागिनी |बिटिया हो तू चिर सुहागिनी ||स्वर्ण वर्ण से निर्झरिणी में, तुहिन बिन्दु से वनस्थली मेंसौरभ से अधखिली कली
20 फरवरी 2020
27 फरवरी 2020
आज की नफ़रत की राजनीति पर डॉ दिनेश शर्मा की एक सकारात्मक सोच... सच में, कहीं न कहीं तो इस नकारात्मक नफरती माहौल को बदलना होगा...वरना इसका जो अंजाम होगा उसे सोचकर वाक़ई रूह काँप उठती है...कुछ और आग लगाओ - दिनेश डॉक्टरबदकिस्मती से कुछदिनों से फिर वैसे ही हिन्दू मुस्लिम वाले खतरनाक मैसेज आने शुरू हो गए थ
27 फरवरी 2020
11 फरवरी 2020
समुद्र के किनारे चलते चलते रास्ते में एक शांत सी दुकान देखी तो कुछ पीने और सुस्ताने के इरादे से उसमे ही घुस गया । यह दरअसल एक शराब खाना था जो मुख्य टूरिस्ट मार्ग पर न होने की वजह से इस समय वीरान था । अंदर रेड और व्हाइट वाइन के कांच के बड़े बड़े जार थे, लकड़ी के बड़े बड़े गोल हौद थे जिनमे वाइन बनन
11 फरवरी 2020
06 मार्च 2020
रंग की एकादशी – कुछ भूली बिसरी यादेंआज फाल्गुनशुक्ल एकादशी है, जिसे आमलकी एकादशी और रंग की एकादशी के नाम से भी जाना जाता है | इस दिनआँवले के वृक्ष की पूजा अर्चना के साथ ही रंगों का पर्व होली अपने यौवन मेंपहुँचने की तैयारी में होता है | बृज में जहाँ होलाष्टकयानी फाल्गुन शुक्ल अष्टमी से होली के उत्सव
06 मार्च 2020
21 फरवरी 2020
श्री शिवाष्टकस्तोत्रम्आज महाशिवरात्रि कापावन पर्व है, शिव परिवार की पूजा अर्चना का दिन | भगवान शिव सभी का मंगलकरें इसी भावना के साथ प्रस्तुत है महामृत्युंजय मन्त्र और रुद्र गायत्री सहितश्री शिवाष्टकस्तोत्रम्...ॐ हौं जूँ सः ॐभूर्भुवः स्वः ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् |उर्वारुकमिव बन्धनान
21 फरवरी 2020
09 मार्च 2020
होली की रंगभरी हार्दिक शुभकामनाएँकान्हा करे बरजोरीमित्रों, कल होली का हुडदंग सुबह से ही शुरू होजाएगा | होली के इस रंगारंग पर्व की रंग और मस्ती भरी ढेर सारी शुभकामनाएँ… ऐसीखेले होरी, कान्हा करे बरजोरीकैसो निपट अनारी, मोरी बैयाँ दी मरोर है |रंग डारो अबीर गुलाल भर मुठिया मेंटेसू रंग भर छोड़े वो तो पिचका
09 मार्च 2020
22 फरवरी 2020
क्रोएशिया में लैंड होने के बाद बहुत जगह एक बात बहुत सारे क्रोएशयन ने कई बार जो बड़े गर्व से दोहराई वो है यहां के पानी के बारे में उनका विश्वास । ' आप बोतल के पानी में पैसा खराब न करे ! हमारे हर नल का पानी किसी भी बोतल के पानी से ज्यादा अच्छा और शुद्ध है । क्योंकि मेरे अपने देश में बहुत सारी बीमारियों
22 फरवरी 2020
17 फरवरी 2020
वैसे तो क्रोएशयन लोग तबियत से खासे गर्मजोश होते है पर एकदम नही खुलते । शायद काफी अरसे तक कम्युनिज्म के प्रभाव ने वहाँ के लोगों को अपनी भावनाओं पर काबू पाकर पहले दूसरों को भांपने की आदत डाल दी है । एक बार बातचीत में खुल जाएँ तो बड़े बेतकल्लुफ होकर दोस्ती गांठ लेते हैं । क्रोएशिया में जो लोग सर्बिया य
17 फरवरी 2020
07 मार्च 2020
टेसू- प्रेम और प्यार का रंगकल यानी आठ मार्च को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवसहै – सशक्त नारी शक्ति को बधाई और शुभकामनाएँ... इस कामना के साथ कि अभी भी जोमहिलाएँ दुर्बल हैं उन्हें सशक्त बनाने में उनकी मदद करेंगे...इसके साथ ही नौ व दस मार्च को होली का रंगारंगत्यौहार – कोरोना के डर ने जिसके रंग फीके कर दिए
07 मार्च 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x