विएना का अद्वितीय और विशाल शोन्नब्रुन्न पैलेस अप्रैल 12-18 , 2018 - दिनेश डाक्टर

31 जुलाई 2020   |  दिनेश डॉक्टर   (298 बार पढ़ा जा चुका है)

विएना का अद्वितीय और विशाल शोन्नब्रुन्न पैलेस अप्रैल 12-18 , 2018 - दिनेश डाक्टर

विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर

विएना का अद्वितीय और विशाल शोन्नब्रुन्न पैलेस अप्रैल 12-18 , 2018

अगले रोज़ सुबह जल्दी तैयार होकर खुद का बनाया नाश्ता खाकर तीन सौ बीस बरस पुराना शोन्नब्रुन्न पैलेस देखने निकल पड़ा । रास्ते में एक साइकिल रैली जैसी कुछ निकल रही थी। हज़ारों की संख्या में साइकिल सवार गाते बजाते तरह तरह की रंग बिरंगी साइकिलों पर चले जा रहे थे। पता लगा कि आज आस्ट्रिया का कोई उत्सव है और हर साल लोग ऐसे ही उसे मनाते हैं। तीन ट्राम्स बदलकर श्लोस शोन्नब्रुन्न स्टेशन पर उतरा तो रिमझिम फुहार पड़ रही थी । पैलेस के मुख्य द्वार पर पहुँचा तो टिकट ख़रीदने के लिए पहले ही टूरिस्टस की लम्बी लाइन लगी हुई थी। जैसे ही हम भारतीय विदेशी करेंसी को भारतीय मुद्रा में परिवर्तित करते हैं तो सब चीज़ महँगी लगनी शुरू हो जाती हैं। भारतीय करेंसी के हिसाब से क़रीब साढ़े तीन हज़ार रुपए की टिकट थी । मुझे अपनी स्वर्गीय दादी का कथन याद आया ‘ओखली में सर दे ही दिया फिर मूसलों का क्या डर ‘ । चुपचाप लाइन में लगकर टिकट ख़रीदी और शोन्नब्रुन्न पैलेस में घुस गया ।

चार सौ पैंसठ एकड़ में फैला और लगभग डेढ़ हज़ार कमरों वाला शोन्नब्रुन्न पैलेस बहुत विशाल है और पूरा देखने के लिए कम से कम दो दिन ज़रूर चाहिए । शोन्न ब्रुन्न का अर्थ है - खूबसूरत झरना ! बारोक शैली में बना यह महल बहुत भव्य है । तड़क भड़क मगर सुरचिपूर्ण सज्जा वाली बोरोक स्थापत्य शैली सत्रहवीं शताब्दी में इटली में ईजाद हुई और अपनी घुमावदार आकृतियों, सोने की पालिश वाली मेहराबों और ऐश्वर्यपूर्ण सजावटों की वजह से शीघ्र ही पूरे यूरोप के सम्पन्न राज घरानों में फैल गयी । तरह तरह के वृक्षों से घिरे , फ़व्वारों से सज्जित और बड़े बड़े हरे भरे मैदानों में बने ये पैलेस या महल उस समय के यूरोप के राजपरिवारों की संपन्नता का साक्षात प्रमाण है ।

कुछ वर्षों से एक बहुत बड़ी तकनीकी सुविधा यूरोप के दर्शनीय स्थलों में मिलने लगी है। मुख्य द्वार पर ईयर फ़ोन्स के साथ एक मोबाइल की तरह का यंत्र उपलब्ध होता है - कहीं निशुल्क और कहीं कुछ फ़ीस के बदले। स्थानीय भाषा के सिवा अंग्रेज़ी, फ़्रेंच, इटालियन और स्पेनिश भाषा के चुनाव की सुविधा के साथ । उसे आप गले में लटका लें और घूमना शुरू कर दें । हर कक्ष में हर कलाकृति, वस्तु या पेंटिंग पर एक नम्बर लिखा होता है । जैसे ही उस यंत्र पर वो नम्बर पंच करेंगे तो फ़ौरन आपके द्वारा चयन की गयी भाषा में उस कक्ष, वस्तु, कृति या पेंटिंग का पूरा परिचय आपके कानों में सुनाई देना शुरू हो जाएगा । किसी भी महल या पैलेस की भव्यता को लिखना या शब्दों में बयान करना आसान नही है और अगर शोन्नब्रुन्न पैलेस जैसा विशाल महल हो तो भूल ही जाइए । पूरे महल को एक तरह से म्यूज़ियम में तब्दील कर दिया गया है। एक कमरें में सिर्फ़ चीनी मिट्टी के बेहद खूबसूरत बर्तन थे तो दूसर में सिर्फ़ चाँदी के । एक कमरे में सिर्फ़ कपड़े थे तो दूसरे में सिर्फ़ आभूषण। देखते जाओ और दाँतो तले अंगुली दबा कर चमत्कृत होते जाओ और थक जाओ तो कहीं बैठ जाओ । वैसे तो पूरा महल ही तरह तरह के अजूबों से भरा हुआ था पर मुझे ज़्यादा मज़ा आया अढ़ाई तीन सौ बरस पुरानी घोड़ों वाली पुरानी राजसी बग्गियों को देखने में । एक से एक शानदार पीतल मढ़ी और सोने की पालिश वाली और आरामदेह बग्गियाँ - एक से बढ़कर एक खूबसूरत । छोटे बच्चों के लिए अलग क़िस्म की छोटी बग्गियाँ । रानियों के लिए पर्दे वाली अलग। राजा के लिए चार -आठ या बारह घोड़ों वाली बड़ी बड़ी बग्ग़ियाँ । खुली बग्गियाँ, बंद बग्गियाँ, बर्फ़ पर चलने वाली बग्गियाँ । और सबसे अलग और अजीब थी काले रंग की एक बग्गी जिसमें काले रंग छह घोड़े जोत कर राजा फ़्रेंज जोसेफ के शव को शहर की सड़कों से दफ़नाने के लिए ले ज़ाया गया था।

बिना खम्बों वाले ‘हाल आफ सेलिब्रेशंस’ यानि उत्सव भवन का आकार और सजावट किसी को भी चमत्कृत कर सकते हैं। एक एक झाड़ फ़ानूस यानि शेंडलियर अद्वितीय और बेशक़ीमती है । ऊपर छत की ख़ूबसूरती और भव्यता ताकते ताकते जब गर्दन ज़्यादा ही दुखनी शुरू हो गयी तो लकड़ी की बैंच पर बैठ गया । महल की संसद का सभागार तो और भी कमाल का था । हक़ीक़त में कलात्मक अभिव्यक्ति का एक बेहतरीन नमूना ।

थक थका कर जब बाहर निकला तो छह घंटे से ज़्यादा हो चुके थे और महल अभी आधा भी नही देखा था । उसी शाम विएना के स्टेट ओपेरा में संगीत की एक भव्य प्रस्तुति थी । टिकट मैंने पहले ही आनलाइन बुक करवा लिया था । भूख बड़े ज़ोर से लग आयी थी । ट्राम स्टेशन के रास्ते में फ़ूड स्टोर से चीज़ सैंडविच और बीयर का कैन ख़रीदा, चलते चलते खाया पिया और शोन्नब्रुन्न से मेट्रो पकड़कर कार्ल्ज़ प्लाटज स्टेशन पर उतर गया । वहाँ से खरामा खरामा चलते दस मिनट में स्टेट ओपेरा की शानदार बिल्डिंग के पास पहुँच गया । कार्यक्रम शुरू होने में अभी वक़्त था तो इधर उधर चहलक़दमी शुरू कर दी। एक जगह बेहतरीन आइसक्रीम खाई तो दूसरी जगह काफ़ी पी। हर तरफ़ बड़े कमाल की कला कृतियाँ थी । गुलाबी रंग के एक ख़रगोश की कृति के साथ सब लोग सेल्फ़ी ले रहे थे तो मैंने भी ली।

विएना का अद्वितीय और विशाल शोन्नब्रुन्न पैलेस अप्रैल 12-18 , 2018 - दिनेश डाक्टर
विएना का अद्वितीय और विशाल शोन्नब्रुन्न पैलेस अप्रैल 12-18 , 2018 - दिनेश डाक्टर

अगला लेख: ‘सालज़बर्ग का “हेलब्रुन्न पैलेस यानी जादुई क़िला” 12-15 अप्रैल 2018 - दिनेश डाक्टर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
06 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -114 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019सितम्बर 1935 में श्री राहुल सांकृत्यायन जी ने एक महीने तक जो यात्रा बाकू, कुहीन, तेहरान, इस्फ़हान, कुम, शीराज़, पर्सेपोलिस, मशहद, ज़ाहिदान, बिलोचिस्तान जैसे दुर्गम स्थानों की, वो भी बसों, द्रकों और छकड़ा कारों के ज़रिए, वह वा
06 अगस्त 2020
29 जुलाई 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह का एक शहरअप्रैल 12-18 , 2018
ट्रेन से उतरा तो खूबसूरत विएना ने मुझे आगे बढ़कर अपनी बाहों में भर लिया । सबसे पहले उतर कर पूछताछ खिड़की पर गया और लोकल ट्रामों, ट्रेनों और अंडर ग्राउंड ट्यूब रेलवे के बारे में जानकारी ली । पता लगा कि विएना शहर के भीतर सब प्रकार के
29 जुलाई 2020
17 जुलाई 2020
को
मैं आर्थिक मामलों की विशेषज्ञ नहीं हूं केवलवर्तमान स्थिती पर अपना मत रख रही हूं। कोरोना ने कुछ दिनों लोगों को काफी डरायालेकिन ये डर कुछ ही दिन लोगों के मन में रहा, अब लोग सावधानी बरत रहे है लेकिनउन्हें संक्रमित होने से ज्यादा डर अपनी आजीविका खत्म होने का सता है। कई कं
17 जुलाई 2020
12 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -4 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पोलेस का खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्कपोलेस में, जो बड़ी बोट द्वारा दुब्रोवोनिक से 1 घंटे 45 मिनट की दूरी पर है, शांत और खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्क है । पार्क में घूमने के लिए वहाँ उतरते ही बैटरी वाली साइकिले किराए पर मिल रही
12 अगस्त 2020
01 अगस्त 2020
राम !औरों को शाप मुक्त करके भीस्वयम रहे अभिशप्तकभी दूसरों के क्रोध से संतप्ततो कभी अपनो से त्रस्त !!राम !अकारण नही हुआ वनवास तुम्हे और न ही पत्नी हरण !!न होता -तो कैसे बनतेसहनशीलता के उत्कर्षयुग पुरुष !राम !हर युग में कोई तो विष पीता हैआक्रोश और अपमान काशिव होने को ! अकारण भग्न नही हुआ तुम्हारा जन्म
01 अगस्त 2020
29 जुलाई 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह का एक शहरअप्रैल 12-18 , 2018
ट्रेन से उतरा तो खूबसूरत विएना ने मुझे आगे बढ़कर अपनी बाहों में भर लिया । सबसे पहले उतर कर पूछताछ खिड़की पर गया और लोकल ट्रामों, ट्रेनों और अंडर ग्राउंड ट्यूब रेलवे के बारे में जानकारी ली । पता लगा कि विएना शहर के भीतर सब प्रकार के
29 जुलाई 2020
10 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -214 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019माटों का शराब खाना और उसकी चिन्ताएँ पुराने शहर के मुख्य दरवाज़े पर जबरदस्त भीड़ का रेला था । लंबी डीलक्स बसों में से उतर कर टूरिस्ट ग्रुप्स के झुंड के झुंड जमा थे । मुझे दिल्ली में होने वाली राजनीतिक रैलियों की याद आ गयी ।
10 अगस्त 2020
24 जुलाई 2020
प्यार हो और कहना पड़े ? क्या मेरी आंखों में मेरी सांसो मेंमेरे सुनने मेंमेरे कहने में तुम्हे प्यार नज़र नही आता ?क्या मेरी सोच में मेरी चिंता में मेरी दृष्टि मेंमेरी सृष्टि में तुम हमेशा नही रहती ? क्यूँ तुम्हारा रोनानम करता है मुझेऔर तुम्हारा हँसनाउल्लासितक्यूँतुम्हारा मान - अपमानकरता मुझे भीआनन्दित
24 जुलाई 2020
16 जुलाई 2020
कोरोना काल में ऐसा भी क्या आर्थिक संकट की एक या दो महीने का बेकअप भी नहीं है। मार्च से पहले करोड़ों-अरबों का बिज़नेस करने वाले भी छाती पीट रहे है कि धंधा चौपट हो गया है। सोचने वाली बात है कि जब हाई क्लास बिज़नेस करने वालों के ये हाल है तो उन बेचारे दैनिक दिहाड़ी वालों का क्या हाल होगा। जिनमे से ज्यादातर
16 जुलाई 2020
05 अगस्त 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 4विदा विएना विदा ! फिर लौट आऊँगा !!! अप्रैल 12-18 , 2018
अगले सात दिनों में विएना में इतने म्यूजियम देखे, इतने पुराने किले और तकनीकी रूप से इतनी पुरानी पर उत्कृष्ट इमारते देखी और इतना घूमा देखा कि एक पूरी किताब उस पर आराम से लिखी जा सकती है। ग्लोब म्
05 अगस्त 2020
10 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -214 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019माटों का शराब खाना और उसकी चिन्ताएँ पुराने शहर के मुख्य दरवाज़े पर जबरदस्त भीड़ का रेला था । लंबी डीलक्स बसों में से उतर कर टूरिस्ट ग्रुप्स के झुंड के झुंड जमा थे । मुझे दिल्ली में होने वाली राजनीतिक रैलियों की याद आ गयी ।
10 अगस्त 2020
11 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -314 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पुराने शहर का तिलिस्म माटो ने बताया था अगर पुराना शहर देखना है तो शाम का वक़्त बढ़िया रहेगा क्योंकि उस वक़्त ज्यादा टूरिस्ट खाने पीने में मस्त रहते हैं और शहर के अंदर रात के वक़्त जो लाइटिंग इफ़ेक्ट्स आते है वो पुराने शहर की ड
11 अगस्त 2020
12 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -4 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पोलेस का खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्कपोलेस में, जो बड़ी बोट द्वारा दुब्रोवोनिक से 1 घंटे 45 मिनट की दूरी पर है, शांत और खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्क है । पार्क में घूमने के लिए वहाँ उतरते ही बैटरी वाली साइकिले किराए पर मिल रही
12 अगस्त 2020
10 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -214 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019माटों का शराब खाना और उसकी चिन्ताएँ पुराने शहर के मुख्य दरवाज़े पर जबरदस्त भीड़ का रेला था । लंबी डीलक्स बसों में से उतर कर टूरिस्ट ग्रुप्स के झुंड के झुंड जमा थे । मुझे दिल्ली में होने वाली राजनीतिक रैलियों की याद आ गयी ।
10 अगस्त 2020
27 जुलाई 2020
सालज़्बर्ग में मोज़ार्ट का घर अप्रैल 12-18 , 2018केबल कार सुबह साढ़े सात बजे चलनी शुरू होती थी । नाश्ता सुबह साढ़े छह बजे ही लग जाता था । जल्दी जल्दी नाश्ता कर वापस पच्चीस नम्बर बस के स्टैंड पर पहुंच गया । बस भी जल्दी ही मिल गयी और साढ़े आ
27 जुलाई 2020
05 अगस्त 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 4विदा विएना विदा ! फिर लौट आऊँगा !!! अप्रैल 12-18 , 2018
अगले सात दिनों में विएना में इतने म्यूजियम देखे, इतने पुराने किले और तकनीकी रूप से इतनी पुरानी पर उत्कृष्ट इमारते देखी और इतना घूमा देखा कि एक पूरी किताब उस पर आराम से लिखी जा सकती है। ग्लोब म्
05 अगस्त 2020
04 अगस्त 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 3विएना का फ़िल हारमोनिक आर्केस्ट्रा अप्रैल 12-18 , 2018विएना के एक सौ पैंतालीस संगीतकारों वाले फ़िल हारमोनिक आर्केस्ट्रा की प्रस्तुति और वो भी विएना के स्टेट ओपेरा में एक ऐसा अनुभव है जिसे कोई भी देख ले तो जीवन भर न भूले । यह एक ऐसा स्तब्ध कर देने व
04 अगस्त 2020
27 जुलाई 2020
सालज़्बर्ग में मोज़ार्ट का घर अप्रैल 12-18 , 2018केबल कार सुबह साढ़े सात बजे चलनी शुरू होती थी । नाश्ता सुबह साढ़े छह बजे ही लग जाता था । जल्दी जल्दी नाश्ता कर वापस पच्चीस नम्बर बस के स्टैंड पर पहुंच गया । बस भी जल्दी ही मिल गयी और साढ़े आ
27 जुलाई 2020
11 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -314 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पुराने शहर का तिलिस्म माटो ने बताया था अगर पुराना शहर देखना है तो शाम का वक़्त बढ़िया रहेगा क्योंकि उस वक़्त ज्यादा टूरिस्ट खाने पीने में मस्त रहते हैं और शहर के अंदर रात के वक़्त जो लाइटिंग इफ़ेक्ट्स आते है वो पुराने शहर की ड
11 अगस्त 2020
13 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -5 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019सपनों के शहर स्प्लिट की तरफ़ पूरे रास्ते बांयी तरफ खूवसूरत नीला एड्रियाटिक समुद्र लहराता दिखाई देता है और कम चौड़ी महज दो लेन वाली सड़क पर चौकस रह कर ड्राइविंग करनी पड़ती है । बीच में कुछ जगह व्यू पॉइंट्स पर रुक कर फोटो भी
13 अगस्त 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x