दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर

15 अगस्त 2020   |  दिनेश डॉक्टर   (450 बार पढ़ा जा चुका है)

दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर

फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -6

14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019

दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में



क्रोएशिया में लैंड होने के बाद बहुत जगह एक बात बहुत सारे क्रोएशयन ने कई बार जो बड़े गर्व से दोहराई वो है यहां के पानी के बारे में उनका विश्वास ' आप बोतल के पानी में पैसा खराब करे ! हमारे हर नल का पानी किसी भी बोतल के पानी से ज्यादा अच्छा और शुद्ध है क्योंकि मेरे अपने देश में बहुत सारी बीमारियों की जड़ अशुद्ध पानी है तो शुरू में ये बात हजम नही हुई पर बाद में जब देखा कि यहां के लोग अपनी टोंटियों का पानी पीने के बाद भी लंबे तकडे स्वस्थ और हट्टे कट्टे है तो मैंने भी महंगे बोतल के पानी को छोड़कर किचन की टूंटी का पानी ही पीना शुरू कर दिया हम भले ही बचपन से अपने घरों के कुएं और हैंड पम्प का पानी पीकर पले बढ़े है पर आजकल जब तक पन्द्रह बीस हज़ार का आर वाटर फिल्टर नही लगवा लेते, तसल्ली ही नही होती

पता चला की स्प्लिट से 250 किलोमीटर उत्तर में प्लिटविच नेशनल पार्क है जो दुनियाँ के दस सबसे खूबसूरत नेशनल पार्कों में एक है गाड़ी उठायी और निकल पड़ा सड़क बढ़िया थी तो आराम से रास्ते में रुक कर भी 3 घंटे में पहुंच गया पार्क तो वाकई बहुत खूबसूरत था पर सैलानियों की बड़ी आपाधापी थी जबसे चीन की अर्थव्यवस्था सम्पन्न हुई है, दुनियाँ में हर बेहतरीन पर्यटन स्थल पर चीनियों की भरमार दिखती है चीनी टूरिस्टों के बहुत सारे ग्रुप्स ने इतने बड़े और खूबसूरत प्राकृतिक स्थल को चांदनी चौक का बाज़ार बना दिया था हर जगह लम्बी लम्बी लाइने थी कई जगह तो लोग कंधे से कंधा मिलाकर कतारों में बस रेंग ही रहे थे तभी एक संकल्प पुनः मन में दोहराया - हमेशा मशहूर पर्यटक स्थल पर सिर्फ और सिर्फ आफ सीजन में ही जाओ तभी उसका आनंद उठा पाओगे

स्प्लिट में एक शांत और सौम्य वृद्ध विधवा के जिस खूबसूरत घर में रुका हूँ उसमे नारंगियों के पेड़ के अलावा अनार और आलूबुखारे के पेड़ भी है दूर से ही सही पर समुद्र के नीले विस्तार का मनमोहक नज़ारा है कल सुबह पेड़ को थोड़ा हिलाया तो कुछ पके आलूबुखारे नीचे गिर पड़े जीवन में इतने मीठे और स्वाद आलूबुखारे इससे पहले कभी नही चखे वृद्धा माता जी इतने बड़े घर में अकेली ही रहती है एक लड़की है जो पास ही कहीं अपने परिवार के साथ रहती है माता जी क्योंकि ठीक से अंग्रेजी समझ नही पाती तो लड़की ही फोन पर घर में रुकने वाले सैलानियों से सम्पर्क में रहती है लड़की बहुत मेहनती है वैसे तो लड़की खासी सम्पन्न है -नई मर्सिडीज कार चलाती है पर इस घर की साफ सफाई, झाड़ू पोछा खुद ही खुशी खुश करती है

बीस मिनट पैदल रास्ते की दूरी पर हर रोज़ सुबह सात बजे से ग्यारह बजे तक फार्मर्स मार्किट यानी किसानों का बाज़ार लगता है आस पास के पहाड़ी और मैदानी कस्बों के किसान शहद, तरह तरह के चीज़ या पनीर, फल, सब्जियां, मछली, अंडे, गोश्त लाकर अपने नियत स्थानों पर जम जाते हैं पर्यटक क्योंकि बहुत होते है तो यह जानकर कि सैलानी लोग ज्यादा भाव ताव नही करते, अपनी मर्जी से दाम वसूला जाता है हर देश की तरह मैंने जब एक महिला दुकानदार से पके टमाटर और प्याज खरीदे तो उसने बिना तराजू अंदाजे से ही गिनकर दे दिए पैसे देकर मैं चलने लगा तो वापस बुला कर हंसते हुए पता नही क्यों दो टमाटर और दे दिए एक और दुकानदार ने जबरदस्ती करके चीज़ यानी क्रोएशयन पनीर का एक बड़ा सा टुकड़ा जो वाकई बहुत स्वाद था, मुझे इस उम्मीद में कि शायद मै खरीद लूँ, दे दिया

सत्रह सौ साल पुराने चर्च के लंबे चौड़े दालान में, मैं भी एक टूरिस्ट गाइड के ग्रुप में मोटी गाइड फीस देकर फंस गया चील जैसी शक्ल और भाड़ जैसे मुंह वाली पतली दुबली गाइड ने सुनाया ज्यादा दिखाया कम जितना मैं खुद दस पन्द्रह मिनट में देख लेता उसे उसने डेढ़ घण्टे में यहां वहां की फालतू बातें करते हुए बताया एक जगह बड़ी सी धातु की मूर्ति के सामने लोगों की लम्बी लाइन लगी थी लोग मूर्ति के दांये पैर के अंगूठे को घिस कर आंख मूंद कर कुछ बुदबुदा रहे थे पता चला किन्ही बिशप ग्रेगरी की मूर्ति है जिन्होंने ग्यारह सौ बरस पहले रोम के बड़े पोप से रोमन भाषा के विरुद्ध क्रोएशयन मातृ भाषा के अधिकार पर विद्रोह कर दिया था और बिशप पद से हटा दिए गए थे फिर 1929 में लोगो ने उनकी याद में ये मूर्ति बनवा दी और पता नही कैसे मान्यता बन गयी कि मूर्ति के दांये अंगूठे को रगड़ने से मन की मुराद पूरी हो जाती है पूरा बुत तो वैसे मटमैला है पर पैर का दांया अंगूठा लगातार रगड़े जाने की वजह से सोने की तरह चमक रहा था

टूर गाइड से मैंने जब अच्छे पिज्जे की दुकान के बारे में दरयाफ्त की तो उसने कोने की एक छोटी सी दुकान की तरफ इशारा किया पिज़्ज़ा बहुत वाजिब दाम में और बहुत ज़ायकेदार था खाकर मज़ा गया उसी की बतायी दुकान से पिस्ते वाली जिलाटो आइसक्रीम भी खाई जो वाकई बेहद मलाईदार और स्वाद थी

अगले रोज़ पता लगा कि डेढ़ घण्टे की ड्राइविंग की दूरी पर सिबनिक में करकरा राष्ट्रीय उद्यान है गाड़ी उठायी और निकल पड़ा छोटी सड़कें और राजमार्ग अच्छे बने हुए हैं एक घंटे से थोड़ा ऊपर के समय में ही पहुंच गया क्रोएशिया में सभी राष्ट्रीय उद्यानों को बहुत अच्छी तरह सरंक्षित किया जाता है इसलिए टिकट अच्छी खासी महंगी है बोट ट्रिप मिला कर 320 कुना यानी हिंदुस्तानी रुपयों में करीब साढ़े तीन हज़ार रुपये की टिकट थी पहले चार घण्टे की बोट ट्रिप थी कुछेक जवान जोड़ों को छोड़कर ज्यादातर सैलानी प्रौढ़ावस्था के सर्बियन थे महज एक सौ साठ मीटर लम्बे और सौ मीटर चौड़े विसोवेच द्वीप पर पहला पड़ाव था जहां सैंट फ्रांसिस का बनवाया चार सौ बरस पुराना चर्च था वहां से बोट चली तो तीन चार प्रौढ़ सर्बियन औरतों में सीट को लेकर झगड़ा हो गया सबने सोचा था कि बोट चलने से पहले लाइन में लग कर जो बढ़िया सीट मिली थी, पूरी यात्रा में वही सीट रिजर्व हो जाएगी पर सर्बियन औरतों की सोच थी कि उन्होंने भी पूरा पैसा खर्चा है तो उन्हें बढ़िया सीटों पर बैठने का पूरा हक़ है क्योंकि सीटें रिजर्व नही है बहुत देर तक तू तड़ाक और गर्मा गर्मी रही समझ तो मुझे कुछ नही आया पर आवाज के उतार चढ़ाव से अंदाज़ा लगता रहा कि झगड़ा बढ़ रहा है या शांत हो रहा है बोट पर हालांकि तीन नेशनल पार्क के कर्मचारी थे पर वे निरपेक्ष भाव से सिगरेट के छल्ले उड़ाते रहे

पूरा पार्क वाकई बहुत खूवसूरत है मेरी ही उम्र के वैंकूवर में रहने वाले एक कनाडियन पति पत्नी से परिचय हो गया पति रिटायर्ड इंजीनियर थे और पत्नी कार्यरत शिक्षिका दोनो बहुत सौम्य और सज्जन थे और भारत को छोड़कर बहुत देशों की यात्रा पर जा चुके थे पर जितने टूरिस्ट्स चीन से थे उतने किसी और देश से नही चीन के टूरिस्ट्स तो किसी अन्य देश के लोगों से कोई सम्प्रेषण करते है और ही किसी के सम्प्रेषण पर कोई उत्तर या प्रतिक्रिया देते हैं। बस पूरी तरह अपने अपने ग्रुप्स में ही खोये रहते है हर जगह अपने कैमरों या सेल फोन्स से फोटो खींचते या सैल्फिंया लेते ही नज़र आते है जहां चीनी पुरुष अक्सर सामान्य और औसत दर्जे के कपड़ों में दिखते हैं, वहीं औरते महंगे भड़कीले कपड़ों, घड़ियों और जेवरात में सजी लकदक नज़र आती हैं


एक घड़ी और इलेक्ट्रॉनिक कम्पनी द्वारा प्रायोजित समूह अलग अलग शहरों से आये भारतीय पुरुषों का भी दिखा जो एक मैदान के बीचो बीच बैठकर साथ लाये खाखरे चिप्स और मठ्ठियों के साथ प्लास्टिक के गिलासों में बियर पी रहे थे और तेज़ आवाज में शोर मचा रहे थे देखने से ही लगता था कि ज्यादातर लोग मध्यमवर्गीय दुकानदार थे जिनको कम्पनी का ज्यादा सामान बेचने के एवज में मुफ्त यात्रा का मौका मिला था

दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर
दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर
दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर
दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर
दुनिया के सबसे खूबसूरत प्लिटविच और सिबनिक नेशनल पार्क्स में - दिनेश डाक्टर

अगला लेख: ‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 4 / दिनेश डाक्टर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
12 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -4 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पोलेस का खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्कपोलेस में, जो बड़ी बोट द्वारा दुब्रोवोनिक से 1 घंटे 45 मिनट की दूरी पर है, शांत और खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्क है । पार्क में घूमने के लिए वहाँ उतरते ही बैटरी वाली साइकिले किराए पर मिल रही
12 अगस्त 2020
11 अगस्त 2020
थरूर की परेशानी ओर राजनीति मे जहर का घूट पीते वरिष्ठकांग्रेस अंदर ही अंदर झुलसने लगी है: अब उसके बडे नेता नेत्रत्‍व कोलेकर खुल्‍लम खुल्‍ला बेबाक हैं:सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता शशि थरूर इस मामले में सबसे आगे हैं वे कोईभी बात खुल
11 अगस्त 2020
12 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -4 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पोलेस का खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्कपोलेस में, जो बड़ी बोट द्वारा दुब्रोवोनिक से 1 घंटे 45 मिनट की दूरी पर है, शांत और खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्क है । पार्क में घूमने के लिए वहाँ उतरते ही बैटरी वाली साइकिले किराए पर मिल रही
12 अगस्त 2020
12 अगस्त 2020
श्
।।श्रीमते रामानुजाय नमः।।श्रीरामानुज स्वामी की मेलकोटे की यात्रा-------------------------------------------------श्रीरामानुज स्वामी जी के मार्गदर्शन में सभी वैष्णव श्रीरंगम् में आनन्द मंगल से रह रहे थे। तभी एक दुष्ट राजा , जो शैव सम्प्रदाय से सम्बन्ध रखता था, विचार किया कि शिवजी की श्रेष्ठता को स्थ
12 अगस्त 2020
05 अगस्त 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 4विदा विएना विदा ! फिर लौट आऊँगा !!! अप्रैल 12-18 , 2018
अगले सात दिनों में विएना में इतने म्यूजियम देखे, इतने पुराने किले और तकनीकी रूप से इतनी पुरानी पर उत्कृष्ट इमारते देखी और इतना घूमा देखा कि एक पूरी किताब उस पर आराम से लिखी जा सकती है। ग्लोब म्
05 अगस्त 2020
17 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -7 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019फिर एक और शहर में हमेशा के लिए बसने का मन जहाँ रुका हूँ , वो घर एक पहाड़ी पर है । नीचे पूर्व में नीले समुद्र का विशाल फैलाव है । सीढियां उतर कर पन्द्रह बीस मिनट में समुद्र का किनारा है । दांयी तरफ बहुत विशाल और खूवसूरत म
17 अगस्त 2020
12 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -4 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पोलेस का खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्कपोलेस में, जो बड़ी बोट द्वारा दुब्रोवोनिक से 1 घंटे 45 मिनट की दूरी पर है, शांत और खूवसूरत मलजेट नेशनल पार्क है । पार्क में घूमने के लिए वहाँ उतरते ही बैटरी वाली साइकिले किराए पर मिल रही
12 अगस्त 2020
11 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -314 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पुराने शहर का तिलिस्म माटो ने बताया था अगर पुराना शहर देखना है तो शाम का वक़्त बढ़िया रहेगा क्योंकि उस वक़्त ज्यादा टूरिस्ट खाने पीने में मस्त रहते हैं और शहर के अंदर रात के वक़्त जो लाइटिंग इफ़ेक्ट्स आते है वो पुराने शहर की ड
11 अगस्त 2020
10 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -214 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019माटों का शराब खाना और उसकी चिन्ताएँ पुराने शहर के मुख्य दरवाज़े पर जबरदस्त भीड़ का रेला था । लंबी डीलक्स बसों में से उतर कर टूरिस्ट ग्रुप्स के झुंड के झुंड जमा थे । मुझे दिल्ली में होने वाली राजनीतिक रैलियों की याद आ गयी ।
10 अगस्त 2020
11 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -314 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पुराने शहर का तिलिस्म माटो ने बताया था अगर पुराना शहर देखना है तो शाम का वक़्त बढ़िया रहेगा क्योंकि उस वक़्त ज्यादा टूरिस्ट खाने पीने में मस्त रहते हैं और शहर के अंदर रात के वक़्त जो लाइटिंग इफ़ेक्ट्स आते है वो पुराने शहर की ड
11 अगस्त 2020
05 अगस्त 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 4विदा विएना विदा ! फिर लौट आऊँगा !!! अप्रैल 12-18 , 2018
अगले सात दिनों में विएना में इतने म्यूजियम देखे, इतने पुराने किले और तकनीकी रूप से इतनी पुरानी पर उत्कृष्ट इमारते देखी और इतना घूमा देखा कि एक पूरी किताब उस पर आराम से लिखी जा सकती है। ग्लोब म्
05 अगस्त 2020
19 अगस्त 2020
पैर में शनि का चक्कर यानी टर्की के शहर इस्तांबुल में आदतन घुमक्कड़ !मई - 2014जब मैं छोटा था तो किन्ही पंडित जी ने मेरी जन्म कुंडली देखकर कहा था कि जातक के पैर में शनि का चक्कर है इसलिए ये हमेशा घूमता ही रहेगा । मुझे लगता है कि वैसा ही चक्कर ज़रूर बहुत घुमक्कडों के पैरों में होता होगा । यह बात मैं टर
19 अगस्त 2020
04 अगस्त 2020
‘विएना’ खूबसूरत और दिलकश प्रेमिका की तरह एक शहर - 3विएना का फ़िल हारमोनिक आर्केस्ट्रा अप्रैल 12-18 , 2018विएना के एक सौ पैंतालीस संगीतकारों वाले फ़िल हारमोनिक आर्केस्ट्रा की प्रस्तुति और वो भी विएना के स्टेट ओपेरा में एक ऐसा अनुभव है जिसे कोई भी देख ले तो जीवन भर न भूले । यह एक ऐसा स्तब्ध कर देने व
04 अगस्त 2020
13 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -5 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019सपनों के शहर स्प्लिट की तरफ़ पूरे रास्ते बांयी तरफ खूवसूरत नीला एड्रियाटिक समुद्र लहराता दिखाई देता है और कम चौड़ी महज दो लेन वाली सड़क पर चौकस रह कर ड्राइविंग करनी पड़ती है । बीच में कुछ जगह व्यू पॉइंट्स पर रुक कर फोटो भी
13 अगस्त 2020
11 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -314 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019पुराने शहर का तिलिस्म माटो ने बताया था अगर पुराना शहर देखना है तो शाम का वक़्त बढ़िया रहेगा क्योंकि उस वक़्त ज्यादा टूरिस्ट खाने पीने में मस्त रहते हैं और शहर के अंदर रात के वक़्त जो लाइटिंग इफ़ेक्ट्स आते है वो पुराने शहर की ड
11 अगस्त 2020
17 अगस्त 2020
फलों , शहद और झरनों के देश क्रोएशिया में -7 14 सितम्बर 2019 से 5 अक्तूबर 2019फिर एक और शहर में हमेशा के लिए बसने का मन जहाँ रुका हूँ , वो घर एक पहाड़ी पर है । नीचे पूर्व में नीले समुद्र का विशाल फैलाव है । सीढियां उतर कर पन्द्रह बीस मिनट में समुद्र का किनारा है । दांयी तरफ बहुत विशाल और खूवसूरत म
17 अगस्त 2020
01 अगस्त 2020
राम !औरों को शाप मुक्त करके भीस्वयम रहे अभिशप्तकभी दूसरों के क्रोध से संतप्ततो कभी अपनो से त्रस्त !!राम !अकारण नही हुआ वनवास तुम्हे और न ही पत्नी हरण !!न होता -तो कैसे बनतेसहनशीलता के उत्कर्षयुग पुरुष !राम !हर युग में कोई तो विष पीता हैआक्रोश और अपमान काशिव होने को ! अकारण भग्न नही हुआ तुम्हारा जन्म
01 अगस्त 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x