नाले की गैस से चूल्हा जलाने वाले के पीएम मोदी हैं मुरीद, जानिए कौन है ये शख्स?

14 अगस्त 2018   |  रेखा यादव   (100 बार पढ़ा जा चुका है)

नाले की गैस से चूल्हा जलाने वाले के पीएम मोदी हैं मुरीद, जानिए कौन है ये शख्स?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में अपने एक भाषण में कहा था उन्हें इस बात ने काफी प्रेरणा दी कि एक शख्स नाले की गैस से चूल्हा जलाता है। बीते शुक्रवार को वर्ल्ड बायोफ्यूल डे के मौके पर पीएम मोदी ने कई प्रेरणादायक बाते करते हुए जनता से ये बात साझा की थी कि रायपुर में एक शख्स चाय की दुकान ऐसे ही चलाता है। बता दें कि रायपुर में रहने वाले इस शख्स का नाम श्याम राव शिर्के है जो देसी स्टाइल में ऐसा उपकरण तैयार कर चूल्हा नाले की गैस से ही जलाता है।


नालियों और नालों से निकलने वाली मीथेन गैस रसोई गैस की तर्ज पर उपयोग की जाती है, जिसका इस्तेमाल कर इसने नए तकनीक का अनूठा विचार दिया है। इस उपरकण के सहारे कोई भी गैस चूल्हा लगाकर मीथेन गैस का उपयोग खाना बनाने के लिए कर सकता है। श्याम राव शिर्के के इस प्रोजेक्ट की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तारीफ की थी। इस प्रोजेक्ट को श्याम राव शिर्के ने ग्लोबल पेटेंट भी कराया है। जल्द ही इसे रायपुर के कुछ चुनिंदा नालों और नालियों में स्थापित किया जाएगा।


कैसे बनाई मशीन?

आजकल रायपुर के चंगोराभाठा इलाके में रहने वाले 60 वर्षीय श्याम राव शिर्के का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जुबान पर है। शिर्के द्वारा बनाई गई इस मशीन में प्लास्टिक के तीन ड्रमों अथवा कंटेनर को आपस में जोड़ कर उसमें एक वॉल्व लगा दिया जाता है। ये तीनों कंटेनर नदी नाले या नालियों के ऊपर उस स्थान पर रखा जाता है, जहां से बदबूदार पानी गुजरता है गंदगी कंटेनर में समा ना जाए इसके लिए नीचे की ओर एक जाली लगाई जाती है।


क्या है मशीन का काम?

दरअसल इस मशीन को इस तर्ज पर फिट किया जाता है कि ड्रम अथवा कंटेनर में इकठ्ठा होने वाली गैस का इतना दबाव बन सके, जिससे वो पाइप लाइन के जरिए उस स्थान पर पहुंच जाए जहां रसोई गैस का चूल्हा रखा है। उनके मुताबिक कंटेनर में इकठ्ठा होने वाली गैस की मात्रा नदी नाले की लंबाई, चौड़ाई और गहराई पर निर्भर करती है। उनके मुताबिक रायपुर में जिस स्थान पर उन्होंने इस उपकरण को लगाया था उस घर में लगातार तीन चार माह तक एक दर्जन से ज्यादा व्यक्तियों का सुबह का नाश्ता, दोपहर और रात का भोजन बन जाया करता था।




कौन हैं श्याम राव शिर्के

श्याम राव शिर्के पेशेवर इंजीनियर नहीं हैं और ना ही उनके पास कोई इंजीनियरिंग की डिग्री है। वे मात्र 11वीं पास हैं। ये तकनीक उनकी आय का कोई विशेष साधन नहीं है। उनकी आजीविका मैकेनिकल कॉन्ट्रैक्टरशिप पर निर्भर है। हार्ट अटैक की वजह से वो अब पहले की तरह सक्रिय नहीं है लेकिन, इंजीनियरिंग इनोवेशन की धुन उनके सिर पर इस तरह सवार रहती है कि वो कोई ना कोई ऐसा उपकरण ईजाद करने में जुटे रहते हैं। आर्थिक स्थिति खराब होने के बावजूद श्याम राव शिर्के ने अपने इस हुनर को उम्र के इस पड़ाव में भी जीवित रखा।


चार साल पहले उन्होंने अपने इस प्रोजेक्ट को पूरा किया और पेटेंट करवाने का प्रयास किया। श्याम राव के मुताबिक, उन्हें इस बात की खुशी है कि उनका मॉडल पेटेंट हो चूका है और अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संज्ञान में भी आ चुका है। श्याम राव शिर्के के मुताबिक उनका यह प्रोजेक्ट वातावरण में फैलने वाली बदबू ही नहीं बल्कि कई तरह के कीट पतंगों को पैदा होने से भी रोकेगा। छत्तीसगढ़ काउंसिल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने इस प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए अपनी तैयारी भी शुरू कर दी है।


https://www.amarujala.com/india-news/shyam-rao-shirkey-who-praised-by-pm-narendra-modi-for-making-food-from-nala-gas

अगला लेख: चुनाव हार चुकीं स्मृति ईरानी का वेतन और सरकारी सुविधायें जानकर हो जायेंगे हैरान



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 अगस्त 2018
मॉनसून का असर पूरे देश के साथ ओडिशा पर भी देखने को मिल रहा है। ओडिशा में पिछले कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है। भारी बारिश के कारण सरकार मछुआरों के लिए समुद्र में न जाने की चेतावनी भी जारी कर चुकी है। बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण ओडिशा में तेज
10 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
सारे जहाँ से अच्छा, हिन्दोस्ताँ हमाराहम बुलबुलें हैं इसकी, यह गुलिस्ताँ हमारा ग़ुरबत में हों अगर हम, रहता है दिल वतन मेंसमझो वहीं हमें भी, दिल हो जहाँ हमारा परबत वो सबसे ऊँचा, हमसाया आसमाँ कावो संतरी हमारा, वो पासबाँ हमारा गोदी में खेलती हैं, जिसकी हज़ारों नदियाँगुलशन है जिसके दम से, रश्क-ए-जिनाँ हम
14 अगस्त 2018
20 अगस्त 2018
आज हम आपके लिए कुछ ऐसी तस्वीरें लेकर आए हैं, जिन्हें देखने के बाद आप अपनी हंसी नहीं रोक पाएंगे।वाह क्या नजारा है ऐसा फोटोग्राफर आपने पहले कभी नहीं देखा होगा। अपने काम के प्रति इतना समर्पण मैंने आज से पहले कभी नहीं देखा।Third party image referenceकौन कहता है लड़कियां किसी से कम है जिन्हें कोई शक हो ज
20 अगस्त 2018
30 जुलाई 2018
फेसबुक, ट्विटर में एक पोस्ट वायरल हो रही है. स्क्रीन शॉट देखिए –इन सारी पोस्ट में जो लिखा है उसमें ढेर सारी हिज्ज़े की गलतियां हैं. उनको सुधारने के बाद जो संदेश बनता है वो ये है –यह बालक एक शहीद सैनिक का पुत्र है, जिनकी मौत आतंकवादी से लड़ते हुई. इसकी मां अपने पति की मौत का
30 जुलाई 2018
14 अगस्त 2018
बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) और वरुण धवन (Varun Dhawan) की आने वाली फिल्म 'सुई धागा (Sui Dhaga)' का ट्रेलर यूट्यूब पर हिट हो चुका है. 21 घंटे पहले रिलीज किए गए इसके वीडियो को अब तक 1 करोड़ 2 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है. फिल्म के टाइटल के अनुसार फि
14 अगस्त 2018
27 अगस्त 2018
सोशल मीडिया. वो प्लेटफॉर्म, जिसने 2014 में बीजेपी को सत्ता तक पहुंचाने का रास्ता बनाया. मुख्यत: फेसबुक और ट्विटर. पिछले दो हफ्ते से सोशल मीडिया पर लोग केंद्र सरकार को हांक रहे हैं कि वो केरल की ज़्यादा मदद क्यों नहीं कर रही है. सरकार की आलोचना के लिए लोग यही तर्क इस्तेमाल
27 अगस्त 2018
10 अगस्त 2018
मोदी सरकार में मंत्री स्मृति ईरानी इस समय कपड़ा मंत्री हैं। वो लोकसभा 2014 का चुनाव हार गई थीं लेकिन उनको भाजपा ने गुजरात से राज्यसभा भेज दिया। बिना चुनाव लड़े ही स्मृति सांसद बन गईं और उन सभी सुविधाओं को भोगने लगीं जिनको जानकर आप हैरान हो जायेंगे। क्या आपको पता है कि हर महीने अब स्मृति को कितनी सैल
10 अगस्त 2018
21 अगस्त 2018
बॉलीवुड में इन दिनों चर्चा का हॉट टॉपिक बना हुआ है प्रियंका चोपड़ा का अफेयर। मीडिया के कैमरे प्रियंका के पीछे परछाई की तरह पड़े हुए हैं। प्रियंका क्या खा रही हैं, क्या पी रही हैं, कब हाथ पकड़ा, कब कार में साथ बैठी, सारी जानकारी दनादन दी जा रही है। इनके अफेयर के आगे भारत प
21 अगस्त 2018
26 अगस्त 2018
सभी सेल्फी और वर्चुअल रियलिटी को पसंद करने वाले लोगों के लिये नासा ने दो नए ऐप बनाए हैं जो आपको वर्चुअल स्पेससूट पहनाते हैं और आपको विभिन्न वैश्विक स्थानों जैसे मिल्की वे गैलेक्सी के केंद्र या ओरियन नेबुला पर
26 अगस्त 2018
15 अगस्त 2018
देश के 72वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आज लालकिले पर आयोजित मुख्य समारोह में राजनीतिक दलों के प्रमुख नेताओं, सरकार के मंत्रियों, सेना के शीर्ष अधिकारियों, राजनयिकों और दूसरे क्षेत्रों के प्रमुख लोगों ने शिकरत की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लालकिले की प्राचीर से संबोधन
15 अगस्त 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x