नाले की गैस से चूल्हा जलाने वाले के पीएम मोदी हैं मुरीद, जानिए कौन है ये शख्स?

14 अगस्त 2018   |  रेखा यादव   (120 बार पढ़ा जा चुका है)

नाले की गैस से चूल्हा जलाने वाले के पीएम मोदी हैं मुरीद, जानिए कौन है ये शख्स?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में अपने एक भाषण में कहा था उन्हें इस बात ने काफी प्रेरणा दी कि एक शख्स नाले की गैस से चूल्हा जलाता है। बीते शुक्रवार को वर्ल्ड बायोफ्यूल डे के मौके पर पीएम मोदी ने कई प्रेरणादायक बाते करते हुए जनता से ये बात साझा की थी कि रायपुर में एक शख्स चाय की दुकान ऐसे ही चलाता है। बता दें कि रायपुर में रहने वाले इस शख्स का नाम श्याम राव शिर्के है जो देसी स्टाइल में ऐसा उपकरण तैयार कर चूल्हा नाले की गैस से ही जलाता है।


नालियों और नालों से निकलने वाली मीथेन गैस रसोई गैस की तर्ज पर उपयोग की जाती है, जिसका इस्तेमाल कर इसने नए तकनीक का अनूठा विचार दिया है। इस उपरकण के सहारे कोई भी गैस चूल्हा लगाकर मीथेन गैस का उपयोग खाना बनाने के लिए कर सकता है। श्याम राव शिर्के के इस प्रोजेक्ट की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तारीफ की थी। इस प्रोजेक्ट को श्याम राव शिर्के ने ग्लोबल पेटेंट भी कराया है। जल्द ही इसे रायपुर के कुछ चुनिंदा नालों और नालियों में स्थापित किया जाएगा।


कैसे बनाई मशीन?

आजकल रायपुर के चंगोराभाठा इलाके में रहने वाले 60 वर्षीय श्याम राव शिर्के का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जुबान पर है। शिर्के द्वारा बनाई गई इस मशीन में प्लास्टिक के तीन ड्रमों अथवा कंटेनर को आपस में जोड़ कर उसमें एक वॉल्व लगा दिया जाता है। ये तीनों कंटेनर नदी नाले या नालियों के ऊपर उस स्थान पर रखा जाता है, जहां से बदबूदार पानी गुजरता है गंदगी कंटेनर में समा ना जाए इसके लिए नीचे की ओर एक जाली लगाई जाती है।


क्या है मशीन का काम?

दरअसल इस मशीन को इस तर्ज पर फिट किया जाता है कि ड्रम अथवा कंटेनर में इकठ्ठा होने वाली गैस का इतना दबाव बन सके, जिससे वो पाइप लाइन के जरिए उस स्थान पर पहुंच जाए जहां रसोई गैस का चूल्हा रखा है। उनके मुताबिक कंटेनर में इकठ्ठा होने वाली गैस की मात्रा नदी नाले की लंबाई, चौड़ाई और गहराई पर निर्भर करती है। उनके मुताबिक रायपुर में जिस स्थान पर उन्होंने इस उपकरण को लगाया था उस घर में लगातार तीन चार माह तक एक दर्जन से ज्यादा व्यक्तियों का सुबह का नाश्ता, दोपहर और रात का भोजन बन जाया करता था।




कौन हैं श्याम राव शिर्के

श्याम राव शिर्के पेशेवर इंजीनियर नहीं हैं और ना ही उनके पास कोई इंजीनियरिंग की डिग्री है। वे मात्र 11वीं पास हैं। ये तकनीक उनकी आय का कोई विशेष साधन नहीं है। उनकी आजीविका मैकेनिकल कॉन्ट्रैक्टरशिप पर निर्भर है। हार्ट अटैक की वजह से वो अब पहले की तरह सक्रिय नहीं है लेकिन, इंजीनियरिंग इनोवेशन की धुन उनके सिर पर इस तरह सवार रहती है कि वो कोई ना कोई ऐसा उपकरण ईजाद करने में जुटे रहते हैं। आर्थिक स्थिति खराब होने के बावजूद श्याम राव शिर्के ने अपने इस हुनर को उम्र के इस पड़ाव में भी जीवित रखा।


चार साल पहले उन्होंने अपने इस प्रोजेक्ट को पूरा किया और पेटेंट करवाने का प्रयास किया। श्याम राव के मुताबिक, उन्हें इस बात की खुशी है कि उनका मॉडल पेटेंट हो चूका है और अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संज्ञान में भी आ चुका है। श्याम राव शिर्के के मुताबिक उनका यह प्रोजेक्ट वातावरण में फैलने वाली बदबू ही नहीं बल्कि कई तरह के कीट पतंगों को पैदा होने से भी रोकेगा। छत्तीसगढ़ काउंसिल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने इस प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए अपनी तैयारी भी शुरू कर दी है।


https://www.amarujala.com/india-news/shyam-rao-shirkey-who-praised-by-pm-narendra-modi-for-making-food-from-nala-gas

अगला लेख: चुनाव हार चुकीं स्मृति ईरानी का वेतन और सरकारी सुविधायें जानकर हो जायेंगे हैरान



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
17 अगस्त 2018
बॉलीवुड कॉमेडी एक्‍टर जॉनी लीवर के बेटे जेसी लीवर की हाल ही में बॉडी ट्रांसफॉर्मेशन की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है।इन तस्वीरों में जेसी 6 पैक एब्‍स बॉडी बनाए हुए काफी कूल अंदाज में नजर आ रहे हैं। उनकी शर्टलेस तस्वीरों ने सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया है। खबरों के मुताबिक बीमारी
17 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
यूपी का वाराणसी भी देश की आजादी के लिए छिड़े स्वतंत्रता संग्राम का गवाह रह चुका है। वाराणसी के चौक थाने के बगल में दालमंडी के नाम से प्रसिद्ध गली आज बिजनस का बड़ा हब बन गई है, लेकिन कभी इसी गली में कोठे हुआ करते थे जहां से आने वाली तवायफों के घुंघरूओं की झनकार ने अंग्रेजी
14 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
लड़की : Activa क्यों ले रहे हो ? कोई स्टाइलिश सी bike लो नालड़का : वो क्या है ना नमकीन , पऊआ , सोडा लाने के लिए बाइक में डिक्की नहीं ना होती। …… तू ये सब पकड़ कर बैठेगी ?लड़की : Activa ले लो मैं भी चला लूंगी लड़का लड़की को अपनी कार में बिठा कर ले जा रहा था ,लड़की – हम कहाँ जा रहे है ?लड़का – लॉन्ग ड्राइव पे
14 अगस्त 2018
17 अगस्त 2018
भगवान ने इंसान बनाए, इंसानों ने जुगाड़ बनाया. पृथ्वी पर कोई अन्य जीव जुगाड़ू नहीं होता. अगर वो है भी, तो उस पर इंसानों की संगत के असर है. हमने जुगाड़ विधि में इतनी महारत हासिल कर ली है कि आने वाली नस्लें हम पर नाज़ करेंगी. . जुगाड़ की सबसे अच्छा बात होती है कि इसका कोई फ़
17 अगस्त 2018
27 अगस्त 2018
सोशल मीडिया. वो प्लेटफॉर्म, जिसने 2014 में बीजेपी को सत्ता तक पहुंचाने का रास्ता बनाया. मुख्यत: फेसबुक और ट्विटर. पिछले दो हफ्ते से सोशल मीडिया पर लोग केंद्र सरकार को हांक रहे हैं कि वो केरल की ज़्यादा मदद क्यों नहीं कर रही है. सरकार की आलोचना के लिए लोग यही तर्क इस्तेमाल
27 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
नौकरी की तलाश कर रहे बेरोजगार युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी है।एयर इंडिया ने कई पदों पर भर्तियां निकाली हैं।एयर इंडिया ने अनुबंध के आधर पर सुरक्षा एजेंट के 63 रिक्त पदो पर भर्ती के लिए साक्षात्कार कार्यक्रम का आयोजन किया हैं। जिन उम्मीदवारो ने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविध्यालय/संस्थान से स्नातक डिग्र
14 अगस्त 2018
23 अगस्त 2018
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी वलसाड और जूनागढ़ जिलों में राज्य और केंद्र सरकारों की कई परियोजनाओं को लॉन्च करने के लिए गुरुवार को गुजरात की एक दिवसीय यात्रा पर होंगे, और गांधीनगर में गुजरात फोरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह क
23 अगस्त 2018
17 अगस्त 2018
पीएम नरेंद्र मोदी के बारे में सभी जानते हैं कि वो एक अच्छे वक्ता हैं। पूरे दिन ऊर्जा से सराबोर रहते हैं। इसके पीछे और कोई नहीं बल्कि उनकी बैलेंस्ड डाइट है। आरटीआई द्वारा मांगी गई इस बात की जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना प्रतिदिन का व्यक्तिगत खर्चा खुद
17 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) और वरुण धवन (Varun Dhawan) की आने वाली फिल्म 'सुई धागा (Sui Dhaga)' का ट्रेलर यूट्यूब पर हिट हो चुका है. 21 घंटे पहले रिलीज किए गए इसके वीडियो को अब तक 1 करोड़ 2 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है. फिल्म के टाइटल के अनुसार फि
14 अगस्त 2018
30 जुलाई 2018
फेसबुक, ट्विटर में एक पोस्ट वायरल हो रही है. स्क्रीन शॉट देखिए –इन सारी पोस्ट में जो लिखा है उसमें ढेर सारी हिज्ज़े की गलतियां हैं. उनको सुधारने के बाद जो संदेश बनता है वो ये है –यह बालक एक शहीद सैनिक का पुत्र है, जिनकी मौत आतंकवादी से लड़ते हुई. इसकी मां अपने पति की मौत का
30 जुलाई 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x