पीएम मोदी को कोसने से पहले जान लीजिए कि ये ट्रेन बिना छत की क्यों है?

02 सितम्बर 2018   |  अभय शंकर   (99 बार पढ़ा जा चुका है)

पीएम मोदी को कोसने से पहले जान लीजिए कि ये ट्रेन बिना छत की क्यों है?

मोदी सरकार के आने के बाद सबसे बड़ा बदलाव देखने को मिला रेलवे में. रेलवे को एक ट्वीट कीजिए और आपकी समस्या का समाधान कर देता है. जिस सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रेलवे लोगों की प्रॉब्लम सॉल्व करता है उसी से रेलवे के मजे लेने की कोशिश की जा रही है. फेसबुक पर एक फोटो चल रहा है जिसमें एक आधे छत वाली ट्रेन की बोगी दिखाई दे रही है. इसमें कोई सीट नहीं है और अंदर की दीवारें भी नॉर्मल से अलग दिख रही हैं. इसमें कुछ लोग खड़े हैं. और कुछ लोग बाहर ताका-झांकी कर रहे हैं. इसके साथ में मेसेज लिखा हुआ है-

लोकल ट्रेनो मे AC की सुविधा देकर मोदीजी ने विपक्ष के मुँह पर मार तमाचा और कहा ये होता है विकास 😢😢😢

(नोट- हमेशा की तरह मेसेज की भाषा से कोई छेड़छाड़ नहीं की है. जैसा आया था वैसा आपके सामने है. वर्तनी और ग्रामर की गलती पर ध्यान न दें.)

अब मोदीजी की बात हो और मेसेज शेयर न हो यह तो पॉसिबल ही नहीं है. प्रियंका गांधी फ्यूचर ऑफ इंडिया नाम के फेसबुक पेज से इस फोटो को 13 हज़ार बार शेयर किया जा चुका है. सपोर्ट एनडीटीवी नाम के एक पेज से 7 हज़ार से ज्यादा बार शेयर किया गया है. साथ ही मोदी सरकार को अलग-अलग बातें लिखकर टारगेट किया जा रहा है.

फेसबुक पर वायरल हो रहा पोस्ट.

फोटो की सच्चाई क्या है?

कमेंट्स में कई लोगों ने इस फोटो को एडिटेड या फेक बताया. उनके लिए जरूरी सूचना यह फोटो फेक नहीं है. इसकी सच्चाई जानने के लिए हमने स्टेशन के नाम पर जूम किया. थोड़ा कम क्लियर था पर पहला शब्द क और आखिर में गांव दिखा. हमने ऐसे सभी स्टेशनों की लिस्ट निकाली जिनका नाम क से शुरू होकर गांव पर खत्म होता हो. एक स्टेशन का नाम मिला कहलगांव. कहलगांव स्टेशन का सीन इस तस्वीर से मिल रहा था.

भागलपुर में स्थित कहलगांव स्टेशन.

कहलगांव बिहार के भागलपुर में है. हमने भागलपुर के इंडिया टुडे से जुड़े पत्रकार राजीव सिद्दार्थ से बात की. उन्होंने बताया-

कहलगांव से 90 किलोमीटर दूर जमालपुर में रेलवे का बड़ा कारखाना है. यह भारत का पहला और एशिया का सबसे बड़ा रेल कारखाना है. हो सकता है ये कोई क्षतिग्रस्त बोगी हो जो रिपेयर के लिए वहां गई हो. तब किसी ने इसकी फोटो ली हो.

कहलगांव स्टेशन जमालपुर से करीब 91 किलोमीटर दूर है.

इसके बाद हमने कहलगांव स्टेशन के स्टेशन सुपरिंटेंडेंट समर सिंह से बात की. उन्होंने बताया-

जमालपुर रेलवे कारखाने से रेलवे व्हील्स मतलब ट्रेन के पहिये लाने और ले जाने के लिए यह बोगी स्पेशियली डिजायन्ड है. ऊपर से सामान लोड हो सके इसलिए इसे ऐसा बनाया गया है. इस बोगी को जरूरत के हिसाब से किसी भी ट्रेन में जोड़ दिया जाता है. इसमें सवारियों को चढ़ने की परमिशन नहीं होती है लेकिन कभी कभार इसमें सवारियां भी चढ़ जाती हैं. ऐसे ही कभी सवारियां चढ़ी होंगी जिसका यह फोटो है. मालगाड़ी से ऐसा करना महंगा पड़ता है इसलिए इसी बोगी से काम चलता है.

तो इस फोटो से जो लोग सरकार को ट्रोल कर रहे थे उनके लिए जवाब सामने है. यह कोई टूटी या उखड़ी छत की ट्रेन नहीं है बल्कि ये ऐसे ही बनाई गई है. हमारी पड़ताल में यह फोटो सही निकला. लेकिन इसके साथ जिस तरीके के मेसेज चल रहे हैं वो गलत हैं.


https://www.thelallantop.com/jhamajham/truth-of-viral-photo-in-which-a-train-without-roof-is-at-railway-station-kahalgaon/

पीएम मोदी को कोसने से पहले जान लीजिए कि ये ट्रेन बिना छत की क्यों है?

अगला लेख: कौन है ये महिला, जो 24 साल से लगातार मोदी को बांध रही है राखी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
01 सितम्बर 2018
दोस्तों, हर देश को चलाने के लिए उनके पास शक्तिशाली नेता होते है। जो देश का कार्यभार सभालते है और इस काम के लिए उन्हें वेतन मिलता है। बहुत से लोगो के मन में यह सवाल होता है की इन नेताओ की सैलरी कितनी होती है! तो आज इस आर्टिकल में हम इन शक्तिशाली नेताओ को कितना वेतन मिलता ह
01 सितम्बर 2018
04 सितम्बर 2018
एक वीडियो आजकल बहुत वायरल हो रहा है, जिसमें एक लड़की अपने आशिक के साथ भाग गयी है | इस वीडियो में लड़की ये बता रही है कि उसके आशिक़ ने उसे नहीं भगाया बल्कि उसने अपने आशिक को भगाया | वो नून - रोटी खा लेगी , माड़ - भट खा लेगी पर उसे अपने आशिक़ के साथ रहना है | उसे जी
04 सितम्बर 2018
23 अगस्त 2018
अब देश की सरकारें ही नहीं बल्कि बल्कि काॅरपोरेट ग्रुप बड़े घरानों ने भी केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए अपने खजाने खोल दिए हैं। इस बार जिस काॅरपोरेट घराने का नाम सामने आया है वो रिलायंस ग्रुप का है। खास बात तो ये है कि इस काॅरपोरेट घराने ने देश के तमाम राज्यों द्वारा भेजी गर्इ
23 अगस्त 2018
01 सितम्बर 2018
क्या गूगल पर लगाम लगा पाएंगे ट्रम्प? क्या यह संभव है कि दुनिया की नजर में विश्व का सबसे शक्तिशाली व्यक्ति भी कभी बेबस और लाचार हो सकता है? क्या हम कभी अपनी कल्पना में भी ऐसा सोच सकते हैं कि एक व्यक्ति जो विश्व के सबसे शक्तिशाली देश के सर्वोच्च पद पर आसीन है, उसके साथ उस
01 सितम्बर 2018
27 अगस्त 2018
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रक्षा बंधन पर आज उनकी मुंहबोली बहन कमर मोहसिन शेख ने राखी बांधी और उनके स्वास्थ्य तथा लंबी आयु की कामना की। सुश्री शेख सुबह प्रधानमंत्री आवास सात लोक कल्याण मार्ग पहुंची और प्रधानमंत्री को पूरे विधि विधान से राखी बांधी। बाद में उन्होंने संवादद
27 अगस्त 2018
02 सितम्बर 2018
मेैं जब 18 साल की थी, तब मैंने हंसराज कॉलेज, नई दिल्ली में ज्वाइंट सेकेट्री का चुनाव जीता. उस समय मैं एबीवीपी और एनएसयूआई की छात्र राजनीति से काफी निराश थी. मेरी विचारधारा भाजपा से तो मिलती नहीं है और कांग्रेस में उस समय बहुत अलग तरह की राजनीति चलती थी. हमारे यहां समाजवाद
02 सितम्बर 2018
21 अगस्त 2018
भोजपुर जिले के बिहिया शहर के बदनाम एरिया में सोमवार को एक युवक की रहस्यमय मौत के बाद भीड़ हिंसक बन गई। गुस्साए लोगों ने बदनाम एरिया पर हमला बोल दिया। तीन घरों में आग लगा दी। तीन गुमटियों और एक बाइक को फूंक डाला। एक घर को भी ध्वस्त करने का प्रयास किया। बदनाम एरिया की एक मह
21 अगस्त 2018
27 अगस्त 2018
सोशल मीडिया. वो प्लेटफॉर्म, जिसने 2014 में बीजेपी को सत्ता तक पहुंचाने का रास्ता बनाया. मुख्यत: फेसबुक और ट्विटर. पिछले दो हफ्ते से सोशल मीडिया पर लोग केंद्र सरकार को हांक रहे हैं कि वो केरल की ज़्यादा मदद क्यों नहीं कर रही है. सरकार की आलोचना के लिए लोग यही तर्क इस्तेमाल
27 अगस्त 2018
31 अगस्त 2018
जयपुर की सहिंता अग्रवाल ने खुद से पहले अपनी मां के लिए पति ढूंढा और उनकी धूमधाम से शादी भी करवाई। वर्तमान में यह घटना सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है।संहिता अग्रवाल कहती है कि उसको अपने द्वारा लिए गए इस फैसले पर गर्व है। संहिता का कहना है कि उसने दो साल पहले अपने पिता
31 अगस्त 2018
31 अगस्त 2018
सरहद पर भारत के लिए समस्या पैदा करने वाला चीन अब पानी के जरिए हिंदुस्तान की मुश्किलें बढ़ाने जा रहा है। चीन ब्रह्मपुत्र नदी में पानी छोड़ने जा रहा है।चीन ने एक अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि उनके देश में काफी बारिश हो रही है, इसलिए वह जल्द ही ब्रह्मपुत्र नदी में पानी छोड़
31 अगस्त 2018
21 अगस्त 2018
आपने अटल बिहारी वाजपेयी, श्रीदेवी, जयललिता, करुणानिधि और शहीद हुए हमारे वीर जवानों के शव तिरंगे में जरूर लिपटे देखे होंगे लेकिन क्या आपको मालूम है जिस तिरंगे में देश के सपूतों को लपेटा जाता है उस तिरंगे का क्या किया जाता है।फ्लैग कोड ऑफ इंडिया 2002 के अनुसार पदम् भूषण, पद
21 अगस्त 2018
06 सितम्बर 2018
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशी-विदेशी मंचों पर बड़े उत्साह से बताते हैं कि वो बचपन में चाय बेचते थे. 2014 में प्रधानमंत्री बनने पर उनकी कहानी एक परीकथा की तरह पेश की गई कि देखो, कैसे चाय बेचने वाला एक लड़का आज लुटियंस दिल्ली में कदम रख रहा है. 8 नवंबर 2016 को जब मोदी ने न
06 सितम्बर 2018
23 अगस्त 2018
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी वलसाड और जूनागढ़ जिलों में राज्य और केंद्र सरकारों की कई परियोजनाओं को लॉन्च करने के लिए गुरुवार को गुजरात की एक दिवसीय यात्रा पर होंगे, और गांधीनगर में गुजरात फोरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह क
23 अगस्त 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x