चीन मोदी के संकेतों को समझ जाये तो ठीक!

चीन मोदी के संकेतों को समझ जाये तो ठीक!यह मानना बेमानी होगी कि चीन के रवैये में कोई बदलाव होगा. यह बात उसी समय साबित हो चुकी थी जब चीन के उस समय के राष्ट्राध्यक्ष ने भारत आकर हिन्दी-चीनी भाई भाई का नारा दिया था तथा चीन लौटने के तुरन्त बाद भारत पर हमला कर दिया था. चीन की मक्कारी ही उसकी कूटनीती है जो



भारतीय रेल को समर्पित

भारतीय रेल को समर्पितरुकीवो इसलिए की प्राण बच जाए,चली भी वो इसलिए की प्राण बच जाए । बनाया खुद को अस्पताल,क्योंकि जिंदगी का सवाल बच जाए । बच्चों को लेकर चली,की नई पीढ़ी का नौजवान बच जाए । चली मज़दूरों को लेकर,की पसीने का मान बच जाए । दौड़ेगी जल्द ही देश की धड़कन,फिक्र सिर्



भारतीय राजनीति में ‘सवालों’ के ‘जवाब’ के ‘उत्तर’ में क्या सिर्फ ‘सवाल’ ही रह गए हैं?

भारतीय राजनीति का एक स्वर्णिम युग रहा है। जब राजनीति के धूमकेतु डॉ राम मनोहर लोहिया, अटल बिहारी बाजपेई, बलराम मधोक, के. कामराज, भाई अशोक मेहता, आचार्य कृपलानी, जॉर्ज फर्नांडिस, हरकिशन सिंह सुरजीत, ई. नमबुरूदीपाद, मोरारजी भाई देसाई, ज्योति बसु, चंद्रशेखर, तारकेश्वरी सिन्हा जैसे अनेक हस्तियां रही है।



Yovo app से एक महीने में कोई व्यक्ति कितना कमा सकता है?

कितना कमा सकते हैं योवो पर जीत कर



क्या योवो बच्चों के लिए सुरक्षित है?

क्या ये नया अप्प बच्चो के लिए सुरक्षित है?



योवो पर पोस्ट करने का सबसे अच्छा समय क्या है?

ज्यादा लाइक्स पाने के लिए योवो अप्प पर कब पोस्ट करना चाहिए?



TikTok के सबसे अच्छे विकल्प क्या हैं?

इंडिया में बनाये गए अप्प्स की जानकारी चाहिए



भारत का सर्वश्रेष्ठ मनोरंजन ऐप कौन सा है?

इंडिया में टिकटोक से बेहतर एप्प कोनसा है?



भारत ने दुनिया को क्या दिया ।

भारत दुनिया की सबसे पुरानी जीवित सभ्यता है। भारतीय भूमि आरंभ से ही अविष्कारों की भूमि रही है और गर्व करने के लिए हम भारतीयों के पास बहुत सी खोज हैं। आइये जानते है की भारत ने दुनिया को क्या दिया |तक्षशिला - पहला विश्वविद्यालय ( Takshashila - World's First University) लगभग



भारत में प्रकाशित सबसे पहला अख़बार |

आज हम संचार क्रांति के युग में जी रहे हैं । संचार साधनों ने इतनी प्रगति कर ली है कि संसार का कोई भी कोना हमारी पहुंच से दूर नहीं रहा । चाहे वह दुनिया के दूसरे छोर पर बैठे किसी व्यक्ति से बात करनी हो या फिर दुनिया के किसी हिस्से की खबर लेनी हो, केवल कुछ सेकंड्स में ही आप यह काम अपने मोबाइल या लैपटॉप



भारत-चीन संघर्ष के निहितार्थ

विषय-भारत-चीन संघर्ष के निहितार्थचीन और भारत के बीच सप्ताह भर का तनाव इस सप्ताह घातक हो गया। यहाँ हम एक दूरस्थ हिमालयी क्षेत्र में होने वाली झड़पों के बारे में जानते हैं जो पड़ोसियों के बीच संबंधों को काफी खराब कर सकती हैं। और चीन के बीच तनाव कोई नई बात नहीं है। दोनों देश-जो दुनिया की सबसे लंबी अचिह



महामारी के बाद के विश्व में भारतीय विदेश नीति

कोरोना वायरस के प्रकोप से विश्व व्यवस्था व्यापक परिवर्तन के दौर से गुज़र रही है। इन परिवर्तनों की व्यापकता सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, सांस्कृतिक क्षेत्रों के साथ ही मानव के



भारतीय पुलिस सेवा : मनोबल की समीक्षा

वर्तमान मे पुलिस विभाग के तमाम साथियो की असामयिक मृत्यु ने अनेक पुलिस सहकर्मियों को झझकोर कर रख दिया | भारतिया पुलिस विभाग में इन बढ़ती आत्महत्याओ की संख्या के पीछे क्या मुख्या कारण हैं , इसी का विश्लेषण



भारतीय संस्कृति, हिन्दी और भारत का बाल एवम् युवा वर्ग

<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC



भारत की जलवायु इन हिंदी

जलवायु:-⇨ जलवायुः किसी स्थान अथवा देश में लम्बे समय के तापमान, वर्षा, वायुमण्डलीय दबाव तथा पवनों की दिशा व वेग का अध्ययन व विश्लेषण जलावयु कहलाता है। सम्पूर्ण भारत को जलवायु की द्वाष्टि से उष्ण कटिबंधीय मानसूनी जलवायु वाला देश माना जाता है।⇨ भारत में उष्णकटिबंधीय मानसूनी जलवायु पायी जाती है। मानसून



भारत का भौगोलिक विस्तार

भारत का भौगोलिक विस्तार ⇨ भारत की भौगोलिक स्थिति पृथ्वी के उत्तरी-पूर्वी गोलार्द्ध में 8०4′ से 37०6′ उत्तरी अक्षांश तथा 68०7′ से 97०25′ पूर्वी देशान्तर के मध्य स्थित है ⇨ 82 1/2० पूर्वी देशान्तर इसके लगभग मध्य से होकर गुजरती है इसी देशांतर के समय को देश का मानक समय मा



बस इसलिए

सो गया है देश मेरा कि सब आलस से ग्रस्त हैं शायद इसीलिए अभी तक मेरे भारत में विकास का सूर्य अस्त है एक जवान खड़ा सरहद पर जान की बाजी लगा रहा लेकिन देश का नेता बस चुनाव की महफिल सजा रहा सारी अर्थव्यवस्था क्यों बताओ पस्त है शायद इसीलिए अभ



निर्धनता नहीं सरकार की यह खामोशी मार देती है

घायल मेरे मन की आशा मन में व्याप्त भरी निराशा क्यों चुप है सत्ता में बैठी सरकारेंनहीं सुनाई देती क्या निर्धनों के चीख पुकारे। हर बार बात तो करते हैं ये अर्थव्यवस्था ठीक हो जाएगी लेकिन के यह क्या जाने इनकी बातों से नहीं होगा कुछ निर्धनों



भारत है ये इसके चर्चे...

सुविधा की कमी नही, आलस की भरमार हैभारत है ये इसके चर्चे सात समंदर पार हैसरकारी दफ्तर में घूमो पता तुम्हें चल जाएगाआता नही अगर रिश्वत देना तो वो भी आ जायेगाएक करे काम अगर तो, दूजा निकले गद्दार हैभारत है ये, इसके चर्चे सात समंदर पार हैअफवाहों का जोर बहुत है, नही कोई भी



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x