भारत दिखलाने आया हूँ

भारत दिखलाने आया हूँरंग रूप कई वेष यहाँ पररहते है कई देश यहाँ परकोई तिलक लगाकर चलताकोई टोपी सजा के चलताकोई हाथ मिलाने वालाकोई गले लगाकर मिलताकितने तौर-तरीके, सबसे मिलवाने आया हूँक्या तुम हो तैयार? भारत दिखलाने आया हूँएक कहे मंदिर में रब हैदूजा कहे खुदा में सब हैतीजा कहे चलो गुरुद्वाराचौथा कहे कहाँ औ



धर्म की चाशनी में मुद्दे



नवसंवत्सर एक नये सफर की शुरूआत

नव संवत्सर नववर्ष नवरात्रि नवभोर , समय है अपनी जड़ों को पोषित करने का समय है आगे बढ़ने का।नवरात्रि अर्थात् शक्ति स्वरूप माँ के नौ रूपों के पूजन के नौ विशेष दिन। वैसे तो नवरात्रि साल में दो बार आती हैं लेकिन चैत्र मास में पड़ने वाली नवरात्रि क



जन्मदिन विशेष: बिस्मिल्लाह खां

शहनाई उनके कंठ से लगकर नाद ब्रम्‍ह से एकाकार होती थी और विश्राम के भीतर मिलन के स्‍वर गंगा की लहरों से मिलते हुए अनंत सागर की ओर निकल पड़ते....उस्‍ताद बिस्मिल्‍लाह खां का जन्‍म बिहार के डुमरांव में 21 मार्च 1916 को एक मुस्लिम परिवार में पैगम्बर खां और मिट्ठन बाई के यहां हुआ था। उनके दादा रसूल बख्श ने



आजादी आन्दोलन के विप्लवी योद्धा :भगतसिंह

" आजादी आन्दोलन के विप्लवी योद्धा :भगतसिंह " शहीद -ए -आजम भगतसिंह का जीवन संघर्ष एक मिसाल है। सिर्फ 23 वर्ष की अवस्था में शहीद हुए भगतसिंह ने शोषण पर टिकी व्यवस्था को बदलने के लिए स्वयं को अर्पित कर



”INDIAN” शब्द का वास्तविक अर्थ जानकर ,शर्म से डूब जाएंगे आप । जरूर पढ़ें । – sanatangyanpeeth.in

“Indian” शब्द का अर्थ है हरामी संतान:आपने पढ़ा होगा अंग्रेजोँ के समय मेँ सिनेमाघरोँ और कई सार्वजनिक जगहोँ पर “Dogs and Indians are not allowed” का बोर्ड लगा रहता था इसी से आप समझ सकते हैँ अंग्रेज के लिये इंडियन्स की क्या वैल्यू थी।लेकिन यदि आप ऑक्सफ़ोर्ड की पुरानी डिक्शन



साक्षात्कार

रात्रि का प्रथम पहर टिमटिमाते प्रकाश पुंजों से आलोकित अंबर, मानो भागीरथी की लहरों पे, असंख्य दीपों का समूह, पवन वेग से संघर्ष कर रहा हो। दिन भर की थकान गहन निद्रा मे परिणत हो स्वप्न लोक की सैर करा रही थी, और नव कल्पित आम्र-फूलों की सुगंध लिए हवा धीमे धीमे गा रही थी । कुछ



कुछ शब्द वीरो के नाम

उस वीर गति की लाज बचाने चले है हम सब साथ यहीसर कट जाये गम न होगा, मगर ना झुके ये शीश कभी || प्रेम डगर की राह छोड़ दी, पानी है अब वीर गति देश के खातिर दिल और धडकन कर दू न्योछावर जान अभी || हिन्दू मुस्लिम दंगो से अब ना होगा अनाथ कोई देश के ठेके दरों का आब कर देना है न



लाज बचा ले मेरे वीर .............

लाज बचा ले मेरे वीरक्यों वेदना शुन्य हुई क्यों जड़ चेतन हुआ शरीरअस्तित्व से वंचित हुआ कँहा खो गया शूरवीरनही सुनी क्या चीत्कार क्यों सोया है तेरा जमीरपुकार रही तुझे धरती माता लाज बचा ले मेरे वीर – १न ले पर ीक्षा अब मेरे धैर्य की बहुत हुआ अत्याचारसहनशीलता दे रही चुनौत



'देशभक्ति' भारत की सबसे बड़ी समस्या है

आज की तारीख़ में भारत की सबसे बड़ी समस्या अगर कोई है तो वो है देशभक्ति . जी हां देशभक्ति. राष्ट्रप्रेम की जो सतही लहर गांव-गांव, गली-गली बह रही है, उसके शोर में बाकी सब कुछ गायब सा हुआ जा रहा है. हमारी नाकामियां, हमारी काहिली, हमारा गैर-ज़िम्मेदाराना रवैया, हमारी म



स्लीपर क्लास पत्नी, फर्स्ट ए.सी. पति (कहानी)

कुंठा अगर लंबे समय तक मन में रहे तो एक विकार बन जाती है। कुंठित व्यक्ति यूँ ही गढ़ी बातों को बिना कारण विकराल रूप दे डालता है। कुछ ऐसा ही हाल विकल को अपने मित्र और बिज़नस पार्टनर चरणप्रीत का लग रहा था। एक बार व्यापार से जुड़े मामले में दोनों मित्र कार से दूसरे शहर जा र



स्वर्गीय लेखक वेद प्रकाश शर्मा जी को श्रद्धांजलि (1955-2017)

कहते हैं कि हरिद्वार में रहने वाले गंगा जी में नहीं नहाते। वैसे नहाते तो होंगे पर कहने का मतलब यहाँ कुछ और है…कि जो बात करने में बहुत आसान हो उसे हम “ये तो कभी भी हो जाएगा” कहकर टाल देते हैं। आज प्रख्यात लेखक वेद प्रकाश शर्मा जी के निधन का समाचार मिला। 2015 में Parshuram Sharma जी का साक्षात्कार लिय



अमीर की हाय (कहानी)

दूसरे हृदयघात के बाद आराम से उठने के बाद उद्योगपति तुषार नाथ का व्यक्तित्व बदल गया था। पहले व्यापार पर केंद्रित उनका नजरिया अब किसी छोटे बच्चे जैसा हो गया था। छोटी-छोटी बातों पर चिढ जाना, उम्र के हिसाब से गलत खान-पान और व्यापार में हो रहे घाटे पर ध्यान ना देना अब उनके लिए आम हो गया था। परिवार और परि



गणतंत्र दिवस विशेष पेंटिंग

कलाकार ज्योति सिंह जी के साथ कभी-कभी कुछ विचार, दृश्य साझा कर लेता हूँ, जिनपर वो कलाकृतियां बनाती हैं। इस बार उन्होंने कैनवास पर यह भाव उतारे हैं। Jyoti Singh with Mohit Sharma"Happy republic day.... (Size: 24"-24", Medium: Acrylic on canvas, De



गणतन्त्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

हम सब भारतीय हैं अौर हम सबको भारतीय होने पर गर्व है! सभ्‍ाी भारतीयों को गणतन्‍त्र दिवस के शुभअवसर पर हार्दिक शुभकामनाएं Happy Republic Day - YouTube



खुदाई में मिला भगवान राम का धनुष, देखने के लिए टूट पड़े लोग

New Delhi: आजकल सोशल मीडिया पर इस विशालकाय धनुष की तस्वीर काफी वायरल हो रही है। इस तस्वीर को आपने भी कई बार सोशल साइट पर देखा होगा।दुनिया भर में वायरल हो रही इस तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि ये खुदाई में मिला भगवान राम का धनुष है। इस तस्वीर से पूरी दुनिया में खलब



कैशलेस रिश्वत

एक सरकारी दफ्तर में एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, सौरभ घुसता है। सौरभ अपना झोला लेकर अंदर आता है और अपने विभाग से जुड़े एक बाबू (क्लर्क) के बारे में पूछता है। उसकी डेस्क पर जाकर वो अपना दुखड़ा रखता है।"सर मेरा कई सालों का ट्रेवल अलाउंस, पेट्रोल अलाउंस, नच बलिये अलाउंस कुछ नहीं आया है, अब आप ही कुछ कीजिये



देखिए टेक्नोलोजी के नाम पर विदेशी से क्या आ रहा है और उसके क्या परिणाम सामने आ रहे है

कोई विदेशी कंपनी हमको टेक्नोलॉजी देने नहीं आ रही है और वह कभी आएंगे भी नहीं क्योंकि जो उनके पास लेटेस्ट टेक्नो



क्‍या हम अपने आप को सर्वश्रेष्‍ठ भारतीय समझते हैं?

यावि‍देशी चश्‍मे से जो हमेंदि‍खाया गया,वहीसही समझते हैं !'मस्‍ति‍ष्‍क-मंथन'राहुलखटे,उपप्रबंधक (राजभाषा),स्टेटबैंक ऑफ मैसूर,हुब्‍बल्‍लीमोबाइल:09483081656E-Mail:rahulkhate@gmail.comवेबसाइट:http://www.rahulkhate.online जबकभी हमें यह प्रश्‍



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x