सत्य कडुवा होता है, परंतु कौए की कांव-कांव से बहुत बेहतर है

कांग्रेस ने तो स्वतंत्रता संग्राम लड़ा है अंग्रेजों के खिलाफ, और उन्हें पता है की देश को किस दिशा में सुख-समृद्धि मिलेगी. परंतु भाजपा के सभी शीर्ष नेता यानि की वाजपेयी-अडवाणी-मोदी पाकिस्तान जैसे शातिर दुश



मोदी जी बातें बहुत हुई , अब वक्त फैसलों का है..

नई दिल्ली : आज देश का मूड देखिये, घर-घर, चौराहे-चौराहे... एक अदद गोल्ड की चाह में देश पूरा दिन सारी शाम पसीजता जा रहा था...बेटी सिंधु ने यूं तो कमाल किया पर नही मिला हमे वो मैडल जिसकी दरकार देश को थी ...मोदी जी , सिर्फ एक गोल्ड के लिए तरसती



खुले में शौच का कलन्क,हमारे देश से कब तक मिटेगा?

शौचालय में शौच न जाकर बाहर खुले स्थान पर शौच व पेशाब करने की आदत,बाहर से आने वाले पर्यटकों के मध्य उपहास का कारण बनती है।इसकी चर्चा वे अपने देश वापस जाकर पत्र-पत्रिकाओं में लेख के माध्यम से भी करने से नहीं चूकते।



दो पत्ती का श्रमनाद !

 पसीने से अमोल मोती देखे हैं कहीं ?कल देखा उन मोतियों को मैंनेबेज़ार ढुलकते लुढ़कतेमुन्नार की चाय की चुस्कियों का स्वादऔर इन नमकीन जज़्बातों का स्वादक्या कहा ....बकवास करती हूँ मैं !कोई तुलना है इनकी ! सड़कों पर अपने इन मोतियों की कीमतमेहनतकशी की इज़्ज़त ही तो मांगी है इन्होंनेसखियों की गोद में एक झपकी ले



सफ़र और हमसफ़र : एक अनुभव

 अकसर अकेली सफ़र करतीलड़कियों की माँ को चिंताएं सताया करती हैं और खासकर ट्रेनों में . मेरी माँ केहिदयातानुसार दिल्ली से इटारसी की पूरे दिन की यात्रा वाली ट्रेन की टिकट कटवाईमैंने स्लीपर क्लास में . पर साथ में एक परिवार हैबताने पर निश्चिन्त सी हो गयीं थोड़ी .फिर भी इंस्ट्रक्शन मैन्युअल थमा ही दीउन्होंने



वीर शहीदों को नमन. ...

जिसका मुकुट हिमालय ,पैरो को धोता सागर ।विश्व-गुरु जो मार्ग दिखाए ,खतरे में है उसका आँचल ।।हत्यारा गजनी ने लुटा ,भारत माँ के गहनों को ।देश में बैठे जयचंदो ने ,बेच दिया अस्मत मुगलो को ।।व्यापारी बन आये इंग्लिश ,पुर्त और फ्रांसीसी आये ।पीठ में छुरा घोप हमारे, कर दिया देश परतंत्र ।।वीर शहीद जवानों ने, आ



इस 16 साल की वीरांगना ने उड़ा दी थी अंग्रेजों की नींद

नई दिल्ली: आजादी की 70वीं वर्षगांठ मनाने जा रहे अपने देश के लोगों को ये तो जरूर पता होगा कि आजादी के लिए कितनी कुर्बानियां देनी पड़ी है. लेकिन आपको शायद ही पता होगा की मुल्क की आजादी के लिए नारी शक्ति ने भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है. लेकिन उन महिलाओं को इतिहास ने भुला दिया है. आज हम आपको बताने जा



ओलंपिक्स में भारत के निराशजनक प्रदर्शन के पीछे क्या है वजह ?

अगर हम भारत की जनसँख्या को ओलंपिक्स में जीते हुये पदको से तुलना करे तो पूरी दुनिया में भारत से बुरा प्रदर्शन करने वाला कोई दूसरा देश  नहीं है. ये सुनकर थोड़ा अजीब लगता है की  1. 2 अरब लोगो का देश खेलो में औसतन एक पदक से भी कम  जीत पाया है| एक  स्वर्ण  एवम 2 कांस्य पदको  के साथ बीज़िंग 2008 का ओलिंपिक 



आजादी के 71 साल

हमारा स्वतंत्रता दिवस आने वाला है हमारे मुल्क को आजाद हुए 71 वर्ष हो जाएंगे। इन 71 सालों में आज हम कहाँ है आइए जरा इंडिया भारत और हिंदूस्तान के नजरिए से समझने का प्रयास करते हैं।इन 71 सालों में इंडिया ने उच्च वर्ग के समान खुब तरक्की की



आईएनएस कर्ण भारतीय नौसेना में शामिल

आईएनएस, ‘भारतीय नौसेना जहाज’ (Indian Naval Ship) हेतु प्रयुक्त संक्षिप्त नाम (Abbreviation) है। भारतीय नौसेना में आक्रमणात्मक एवं रक्षात्मक कार्यों में प्रयुक्त विभिन्न युद्ध पोतों जैसे- विमानवाहक पोतों, विध्वंसक पोतों, पनडुब्बियों, गश्ती पोतों आदि के साथ-साथ विभिन्न आधारों (Bases), हवाई आधारों (Air



पाकिस्तान से युद्ध करने से क्यों पीछे हट रहें है मोदी

मे बताता हूँ कि पाकिस्तान से युद्ध करने से क्यों पीछे हट रहे है मोदी..... ध्यान से पूरा पढना.. यह पोस्ट लाइक्स के लिए नहीं लिखी है, पढ़कर कुछ सकारात्मक लगे, अंतरात्मा जागे तो शेयर अवश्य करें.. दरअसल प्रधानमंत्री मोदी की ये हालत तुम्हारे कुकर्मो का फल है..(कांग्रेस और वामपंथियों) ने कहाँ भारत के रक्ष



Exclusive : रियो खेल गाँव में भारतीय हॉकी टीम

 नई दिल्ली : 5 अगस्त से शुरू हो रहे रियो ओलंपिक के लिए भारतीय हॉकी टीम इस बार गोल्ड मैडल की उम्मीद लगाए रियो के खेलगांव पहुँच चुकी है। भारतीय हॉकी टीम की अगुवाई इस बार श्रीजेश कर रहे हैं जबकि टीम में सरदार सिंह, वी.आर. रघुनाथ और रूपिंदर पाल सिंह अनुभवी खिलाड़ी भी हैं।  भारतीय हॉकी खिलाड़ी रियो में कठि



डॉ अब्दुल कलाम- एक सच्चे देश भक्त

भारत के मिसाइल मैन स्वर्गीय डॉ अब्दुल कलाम जी को उनकी पुण्यतिथि पर शत-शत नमन। भारत को रक्षा के क्षेत्र मे आत्म निर्भर बनाने एवं एक विकसित राष्ट्र का सपना देखने वाले माननीय कलाम जी को प्रथम पुण्यतिथि पर भावभीनि श्रद्धांजलि। Rest In Peace 



भारतीय राजनीति के रंगमंच मायावती जी लड़ाई अब माँ है

भारतीय राजनीति के रंगमंच मायावती जी लड़ाई अब माँ हैभाषा के विषय में निर्मला जोशी जी के बेहद खूबसूरत शब्द  'माता की ममता यही  , निर्मल गंगा नीर  इसका अर्चन कर गए तुलसी सूर कबीर ' आज भारत की राजनीति ने उस भाषा को जिस स्तर तक गिरा दिया है वह वाकई निंदनीय है। उत्तर प्रदेश   बीजेपी के वाइस प्रेसीडेन्ट दया



किसी ने भारतीय सैनिक से पूछा ...

*किसी ने भारतीय सैनिक से पूछा - आपकी नीयत क्या है…?*..*भारतीय सैनिक ने कहा - हमारी नीयत "पाक~साफ" है……*



भारतीय हॉकी के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी मोहम्मद शाहिद का निधन

भारतीय हॉकी टीम के महान खिलाड़ी मोहम्मद शाहिद का 56 साल की उम्र में निधन हुआ। वो काफी समय से किडनी और लीवर की परेशानी से जूझ रहे थे।भारत के सर्वश्रेष्ठ हॉकी खिलाड़ियों में शुमार शाहिद, मॉस्को ओलम्पिक-1980 में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। ओलम्पिक में भारत का यह आखिरी स्वर्ण पदक था।प



शायद एक ना होती तो महाभारत ना होती

शायद हम जानते है महाभारत क्यूं हुई यही शायद  गीता में भी लिखा है और वही हमने देखा है और वही टी.वीके  माध्यम से हम देखते आ रहे है । शकूनी मामा और दुर्योध्न ने किस तरह से चालबाजी करके पांडवो का सारा राज्य ले लिया फिर द्रोपदी का चीर हरण किया जिससे आगे चलकर महाभारत हुई ।             पर आप सोचिये अगर युध



भारतीय ज्ञान विज्ञान

इसी संदर्भ में Vinay Jha ji विनय झा जी की यह पोस्ट संदर्भित है- भारत मे जितने प्राचीन प्रमाणिक ग्रन्थ उपलब्ध हैं उतने शेष संसार में नहीं हैं | यह दूसरी बात है कि म्लेच्छ और उनके मानसपुत्र ऋषियों के ग्रन्थों को प्रामाणिक नहीं मानते | भारत के सभी पुस्तकालय जला दिए गए, मन्दिरों से संलग्न पाठशालाएं मन्



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x