आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
x
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस

लेख

लेख से सम्बंधित लेख निम्नलिखित है :-

तत त्वम् असि

तत त्वं असि रोज की तरह सब काम काज समेट ऑफिस से घर पहुचा कि चलो भाई इस व्यस्त भागदौड़ की जिंदगी का एक और दिन गुजर गया,अब श्रीमती जी के साथ एक कप चाय हो जाये तो जिंदगी और श्रीमती जी दोनों पर एहसान हो जाये।खैर ख्यालों से बाहर भी नही आ पाया था कि श्रीमती जी का मधुर स्वर अचानक


रवैया

आज का सुवचन


११ प्रेरक विचार

आपका ज्‍योतिष निकेतन पर स्‍वागत् है। जब विचार कार्य में परिवर्तित होता है तो वह फलीभूत होता है। विचारों का धनी ही नए-नए कार्य करता है। प्रेरक और प्रेरक विचार सदैव जीवन की भूलभुलैया में सुमार्ग दिखलाते हैं। हमें विश्‍वास है कि ये ग्‍यारह प्रेरक विचार आपको अवश्‍य प्रेरित कर


तीखी मगर सच्ची बात

कुछ प्रेरक वाक्य !


13 प्रेरक सुवचन

जीवन में प्रेरणा मिलती रहे तो आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्‍त होता है। इस वीडियो में तेरह प्रेरणास्‍पद् सुवचन दे रहे हैं। विश्‍वास है कि इनका अनुकरण करने से या इनको निज जीवन में व्‍यवहार में लाने से सफलता एवं उन्‍नति प्राप्‍त होने का मार्ग कंटकविहीन होता है। वीडियो देखने के


हंसना

आज का सुवचन


नए विचार

आज का सुवचन


चमत्‍कार : सत्‍य या असत्‍य

चमत्कार क्या है? बुद्धि जिसको समझ न पाए वही तो चमत्कार है। जो एक को नहीं समझ आता...आगे पढ़ने के लिए नीचे क्लिक करें... JYOTISH NIKETAN: चमत्‍कार : सत्‍य या असत्‍य


गम्भीरता

आज का सुवचन


अवसर

आज का सुवचन


तनाव मुक्त रहें!

आज का सुवचन


सोनम गुप्ता और सोशल नेटवर्किग साईट की अबतक की सबसे बड़ी खबर |

मेरे प्रिय साथियो आर्टिकल थोड़ा बड़ा है पर जरूर पढ़े और पूरा पढ़े क्योकि इसमे सोसल न


समय की बचत

आज का सुवचन


कार्य

आज का सुवचन


सावधान! फोन पर किसी से भी न शेयर करें ये डिटेल पढ़ें इस शख्‍स का हाल

बैंक इस पूरे मामले से अपना पलड़ा झाड़ रही है। पुलिस मामले की जांच करने की बात कर रही है।यूपी के कानपुर जिले में एक शख्‍स के साथ धोखाधड़ी कर अकाउंट से हजारों रुपए निकालने का मामला सामने आया है। बैंक के नाम से आया एक फोन और मांगी ये डिटेल- मामला कानपुर के गांधी ग्राम का


'जब भी मैं ये तस्वीर देखता हूं, मर जाने का दिल करता है'

जब इंसानियत क़त्ल होती है तो सच कहूं. समझ नहीं आता किन अल्फाजों का इस्तेमाल करूं, जिनसे जरा सा ही सही दुःख का एहसास करा सकूं. पता नहीं क्या है कि हम ज़ुल्म को ज़ुल्म क्यों नहीं समझते. उन्हें अपने हिसाब के खांचों में डाल कर तर्क पेश करते हैं. और फिर वो ज़ुल्म, ज़ुल्म नहीं लगता. और फिर तस्वीर आती है किसी ब


कुछ संकलित शेर

    कुछसंकलित शेर  शाम से ही बुझा सा रहता है ,दिल हुआ है चिराग मुफलिस का |              अज्ञात झूठ के आगे पीछे दरिया चलते हैं ,सच बोला तो प्यासा मारा जायेगा |             वसीम बरेलवी एक मदारी ( शायर ) के जाने का गम किसको गम तो ये है मजमा कौन लगायेगा |          वसीम बरेलवी मुसलसल गम और लम्बी जिन्दगान


🚩महाआश्चर्य!

🚩भारतवासी,1 जनवरी को #देश की आजादी के लिए #शहीद होने वाले अमर वीर गोकुल सिंह को भूल गए..!!!पर #गुलाम बनाने वाले #अंगेजों के #नववर्ष को याद रखे..!🚩1669 की क्रान्ति के जननायक, परतंत्र #भारत में असहयोग आन्दोलन के जन्मदाता, #राष्ट्रधर्म र


सफल

आज का सुवचन


अनुकरण

आज का सुवचन


आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
x
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस