लेख से सम्बंधित लेख निम्नलिखित है :-

टूटते - बिखरते रिश्ते

आज कल के दौड के टूटते बिखरते रिश्तो को देख दिल बहुत वय्थित हो जाता है और सोचने पे मज़बूर हो जाता है कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है?आखिर क्या थी पहले के रिश्तो की खुबिया और क्या है आज के टूटते बिखरते रिश्तो की वज़ह ? आज के इस व्यवसायिकता के दौड में रिश्ते नातो को भी लाभ हानि के तराज़ू मे



प्यार एक रूप अनेक

" प्यार क्या है " सदियों से ये सवाल सब के दिलो में उठता रहा है और सदियों तक उठता रहेगा .इस सवाल का जबाब देने की सबने अपनी तरफ से पूरी कोशिश भी की है ." प्यार" शब्द अपने आप में इतना वयापक और बिस्तृत है की इसकी वयाख्या करना बड़े बड़ो के लिए



क्रोध

पड़ोस के अंकल बहोत ही ग़ुस्सा करते है. हमेशा ग़ुस्सेमेंही रहते है . आज सुबह घूमने निकली तो सामने अंकल बेवजह ग़ुस्सा कर रहे थे . मैंने यही पूछा ... क्या हुआ अंकल आज फिर से ग़ुस्सा क्यों .अंकल. ..... अरे वो कब जायेंगे क्या पता,



लालकिला बिकने की सच्ची झूठी कहानी

शनिवार और रविवार शांति से बिताने के बाद सोमवार सुबह जब आँख खुली तो शोर मचा हुआ था कि "लाल किला बिक गया।" सोशल मीडिया पर पोस्ट पर पोस्ट डालकर हांफते हुए मोदी सरकार के एक अखंड विरोधी को पकड़ा और पूछा, "अब क्या हो गया भाई"?मत पूछो भाई। गज़ब हो गया। लाल किला बिक गया। ताजमहल



यथा सोच तथा सृष्टि

इस लेख का प्रारम्भ तुलसी बाबा की एक चौपाई से करता हूँ “जाकी रही भावना जैसी प्रभु मूरत देखि तिन तेसी” इस चौपाई का सार सीधे शब्दों में ये है की मनुष्य जैसा सोचता है वैसी ही सृष्टि का निर्माण वो अपने आस-पास करने लगता है| संसार में अनेक प्रकार के जीव पाए जाते है,जिनमे मानव जीवन को सबसे श्रेष्ठ माना जाता



आसाराम बेटियों का सहारा

आसाराम दोषी करार, बिटिया के पिता ने कोर्ट का किया धन्यवादजोधपुर में आसाराम और उसके सहयोगियों को दोषी करार दिए जाने के बाद बिटिया के पिता के चेहरे पर खुशी देखने को मिली। उन्होंने अपने मकान से बाहर आकर मीडिया से कहा कि कोर्ट ने आसाराम और उसके सहयोगियों को दोषी करार दिया



सुषमा स्वराज- सर्वश्रेष्ठ भारतीय महिला राजनीतिज्ञ

भारत की पहली महिला विदेश मंत्री , दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री और देश में किसी राजनीति क दल की पहली महिला प्रवक्ता ... इसमें कोई दोराय नहीं है कि सुषमा स्वराज जैसी कोई और विदेश मंत्री पहले भारत



भरतबन्द का पंचनामा

अगर कोई पूछे कि आपने अपनी ज़िंदगी में सबसे क्रूर मज़ाक क्या सुना हैं तो मैं कहूँगा, "भारत का कानून सब भारतीयों के लिए एक बराबर हैं"। आरक्षण कानून, अल्पसंख्यक कानून, निजी कानून होने के बाद भी कोई दावा करे कि कानून सबके लिए एक बराबर हैं तो वो मज़ाक के अलावा कुछ हो ही नही ह



Non Resident Bihari : पढ़िएगा जरूर, क्यूंकि मज़ा बहुत आने वाला है

शायद आपने इस किताब को पढ़ा होगा या शायद नहीं भी पढ़ा होगा | खैर मैं तो कहूँगा कि इसे एक बार तो आपको जरूर पढ़ना ही चाहिए | इस किताब की कवर पेज को देखते ही आपके मन में कौतुहल जाग जायेगा कि आखिर इस किताब में क्या है? आप बेचैन होंगे जानने के लिए और इसे पढ़ने के लिए भी |अगर आप बिहार से है, तो आप खुदको शायद



‘शहनाई’ के जादूगर, उस्ताद बिस्मिल्लाह खान

‘शहनाई’ का जादू आज भी बरकरार है और समान्यतः हरशुभ अवसर पर उसको बजाया जाता है । 21 मार्च के दिन, उस्तादबिस्मिल्लाह खान को उनके 102वें जन्मदिन पर गूगल ने ‘डूडल’ बनाकर यादकिया गया ।सर्च इंजन गूगल ने डूडल



आपने ये तस्वीर खूब देखी होगी, लेकिन क्या ये जानते हैं कि ये आदमी कौन है?

बॉलीवुड के बारे में ख़बरों का सबसे बड़ा सोर्स – मायापुरी. लेकिन ये अब पुरानी बात है. नई बात मिलती है सोशल मीडिया पर. मैगज़ीन में छपने में देर लगती है. यहां बन्न से वायरल हो जाती है. खैर, हुआ ये कि पिछले कुछ वक़्त में सोशल मीडिया पर एक तस्वीर खूब चली. एक महिला खड़ी है. वो कपड़े उतारने या पहनने का काम कर रह



शामली अधिवक्ता अनैतिक धरना-प्रदर्शन की राह पर

शामली के अधिवक्ता अनैतिक धरना-प्रदर्शन की राह पर चल पड़े हैं ,जहाँ कैराना में जिला न्यायाधीश की कोर्ट की स्थापना के लिए हाईकोर्ट व् सरकार के कदम बढ़ते हैं तभी शामली के अधिवक्ता अपना काम-काज ठप्प कर धरना प्रदर्शन करने बैठ जाते हैं , 2011 में प्रदेश सरकार न



कण कण में राम देखने वाले को क्या रामभक्त नही मानेंगे

व्हिस्की में विष्णु बसे, रम में बसे श्रीराम। जिन में माता जानकी और ठर्रे में हनुमान।।पिछले कुछ दिनों से ये पंक्तियां हर जगह छाई हुई हैं क्योंकि पिछले साल इस महान रचना को दुनियां के सबसे बड़े लोकतंत्र की संसद में बोलकर, कुख्यात बनाने वाले सांसद नरेश अग्रवाल, मुल्ला मुलायम का साथ छोड़ राम भक्तों की टोली



इसे कहते हैं जापानियों का दिमाग, सुनामी रोकने के लिए समुद्र को ही कर दिया कैद

साल 2011 में जापान में आई टी सुनामी याद है आपको, वही जापान का काफी हिस्सा तबाह हो गया था। उस दौरान सुनामी की ऐसी ऐसी भयावह तस्वीरें मीडिया में आई थीं कि देखने वालों के होश उड़ गए थे। समुद्र की विशालकाय लहरों ने किनारे पर बनी इंसानी बस्तियों को तिनके की तरह बहा दिया था।समुद्र से उठी लहरों का जोर ऐसा



इच्छामृत्यु की ये शर्तें जानकर तो मृत्यु की इच्छा ही खत्म हो जाए

वर्ष 2001 में सब टीवी का एक कार्यक्रम ऑफिस ऑफिस बहुत लोकप्रिय हुआ था। सरकारी दफ्तरों में ऊपर से नीचे तक फैली हुई कामचोरी और रिश्वतखोरी के ऊपर बने इस कार्यक्रम में एक किरदार सरकारी कर्मचारी पटेल का था जो आम आदमी को दो बातों के लॉजिक के स



जातिगत आरक्षण

सामान्य वर्ग की व्यथा पर कुछ पंक्तिया . मै भी सामान्य वर्ग का दलित हु साहब मुझे भी आरक्षण चाहिए..1.मेरी माँ का सपना है बेटा सरकारी अफसर बने,पिता दिन-रात मेहनत करके उस सपने को बुने, मेरे मात-पिता के सपनो को यू ना जलाइये, मै भी सामान्य वर्ग का दलित हु साहब मुझे भी आरक्ष



सत्य का समय सापेक्ष अन्वेषण है ‘बोलो गंगापुत्र ‘

महाभारत की पृष्ठभूमि पर कई उपन्यास और कथाएं लिखी गयी .मानवीय चरित्र की सर्वोच्चता और निम्नता का ऐसा कोई आयाम शायद ही हो जिसे महाभारत कार ने किसी न किसी चरित्र के माध्यम से अंकित न किया हो .इसीलिए कहा गया ‘..जो महाभारत में नहीं वह कहीं नहीं ‘ पाश्चात्य प्रभाव से महाभारत को महाकाव्य की श्रेणी में रखा



वो तस्वीरें जब श्रीदेवी ने सिंदूर से पीठ पर लिखवाया था बोनी का नाम

ये बात है 2013 की जब श्रीदेवी लखनऊ आई थीं। उन्होंने दुर्गा पूजा में शिरकत की थी लेकिन इस दुर्गा पूजा में उन्होंने होली के रंग भी जमाए थे। लखनऊ के फेस्टिवल मस्ती मूड में डूबीं श्रीदेवी ने यहां जमकर मस्ती की थी। इस दौरान उन्होंने सिंदूर से पीठ पर पति बोनी कपूर का नाम लि



होलिका दहन

1 मार्च 2018 को होलिका दहन का पर्व है और सायंकाल सात बजकर सैतीस मिनट पर भद्रा की समाप्ति पर होलिका दहन का मुहूर्त आरम्भ होता है, और उसके बाद आरम्भ हो जाएँगी रंगों की मस्तीभरी बौछारें | होलिका दहन अर्थात सत्य, निष्ठा, विश्वास, आस्था, उदारता आदि सद्भावों की अग्नि में असत्य, अविश्वास, अनास्था, क्रूरता,



बधाई हो एक और घोटाला हुआ हैं!!!

कुछ दिनों पहले ही प्रधानमंत्री जी ने अपने सबसे पसंदीदा विषय "कांग्रेस के काले कारनामे: नेहरू से मनमोहन तक" पर लंबा चौड़ा भाषण संसद में दिया और बैंकों के घाटे की सच्चाई बताने की कोशिश की थी पर तब मीडिया में चर्चा का केंद्र बिंदु उनका रामायण का उल् लेख बन कर रह गया जो



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x