Sketches from Life: दूसरी पारी

रिटायर हो चुके लोगों की तरफ से ना-रिटायर हुए लोगों के लिए एक शेर पेश है:तुम काम करते होमैं आराम करता हूँ,तुम अपना काम करते हो,मैं अपना काम करता हूँ!मतलब ये के बहुत काम कर लिया, बहुत ट्रांस्फरें झेल ली, कामचोर और चमचे देख लिए, अड़ियल और मरि



दूसरे आपको मानें ही नहीं!

आज का सुवचन



ॐ नाम

आज का सुवचन



क्षमा से अन्तः का कचरा साफ होता है!

यह सत्य है गलतियां सभी करते हैं। कोई-सा व्यक्ति ऐसा नहीं है जो गलती न करता हो। गलती करने पर जब डांट पड़ती है तो आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें- JYOTISH NIKETAN: क्षमा से अन्तः का कचरा साफ होता है!



असंभव

आज का सुवचन



सुखद् गृहस्थ जीवन हेतु आवश्यक है !

सुखद् गृहस्थ जीवन के लिए आवश्यक है कि दोनों अपना-अपना उत्‍तरदायित्व समझें। इसके लिए चार स्तम्भ अत्यन्त सुदृढ़ रखने चाहिएं, ये हैं-स्नेह, सहयोग, सम्मान एवं विश्वास। आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें... JYOTISH NIKETAN: सुखद् गृहस्थ जीवन हेतु आवश्यक है !



प्रयत्न

आज का सुवचन



JYOTISH NIKETAN: आशावादी बनें!

आशावादी बनना चाहिए। आशावादिता से जीवन में आश्चर्यजनक परिवर्तन आते हैं। इसलिए आशाएं कभी भी नहीं मरनी चाहिएं। आशाएं सजीव रखेंगे तो जीवन में आगे बढ़ने का मार्ग सदैव बना रहेगा। आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें... JYOTISH NIKETAN: आशावादी बनें!



इच्छापूर्ति

आज का सुवचन



ज्ञान की कुंजी

आज का सुवचन



शिक्षक और सीखना

शिक्षक दिवस एवं गणेश चतुर्थी की सभी शिक्षकों एवं शब्दनगरी के सभी मित्रों व सदस्यों को बहुत-बहुत बधाईआज शिक्षक दिवस पर पुत्री ने हैप्पी टीचर डे का मैसज भेजा और मुझसे जो सीखा उसके लिए धन्यवाद दिया। मेरी डांट और गुस्से को लेकर नाराजगी प्रकट करने के बाद भी धन्यवाद दिया।उसके प्रत्युत्तर में मैंने उसे ज



सर्वोत्तम

आज का सुवचन



विशेषज्ञ

आज का सुवचन



किससे क्या बढ़ता है!

आज का सुवचन



आपको सफल बनाते हैं!

आज का सुवचन



शिकायत

आज का सुवचन



पुस्तक समीक्षा : रक्षक ( ग्राफिक नॉवेल )

भाषा : इंग्लिशपब्लिकेशन : याली ड्रीम्स क्रिएशन .याली ड्रीम्स क्रिएशन्स के परिचय पर इससे पहले के रिव्युज में काफी कुछ लिख चूका हु ,तो इस बार बिना किसी औपचारिकता के मुख्य मुद्दे पर आते है lयाली ने भूतकाल में कई अलग-अलग जेनर पर काम किया है किन्तु इसके बावजूद एक ग्राफिक नावेल या कॉमिक्स पब्लिकेशन को विव



देश का विकास

आज का सुवचन



क्या है किस्मत

किस्मत क्या है, आख़िर क्या है किस्मत? बचपन से एक सवाल मन मे है, जिसका जबाब ढूंड रहा हूँ| बचपन मे पास होना या फेल हो जाना या फिर एक दो नंबर से अनुतीर्ण हो जाना, क्या ये किस्मत थी? आपके कम पढ़ने के बाबजूद आपके मित्र के आपसे ज़्यादा नंबर आ जाना, क्या ये किस्मत थी? स्कूल स



कौन बदल सकता है?

आज का सुवचन



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x