मीडिया



सोशल मीडिया के खतरे

सोशलमीडिया के खतरेसंचार के प्राचीन साधनों में सर्वाधिकप्रचलित,पत्रों से जोमाहौल आज से बीस साल पहले बनता था,आज उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकतीहै.उत्साह, भय और रोमांच सेभरकर ज



मोबाईल

पहले ज़रुरत थी आदमी को, केवल रोटी- कपड़ा - मकानआज लग रहा है यह नारा, कि ' मेरा मोबाईल महान 'क्रांति लाई है इसने, आया युग जानकारी काघर बैठे काम हो गए, नहीं इंतजार अब बारी काई - कॉमर्स से घर पहुंचते हैं छोटे - बड़े सामानआज लग रहा है यह नारा, कि ' मेरा मोबाईल महान 'बना यह घर का सदस्य, बसा यह सबके दिल म



संघर्ष पथ

2012 से दो वर्ष पूर्व यानी 2017 तक हर साल, मैं किसी न किसी एग्जाम के फाइनल राउंड तक पहुंचता था और फिर बाहर हो जाता था। फाइनल लिस्ट में हमेशा कुछ नंबरों से रह जाता था, हर बार।जब मैं कोई एग्जाम पास नहीं कर पाया, मुझे लगा मैं हार गया हूं। कुंठित हो गया और कुछ समय पश्चात दुख और अवसाद से घिर गया। अवसाद च



प्याज पर हाय -हाय क्यों ?

प्याज पर हाय हाय क्यो ? डॉ शोभा भारद्वाज आजकल सेलिब्रिटी प्याज के टौप्स दिखा रहीं हैं पहनते हैं या नही पता नहीं हाँसोशल मीडिया में चर्चित होने का तरीका अवश्य है |हमारे यहाँ एक एनआरआई परिचितमहिला आईं उनका यूएस में अपना रेस्टोरेंट था जिसमें भारतीय व्यंजन बनाये जाते है



अच्छे -बुरे सामाचार माध्यम

यह सोचना स्वाभाविक है कि बहुमत से चुनाव जीतनेवाला व्यक्ति बाकी लोगों की तुलना में अधिक लोकप्रियहोगा। तब यहस्वाभाविक है कि मैंआश्चर्यचकित हो जाऊं जब इस व्यक्ति को राष्ट्रीय मीडिया में अधिकतम बुरा-भला कहा जाए।दूसरी ओर, दुनिया भर में होने वाली उसकी प्रशंसा भी मुझे आश्च



हिमा दास भारत की शान

हिमा दास भारत की शानपाँच गोल्ड जितकर अपनी आधी कमाई असम में बाढ़ पीड़ितों की मदद में लगाने पर भी इस महान खिलाड़ी की मीडिया में कोई चर्चा तक नहींवाह रे देश के अंधे मीडिया हीरोइनो की हि बोल्डनेस को हि केवल महत्व देना।हारने के बाद भी क्रिकेटर सुर्खियों में हैं, और दुसरी तरफ हिमा दास लगातार एक महीने में



किस ओर जा रहे हैं हम

सैफीना के बच्चे को जब मीडिया ने खाने-पीने से लेकर, उठने बैठने तक की बे-बुनियादी खबरों में बार-बार दिखाया तो ना जाने क्यों मुझे मरते बच्चों का चेहरा बार-बार याद आया। हां बच्चे ही तो थे, अपने थोड़ी थे, ना उस दोगली मीडिया के थे। ये बच्चे त



तुझसे है राब्ता:अनुप्रिया ने कल्याणी को बचाया जानीये कैसे | आई डब्लयू एम बज

फुल हाउस मीडिया द्वारा निर्मित ज़ी टीवी पर तुझसे है राब्ता दर्शकों को दिलचस्प ड्रामा के साथ टीवी स्क्रीन पर बांधे रखता है।जैसा कि हमने पहले बताया था, कल्याणी (रीम शेख) की शादी मल्हार से होती है इसलिए अदालत मोक्ष की संपाड़ा और अथर्व (शगुन पा



बिगड़े नेताओं के ‘‘बिगडे़ बोल’’-‘‘विवादित बोल’’! फायदा-नुकसान कितना!

भारतीय राजनीति में हमेशा से ही ‘‘बयानवीर’’ मीडिया में सुर्खिया पाते रहे है। विभिन्न राजनैतिक पार्टियों के कुछ नेतागण अपने बेवाक बयानों के माध्यम से सुर्खियाँ बटोरनें के उदे्श्य से ऐसे बयान देते रहते है, जिसके परिणाम स्वरूप उनकी छाप एक चर्चित चेहरे की होकर वे माने जाने



छतिसिंहपोरा नरसंहार

क्या कल आपने किसी मीडिया चैनल पर या किसी समाचार पत्रमें छतिसिंहपोरा नरसंहार के विषय में एकशब्द भी सुना या पढ़ा? क्या किसी ह्यूमन-राइट्स वाले को इस नरसंहार की बात करतेसुना? वह लोग जो आज़ादी के नारे लगाते है या वह नेता जो उनकेसमर्थन में खड़े हो जाते हैं या वह जो आये दिन नक्सालियों के लिए आवाज़ उठाते हैं



होई पतन विकास के साथ।

होई पतन विकासके साथ।नेता कहतेहैं भारत का विकास हो रहा हैं।गाँव मे नहर, तालाब, कुआँ सूख रहा हैं।कहने को पैसाबहुत हैं सरकार के पास मे।नेशनल हाईवेके गड्डो से धूल उड़ रहा हैं।पुराने पुलभरभरा जाते हैं रेल की धमक से।मौत जिसकीहोती हैं वह उसकी किस्मत थी।सरकार को यहपता हैं इसपुल से कौन आतंकी गुजरा था?सरकार को



Beginner Guide : अपनी वेबसाइट/ ब्लॉग की Traffic को बढ़ाने के लिए follow करें ये 9 टिप्स- IN HINDI

अपने हिंदी ब्लॉग (Hindi blog) और वेबसाइट (website) के ट्रैफिक को कैसे बढ़ायें ? यह 9 टिप्स आपके ब्लॉग के ट्रैफिक को न केवल बढ़ाएगा बल्कि गूगल पेज रैंक पर ऊपर भी लाएगा। आजकल हर हिंदी लेखक हिंदी ब्लॉगिंग (Hindi blogging) का इस्तेमाल कर रहा



"सोशल मीडिया पर साहित्य, लाभ या हानि"

"सोशल मीडिया पर साहित्य- लाभ या हानि" "हानि लाभ जीवन मरन जस अपजस बिधि हाथ", बाबा तुलसी दास जी ने कुछ भी नहीं छोड़ा, हर विषय पर कटु सत्य को उजागर कर गए। काश उस समय सोशल मीडिया होता तो हमें अपने मन से कुछ भी लिखने की जरूरत न पड़ती और हम कट, पेष्ट या गूगल सर्च करके उन्हीं के विचार छाप देते और सम्मानित हो



ये सिर्फ इंटरनेट ही बतलाएगा आपको नेहरू के बारे में ?

भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के जीवन और व्यक्तित्व को लेकर सोशल मीडिया पर कई अफवाहें हैं। उनके नाम को लेकर इंटरनेट पर कई लोग आपत्तिजनक बातें करते हैं। नेहरू के बारे में वर्चुअल वर्ड में अफवाहों की भरमार है। देश के पहले प्रधानमंत्री के बारे में कई अफवाहें हैं,



क्या आपने कभी गधी को गाना गाते हुए सुना और देखा है?

आपने आजतक सिर्फ गधों को ढेंचू ढेंचू करते तो सुना और देखा होगा लेकिन आज से पहले कभी गाना गाते हुए नहीं सुना और देखा होगा आज आपको इस विडियो में ये भी मिलेगा और ये विडियो मिला है फेसबुक पर जो मार्टिन स्टेनटन ने पोस्ट किया वो आयरलैंड के रहने वाले हैं उन्होंने इस गधी का ना



तनाव

कई दिनों से देख रहा हूं कि मेरे कई मित्र इस बीच कम बोलने लगे हैं . वह कटे कटे से रहते हैं. उदासीन रहते हैं या फिर गुस्से से भर जाते हैं. ऐसे व्यक्ति तनाव और घबराहट के शिकार होते हैं और यही तनाव ज्यादा हो जाने पर भी आत्महत्या की शिकार भी हो जाते हैं. अगर आंकड़े की बात करें तो पूरी दुनिया में 2



भाव देने की जरूरत ही क्या है?

किसी भी बात को तभी भाव मिलता है जब उसे भाव देने वाले देते हैं. भाव नकारात्मक हो या सकारात्मक, दोनों ही स्थितियों में भाव खाने वाला अगर भाव नहीं खाएगा तो क्या करें. ऐसी स्थिति में अच्छा यह है कि भाव दिया ही न जाए. मतलब पूर्ण बहिष्कार. भला जिंदगी भी किसी के रुके से रुकी है क्या. जिंदगी को जहां तक बहना



छेड़छाड़ से परेशान लड़की ने सरेआम उतार दिए अपने कपड़े, लड़के को जमीन पर पटका आैर...

नई दिल्ली: दक्षिण पश्चिम ब्राजील में एक लड़की ने छेड़छाड़ कर रहे युवक को ऐसा सबक सिखाया जिसे वह पूरी जिंदगी भूल नहीं पाएगा। लड़की की ये हरकत उन लड़कियों और महिलाओं के लिए मिसाल है, जो अपने खिलाफ हो रहे अत्याचारों और हिंसाओं को चुपचाप सहती रहती हैं।पहले किया इग्नोर, फिर सि



किसी सेलिब्रिटी से कम नहीं है ये साधुवी, जानिए आखिर क्यों है सोशल मीडिया पर इतनी चर्चित ?

वैसे तो इंस्टाग्राम पर सबसे ज्यादा सेलिब्रिटी अपनी फोटोज़ और वीडियो को पोस्ट करते हैं और यूजर्स भी उनकी फोटोज़ को काफी लाइक करते हैं. लेकिन आज हम आपको किसी सेलिब्रिटी या नेता के बारे में नहीं बता रहे हैं बल्कि आज हम आपको एक साध्वी के बारे में बता रहे हैं.जिनकी खूबसूरती के



इंटरनेट सेंसेशन बनीं ये पाकिस्तान की खूबसूरत महिला सांसद

पाकिस्तान में असेंबली के चुनाव हो चुके हैं। वहां की कई ऐसी महिला राजनेता और सांसद ऐसी हैं जो काफी ग्लैमरस हैं और किसी फिल्म स्टार्स या मॉडल से कम नहीं लगतीं हैं।इस समय भी पाकिस्तान की एस ऐसी हैं नई सांसद हैं जो फिल्म स्टार्स या मॉडल जैसी दिखती हैं। वह सोशल मीडिया पर काफी



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x