शिवजी का ऐसा मंदिर जहां कैदी बनाते हैं बाबा के लिए नाग मुकुट, जानिए ये अद्भुत परपंरा

17 जुलाई 2019   |  स्नेहा दुबे   (48 बार पढ़ा जा चुका है)

शिवजी का ऐसा मंदिर जहां कैदी बनाते हैं बाबा के लिए नाग मुकुट, जानिए ये अद्भुत परपंरा

17 जुलाई से सावन का महीना शुरु हो गया है और सभी शिवजी की पूजा अराधना में लग गए हैं। सभी शिवालयों में शिवभक्तों ने रौनक जमानी शुरु कर दी है और भारत में जितने भी बड़े शिव मंदिर हैं वहां पर भक्तों ने अपनी-अपनी अर्जी लगाना शुरु कर दिया है। ऐसा ही एक मंदिर है वैद्यनाथ धाम (baidyanath dham) जो एक प्राचीन मंदिर है और यहां की शक्ति भक्तों द्वारा विख्यात है। यहां पर एक और परंपरा है जहां पर जेल के कैदी ही नाग मुकुट बनाते हैं।


कैसे शुरु हुई वैद्यनाथ धाम की ऐसी परंपरा ?


baidyanath dham

12 ज्योतिर्लिगों में एक है झारखंड के देवघर में स्थित वेद्यनाथ धाम, जहां पर सावन के महीने में लाखों कांवड़िए वैद्यनाथ बाबा को जल चढ़ाते हैं। जलाभिषेक के साथ ही यहां एक ऐसी परंपरा सालों से निभाई जा रही है जिसके मुताबिक, देवघर जेल में घिनौने अपराध करने वाले कैदी सजा काट कर रहे हैं और वे ही बाबा के लिए नाग का मुकुट बनाकर देते हैं तो वो चढ़ाया जाता है। जेल के गार्ड नंगे पांव बाबा के दरबार जाते हैं फिर वो मुकुट बाबा को पहनाया जाता है श्रृंगार होता है और पूजा करने के बाद मंदिर के पट बंद किए जाते हैं।


टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ये परंपरा अंग्रेजों के जमाने से चली आ रही है। दरअसल साल 1911 में जे. डब्यू. टेलर देवघर के कमिश्नर थे और उस दौरान उनके बेटे की तबियत खराब हो गई। भारत के सभी डॉक्टर्स ने उसे ठीक करने के लिए हाथ खड़े कर लिए थे तभी उसे किसी ने वैद्यनाथ धाम की पूजा करने के लिए कहा। पहले तो वो नहीं माना लेकिन बेटे के मोह में वो तैयार हुआ और उसने पूरी रात बाबा का जाप किया। सुबह होते ही उसका बेटा ठीक हो गया और उसकी श्रद्धा बाबा के लिए जाग गई। उस दिन से उसने ऐलान कर दिया कि सावन में बाबा के लिए नाग का मुकुट इस जेल से ही जाएगा।


baidyanath dham


बस उसी दिन से ये परंपरा चली आ रही है। इस बात को देवघर के वर्तमान एसपी नरेंद्र कुमार सिंह ने बताया है। पत्नी की हत्या करने वाले एक कैदी ने बताया कि सर्प के सिर के आकार का मुकुट तैयार करने में 6 घंटे का समय लगता है। हर सुबह 2 जेल गार्ड शहर से बाहर फूल खरीदने जाते हैं और कैदी भी नहा-धोकर साफ कपड़े पहनकर 12 बजे ये काम करने बैठ जाते हैं और उन्हें इस काम के लिए 91 रुपये हर दिन मिलता है।

अगला लेख: हॉलीवुड एक्ट्रेस ने बताया Bikini पहनने के लिए Bikini नहीं, इस चीज की होनी चाहिए जरूरत



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
01 अगस्त 2019
भोलेनाथ को प्रसन्न करने और उनकी पूजा करने के लिए श्रावण मास यानी सावन का महीना सबसे पावन माना जाता है। पूरे देश में 17 जुलाई से सावन का महीना मनाया जा रहा है और सभी भोलेनाथ के प्रति अपनी श्रद्धा भक्ति दिखाई है। 15 अगस्त को सावन का महीना खत्म होने वाला है और इसके पहले
01 अगस्त 2019
22 जुलाई 2019
एक मध्यवर्गीय परिवार का बिजली का बिल कितना आ सकता है, क्या इसका अंदाजा आपको है ? गर्मियों में एक मध्यवर्गिय परिवार का बिजली का बिल ज्यादा से ज्यादा 4 से 5 हजार ही आता होगा। वो भी तब अगर आप दिनभर AC चला रहे हों। मगर उत्तर प्रदेश के हापुर में एक मध्यवर्गीय परिवार को इतन
22 जुलाई 2019
27 जुलाई 2019
बा
बारिश आई, बारिश आईमौसम में ठंडक लाईकागज की इक नाव बनायेंचीटे को फिर सैर करायेंझड़ी जब खूब लग जायेगीबगिया मेरी खिल जायेगीभीगी सड़कें...भीगी पटरीवह निकली दादा की छतरीभीगो मिलकर आहिल-इमादबुखार को ज़रा रखना यादनिकले मेंढ़क औे" मजीरेफिसल न जाना चलना धीर
27 जुलाई 2019
08 जुलाई 2019
आजकल के समय लोग अपनी फिटनेस पर ज्यादा ध्यान दे ने लगे हैं। लड़के हों या लड़कियां सभी को अपने फिगर की चिंता रहती है। जहां एक ओर लड़के रफ एंड टफ फिगर बना रहे हैं वहीं लड़कियां ज़ीरो फिगर के साथ अपनी इमेज निखारने में लगी हैं। ऐसा सिर्फ फिल्मों की एक्ट्रेसेस ही नहीं बल्कि आम लड़कियां भी करने लगी हैं। Bi
08 जुलाई 2019
16 जुलाई 2019
देश में पहली पैसेंजर ट्रेन मुंबई (तब बंबई) से ठाणे के बीच साल 1853 में चलाई गई थी। तब से लेकर आज तक ये भारत की लाइफ लाइऩ बनी हुई है। कहीं भी आने और जाने या फिर माल ढोने के लिए सभी की पहली पसंद रेल ही हुआ करती थी। आज हम आपको भारतीय रेल
16 जुलाई 2019
01 अगस्त 2019
Webdunia- देश में बहुत सारे हिंदी वेब पोर्टल न्यूज वेबसाइट हैं लेकिन कुछ ही ऐसी वेबसाइट्स हैं जो हमें सही और बेहतर तरीके की खबरें प्रोवाइड करवाती हैं। वेबदुनिया उन्हीं में से एक वेबसाइट है जो कई भाषाओं में खबरें पब्लिश करती हैं और रीडर्स को सही जानकारी देती है। वेबदुन
01 अगस्त 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x