नवाज़ शरीफ को भी नहीं पता चला और परवेज़ मुशर्रफ़ ने भारत पे हमला कर दिया था....

26 जुलाई 2019   |  सौरभ श्रीवास्तव   (78 बार पढ़ा जा चुका है)

नवाज़ शरीफ को भी नहीं पता चला और परवेज़ मुशर्रफ़ ने भारत पे हमला कर दिया था....

कारगिल युद्ध का इतिहास :


कार्गिल विजय दिवस की जीत के 20 साल पूरे हो चुके हैं। यह युद्ध भारत और पाकिस्तान के बीच लड़ा गया था। भारती सैनिकों ने इस युद्ध में जीत हासिल करने के लिए पूरी एड़ी चोंटी का बल लगा दिया था। भारत की सेना ने दुश्मनों को खदेड़ने के लिए हर एक कठिन से कठिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए डटे रहे।

जैसा कि आज भी हम सब अपने भारत वर्ष के वीर जवानों व शहीदों को सच्चे दिल से याद करते हैं। तो आइए इस युद्ध में शहीद भारत के उन वीर जवानों को श्रद्धांजली देते हैं। क्या आप भारत और पाकिस्तान के बीच हुए इस कार्गिल युद्ध से परिचित हैं? अगर नहीं तो आज हम आपको बताएंगे-


10 महत्वपूर्ण बातें जो कि हर भारतवासी को जानना चाहिए-:


1.भारतीय की सेना ने LoC Border (Line of Control) पर दुश्मनों से सामना करने के लिए करीब 7 लाख से भी ज्यादा भारतीय सैनिकों को बॉर्डर पर देश की रक्षा के लिए तैनात खड़ा किया गया था और यह युद्ध करीब 3 महिनों तक चला, जिसमें हमारे सैनिक भाइयों को काफी हद तक कठिन मुश्किलों का सामना करना पड़ा था।

2.इस कार्गिल युद्ध में करीब 524 की संख्या में भारतीय सैनिक शहीद हुए और लगभग 13,363 जवान गंभीर रूप से घायल हुए। वहीं दूसरी तरफ भी लगभग 696 पाकिस्तानी आतंकवादियों को मार गिराया गया और बहुत बड़ी संख्या में कई आतंकवादियों के घायल होने के साथ-साथ 40 नागरिकों की जान भी चली गयी।

3.आपको बता दें कि कारगिल क्षेत्र के आस-पास पहाड़ियों में कुछ आतंकी गतिविधियों के बारे में वहां के कुछ स्थानीय चरवाहों ने भारतीय सेना को इस बात की जानकारी दी। सन् 1999 में 3 मई इस बात की जानकारी मिली, जिसके बाद भारतीय सेनिकों ने जल्द से जल्द उस क्षेत्र में रह रहे घुसपैठियों को क्षेत्र खाली करने व खदेड़ कर भगाने के लिए एक Operation Vijay की शुरूआत की।

4.पाकिस्तान की आतंकी सेनाओं ने इस युद्ध के पहले चरण की शुरूआत इस प्रकार की कि उन्होंने अमर शहीद Captain सौरभ कालिया व अन्य पांच सैनिकों के शव का अपमान किया था, लेकिन वहीं भारत की सेना ने कार्गिल युद्ध में मारे गए पाकिस्तानी सैनिकों से सम्मानजनक व्यवहार किया और पाकिस्तानी मृतक सैनिकों के शरीर को बहुत ही सम्मान के साथ ताबूत में करके उनके देश वापस कर दिया।

5.पाकिस्तान की सेना ने कार्गिल क्षेत्र की ऊंची चट्टानों से Indian Missiles के उपर निशाना साधते हुए Surface-to-air Missile का प्रयोग किया। Baltic Sea के क्षेत्रों में भारतीय सेना ने 2 Fighter Jet और 2 Helicopters खो दिये। IAF(Indian Air Force) Pilot Ajay Ahuja ने पाकिस्तानी सेना के हाथों इस युद्ध में शहीद हो गये, जिसमें हुआ ये कि अहुजा जी के सिर में गोली मार दी गयी।


kargil war 1999

6.पाकिस्तानी सेनाओं NH 1D पर बम विस्फोट करने के लिए टाइगर हिल का प्रयोग किया था। इसलिए Drass Kargil Road पर नियंत्रण होना जरूरी था। ढलानों को करीब 22 प्रतिशत और ऊंचा कर दिया गया जिससे कि उसका तापमान 18 डीग्री सेल्शियस हो गया। यही नहीं बल्कि Tiger Hill की चोंटी पर पहुंचने के लिए लगभग 16,500 फुट ऊंचाई का रास्ता बनाया। ये सब करना भारत की सेना के लिए बहुत ही कठिन काम रहा।

7.कारगिल युद्ध के दौरान उत्पन्न हुई स्थिति ने भारत-पाक के बीच पहले से तनाव जैसे रिश्तों को खतम कर दिया था। मई सन् 1998 में भारत और पाक के द्वारा परमाणु परीक्षण ने भी आगे बढ़ने में एक प्रमुख भूमिका निभाई थी।

8.अंतिम हमला भारतीय और पाक सेना के बीच टाइगर हिल पर ही हुआ । इस आखिरी हमले में 5 भारत के सैनिक और 10 पाक सैनिक मरे। उसा वक्त विशेष बात यह थी कि Captain Vikram Batra ने घायल हुए Captain naveen को बचाते हुए अपने प्राणों का बलिदान किया।

9.कारगिल युद्ध के प्रारंभिक समय में पाकिस्तान की सेना ने एन एच वन ए पर बम फेंकते हुए आगे बढ़ रहे थे। यह रोड NH 44 को नाम से जाना जाता है जो कि सीधा कश्मीर की घाटियों से जुड़ती है। बमबारी करने के लिए पाकिस्तान के सैनिकों ने भारत के घुसपैठिये आतंकवादियों से हात मिलाकर पूरा प्लान किया था।

10.कार्गिल युद्ध के समय भारतीय सेना के चीफ वेद प्रकाश मलिक जी थे।



नवाज़ शरीफ को भी नहीं पता चला और परवेज़ मुशर्रफ़ ने भारत पे हमला कर दिया था....

अगला लेख: काव्यों की महान रचनाकार श्री महादेवी वर्मा जी | Mahadevi Verma



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 जुलाई 2019
HISTORY OF PORUS AND SIKANDER IN HINDI- हमारे भारत देश में अनेकों प्रकार के आक्रमण व युद्ध हुए, जिनके बारे में जानकारी आपको किताबों से मिलती है। अगर हम भारत के इतिहास के संदर्भ में युद्धों के बारे में बात करें तो हम देखते हैं कि सिकंदर और पोरस जैसे ताकतवर राजाओं के युद्ध के बारे में सुनने को मिलता
19 जुलाई 2019
24 जुलाई 2019
कारगिल युद्ध के पीछे का इतिहास का है सारा मामला- कारगिल युद्ध का विजय दिवस प्रतिवर्ष 26 जुलाई को मनाया जाता है। कारगिल का युद्ध भारत और पाकिस्तान के बीच सन् 1999 में हुआ था। यह कारगिल का युद्ध करीब 3 महीनों तक चला जिसे Operation Vijay के नाम से आज भी लोग जानते हैं। इस युद्ध में भारतीय सेनाओं के
24 जुलाई 2019
23 जुलाई 2019
श्री शंकर दयाल शर्मा जी की जीवनी (Shankar Dayal Sharma Biography):- श्री शंकर दयालशर्मा जी भारतवर्ष के 9वे राष्ट्रपति थे, जिन्होंने 1992 से 1997के बीच कर कार्यबार संभाला। भारत के राष्ट्रपति पद के पहले शंकर दयाल शर्मा जीहमारे देश के 8वे उप राष्ट्रपति थे। सन् 1
23 जुलाई 2019
30 जुलाई 2019
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी Wilderness Survival T.V Programme में Bear Grylls के साथ:-इस प्रोग्राम के लिए एक ट्रेलर Man vs Wild जो कि 12 अगस्त को भारत में प्रसारित किया जायेगा। इस प्रोग्राम में यह दिखाया जायेगा कि दो लोग यानि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और Bear Grylls जंगलों में जंगली जानवरो
30 जुलाई 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x